मुज़फ़्फ़रपुर : नाबालिग से सामू'हिक दु'ष्कर्म के बाद आरो'पी घूम रहे खुलेआम ; पु'लिस पर लगे गंभीर आरोप
Connect with us
leaderboard image

MUZAFFARPUR

मुज़फ़्फ़रपुर : नाबालिग से सामू’हिक दु’ष्कर्म के बाद आरो’पी घूम रहे खुलेआम ; पु’लिस पर लगे गंभीर आरोप

Himanshu Raj

Published

on

मुजफ्फरपुर ज़िले के हथौड़ी थाना क्षेत्र में 14 साल की नाबालिग से गैंगरेप का मामला दर्ज किया गया, लेकिन घटना के चार महीने बीत जाने के बाद भी नाबालिग लड़की का अपहरण कर गैंग रेप करने वाले आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं. आरोप यह भी है कि अपहरण और गैंग रेप के इस सनसनीखेज मामले में पीड़ित की ठीक ढंग से मेडिकल जांच तक नहीं करवायी गयी. पीड़ित ने मेडिकल जांच नहीं कराने और कोर्ट में सही बयान नहीं देने के लिए दबाव बनाने का आरोप पुलिस पर लगाया है. आलम ये है कि पीड़ित परिवार घर बेचकर गांव छोड़ने को मजबूर हो रहा है.

आरोप है कि हथौड़ी थाना क्षेत्र के अल्पसंख्यक बहुल गांव में एक दूसरे समुदाय की 14 साल की नाबालिग लड़की का अपहरण तीन लड़कों ने कर लिया. इसी साल 17 जुलाई को लड़की का अपहरण उस समय किया गया जब वह गांव के बगल के हाई स्कूल में पढ़ने गई थी. गांव के मो आरिफ और दो नाबालिग लड़के के साथ पांच लोगों पर अपहरण का आरोप लगा है.

अपहरण के 12 दिन बाद यानि 29 जुलाई को नाबालिग लड़की को एक नाबालिग आरोपी के साथ लखनऊ स्टेशन पर देखा गया. बाद में लड़की को एक संस्था के हवाले किया गया.जहां से हथौड़ी पुलिस और परिवार वालों के साथ बच्ची को मुजफ्फरपुर लाया गया.

पीड़िता के अनुसार लखनऊ में बंद कमरे में उसके साथ मो आरिफ और एक नाबालिग आरोपी ने लगातार दुष्कर्म किया. उसने बताया कि इन दोनों ने ये काम इसलिए किया कि एक नाबालिग लड़के से उसकी दोस्ती थी. पीड़ित लड़की के अनुसार उसकी इसी दोस्ती का बदला लेने के लिए गांव के दोनों युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

पीड़ित के अनुसार उसे बेहोश कर अपहरण किया गया था. और कई दिनों तक दुष्कर्म भी खाना में नशीला पदार्थ मिलाने के बाद करता था. बरामदगी के बाद पीड़िता को धमकी देकर सही बयान कोर्ट में देने से रोका.

पीड़ित कहती है कि उसके दोस्त ने 28 जुलाई को लखनऊ पहुंचकर दोनों युवकों के चंगुल से बचाकर लाया. हलांकि पीड़ित लड़की बार-बार दोहरा रही है कि अपहरण करने में उसका मित्र भी शामिल था. लेकिन दोनों युवकों के कई दिनों तक दुष्कर्म करने के बाद वह लखनऊ पहुंचा था.

आरोप है कि गैंगरेप करने वाले युवकों ने पीड़िता को इस कदर धमकाया कि वह मुजफ्फरपुर आने के बाद कोर्ट में दिये 164 के बयान में तीनों लड़कों पर अपहरण करने की बात तो बताई, लेकिन दुष्कर्म किये जाने की बात नहीं बताई.

उसने यह भी आरोप लगाया है कि गैंगरेप करने वाले अपराधी ही नहीं बल्कि नाबालिग को लखनऊ से बरामद करने गई पुलिस ने भी मेडिकल जांच नहीं कराने का दबाव बनाया. वह कहती है कि मुजफ्फरपुर के सदर अस्पताल में पीड़िता के निजी अंगों की जांच भी नहीं कराई गई.

