Connect with us

BIHAR

राजदेव रंजन की पत्नी भी चुनाव मैदान में, शहाबुद्दीन पर है पत्रकार की हत्या कराने का आरोप

Muzaffarpur Now

Published

on

13 मई 2016, इस दिन बिहार के सीवान जिले में एक हत्‍या हुई थी. ये हत्‍या पत्रकार राजदेव रंजन की थी. इस हत्‍याकांड ने सीवान समेत बिहार भर की सियासत को हिला कर रख दिया था. अब राजदेव रंजन की पत्‍नी आशा रंजन ने सीवान सदर से चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. उन्‍होंने शुक्रवार को प्रकाश आंबेडकर की पार्टी वंचित बहुजन आघाड़ी से नामांकन किया है. आपको यहां बता दें कि पत्रकार राजदेव रंजन की सीवान स्टेशन रोड पर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड की सीबीआई जांच कर रही है. इस हत्‍याकांड में सीवान के पूर्व सांसद और राजद नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन को भी आरोपी बनाया गया है.

s

अपराध के खिलाफ होगी लड़ाई

स्‍थानीय मीडिया से बात करते हुए आशा रंजन ने बताया कि चुनाव में उतरने का मकसद सीवान को अपराध मुक्‍त बनाना है. उन्‍होंने कहा कि अब तक मैं बतौर शिक्षक अपने परिवार के लिए जी रही थी, लेकिन अब सीवान के लोगों के लिए लड़ना है. आशा रंजन ने कहा कि शिक्षा क्षेत्र से जुड़ी रही हूं, इसलिए शिक्षकों की समस्‍या पर भी फोकस करना चाहती हूं. आशा रंजन ने आरोप लगाया कि उनके पति को अब तक इंसाफ नहीं मिल सका है.

सीबीआई को राजदेव रंजन की पत्नी पर शक – Siwan News

क्‍यों हुई थी राजदेव रंजन की हत्‍या 

करीब दो साल पहले मुजफ्फरपुर कोर्ट में सुनवाई के दौरान पत्रकार राजदेव रंजन की पत्‍नी आशा रंजन ने हत्‍या की वजह बताई थी. उन्‍होंने बताया था कि तत्कालीन मंत्री अब्दुल गफ्फार सीवान जेल में मो. शहाबुद्दीन से मिलने गए थे.  इसकी खबर और तस्वीर अखबार में प्रकाशित हुई थी. खबर और फोटो छपने के बाद राजदेव रंजन को धमकी दी गई. आशा रंजन ने बताया था कि इस खबर से शहाबुद्दीन नाराज थे. आशा रंजन के मुताबिक इससे पहले भी राजदेव रंजन की कई खबरों में शहाबुद्दीन का जिक्र होने की वजह से उनके पति निशाने पर थे. आशा रंजन ने कहा था कि जिसने राजदेव रंजन की हत्‍या की, वो शहाबुद्दीन का शागिर्द है.

दिलचस्‍प हुई सीवान सदर की सियासत 

बहरहाल, राजदेव रंजन की पत्‍नी आशा रंजन के नामांकन के बाद अब सीवान सदर की सियासत दिलचस्‍प हो गई है. दरअसल, इस सीट पर बीजेपी ने सीवान के ही पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव को टिकट दिया है. अहम बात ये है कि वर्तमान बीजेपी विधायक व्‍यासदेव प्रसाद का टिकट काटकर ओमप्रकाश यादव को उम्‍मीदवार बनाया गया है. इस वजह से व्‍यासदेव प्रसाद नाराज हैं और उन्‍होंने निर्दलीय नामांकन कर दिया है. वहीं, महागठबंधन की बात करें तो इस सीट पर राजद के अवध बिहारी चौधरी उम्‍मीदवार बने हैं. अवध बिहारी चौधरी राजद के पुराने नेता हैं और वह इस सीट से लगातार 5 बार विधायक रह चुके हैं.

Source : Aaj Tak

BIHAR

त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर बरतें सावधानी, स्वास्थ्य मंत्रालय की अपील

Muzaffarpur Now

Published

on

त्योहारों का मौसम सभी लोगों को एक साथ लाता है, जो सभी समुदायों को सांस्कृतिक और भाषाई एकीकरण प्रदान करता है। हालांकि, इस साल चीजें थोड़ी अलग है। नवरात्रि और दशहरा बिल्कुल पास हैं तो दिवाली और क्रिसमस जैसे त्योहार आने वाले हैं। इस बीच सरकार ने लोगों को सार्वजनिक समारोहों से बचने, शारीरिक दूरी बनाए रखने और त्योहार मनाने को अपने घरों तक सीमित रखने की सलाह दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक सलाह में लोगों से अपील की गई है कि त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर अति सजग रहने की जरूरत है, क्योंकि इस कारण कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है।

