Connect with us
leaderboard image

TRENDING

ये हैं गर्मियों की 3 शानदार डेस्टिनेशन, कम पैसों में देती हैं विदेश की तरह मजा

Avatar

Published

on

गर्मीयों की छुटि्टयां शुरू होने वाली हैं। ऐसे में आप फैमिली के साथ एक बेहतरीन समर ट्रिप प्लान कर सकते हैं। आज हम ऐसी तीन जगहों के बारे में आपको बता रहे हैं, जहां आप कम खर्चे में अच्छा एंजॉय कर सकते हैं। यहां बेहतरीन नजारों से लेकर एडवेंचर तक आपको मिलेगा। जानिए ऐसी तीन डेस्टिनेशंस के बारे में।

मनाली

– कम खर्चे में एंजॉय करना है तो मनाली एक बेहतरीन समर हॉलीडे डेस्टिनेशन हो सकती है। नॉथ इंडिया में मनाली सबसे ज्यादा पॉपुलर हनीमून डेस्टिनेशन है। एडवेंचर की भी यहां कमी नहीं।

कहां घूमें : यहां आप हिडिम्बा मंदिर, हिमालय न्यींग्मापा बुद्धिस्ट मंदिर, क्लब हाउस, सोलंग वैली, जोगिनी फाल्स, अर्जुन गुफा, वशिष्ठ हॉट वाटर स्प्रिंग जैसे प्लेस घूम सकते हैं।

क्या कर सकते हैं : सोलंग वैली में आप पैराग्लाइडिंग, श्री हरि योगा आश्रम में योग के साथ ही वाइल्ड लाइफ सेंचुरी का मजा उठा सकते हैं।

कैसे पहुंचे : मनाली से 50 किमी की दूरी पर भुंतर एयरपोर्ट है। वहीं मनाली से 245
कसोल

– यंगस्टर्स बड़ी संख्या में कसोल घूमने जाते हैं। स्वादिष्ट व्यंजन, जर्मन बैकरी के साथ ही पहाड़ों का एक अद्भुत नजारा यहां नजर आता है।

कहां घूमें : यहां आप गुरुद्वारा श्री मणिकर्ण साहिब, चलाल, जर्मन बेकरी घूमने लायक जगह हैं।

क्या कर सकते हैं : यहां आप ट्रैकिंग के साथ ही रिवरसाइड कैंपिंग कर सकते हैं।

कैसे पहुंचे : भुंतर एयरपोर्ट से कसोल की दूरी 31 किमी है। वहीं 295 किमी की दूरी पर स्थिल पठानकोट रेलवे स्टेशन है।

नैनीताल

– यह समुद्र तट से 1938 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। गर्मीयों में घूमने के लिए नैनीताल भी एक बेहतरीन डेस्टिनेशन है। इस हिल स्टेशन पर खूबसूरत वादियों के साथ ही झरनों का आनंद उठाने का भी मौका मिलता है। कहां घूमें : राज भवन, नैनी लेक, भीमताल, टिफिन टॉप, नैनीताल जू, नैना देवी मंदिर आदि जगहों पर घूम सकते हैं।

क्या कर सकते हैं : नैनी लेक पर बोटिंग कर सकते हैं। टिफिन टॉप में सनराइज व्यू को एंजॉय कर सकते हैं। हनुमान गढ़ी में सनसेट के साथ ही तिब्बती मार्केट में शॉपिंग कर सकते हैं। रोपवे राइड को भी एंजॉय कर सकते हैं।

कैसे पहुंचे : पंतनगर एयरपोर्ट से नैनीताल की दूरी 65 किमी है। वहीं काठगोदाम रेलवे स्टेशन नैनीताल की दूरी 34 किमी है।