आरोप है कि पुलिस ने यह कहकर दबाव बाया कि दुष्कर्म की बात जांच में पुष्टि होने पर पीड़ित परिवार की परेशानी बढ़ जायेगी. इतना ही नहीं मेडिकल बोर्ड में नाबालिग की उम्र 19 से 20 बताई गई जबकि स्कूल में नाबालिग की उम्र 16 जुलाई 2005 दर्ज है. यानि इस साल जुलाई माह में ही पीड़िता 14 साल की हुई है.

जुलाई में नाबालिग के साथ हुई घिनौनी घटना के बाद भी सभी आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है. पुलिस अधिकारियों के अनुसंधान में अपहरण की घटना को सत्य बताकर 5 आरोपियों में से पीड़िता द्वारा बताये गये तीन आरोपियों की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है, लेकिन तीनों आरोपी घटना के बाद भी खुलेआम घूम रहा है .

पुलिस अनुसंधान में यह बताया कि नाबालिग का अपहरण शादी की नीयत से किया गया था.लेकिन नाबालिग का दिया गया बयान काफी गंभीर है.उसने बताया कि उसके साथ लखनऊ में मो आरिफ और एक नाबालिग ने कई दिनों तक दुष्कर्म किया.वही मेडिकल जांच नहीं कराने और कोर्ट में सही बयान नहीं देने के लिए आरोपियों से लेकर पुलिस तक ने दबाव बनाया.

पीड़ित के पिता का आरोप है कि बेटी के साथ गैंगरेप की घटना में धमकी देने वाले शख्स के ही निकट के संबंधी घटना को अंजाम दिया है. अस्पताल से लेकर पुलिस तक भी मामले को दबाने के लिए भी मो मोमताज ही दौड़-धूप कर रहा है.

पीड़ित के परिवार गांव छोड़ने का लिया निर्णय

नाबालिग बेटी के साथ गैंगरेप की घटना के बाद पूरा परिवार टूट चुका है. दिल्ली में ऑटो चलाने वाले पीड़ित के पिता पूरे मामले में सनसनीखेज आरोप लगा रहे हैं. पिता का कहना है कि गांव में उनके घर के आगे कुछ साल पहले अवैध बूचड़खाना था. जिसकी शिकायत पुलिस में उन्होंने की थी. इस बात को लेकर सामने का पड़ोसी मो मोमताज नाराज हुआ था और लगातार धमकी भी देता रहता था.

बहरहाल समाज और पुलिस दोनों ही ओर से परेशान किए जाने के बाद अल्पसंख्यक बहुल गांव में रह रहा पीड़ित परिवार बेटी के साथ घटी घटना से इतना टूट चुका है कि गांव में पैतृक संपत्ति को औने-पौने कीमत में बेचकर जाने का निर्णय कर चुका है.

पीड़ित परिवार अपना घर बेचकर गांव छोड़ने को मजबूर है

पीड़ित के पिता का कहना है कि अवैध बूचड़खाना चलाने वाले मो मुमताज के आतंक की वजह से एक साल पहले ही गांव की संपत्ति का सौदा कर लिया था.लेकिन बेटी के साथ घटी घटना और पुलिस द्वारा कारवाई नहीं किये जाने से जल्द ही उनका परिवार गांव को छोड़ देगा.

इस मामले में पीड़ित परिवार लगातार एसएसपी से लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तक से गुहार लगा चुका है. लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से परिवार टूट चुका है. केस को कमजोर करने वाले लोगों के खिलाफ भी पीड़ित परिवार जांच की मांग कर रहा है.

Report by Abhay Raj

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर: ABVP के कार्यालय पर ह’मला, लाखो रुपये के लू’ट का लगाया आ’रो’प

Abhay Raj

Published

on

मुज़फ़्फ़रपुर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यालय में हुए ह’मला के वि’रोध में सै’कड़ो की सं’ख्या में का’र्यकर्ताओं ने एसएसपी ऑफिस पहुंच कर आ’रोपितों की गिर’फ्तारी की मांग को लेकर हं’गमा किया.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद मुज़फ़्फ़रपुर के काजीमोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के नया टोला पॉलिटेक्निक कॉलेज के पीछे कार्यालय में कुछ असामाजिक तत्व के द्वारा हमला किया गया. कार्यालय के मंत्री रोहित गर्ग को बुरी तरह पीटा गया.वही करीब 10 लाख रुपये को लूट लिया गया.बता दे कि यह रुपया 26 से 29 दिसंबर को होने वाले ABVP के 61 वा प्रांतीय अधिवेशन के लिए जमा किया हुआ था. पुलिस के कार्यशैली के विरोध में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने एसएसपी ऑफिस पहुंच कर विरोध प्रदर्शन किया.