सामाजिक शिष्टाचार बनाए रखने की इस अपील को देशव्यापी maintain जन आंदोलन ’अभियान के शुभारंभ के साथ आगे बढ़ाया गया है, जो त्योहारों को मनाते समय बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए लोगों को COVID-19 उपयुक्त व्यवहारों को अपनाने और अभ्यास करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

स्वास्थय मंत्रालय ने एक ट्वीट में लिखा है कि त्योहारों की खुशियों में सुरक्षा के प्रति लापरवाही ना बरतें। मास्क पहनें, हाथ धोएं और दूसरों से उचित दूरी बना कर रखें। 2 गज की दूरी, मास्क है ज़रूरी।

यह एक महत्वपूर्ण समय है, हमारे हेल्थकेयर मशीनरी, डॉक्टर, नर्स और नागरिक अधिकारी चौबीस घंटे काम कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि हम COVID-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में विजयी हों। शारीरिक दूरी का पालन करके हम अपने हिस्से का काम कर सकते हैं क्योंकि हम अपने प्रियजनों को सुरक्षित रखते हुए इन बहुप्रतीक्षित त्योहारों को मनाना चाहते हैं।

इससे पहले अपने संडे संवाद के एक अंक में भी स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को कोरोना को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी थी। स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को त्योहारों के मौसम में कोरोना से बचाव के तरीके समझाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह त्योहारों के मौसम में सावधानी बरतें, अन्यथा कोरोना फिर से विकराल हो जाएगा।

Source : Dainik Jagran

Continue Reading

BIHAR

बिहार चुनाव: प्रधानमंत्री मोदी ने कही ऐसी बात कि तोड़ दिया चिराग पासवान का भ्रम!

Muzaffarpur Now

Published

on

सासाराम. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत रोहतास जिले से कर दी है. डेहरी विधानसभा क्षेत्र के सुअरा स्थित बियाडा के मैदान में आयोजित चुनावी सभा में सबका ध्यान इस बात पर टिका हुआ था कि पीएम मोदी एनडीए से अलग होने वाली लोक जनशक्ति पार्टी या फिर चिराग पासवान (Chirag Paswan) के बारे में कुछ कहते हैं कि नहीं. हालांकि, पीएम मोदी ने सीधा तो कुछ नहीं कहा, लेकिन इशारों में यह कह दिया है कि बिहार में किसी को कन्फ्यूजन में रहने की जरूरत नहीं है. पीएम मोदी ने अपने भाषण में कुछ ऐसे इशारे किए जिससे यह साफ हो गया कि वह लोजपा और चिराग पासवान को भी संदेश दे रहे थे.

चुनाव बाद भाजपा और लोजपा की सरकार बनने को लेकर फैलााए जा रहे कन्फ्यूजन पर भी उन्होंने इशारों में अपना रुख साफ कर दिया. पीएम मोदी ने कहा, बिहार के लोग कभी भ्रम में नहीं रहते हैं. चुनाव से पहले ही उन्होंने अपना स्पष्ट संदेश सुना दिया है, जितने भी सर्वे और रिपोर्ट आ रहे हैं उसमें साफ़ है कि बिहार में फिर एनडीए की सरकार बन रही है.

पीएम मोदी ने अपनी इन बातों से और यह कहते हुए और भी स्पष्ट किया कि हर चुनाव में भ्रम फैलाया जाता है, लेकिन इसका मतदान पर कोई असर नहीं होता है. पीएम मोदी ने मंच पर सीएम नीतीश की मौजूदगी में कहा कि आत्मनिर्भरता के संकल्प को मजबूत करने के लिए बिहार में फिर नीतीश जी की अगुवाई में सरकार बनानी जरूरी है.

लोगों का आह्वान करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बिहार में भाजपा, जेडीयू, हम पार्टी और वीआईपी के गठबंधन यानी एनडीए की सरकार जरूरी है. बिहार को आत्मनिर्भर बनाने के लिए देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए एनडीए की जीत जरूरी है. पीएम मोदी ने कहा कि मुझे खुशी है कि बूथ लेवल पर भी एनडीए के सभी कार्यकर्ता सभी राजनीतिक दलों के घटक दलों के साथी एकजुट होकर पूरी ताकत से जुटे हुए हैं और एक दूसरे के साथी बने हुए हैं.

