Connect with us

MUZAFFARPUR

मुज़फ़्फ़रपुर : नाबालिग से सामू’हिक दु’ष्कर्म के बाद आरो’पी घूम रहे खुलेआम ; पु’लिस पर लगे गंभीर आरोप

Himanshu Raj

Published

on

मुजफ्फरपुर ज़िले के हथौड़ी थाना क्षेत्र में 14 साल की नाबालिग से गैंगरेप का मामला दर्ज किया गया, लेकिन घटना के चार महीने बीत जाने के बाद भी नाबालिग लड़की का अपहरण कर गैंग रेप करने वाले आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं. आरोप यह भी है कि अपहरण और गैंग रेप के इस सनसनीखेज मामले में पीड़ित की ठीक ढंग से मेडिकल जांच तक नहीं करवायी गयी. पीड़ित ने मेडिकल जांच नहीं कराने और कोर्ट में सही बयान नहीं देने के लिए दबाव बनाने का आरोप पुलिस पर लगाया है. आलम ये है कि पीड़ित परिवार घर बेचकर गांव छोड़ने को मजबूर हो रहा है.

आरोप है कि हथौड़ी थाना क्षेत्र के अल्पसंख्यक बहुल गांव में एक दूसरे समुदाय की 14 साल की नाबालिग लड़की का अपहरण तीन लड़कों ने कर लिया. इसी साल 17 जुलाई को लड़की का अपहरण उस समय किया गया जब वह गांव के बगल के हाई स्कूल में पढ़ने गई थी. गांव के मो आरिफ और दो नाबालिग लड़के के साथ पांच लोगों पर अपहरण का आरोप लगा है.

अपहरण के 12 दिन बाद यानि 29 जुलाई को नाबालिग लड़की को एक नाबालिग आरोपी के साथ लखनऊ स्टेशन पर देखा गया. बाद में लड़की को एक संस्था के हवाले किया गया.जहां से हथौड़ी पुलिस और परिवार वालों के साथ बच्ची को मुजफ्फरपुर लाया गया.

पीड़िता के अनुसार लखनऊ में बंद कमरे में उसके साथ मो आरिफ और एक नाबालिग आरोपी ने लगातार दुष्कर्म किया. उसने बताया कि इन दोनों ने ये काम इसलिए किया कि एक नाबालिग लड़के से उसकी दोस्ती थी. पीड़ित लड़की के अनुसार उसकी इसी दोस्ती का बदला लेने के लिए गांव के दोनों युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

पीड़ित के अनुसार उसे बेहोश कर अपहरण किया गया था. और कई दिनों तक दुष्कर्म भी खाना में नशीला पदार्थ मिलाने के बाद करता था. बरामदगी के बाद पीड़िता को धमकी देकर सही बयान कोर्ट में देने से रोका.

पीड़ित कहती है कि उसके दोस्त ने 28 जुलाई को लखनऊ पहुंचकर दोनों युवकों के चंगुल से बचाकर लाया. हलांकि पीड़ित लड़की बार-बार दोहरा रही है कि अपहरण करने में उसका मित्र भी शामिल था. लेकिन दोनों युवकों के कई दिनों तक दुष्कर्म करने के बाद वह लखनऊ पहुंचा था.

आरोप है कि गैंगरेप करने वाले युवकों ने पीड़िता को इस कदर धमकाया कि वह मुजफ्फरपुर आने के बाद कोर्ट में दिये 164 के बयान में तीनों लड़कों पर अपहरण करने की बात तो बताई, लेकिन दुष्कर्म किये जाने की बात नहीं बताई.

उसने यह भी आरोप लगाया है कि गैंगरेप करने वाले अपराधी ही नहीं बल्कि नाबालिग को लखनऊ से बरामद करने गई पुलिस ने भी मेडिकल जांच नहीं कराने का दबाव बनाया. वह कहती है कि मुजफ्फरपुर के सदर अस्पताल में पीड़िता के निजी अंगों की जांच भी नहीं कराई गई.