आरोपितों की जब तक गिरफ्तारी नहीं होती है तब तक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता आंदोलन करते रहेंगे. वही कार्यकर्ताओं के हंगमा की सुचना पर पहुंचे मुशहरी सीओ ने समझा बुझा कर मामले को शांत कराया.

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : आप भी ऑटो से आना-जान करते हैं तो हमेशा रहें सावधान, बाद में सिर धुनने से कुछ भी हाथ नहीं लगने वाला

Santosh Chaudhary

Published

on

मुजफ्फरपुर ।  तमाम सख्ती के बावजूद शहर में कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार होता नहीं दिख रहा। हां, ब’दमाशों की बदली कार्यशैली के कारण नागरिकों की परेशानी जरूर बढ़ गई है। अब लु’टेरों को ही लें, वे ऑटो चालक और यात्री बनकर भोले-भाले लोगों को अपना शि’कार बना रहे। ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र में शुक्रवार को ऐसी घ’टना घटी। जिसमें यात्री की सतर्कता से वे लु’टने से बच गए और सभी अ’पराधी पुलिस की गि’रफ्त में हैं।

DEMO PHOTO

पांच बदमाश गिरफ्तार

ब्रह्मपुरा थाना के चांदनी चौक पर ऑटो सवार से कैश छिनतई करते पांच बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस इन सभी से पूछताछ कर नाम पते का सत्यापन कर रही है। बदमाशों में ऑटो चालक भी है। उसका ऑटो भी जब्त कर लिया गया है।

संदिग्ध था आॅटो चालक का व्यवहार

इस संबंध में पीडि़त साहेबगंज रजवाड़ा के बृजकिशोर पांडेय ने बताया कि पोते का जन्मदिन था। उसे उपहार में देने के लिए साइकिल खरीदने के लिए शहर आया था। घर से सात हजार रुपये लेकर निकला। बस से चांदनी चौक पहुंचे। वहां से भगवानपुर स्थित अपने पुत्र के कमरे पर जाने की सोच रहे थे। इसी बीच एक ऑटो आकर रुका। चालक ने भगवानपुर जाने की बात बोलकर बैठा लिया। लेकिन, वह वहीं पर ऑटो को घुमाता रहा। संदेह होने पर उन्होंने अपने कुर्ता की जेब को पकड़ लिया। लेकिन, ऑटो सवार बदमाशों ने जबरन उन्हें हाथ बढ़ाने को कहा। इसी बीच एक बदमाश पैसा छीनने लगा।

पीडि़त ने मचा दी शोर

पीडि़त की नजर गश्त लगा रही पुलिस पर पड़ी। उन्होंने शोर मचाना शुरू किया। पुलिस को कुछ गड़बड़ लगा। उसने ऑटो का पीछा करना शुरू किया। इसके बाद ऑटो सवार सभी बदमाशों को दबोच लिया। शुक्र है, बृजकिशोर पांडेय लुटते-लुटते बच गए। यदि उन्होंने सजगता नहीं दिखाई हाेती तो वे भी आज हाथ मल रहे होते। इसलिए हमेशा सजग रहने की जरूरत है। ऑटो से यात्रा करते हुए अतिरिक्त सावधान रहें। ऑटो चालक या सहयात्री का व्यवहार संदिग्ध होते ही पुलिस को बुलाएं या लोगों से मदद मांगें।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुज़फ़्फ़रपुर के निबंधन कार्यालय में निगरानी विभाग की छा’पेमारी

Abhay Raj

Published

on

मुज़फ़्फ़रपुर के निबंधन कार्यालय में निगरानी विभाग के द्वारा छा’पेमारी की गई.

छापेमारी के दौरान कई कागजातों को खंगाला गया.निगरानी विभाग के टीम के पहुँचते ही कार्यालय में हड़कंप मच गया.कुछ देर के लिए अफरा तफरी का माहौल बन गया.कार्यालय को बंद कर कई घंटों तक निगरानी की टीम ने कागजातों को खंगालता रहा. लंबी चली छापेमारी के बाद टीम का नेतृत्व कर रहे वी के शर्मा डीएसपी निगरानी ने बताया कि लगभग 50 हज़ार रुपये नगद बरामद किए गए है.और यह छापेमारी जो है आए से अधिक संपत्ति को लेकर की गई है.विशेष कुछ बताने से डीएसपी निगरानी बचते हुए दिखाई दिए.