कितना आएगा खर्चा

– नैनीताल का दिल्ली से 5 दिन और 4 रातों का टूर 16 हजार रुपए में ऑफर किया जा रहा है। इसमें आने-जाने से लेकर खाना-पीना, घूमना सबकुछ शामिल है। आप मेकमाय ट्रिप, यात्रा डॉटकॉम जैसी वेबसाइट के साथ ही खुद भी ट्रिप प्लान कर सकते हैं। 3 दिन का टूर 8 हजार रुपए तक में भी ऑनलाइन ऑफर किया जा रहा है। वहीं 3 दिनों का कसोल का ट्रिप भी 9 हजार रुपए में ऑफर किया जा रहा है। कसोल का दो दिनों का टूर 4500 रुपए में भी ऑनलाइन अवेलेबल है।

 

Input : Dainik Bhaskar

TRENDING

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है सिद्धू का बयान, ‘अमेठी में राहुल हारे तो छोड़ दूंगा राजनीति’

Avatar

Published

on

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के शुरुआती रुझान और नतीजे 2019 (Lok Sabha Election Results 2019) आने लगे हैं. लोकसभा चुनाव में दूसरी बार बीजेपी ‘मोदी लहर’ के साथ प्रचंड जीत से केंद्र की सत्ता पर काबिज होने जा रही है. इन सबके बीच सोशल मीडिया पर क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू का एक बयान जमकर वायरल हो रहा है.

दरअसल, कांग्रेस के स्टार प्रचारक और पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने बीते माह रायबरेली संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवार सोनिया गांधी के लिए प्रचार के दौरान 28 अप्रैल को कहा था कि अगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी से लोकसभा चुनाव हार जाते हैं तो वे राजनीति छोड़ देंगे.अमेठी लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी 45,453 वोटों से बढ़त बना रखी है. हालांकि, इस सीट पर अभी चुनाव परिणाम सामने नहीं आया है. राहुल गांधी को अब तक की मतगणना में 2,94,290 वोट मिले हैं. वहीं, स्मृति ईरानी को अभी तक 3,39,743 वोट मिले हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव परिणामों ने बीजेपी को एक बार फिर से सत्ता की चाबी सौंपने की तैयारी कर दी है. अब आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. पंजाब में कांग्रेस ने सबसे अच्छा प्रदर्शन किया है. 13 में से 9 सीटों पर कांग्रेस जीत की ओर बढ़ रही है. दो सीटों पर बीजेपी और 2 पर अकाली दल के उम्मीदवार जीत हासिल कर रहे हैं. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पंजाब में 13 में से 13 सीटें जीतने का दावा किया था.

अब इस प्रदर्शन और पार्टी की हार पर उन्होंने कई कारण गिनाए हैं. कैप्टन ने मुख्य रूप से नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा है. पंजाब की सियासत में कैप्टन और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच प्रतिद्वंद्विता का खबरें आती रही हैं. अब कैप्टन ने इस प्रदर्शन के लिए सिदधू पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है भारत में खासकर सर्विसमैन को यह बात बर्दाश्त नहीं है कि भारत का कोई व्यक्ति पाकिस्तानी सेना के जनरल को जाकर गले लगाए.

बता दें कि अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तानी सेना के जनरल बाजवा को गले लगाया था. इसके बाद उनकी खूब आलोचना हुई थी. इसके बाद भी उनके रुख में कोई बदलाव नहीं आया था.

Input : Zee News

Continue Reading

TRENDING

पाकिस्‍तान में पीएम मोदी की जीत की धूम, इमरान खान ने ट्वीट कर दी बधाई

Avatar

Published

on

इमरान ने ट्वीट कर कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की जीत के लिए बधाई देता हूं। दक्षिण एशिया में शांति, प्रगति और समृद्धि के लिए मैं उनके साथ काम करने को लेकर आशान्वित हूं।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में एनडीए के रेकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन की पाकिस्‍तान में भी धूम मची हुई है। पाकिस्‍तानी सोशल मीडिया पर भारतीय चुनावों से जुड़े हैशटैग टॉप टेन में ट्रेंड कर रहे हैं। उधर, जहां पाकिस्‍तानी मीडिया पीएम मोदी की शान में कसीदे कढ़ रहा है, वहीं कई ऐसे पत्रकार हैं जो मोदी के जीतने से दहशत में हैं। इस बीच पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के सुर बदल गए हैं। उन्‍होंने ट्वीट करके पीएम मोदी को जीत के लिए बधाई दी है और कहा कि उनके दोबारा प्रधानमंत्री बनने पर दोनों देशों के रिश्‍ते अच्‍छे होंगे।

