Connect with us

INDIA

राहुल गांधी के ‘रे’प इन इंडिया’ वाले बयान पर महिला सांसदों ने किया जमकर विरोध

Muzaffarpur Now

Published

on

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान पर लोकसभा में शुक्रवार को हंगामा हो गया. झारखंड की रैली में राहुल गांधी ने कहा था कि हिंदुस्तान बलात्कार की राजधानी बन गया है. शुक्रवार को इसी पर हंगामा हुआ, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई महिला सांसदों ने राहुल गांधी से माफी की मांग की. राहुल गांधी ने मेक इन इंडिया की तुलना रे’प इन इंडिया से की थी.

शुक्रवार को लोकसभा में स्मृति ईरानी ने कहा, ‘गांधी खानदान के सदस्य ने कहा है कि महिलाओं का बलात्कार होना चाहिए, देश में हर कोई बलात्कारी नहीं है. जो बलात्कारी है, उसे कानून सजा देता है. हर महिला को कलंकित नहीं किया जा सकता है, इसपर एक्शन लेना चाहिए.’

स्मृति ईरानी ने कहा कि देश की महिलाएं उनकी बपौती नहीं हैं, रेप इन इंडिया का बयान देने का जो दुस्साहस उन्होंने किया है, उसपर एक्शन होना चाहिए. स्मृति ईरानी के अलावा बीजेपी की कई महिला सांसदों, केंद्रीय मंत्रियों ने राहुल गांधी पर निशाना साधा और उनसे माफी की मांग की.

स्मृति ईरानी के अलावा केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि राहुल खुलेआम कह रहे हैं कि रेप इन इंडिया, तो क्या वो दुनिया को भारत में आकर बलात्कार करने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं. लोकसभा के अलावा राज्यसभा में भी राहुल गांधी के खिलाफ नारेबाजी हुई, लेकिन राज्यसभा चेयरमैन वेंकैया नायडू ने कहा कि जो सदस्य इस सदन का नहीं है, उसका नाम नहीं लिया जा सकता है.

Input : Aaj Tak

INDIA

VIDEO: अदालत में सुनवाई के दौरान कोई वकील खा रहा था गुटखा, कोई पी रहा था हुक्का, लगी फटकार

Muzaffarpur Now

Published

on

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में गुरुवार को हुई वर्चुअल सुनवाई में एक वकील गुटखा चबाते हुए नजर आए. वकील के इस व्यवहार पर कोर्ट ने उन्हें कड़ी फटकार लगाई और आगे से सुनवाई के दौरान ऐसा न करने के निर्देश भी दिए. इससे पहले वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव धवन (Senior Advocate Rajiv Dhavan) भी राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) में सुनवाई के दौरान हुक्का गुड़गुड़ाते हुए दिखे. ऐसा करते हुए धवन का वीडियो भी वायरल (Video Viral) हो गया. वायरल हुए एक कथित वीडियो में वकील एक ऑनलाइन सुनवाई के दौरान एक हुक्के से कश लेते हुए स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहे हैं. धवन को धूम्रपान के खतरों को लेकर राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति ने उन्हें सलाह भी दे दी.

https://twitter.com/places/2e6064382c71b343?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1293457441477128194%7Ctwgr%5E&ref_url=https%3A%2F%2Fhindi.news18.com%2Fnews%2Fnation%2Fsr-adv-rajeev-dhavan-smoke-hookah-while-hearing-in-rajasthan-hc-another-lawyer-chewed-tobacco-while-hearing-in-sc-3203362.html

धवन की जो वीडियो क्लिप वायरल (Viral Video Clip) हुई है उसमें वह सुनवाई के दौरान अपने चेहरे के सामने कुछ कागज पकड़े हुए दिख रहे हैं और इसके पीछे धुएं के छल्ले निकलते दिखाई दे रहे हैं. जब वकील कागज को अलग रख देते हैं तो कुछ सेकंड की इस कथित क्लिप में हुक्के की नोंक दिखाई देती है. यह क्लिप न्यायाधीश महेन्द्र कुमार गोयल की अदालत में मंगलवार की सुनवाई के दौरान की है. धवन बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) के छह विधायकों की ओर से पेश हुए थे. इन विधायकों के राजस्थान (Rajasthan) में कांग्रेस (Congress) में विलय को बसपा और भाजपा (BJP_ के एक विधायक द्वारा चुनौती दी गई है.

