Connect with us
leaderboard image

BIHAR

लंबे समय बाद नए लुक में नजर आए तेज प्रताप, पत्‍नी ऐश्‍वर्या के मायके जाने के बाद कटवाए बाल

Santosh Chaudhary

Published

on

राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) हमेशा चर्चाओं में रहते आए हैं। कभी सड़क पर साइकिल चलाने तो कभी रिक्‍शे की सवारी से लेकर मिठाई व मकान बनाने तक उनके कई कारनामे सुर्खियां रहे हैं। ताजा मामला उनके नए लुक का है। उन्‍होंने बहन के बच्‍चे के साथ अपनी एक तस्‍वीर पोस्‍ट की है, जिसमें वे  अरसे बाद लंबे बाल कटाए स्‍मार्ट लुक में नजर आ रहे हैं।

ऐश्‍वर्या के मायके जाने के बाद कटवाए बाल

तेज प्रताप यादव अपनी पत्‍नी ऐश्‍वर्या राय से तलाक का मुकदमा लड़ रहे हैं। इस मामले में बीते दिनों नया मोड़ तब आया, जब ऐश्‍वर्या राय ने सास राबड़ी देवी पर घर से निकाल देने का आरोप लगाया। तब से ऐश्‍वर्या अपने पिता चंद्रिका राय के आवास पर रह रहीं हैं। तलाक के मुकदमे के बाद से तेज प्रताप यादव अपनी मां के सरकारी आवास से अलग रह रहे थे। जबकि, ऐश्‍वर्या अपनी ससुराल में थीं। ऐसी चर्चा रही कि तेज प्रताप ने ऐश्‍वर्या के ससुराल में रहने तक बाल नहीं कटवाने का फैसला किया था। तेज प्रताप ने कभी इसकी पुष्टि नहीं की, लेकिन ऐश्‍वर्या के मायके जाने के बाद बाल कटवाने के कारण इस चर्चा को बल मिला है।

 

इसके पहले लंबे बालों में पोस्‍ट की थी ये तस्‍वीर

इसके पहले बीते 10 दिसंबर को तेज प्रताप यादव ने अपनी तस्वीर पोस्ट की थी, जिसमें है, जिसमें वे लंबे बालों में बॉलीवुड अभिनेता रणबीर कपूर के ‘रॉकस्टार’ की तरह की ड्रेस में नजर आ रहे थे। वह तस्‍वीर वायरल हो गई थी। उसपर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आईं। यूजर्स ने तारीफ के साथ व्यंग्य भी किए। एक यूजर ने तस्‍वीर में तेज प्रताप को कौव्‍वाल बता दिया। लिखा कि अगर कोई कव्वाली कार्यक्रम करना चाहता है तो तेज भइया से संपर्क करे। लेकिन अब तेज प्रताप ने अपना लुक बदल लिया है।

तेज प्रताप यादव इसके पहले भी अपने अलग-अलग लुक व कारनामों को लेकर जाने जाते रहे हैं। बीते कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर पटना स्थित अपने सरकारी आवास पर आधी रात में भगवान कृष्ण के रूप में नजर आए। इस दौरान उन्होंने जमकर बांसुरी भी बजाई। तेज प्रताप ने इसकी तस्‍वीर सोशल मीडिया पर पोस्‍ट की।

इसके पहले तेज प्रताप ने पटना के पास फतुहा में दीप जलाकर यज्ञ का उद्घाटन किया, फिर वहां बांसुरी भी बजाई। तेज प्रताप की बीते जुलाई 2019 की यह तस्‍वीर भी वायरल हाे गई थी।

तेज प्रताप यादव का शिव रूप भी रहा चर्चा में

तेज प्रताप यादव का कृष्‍ण का रूप धरना या उनकी तरह बांसुरी वादन तो चर्चा में रहता ही आया है, वे भगवान शिव का रूप भी धरते रहे हैं। उनके शंख बजाने के भी चर्चे रहे हैं। सावन के महीने में उनका बाबा नगरी देवघर जाना तथा भगवान शिव का रूप धरना चर्चा में रहता आया है।