आरोप है कि पुलिस ने यह कहकर दबाव बाया कि दुष्कर्म की बात जांच में पुष्टि होने पर पीड़ित परिवार की परेशानी बढ़ जायेगी. इतना ही नहीं मेडिकल बोर्ड में नाबालिग की उम्र 19 से 20 बताई गई जबकि स्कूल में नाबालिग की उम्र 16 जुलाई 2005 दर्ज है. यानि इस साल जुलाई माह में ही पीड़िता 14 साल की हुई है.

जुलाई में नाबालिग के साथ हुई घिनौनी घटना के बाद भी सभी आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है. पुलिस अधिकारियों के अनुसंधान में अपहरण की घटना को सत्य बताकर 5 आरोपियों में से पीड़िता द्वारा बताये गये तीन आरोपियों की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है, लेकिन तीनों आरोपी घटना के बाद भी खुलेआम घूम रहा है .

पुलिस अनुसंधान में यह बताया कि नाबालिग का अपहरण शादी की नीयत से किया गया था.लेकिन नाबालिग का दिया गया बयान काफी गंभीर है.उसने बताया कि उसके साथ लखनऊ में मो आरिफ और एक नाबालिग ने कई दिनों तक दुष्कर्म किया.वही मेडिकल जांच नहीं कराने और कोर्ट में सही बयान नहीं देने के लिए आरोपियों से लेकर पुलिस तक ने दबाव बनाया.

पीड़ित के पिता का आरोप है कि बेटी के साथ गैंगरेप की घटना में धमकी देने वाले शख्स के ही निकट के संबंधी घटना को अंजाम दिया है. अस्पताल से लेकर पुलिस तक भी मामले को दबाने के लिए भी मो मोमताज ही दौड़-धूप कर रहा है.

पीड़ित के परिवार गांव छोड़ने का लिया निर्णय

नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप की घटना के बाद पूरा परिवार टूट चुका है. दिल्ली में ऑटो चलाने वाले पीड़ित के पिता पूरे मामले में सनसनीखेज आरोप लगा रहे हैं. पिता का कहना है कि गांव में उनके घर के आगे कुछ साल पहले अवैध बूचड़खाना था. जिसकी शिकायत पुलिस में उन्होंने की थी. इस बात को लेकर सामने का पड़ोसी मो मोमताज नाराज हुआ था और लगातार धमकी भी देता रहता था.

बहरहाल समाज और पुलिस दोनों ही ओर से परेशान किए जाने के बाद अल्पसंख्यक बहुल गांव में रह रहा पीड़ित परिवार बेटी के साथ घटी घटना से इतना टूट चुका है कि गांव में पैतृक संपत्ति को औने-पौने कीमत में बेचकर जाने का निर्णय कर चुका है.

पीड़ित परिवार अपना घर बेचकर गांव छोड़ने को मजबूर है

पीड़ित के पिता का कहना है कि अवैध बूचड़खाना चलाने वाले मो मुमताज के आतंक की वजह से एक साल पहले ही गांव की संपत्ति का सौदा कर लिया था.लेकिन बेटी के साथ घटी घटना और पुलिस द्वारा कारवाई नहीं किये जाने से जल्द ही उनका परिवार गांव को छोड़ देगा.

इस मामले में पीड़ित परिवार लगातार एसएसपी से लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तक से गुहार लगा चुका है. लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से परिवार टूट चुका है. केस को कमजोर करने वाले लोगों के खिलाफ भी पीड़ित परिवार जांच की मांग कर रहा है.

Report by Abhay Raj

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : दो साल से सैंकड़ो ग़रीब बच्चों को मुफ़्त में पढ़ा रहे- अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार

Muzaffarpur Now

Published

on

शिक्षा ही गरीबी से बाहर निकलने का सबसे बड़ा हथियार है. जबतक ग़रीब और दलित परिवार के बच्चों को शिक्षा नहीं दिया जायेगा तबतक समाज की ग़रीबी समाप्त नहीं हो सकती और मुजफ्फरपुर निवासी अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार ने इस बात को बखूबी समझा.