जस्टिस गोयल ने की ये टिप्पणी
न्यायमूर्ति गोयल की टिप्पणी गुरुवार को उस दौरान सामने आई जब सुनवाई फिर से शुरू हुई. सुनवाई के दौरान हल्के अंदाज में न्यायमूर्ति गोयल ने धवन को सलाह दी कि उन्हें अपनी इस उम्र में धूम्रपान छोड़ देना चाहिए क्योंकि यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. धवन ने जवाब दिया कि वह ऐसा करेंगे. उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि वरिष्ठ वकील वीडियो कॉन्फ्रेंस की सुनवाई के आदी नहीं हैं, लेकिन स्थिति का सामना करने की कोशिश कर रहे हैं.

अप्रैल में राजस्थान उच्च न्यायालय में मामले की ऑनलाइन सुनवाई के दौरान एक अन्य वकील बनियान में दिखाई दिये थे. इसके बाद न्यायाधीश ने स्पष्ट किया था कि वकीलों को तब भी उचित पोशाक में दिखना चाहिए, जब वे अपने मामलों की ऑनलाइन सुनवाई कर रहे हों.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

सुशांत का कैश, रिया की ऐश : शॉपिंग से लेकर टिकट तक के पैसे सुशांत के अकाउंट से

Muzaffarpur Now

Published

on

सुशांत के पैसों से कई बार रिया चक्रवर्ती विदेश की यात्रा कर चुकी हैं। आस्ट्रेलिया, यूएई, स्विटजरलैंड जैसे तमाम देशों का दौरा रिया ने पूर्व में किया था। यहां तक कि विदेशों में होने वाली शॉपिंग से लेकर टिकट तक के पैसे रिया सुशांत के एकाउंट से देती थीं। छह महीने मेंरिया ने कई बार विदेश का दौरा किया। सूत्रों की मानें तो केंद्रीय जांच एजेंसियां सुशांत के कई खातों की जांच कर रही हैं। गौरतलब है कि सुशांत के परिवारवालों ने भी यह आरोप लगाया था कि उनके खाते से ऐसे लोगों के एकाउंट में पैसे डाले गये जिन्हें सुशांत जानते तक नहीं थे। अब उन लोगों को लेकर भी जांच की जायेगी कि आखिर वे कौन हैं।

View this post on Instagram

🤘💵💶💸 #SushantSinghRajput #Sushant #RipSushant #Ripsushantsingh #Sushantsingh #Ripsushantsingh #ripsushantsinghrajput #prachidesai #kanganaranaut #bollywood #nepotism #nepotisminbollywood #karanjohar #salmankhan #aliabhatt #shraddhakapoor #rheachakraborty #ankitalokhande #rohitshetty #yrf #kiaraadvani #maheshbhatt #msdhoni #ektakapoor #balajitelefilms #memes #indianmemes

A post shared by V I R A L T E L E V I S I O N (@viraltelevisionofficial) on

मुंबई पुलिस की हर जांच पर उठ रहे सवाल
दिशा और सुशांत को लेकर मुंबई पुलिस द्वारा किये ये हर जांच पर सवाल उठ रहे हैं। परिवारवालों का आरोप है कि मुंबई पुलिस जानबूझकर ऐसे दावे कर रही है ताकि यह मामला रफा-दफा हो सके। मुंबई पुलिस ने कहा था कि दिशा सुशांत की मैनेजर नहीं थीं। मुंबई पुलिस के मुताबिक़ दिशा केवल 23 दिनों के लिए सुशांत के संपर्क में काम के सिलसिले में आई थीं। दिशा कॉर्नर स्टोन नाम की एक कंपनी में बतौर सेलिब्रिटी मैनेजर काम करती थीं और कंपनी द्वारा दिए गए काम के सिलसिले में सुशांत से एक अप्रैल 2020 से लेकर 23 अप्रैल 2020 तक सुशांत के साथ थीं। जबकि मुंबई पुलिस की यह जांच सवालों के घेरे में है। सुशांत और दिशा का चैट भी सामने आया है। हालांक हिन्दुस्तान इसकी पुष्टी नहीं करता।

दिशा की मौत से नाम जोड़े जाने से परेशान थे सुशांत 
दिशा की मौत के बाद सुशांत परेशान थे। उन्हें लग रहा था कि दिशा की इस केस में उन्हें कुछ लोग फंसाने की कोशिश करेंगे। सुशांत ने अपने कुछ जानने वालों से इस बात का जिक्र किया था कि उनका नाम दिशा की मौत से जोड़ा जाएगा। सुशांत इस बात से बेहद परेशान थे कि दिशा की मौत को लेकर साजिश के तहत उनके बारे में तरह तरह बातें की जाएंगी और वो वायरल भी होंगी।

Input : Hindustan

Continue Reading

INDIA

विदेश से मुंबई आने वाले लोगों को अब क्वारंटाइन नियमों दी गई छूट, जानें क्यों

Muzaffarpur Now

Published

on

मुंबई. नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने मुंबई एयरपोर्ट पर विदेशों से आने वाले यात्रियों (International Passengers) को क्वारंटाइन नियमों में छूट दी है. अब इन यात्रियों को अनिवार्य तौर पर इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन (Institutional Quarantine) में नहीं रहना होगा. दरअसल ये छूट इसलिए दी गई है कि इस वक्त ज्यादातर यात्री इमरजेंसी कारणों (Emergency Reasons) से यात्रा कर रहे हैं. ऐसे में अनिवार्य क्वारंटाइन नियमों (Quarantine Rules) की वजह से उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इसलिए अब ऐसे यात्रियों को छूट दी जाएगी जिन्होंने 96 घंटों के भीतर अपना कोविड टेस्ट करवाया हुआ हो.