इमरान खान ने कहा कि उन्‍हें विश्‍वास है कि पीएम मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने पर भारत के साथ शांति वार्ता और कश्‍मीर मुद्दे के समाधान के बेहतर अवसर होंगे। विदेशी पत्रकारों के साथ बातचीत में इमरान ने कहा, ‘संभवत: अगर बीजेपी दोबारा…जीतती है तो कश्‍मीर मुद्दे पर किसी तरह का कुछ समाधान हो सकता है।’ खान ने कहा कि दोनों देशों के बीच कश्‍मीर मुख्‍य मुद्दा है।

पाकिस्‍तानी पीएम ने दावा किया कि पाकिस्‍तान जैश-ए-मोहम्‍मद समेत सभी आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। उन्‍होंने कहा, ‘हमने इन गुटों के धार्मिक स्‍कूलों को सरकार के नियंत्रण में ले लिया है। यह लड़ाकू संगठनों को हथियार रहित करने का पहला गंभीर प्रयास है।’ उन्‍होंने कहा कि ये कार्रवाई इसलिए की गई क्‍योंकि यह पाकिस्‍तान के अपने भविष्‍य के लिए जरूरी था। उन्‍होंने इस दावे को खारिज कर दिया कि विश्‍व समुदाय के दबाव में आकर उन्‍होंने कार्रवाई की है।

बाद में इमरान ने ट्वीट करके पीएम मोदी को बधाई दी। उन्‍होंने कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की जीत के लिए बधाई देता हूं। दक्षिण एशिया में शांति, प्रगति और समृद्धि के लिए मैं उनके साथ काम करने को लेकर आशान्वित हूं।’

उधर, पाकिस्‍तान में ट्विटर के टॉप टेन ट्रेंड में #IndianElections2019 सबसे ऊपर चल रहा है। #ElectionResults2019, #LokSabhaElections2019, कांग्रेस, राहुल गांधी, इंडियन जैसे हैशटैग टॉप टेन में ट्रेंड कर रहे हैं। बड़ी संख्‍या में लोग भारतीय चुनावों पर ट्वीट कर रहे हैं। पाकिस्‍तान की ज्‍यादातर न्‍यूज वेबसाइटों पर पीएम मोदी की जीत की खबरों को प्रमुखता से दिया गया है।

डेली टाइम्‍स के पत्रकार इम्तियाज गुल लिखते हैं, ‘पाकिस्‍तान के लिए अब घर के अंदर बेहतर प्रदर्शन की बड़ी चुनौती है। संदेह के कारणों को दूर करना होगा और वादों को पूरा करना होगा। अन्‍यथा नरेंद्र मोदी और उनकी सेना पाकिस्‍तान पर एफएटीएफ के तहत लगे प्रतिबंधों का लाभ उठाने में पूरी ताकत लगा देगी। पाकिस्‍तान के सभी पक्ष मोदी से निपटने के लिए चतुराई से काम करें। मोदी आ रहा है।’

 

Continue Reading

TRENDING

PM मोदी और अमित शाह के वो 10 फैसले जिसने बदल दी चुनाव की तस्वीर

Avatar

Published

on

लोकसभा चुनाव 2019 के रुझानों में दोबारा नरेंद्र मोदी की सरकार बनती दिख रही है. रुझान से बीजेपी उत्साहित है और अब फाइनल नतीजों का इंतजार कर रही है. रुझान में बीजेपी की अगुआई वाले एनडीए को 350 के आस-पास सीट मिलती दिख रही हैं. ऐसे में साफ है कि विपक्ष का कोई भी मुद्दा मोदी लहर और अमित शाह की रणनीति के आगे टिक नहीं पाया. 2014 की तरह इस बार भी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लोकसभा चुनाव लड़ने वाली बीजेपी के जीत के ये हैं वो 10 फैसले जिन्होंने बदल दी चुनाव की तस्वीर…

ये हैं मोदी-शाह के वो 10 फैसले

– प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी अपने ऊपर होने वाले हमले को अपना हथियार बनाना बखूबी जानते हैं. पिछले चुनाव में चाय वाले को हथियार बनाया तो इस बार चौकीदार को मुद्दा बनाया.