जैसा कि जानकारी मिल रही है कि रजिस्ट्रार संजय ग्वालिया के ऊपर आए से अधिक संपत्ति के मामले में निगरानी विभाग के टीम को पहले कई ठोस जानकारियां मिली है.जिसके आधार पर निगरानी की टीम ने यह छापेमारी की.

बता दे कि यह आरोप जो है मुज़फ़्फ़रपुर निबंधन कार्यालय के रजिस्ट्रार संजय ग्वालिया के ऊपर लगा है.अब देखना यह दिलचस्प होगा कि आय से अधिक संपत्ति के मामले में निगरानी विभाग की टीम और क्या क्या ख़िलासा आगे करती है.

 

Continue Reading
Advertisement
BIHAR38 mins ago

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को अ’रेस्ट करने का आदेश

BIHAR44 mins ago

पीयू में जीत गई पप्पू यादव की पार्टी, जाप के मनीष यादव बन गए नए प्रेसिडेंट

BIHAR3 hours ago

प्याज के बाद लहसुन की बारी, बिहार में 64 बोरी लू’ट ले गए लु’टेरे

BIHAR13 hours ago

बिहार के अररिया में फिर ब’ड़ी वा’रदात, दु’ष्क’र्म के बाद ब’च्ची को रे’ड लाइट एरिया में बे’चा

BIHAR15 hours ago

चुनाव से पहले हर घर में नल का जल : CM नीतीश

MUZAFFARPUR16 hours ago

मुजफ्फरपुर: ABVP के कार्यालय पर ह’मला, लाखो रुपये के लू’ट का लगाया आ’रो’प

MUZAFFARPUR17 hours ago

मुजफ्फरपुर : आप भी ऑटो से आना-जान करते हैं तो हमेशा रहें सावधान, बाद में सिर धुनने से कुछ भी हाथ नहीं लगने वाला

BIHAR17 hours ago

NEET: करना चाहते हैं रजिस्‍ट्रेशन तो देर ना करें, जारी हो गया है परीक्षा का शेड्यूल

BIHAR18 hours ago

3.75 लाख कांट्रैक्‍ट शिक्षकों को CM नीतीश का तोहफा, अब सेवा काल में तीन प्रमोशन

MUZAFFARPUR18 hours ago

मुज़फ़्फ़रपुर के निबंधन कार्यालय में निगरानी विभाग की छा’पेमारी

TRENDING1 week ago

अक्षय कुमार के गाने फिलहाल ने तोड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड, सबसे कम समय में 100 मिलियन व्यूज़ मिले

INDIA5 days ago

12वीं पास के लिए CISF में नौकरियां, 81,100 होगी सैलरी

OMG3 days ago

पति ने खुद की पढ़ाई रोककर पत्नी को पढ़ाया, नौकरी लगते ही पत्नी ने दूसरी शादी कर ली

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर बैंक मैनेजर की ह’त्या करने पहुचे शूट’र की लो’डेड पिस्ट’ल ने दिया धो’खा, लोगो ने जम’कर पी’टा

INDIA1 week ago

डॉक्टर गैंगरे’प: पुलिस ने बताई उस रात की है’वानियत की कहानी

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर में 8 ब’म मिलने से ह’ड़कंप, घर में छिपाकर रखा गया था ब’म

BIHAR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर पहुंची श्रीराम जानकी विवाह बरात का शंख ध्वनि के बीच भव्य स्वागत

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर का थानेदार नामी गुं’डा के साथ मनाता है जन्मदिन! केक काटते हुए सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल…खाक होगा क्रा’इम कंट्रोल?

BIHAR5 days ago

बिहार पुलिस: सब इंस्‍पेक्‍टर के 221 पदों के ल‍िये आवेदन शुरू, 1 लाख से ज्‍यादा होगी सैलरी

INDIA2 days ago

है’दरा’बाद गैं’गरे’प: एनका’उंटर पर आ’रोपी की पत्‍नी बोली- जहां पति को मा’रा, वहीं मुझे भी मा’र दो

Trending

0Shares