कभी सइकिल से गिरे तो कभी दिखे घुड़सवारी करते

करीब सवा साल पहले उन्‍होंने रॉयल एनफील्ड की लाल रंग की दमदार कांटीनेंटल जीटी 535 कैफे रेसर बाइक खरीदी थी। वे इस गाड़ी पर तो शायद ही दिखे, लेकिन पटना की सड़कों पर साइकिल चलाते व घुडसवारी करते नजर आते रहे हैं। साल 2018 में वे पटना में साइकिल चलाते हुए अपने एस्‍कॉर्ट की गाड़ी से ही रेस लगा बैठे। ऐसे में वे बीच सड़क पर छितराकर गिर पड़े। उनकी वह तस्‍वीर चर्चा में रही थी। तलाक का मुकदमा लड़ रहे तेज प्रताप की पत्‍नी संग साइकिल पर एक तस्‍वीर भी वायरल हुई थी।

 

निराज अंदाज की और भी कई तस्‍वीरें वायरल

तेज प्रताप के अजग-गजब अंदाज की और भी कइ तस्‍वीरें वायरल हुईं हैं। वे कभी मिठाई बनाते दिखे तो कभी राज मिस्‍त्री का काम करते नजर आए।

Input : Dainik Jagran

 

BIHAR

मजदूरों के लिए योगी ने भिजवाईं 1000 बसें, पर नीतीश ने कर दिया मना, बोले- ‘पीएम का लॉकडाउन फेल हो जाएगा’

Ravi Pratap

Published

on

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लॉकडाउन के बीच लोगों को स्पेशल बसें उपलब्ध कराकर उनके गांव भेजने की कवायद पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने शनिवार को कहा कि इससे कोरोना वायरस और ज्यादा फैलेगा। बकौल नीतीश, ‘स्पेशल बसों के जरिए लोगों को उनके राज्यों में भेजने से लॉकडाउन का उद्देश्य ही खत्म हो जाएगा। इससे अगले कुछ दिनों में कोरोना वायरस का संक्रमण अधिक बढ़ेगा। लोगों को उनके घर भेजने के बजाय स्थानीय स्तर पर कैंप में ठहराना ज्यादा बेहतर होगा। राज्य सरकार इन कैंपों पर लगने वाली राशि अदा करेगी।

 

कोशिश के बजाय स्थानीय स्तर पर शिविरों का आयोजन करना बेहतर है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इन शिविरों की लागत चुकाएगी। राज्य सरकार ने अन्य राज्यों में स्थानीय लोगों के आश्रय और भोजन के लिए 100 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। उन्होंने कहा कि फंसे हुए स्थानीय लोगों की मदद के लिए आने वाले किसी भी जिले या गैर-लाभकारी संस्थानों को धन राज्य सरकार की तरफ से दिया जाएगा।

वहीं, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में राज्य सरकारें इन प्रवासियों के लिए विशेष बसों की व्यवस्था कर रही हैं। उत्तर प्रदेश में, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय ने आज दोपहर ट्वीट किया, “राज्य सरकार ने लॉकडाउन के बीच राज्य छोड़ने की कोशिश करने वालों के लिए 1,000 बसों की व्यवस्था की है ताकि वे बिना किसी परेशानी का सामना किए अपने गंतव्य तक पहुंच सकें।

वहीं, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में राज्य सरकारें इन प्रवासियों के लिए विशेष बसों की व्यवस्था कर रही हैं। उत्तर प्रदेश में, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय ने आज दोपहर ट्वीट किया, “राज्य सरकार ने लॉकडाउन के बीच राज्य छोड़ने की कोशिश करने वालों के लिए 1,000 बसों की व्यवस्था की है ताकि वे बिना किसी परेशानी का सामना किए अपने गंतव्य तक पहुंच सकें।

Continue Reading

BIHAR

कालाबाजारी व लॉक डाउन तोड़नेवालों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल: DGP