चुनावी भाषण में प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार तो मैं देख रहा हूं कि बिहार की महिलाएं, बहनें और बेटियां एनडीए को जिताने के लिए पूरी ताकत झोंक रही हैं. जो भी एनडीए का है उसकी जीत के लिए सभी की बहुत बड़ी ताकत है. पीएम मोदी ने सांकेतिक रूप से महागठबंधन पर भी निशाना साधते हुए कहा कि बिहार ने ठान लिया है कि जिसका इतिहास बिहार को बीमार बनाने का रहा है, उसे आस-पास फटकने नहीं देंगे. देश का स्वाभिमान है बिहार.

Source : News18

Continue Reading

BIHAR

सबसे अमीर प्रत्याशी अनंत सिंह पर है 17 करोड़ की देनदारी, इन 5 प्रत्याशियों के पास 0 संपत्ति

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के पहले चरण की तैयारियां जोरों पर हैं. अब मतदान (Voting in Bihar) में कुछ दिन शेष बचा है. ऐसे में पहले चरण के मतदान से ठीक पहले एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (ADR) और बिहार इलेक्शन वॉच (Bihar Election Watch) ने प्रत्याशियों से जुड़ा एक आंकड़ा जारी किया है. इस आंकड़े के लिए एडीआर ने कुल 1066 में से 1064 प्रत्याशियों के शपथ पत्र का विश्लेषण किया है.

आंकड़ों के मुताबिक, बिहार चुनाव (Bihar Election) में इस बार 375 उम्मीदवार (कुल 35 प्रतिशत) करोड़पति हैं, यानी हर तीसरे उम्मीदवार की संपत्ति करोड़ में है. वहीं, सभी प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 1.99 करोड़ है. इसमें 9 प्रतिशत उम्मीदवारों की संपत्ति 5 करोड़ से ज्यादा, 12 प्रतिशत उम्मीदवारों की संपत्ति 2 से 5 करोड़, 28 प्रतिशत उम्मीदवारों की संपत्ति 50 लाख से 2 करोड़ के बीच है.

किस पार्टी में कितने करोड़पति

बिहार इलेक्शन वॉच और एडीआर के मुताबिक, सबसे ज्यादा करोड़पति उम्मीदवार राष्ट्रीय जनता दल के पास हैं. पहले चरण में राजद 41 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, जिसमें 39 उम्मीदवार (95 प्रतिशत) करोड़पति हैं. इसके बाद जनता दल यूनाइटेड में सबसे ज्यादा प्रत्याशी करोड़ों के मालिक हैं. प्रथम चरण में जदयू के 35 में से 31 (89 प्रतिशत) प्रत्याशियों के पास करोड़ों की संपत्ति है. वहीं, भाजपा के 29 में 24 प्रत्याशी (83 प्रतिशत), लोजपा के 41 में 30 प्रत्याशी (73 प्रतिशत), कांग्रेस के 21 में से 14 प्रत्याशी (67 प्रतिशत) और बसपा के 26 में से 12 प्रत्याशी (46 प्रतिशत) करोड़पति हैं.

अनंत सिंह हैं सबसे ज्यादा अमीर

शपथ पत्र के मुताबिक, पटना जिला के मोकामा से राजद के टिकट पर चुनाव लड़ रहे बाहुबली अनंत सिंह के पास सबसे ज्यादा संपत्ति है. उनकी चल संपत्ति 18 करोड़ 49 लाख तो अचल संपत्ति 50 करोड़ 7 लाख यानी कुल संपत्ति 68 करोड़ 56 लाख रुपए से ज्यादा है. हालांकि, उनके ऊपर 17 करोड़ 15 लाख की देनदारी भी है. वहीं, दूसरे नंबर पर बरबिघा (शेखपुरा) से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे गजानंद शाही के पास 61 करोड़ 23 लाख की संपत्ति है तो तीसरे नंबर पर अमीर प्रत्याशियों की लिस्ट में गया के अतरी सीट से जदयू के टिकट पर चुनाव लड़ रहीं मनोरमा देवी हैं, जिनकी कुल संपत्ति 50 करोड़ 62 लाख से ज्यादा है. पटना के मोकामा से अनंत सिंह जहां सबसे अमीर प्रत्याशी हैं, वहीं इसी सीट से एक ऐसा प्रत्याशी भी चुनाव मैदान में है, जिसके पास संपत्ति के नाम पर शून्य (0) रुपए है.