अब विदेश आने वाले किसी भी यात्री को यात्रा से 72 के भीतर का कोविड टेस्ट दिखाना होगा. ऐसे यात्रियों को महाराष्ट्र सरकार द्वारा लगाए गए इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन नियमों से छूट मिल जाएगी. गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार के नियमों के मुताबिक विदेशों से आने वाले सभी यात्रियों को दो चरणों में क्वारंटाइन रहना पड़ता है. इसके तहत सात दिन का इंस्टीट्यूशन क्वारंटाइन होता है और फिर सात दिनों तक होम क्वारंटाइन का नियम है. अब नए नियम के मुताबिक कोई यात्री कोविड टेस्ट दिखाकर इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन से बच सकता है.

हाल में बनाए गए डोमेस्टिक फ्लाइट्स के लिए नए नियम

करीब एक हफ्ते पहले कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने बड़ा फैसला लिया है. BMC ने मुंबई आने वाले लोगों के लिए होम आइसोलेशन और क्वारंटाइन के नियमों में बदलाव किया है. BMC की ओर से कहा गया है कि घरेलू विमान से मुंबई आने वाले सभी यात्रियों को अनिवार्य रूप से 14 दिनों तक होम आइसोलेशन में रहना होगा.

क्यों लिया गया फैसला

मुंबई आने वाले यात्रियों को अनिवार्य रूप से 14 दिन के क्वारंटाइन में भेजने के पीछे महाराष्ट्र सरकार का तर्क है कि इससे कोरोना वायरस के अधिक तेजी से फैलने पर रोक लगेगी. लेकिन BMC के इस फैसले को लोग सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की सीबीआई (CBI) जांच से भी जोड़कर देख रहे हैं. उनका कहना है कि CBI जांच को लटकाने के लिए महाराष्ट्र सरकार की तरफ से BMC ने 14 दिनों के क्वारंटाइन को अनिवार्य किया है.

Input : News18

Continue Reading
BIHAR50 mins ago

स्नातक पार्ट वन का रिजल्ट जारी, दो हजार विद्यार्थी बिना प्रैक्टिकल के पास

MUZAFFARPUR53 mins ago

शहर में नाला निर्माण को बनेगा मास्टर प्लान: मंत्री सुरेश शर्मा

BIHAR1 hour ago

बिहार: हटाया जाएगा ‘नियोजित शिक्षक’ शब्द, 15 अगस्त को बड़ा तोहफा देंगे CM नीतीश!

BIHAR1 hour ago

बिहार के मेडिकल कॉलेजों में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

MUZAFFARPUR1 hour ago

मुजफ्फरपुर : कंटेनमेंट जोन में सैनिटाइजेशन के साथ दो होमगार्ड की रहेगी नियमित तैनाती

INDIA1 hour ago

VIDEO: अदालत में सुनवाई के दौरान कोई वकील खा रहा था गुटखा, कोई पी रहा था हुक्का, लगी फटकार

MUZAFFARPUR11 hours ago

DM-SSP ने स्वतंत्रता दिवस को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लिया

MUZAFFARPUR11 hours ago

अखाड़ाघाट पुल से युवती ने लगाई छलांग ; आक्रोशित लोगों ने पुल को किया जाम

BIHAR11 hours ago

जल्द शुरू हो सकता है बस का परिचालन, परिवहन सचिव ने कहा- एक दो दिन में लिया जायेगा डिसीजन

INDIA12 hours ago

सुशांत का कैश, रिया की ऐश : शॉपिंग से लेकर टिकट तक के पैसे सुशांत के अकाउंट से

BIHAR1 week ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA3 days ago

बाइक पर पत्नी के अलावा अन्य को बैठाया तो कार्रवाई: हाई कोर्ट

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

INDIA3 days ago

सुप्रीम कोर्ट का फैसला – पिता की प्रॉपर्टी में बेटी का हर हाल में आधा हिस्सा होगा

BIHAR1 week ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR1 week ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR2 weeks ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

BIHAR5 days ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

MUZAFFARPUR6 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

Trending