– 2014 में सत्ता में आने के बाद भी प्रधानमंत्री मोदी और उनके सेनापति अमित शाह ने कभी आराम नहीं किया. अमित शाह को इस बात अंदाजा था कि बीजेपी की 282 सीटों को बचाना मुश्किल है, लेकिन नए राज्यों को जोड़कर इसे बढ़ाया जा सकता है. इसलिए उन्होंने उन इलाकों का अपना कार्यक्षेत्र बनाया जहां बीजेपी 2014 में बहुत कमजोर थी.

– सबसे पहले अमित शाह ने पूर्वोत्तर भारत को अपना कार्यक्षेत्र बनाया. असम और त्रिपुरा में बीजेपी की सरकार बनी, उसके बाद पूर्व में पश्चिम बंगाल और ओडिशा को अपना कर्मक्षेत्र बनाया.

– लोकसभा चुनाव के ठीक पहले अमित शाह ने अपने विरोधियों को मना लिया. महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ लंबे समय की कड़वाहट भूलकर शिवसेना एक साथ चुनाव में खड़ी दिखी.

– बिहार में गठबंधन धर्म निभाने के लिए बीजेपी ने 2014 में जीती गई 22 सीटों की बजाय सिर्फ 17 सीटों पर चुनाव लड़ने पर सहमति दे दी. गठबंधन धर्म निभाने के लिए ही पार्टी ने गिरिराज सिंह जैसे दिग्गज नेता की सीट भी सहयोगी दल को दे दी, जिसका विरोध भी हुआ था.- बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कड़े फैसले लेने के लिए जाने जाते हैं. उत्तर प्रदेश में इस चुनाव में उन्होंने पार्टी के कई कद्दावर नेताओं समेत करीब एक तिहाई सांसदों का टिकट काट दिया. साथ ही रामशंकर कठेरिया और विरेंद्र सिंह मस्त जैसे दिग्गज नेताओं की सीट बदल दी. टिकट काटने का सबसे पहला प्रयोग अमित शाह ने दिल्ली नगर निगम के चुनाव में किया था जो पूरी तरह सफल रहा था.

– जातीय वोट गणित की लड़ाई कैसे लड़ी जाती है, ये बात अमित शाह से अच्छी तरह कौन जानता है. और इसका सबसे बढ़िया प्रयोग उन्होने उत्तर प्रदेश में सुहलेदव भारतीय समाज पार्टी और उसके नेता ओम प्रकाश राजभर के साथ किया. बीजेपी ने राजभर के मामले में अंतिम समय तक पत्ता नहीं खोला. यहां तक कि उसके लगातार विरोध के बाद भी राजभर के बेटे समेत पार्टी के कई नेताओं को राज्यमंत्री का दर्जा दिया. ताकि पार्टी में ओम प्रकाश राजभर अकेले पड़ जाएं और हुआ भी ऐसा ही. पार्टी ने उनको सीट देने से इनकार ऐसे समय में किया, जब सारे गठबंधन बन चुके थे. यानी ओम प्रकाश राजभर के पास बीजेपी के साथ बीजेपी की शर्तों पर रहने या अकेले चुनाव लड़ने का कोई रास्ता नहीं बचा था.

– विरोधी भी अमित शाह के चुनाव लड़ने की रणनीति के कायल हैं. चुनाव प्रचार के दौरान ये साफ दिखा उत्तर प्रदेश के पश्चिम इलाके में जहां बीजेपी गठबंधन के बाद ध्रुवीकरण से बचना चाहती थी. सांप्रदायिक भाषणों पर तब तक रोक लगाई जब तक बीएसपी और कांग्रेस मुस्लिम वोटों के लिए आमने-सामने नहीं आ गए.