5 ऐसे प्रत्याशी, जिनकी संपत्ति है 0 रुपए

बिहार विधानसभा के पहले चरण के चुनाव में सभी प्रत्याशियों की औसत संपत्ति भले ही 1.99 करोड़ रुपए हो, लेकिन 5 ऐसे प्रत्याशी भी हैं जिनकी संपत्ति शून्य (0) है. मुंगेर के जमालपुर के निर्दलीय प्रत्याशी कपिलदेव मंडल, पटना के मोकामा से जागरुक जनता पार्टी के अशोक कुमार, कैमूर के चैनपुर से राष्ट्रीय स्वतंत्रता पार्टी के प्रभु सिंह, औरंगाबाद के नबी नगर से शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के गोपाल निशाद और गया के बोधगया सीट से भारतीय इंसान पार्टी के महावीर मांझी के पास शून्य (0) की संपत्ति है. इन पांचों प्रत्याशियों के अलावा सबसे कम संपत्ति वाले उम्मीदवारों में गया के गया सदर से चुनाव लड़ रही लोग जन पार्टी की रिन्कु कुमारी (2700 रुपए की कुल संपत्ति), औरंगाबाद के कुटुम्बा से अखिल हिन्द फॉरवर्ड ब्लॉक के शैलेश राही (9 हजार रुपए की कुल संपत्ति) और रोहतास के करगहर से निर्दलीय उम्मीदवार लाल धारी सिंह (10 हजार रुपए की कुल संपत्ति) शामिल हैं.

Source : News18

Continue Reading
INDIA13 mins ago

महान क्रिकेटर कपिल देव को आया हार्ट अटैक, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

BIHAR1 hour ago

त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर बरतें सावधानी, स्वास्थ्य मंत्रालय की अपील

INDIA2 hours ago

Voter ID के लिए करें ऑनलाइन आवेदन, जानिए सबसे आसान तरीका

BIHAR2 hours ago

बिहार चुनाव: प्रधानमंत्री मोदी ने कही ऐसी बात कि तोड़ दिया चिराग पासवान का भ्रम!

BIHAR4 hours ago

सबसे अमीर प्रत्याशी अनंत सिंह पर है 17 करोड़ की देनदारी, इन 5 प्रत्याशियों के पास 0 संपत्ति

ENTERTAINMENT5 hours ago

बिहार और ब्राह्मणो के प्रति घृणा फ़ैलाने के उद्देश्य से बना है – मिर्जापुर का नया सीज़न

OMG5 hours ago

इस कारण से महिला ने 15 सालों से नहीं कटवाए बाल, ब्वॉयफ्रेंड क्लिक करता है ऐसी फोटोज!

INDIA5 hours ago

मोबाइल की स्क्रीम टूटने से ऑनलाइन क्लास में आ रही थी दिक्कत, परिवार ने नहीं कराया ठीक तो छात्र ने कर ली खुदकुशी

INDIA5 hours ago

दशहरा-दिवाली से पहले SBI ने बदला ATM से कैश निकालने का नियम, आइए जानें इससे जुड़ी सभी बातें

MUZAFFARPUR5 hours ago

दो बार IPS बनने के बाद भी संतुष्ट नहीं हुई ये लड़की, फिर ऐसे बनीं IAS

BIHAR4 weeks ago

गुप्तेश्वर पांडेय के वीडियो पर मचा बवाल, इंडियन पुलिस फाउंडेशन ने की कार्रवाई की मांग

TRENDING4 weeks ago

गर्लफ्रेंड को घुटने पर बैठकर कर रहा था प्रपोज, एक सेकंड में धुली रह गई सारी मेहनत

BIHAR4 weeks ago

पिता ने ‘लूडो’ में की चीटिंग तो बेटी पहुंची फैमिली कोर्ट, जानें पूरा मामला

BOLLYWOOD2 weeks ago

बॉलीवुड को झटका! अजय देवगन के छोटे भाई अनिल देवगन का निधन

INDIA7 days ago

PNB खोल रहा है महिलाओं के लिए खास खाता, मुफ्त में मिलेंगी ये 6 सुविधाएं

INDIA3 weeks ago

इस साल पड़ेगी कड़ाके की ठंड, सर्दी का मौसम होगा लंबा; जानें- कब से होगी जाड़े की शुरुआत

BIHAR2 weeks ago

अंतिम दर्शन को पहुंची पहली पत्नी राजकुमारी, थम नहीं आंसुओं की धार

INDIA3 weeks ago

1 अक्टूबर से होने वाले हैं ये बड़े बदलाव, आपकी जेब पर ऐसे पड़ेगा असर

BIHAR5 days ago

पति के सामने पत्नी ने ठोकी ताल, चुनावी मैदान में निर्दलीय उतरे

BIHAR3 weeks ago

MLA का टिकट लेने 74 लाख रुपए लेकर पटना आया था कारोबारी, पुलिस ने ड्राइवर समेत 2 को पकड़ा

Trending