मुजफ्फरपुर में कन्हौली विष्णुदत्त स्थित मोहन सहनी टोला में अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार पिछले दो वर्षों से निःशुल्क स्कूल चला रहे है. इन दोनों दोस्तों ने अपने पैसों से गांव में स्मार्ट क्लास का निर्माण भी कराया है. गांव के बच्चों को स्मार्ट टीवी के माध्यम से ये दोनों साथी मुफ्त में आधुनिक शिक्षा दे रहे है.

फ्री स्मार्ट स्कूल चलाने और देशहित के कामों के लिये अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार ने जर्नलिस्ट फॉर सोशल रिफॉर्म (जे.एस.आर) नाम से संस्था भी बनाया है. अब इसी जे.एस आर के बैनर तले दोनों तक़रीबन 110 बच्चों को रोज़ाना फ्री में पढ़ा रहे है.

संस्था के तहत इन्होंने फ्री स्कूल की शुरुआत 2018 में की तबसे वहां एक नियमित शिक्षक उपलब्ध करा रोजाना बच्चों की पढ़ाई चल रही है. जिस इलाके में इन्होंने स्कूल बनाया है वह मूलतः दलित बस्ती है जहाँ बच्चों के साफ-सफाई और रहन सहन में ढ़ेरो परेशानी थी. फ्री स्कूल के माध्यम से बच्चो को सफाई का भी पाठ पढ़ाया जाता है. नियमित हाथ धोना, नहाना और नाखून सही समय पर काटने के लिये भी बच्चों को प्रेरित किया जाता है.

अभिषेक रंजन और उज्जवल ने जब कन्हौली के मोहन सहनी टोला में फ्री स्कूल की शुरुआत की थी तब वहां 20-25 बच्चें ही आते थे. अब धीरे- धीरे संख्या बढ़कर 110 बच्चों तक पहुँच गया है. स्मार्ट टीवी से पढ़ाई होने के कारण बच्चों को पढ़ने में भी अधिक मन लगने लगा है. जे.एस.आर के माध्यम से समय-समय पर बच्चों का मुफ़्त स्वास्थ जांच भी कराया जाता है और अन्य एक्स्ट्रा एक्टिविटी भी कराई जाती है.

स्कूल के संस्थापक अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार बताते है कि कोरोना के मद्देनजर अभी स्कूल बंद है, लेकिन खुलते ही बच्चों को मास्क और सेनिटाइजर दिया जाएगा और समाजिक अनुशासन पर विशेष बल दिया जायेगा. संस्थापक ने बताया कि जे.एस.आर फ़्री स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों का पूर्व में भी स्वास्थ जांच होता रहा है अब इन चीजों पर और विशेष ध्यान दिया जाएगा.

समाज में शिक्षा का अलख जगाने के लिये इन दोनों दोस्तों का यह कदम सराहनीय है. इनसे प्रेरणा लेकर और भी लोगों को ऐसा क़दम उठा देश निर्माण मे योगदान करना चाहिए.

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर: कोरोना, बाढ़ के बीच चमकी का कहर, एसकेएमसीएच में एक बच्ची की मौत

Ravi Pratap

Published

on

एसकेएमसीएच के पीकू वार्ड में रविवार को चमकी-बुखार से पीड़ित औराई के देकुली के सुरुचि कुमारी की मौत हो गई। उसे बीते शुक्रवार की सुबह भर्ती कराया गया था। वहीं, पीकू वार्ड में छह नये बच्चों को भर्ती किया गया है। डॉक्टरों ने बताया कि भर्ती बच्चों में चमकी-बुखार के लक्षण पाए गए हैं। फिलहाल लक्षण के आधार पर इलाज शुरू किया गया है। ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए पैथोलॉजी लैब में भेजा गया है।