– राजस्थान में गुर्जर आंदोलन के तेज होने तक इंतजार किया और जब कांग्रेस की राज्य सरकार इसे संभाल नहीं पाई तो बड़े गुर्जर नेता करोड़ी सिंह बैंसला और हनुमान बेनीवाल को अपने पाले में ले आई.

– मध्य प्रदेश में दिग्विजय सिंह जब नर्मदा यात्रा को राज्य में कांग्रेस की वापसी का श्रेय दे रहे थे और सॉफ्ट हिंदुत्व के सहारे भोपाल से चुनाव जीतना चाहते थे तो बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा जैसे चेहरे पर दांव लगाकर चुनाव को नई धार दे दी.

Input : News18

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
BIHAR43 mins ago

राज्य की एक दर्जन लोकसभा सीटों पर 3 से 5 प्रतिशत मतदाताओं ने दबाया नोटा

MUZAFFARPUR55 mins ago

युवा, महिला ही नहीं हर गरीब काे लगा कि माेदी ही देश का विकास कर सकते हैं : मंत्री सुरेश शर्मा

INDIA1 hour ago

बेटे- बीवी की जीत की खुशी मना रहे हैं धर्मेंद्र,बोले- हमें भारत माता से प्यार है,अच्छे दिन आ गए

BIHAR8 hours ago

शॉटगन ने मारा ताना, एनडीए की जीत नहीं, बड़े पैमाने पर हुआ खेल

BIHAR9 hours ago

तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी को दी बधाई, बोले- डबल इंजन सरकार समस्या का करेंगे समाधान

TRENDING10 hours ago

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है सिद्धू का बयान, ‘अमेठी में राहुल हारे तो छोड़ दूंगा राजनीति’

MUZAFFARPUR11 hours ago

अजय निषाद ने राजभूषण चौधरी को चार लाख से अधिक वोट से हराया

BIHAR12 hours ago

1100 करोड़ की संपत्ति वाले इस उम्मीदवार को मिले सिर्फ 1100 वोट, जानिए इनके बारे में…

TRENDING13 hours ago

पाकिस्‍तान में पीएम मोदी की जीत की धूम, इमरान खान ने ट्वीट कर दी बधाई

INDIA13 hours ago

अब नहीं रहे चौकीदार, बोले- इस स्प्रिट को अगले स्तर पर लेकर जाएंगे

BIHAR4 weeks ago

वैशाली लोकसभा से NDA प्रत्यासी वीणा देवी की बढ़ी परेशानी, रघुबंश प्रसाद सिंह ने की गि’रफ्तारी की मांग

BIHAR2 weeks ago

पीडब्ल्यूडी की महिला अधिकारी की तस्वीर देश विदेश में मचाई धमाल

BIHAR6 days ago

बिहार के युवक ने कार को बना डाला हेलीकॉप्टर, पुरे बिहार में बन गया चर्चा का विषय

BIHAR2 weeks ago

मुज़फ़्फ़रपुर की लाल की दुबई में मौ’त, घर मे मचा कोहराम

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुज़फ़्फ़रपुर में महागठबंधन के चुनावी सभा में लगे मोदी-मोदी के नारे

Uncategorized2 weeks ago

टाइम मैगज़ीन ने PM नरेंद्र मोदी को बताया ‘India’s Divider In Chief’

BIHAR2 weeks ago

सुप्रीम कोर्ट से नियोजित शिक्षकों को झटका, नहीं मिलेगा समान काम के बदले समान वेतन

Uncategorized4 weeks ago

जॉनसन एंड जॉनसन बेबी शैम्पू एवं पाउडर की बिक्री पर रोक

BIHAR1 week ago

माँ की बदौलत पंजाब की बेटी बिहार में बनी IPS ‘लेडी सिंघम’

Uncategorized4 weeks ago

सनी देओल का पहला रोड शो, कहा-हिंदुस्तान जिंदाबाद था, जिंदाबाद है और जिंदाबाद रहेगा

Trending

0Shares