Photo : File

भर्ती बच्चों में काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र का छह महीने का मो. सादिक, गायघाट के चोरनिया की 12 वर्षीया आरती कुमारी, मोतिहारी की सात वर्षीया रानी कुमारी व दस वर्षीय रवि कुमार, सीतामढ़ी के बाजपट्टी की सात वर्षीया साहिस्ता परवीन व गोपीनाथपुर का दस वर्षीय रंधीर कुमार शामिल है। एसकेएमसीएच अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने बताया कि पीकू वार्ड में एक बच्ची की मौत हो गई है। उसे तेज बुखार होने पर भर्ती कराया गया था।

Input : Live Hindustan

Continue Reading

MUZAFFARPUR

प्रधानमंत्री के गंदगी भारत छोड़ो अभियान का मुजफ्फरपुर में भी होगा सक्रिय ढंग से क्रियान्वयन

Thakur Divya Prakash

Published

on

गंदगी भारत छोड़ो अभियान के तहत 15 अगस्त तक विशेष स्वच्छता अभियान पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा। मंत्री मुज़फ़्फ़रपुर में मंगलवार को स्वयं इसमें शामिल होंगे।

इसी अभियान के तहत आज गंदगी भारत छोड़ो अभियान को प्रभावी ढ़ंग से लागू कराने के लिए जल जमाव का जायज़ा लेने मंत्री ,नगर आयुक्त एवं अपर नगर आयुक्त के साथ ब्रहमपुरा, बीबीगंज,दामोदरपुर ,मोतीझील ,कल्याणी ,बेला ,मिठनपुरा आदि पहुँचे। हर जगह पर जा कर मंत्री ने समीक्षा करते हुए जरुरी दिशानिर्देश दिए।

अभियान को और गति देने के उद्देश्य से कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुज़फ़्फ़रपुर की स्थिति की समीक्षा स्वयं मंत्री करेंगे।पटना से नगर विकास के सचिव,बुडको के MD सहित सभी पदाधिकारी इसमें शामिल होंगे।

Continue Reading
INDIA1 hour ago

रिया चक्रवर्ती ने CBI जांच का विरोध किया, सुप्रीम कोर्ट में दिया हलफनामा

BIHAR3 hours ago

बिहारी परिवारों को उल्टा- सीधा और नीच सोच का कहने वाली ज्योति यादव जैसी पत्रकार को हम कब जवाब देंगे

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर : दो साल से सैंकड़ो ग़रीब बच्चों को मुफ़्त में पढ़ा रहे- अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार

BIHAR4 hours ago

सुशांत के भाई संजय राउत पर करेंगे मानहानि का केस, पिता पर दूसरी शादी करने का लगाया था आरोप

INDIA4 hours ago

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजीटिव, ट्वीट कर दी जानकारी

INDIA4 hours ago

Chinese Troops ने पाकिस्तानी सैनिकों को जमकर पीटा, जानें आपस में क्यों भिड़े ‘जिगरी यार’

INDIA5 hours ago

रिया चक्रवर्ती फिर से पहुंची ईडी दफ्तर, नए सवालों का जवाब देने में छूटेगा पसीना

BIHAR6 hours ago

IPS विनय तिवारी को CBI में भेजने वाले अटकलों को उन्होंने खुद बताया गलत, निराश हुए लोग-

HEALTH7 hours ago

WHO की चेतावनी- वैक्सीन कोई जादुई गोली नहीं होगी, जो पलक झपकते ही खत्म कर देगी वायरस

SPORTS7 hours ago

IPL-2020: योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि IPL-13 की टाइटल स्पॉन्सरशिप की दौड़ में शामिल

BIHAR3 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 weeks ago

सलमान खान ने शेयर की किसानी करने की ऐसी तस्वीर, लोगों ने जमकर सुनाई खरीखोटी

INDIA4 weeks ago

एक दूल्हे के संग दो दुल्हनों ने लिए फेरे : एक गर्लफ्रेंड, दूसरी मम्मी-पापा की पसंद, Video देखें

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

BIHAR6 days ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR5 days ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR1 week ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

MUZAFFARPUR2 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

BIHAR22 hours ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

Trending