Muzaffarpur Now

Published

on

डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने कहा कि कालाबाजारी करनेवालों बख्शे नहीं जाएंगे। पुलिस को कालाबाजी करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि जब देश कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पूरी तरह लॉक डाउन हैं ऐसे में जो कालाबाजारी करता है वह देशद्रोह का काम कर रहा है। एफआईआर दर्ज की जाएगी और स्पीडी ट्रायल चलाकर ऐसे लोगों काा सजा दिलाएंगे।

शुक्रवार को पुलिस मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन के दौरान उन्होंने कहा कि कालाबाजारी और लॉक डाउन तोड़ने वालों के नाम गुंडा रजिस्टर में दर्ज किए जाएंगे। कालाबाजी की शिकायत पर फौरन एक्शन लिया जा रहा है। सैकड़ों जगह छापेमारी की गई है। जनप्रतिनधियों के साथ बैठक में मैंने अपील की है कि वह अपने इलाके में कहीं कालाबाजारी हो रही है तो इसकी सूचना दें। कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉक डाउन का पालन करें। अधिकांश लोग सहयोग कर रहे हैं। उल्लंघन करनेवाले चंद लोग हैं जिनसे पुलिस सख्ती से पेश आ रही है। उन्होंने लॉक डाउन के दौरान सामूहिक धार्मिक अनुष्ठान पर पाबंदी लगी है। ऐसे कोई भी आयोजन नहीं किया जा सकता है।

आवश्यक सेवा में रूकावट नहीं

उन्होंने कहा कि एससी से लेकर जवान तक को समझा दिया गया है कि आवश्यक सेवा में लगे वाहनों को न रोकें। किसी भी सूरत में उनकी आवाजाही प्रभावित नहीं होनी चाहिए। कौन-कौन सी सेवाएं इसमें शामिल हैं इसकी जानकारी दे दी गई है।

बिहार की सीमा पर हर गाड़ी की चेकिंग

उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं में शामिल गाड़ियों के आनेजाने पर रोक नहीं है। पर बिहार की सीमा में प्रवेश करनेवाले सभी वाहनों की चेकिंग होगी। शराब माफिया इसका फायदा न उठा सकें इसके लिए सीमा पर वाहनों की चेकिंग के निर्देश दिए गए हैं। आईजी मद्यनिषेध को इस बाबत आदेश दिया गया है।

राहत कोष में राशि देने पर विचार

एक सवाल के जवाब में डीजीपी ने कहा कि जवान से लेकर पुलिस अफसर तक मुख्यमंत्री राहत कोष में अंशदान देने पर विचार कर रहे हैं। व्यस्तता के चलते इसपर निर्णय नहीं हो पाया है।

सकारात्मक छवि बनाने का वक्त

डीजीपी ने कहा कि अंग्रेजों के जमाने से पुलिस की छवि नकरात्मक रही है। फील्ड के सभी पुलिसकर्मियों से कहा कि लॉक डाउन के दौरान समाज की ऐसी सेवा करें कि आपकी छवि में लोगों की नजर में सकरात्मक हो। जरूरतमंदों को हर मुमकीन सहयोग करें। पर जो नियमों का उल्लंघन करते हैं उनपर कड़ी कार्रवाई करें।

Input : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

नियोजित शिक्षकों के लिए पसीजा नीतीश सरकार का दिल, हड़ताली शिक्षकों को मिलेगा जनवरी तक का वेतन

Ravi Pratap

Published

on

कोरोना संकट के बीच नियोजित शिक्षकों पर नीतीश सरकार का दिल पसीज गया है. नीतीश सरकार ने अब नियोजित शिक्षकों को जनवरी महीने तक का वेतन देने का फैसला किया है. शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने इस संबंध में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी और जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को पत्र लिखते हुए शिक्षकों के वेतन भुगतान का आदेश दिया है.

शिक्षा विभाग की तरफ से जो आदेश जारी किया गया है. उसमें स्पष्ट तौर पर लिखा गया है कि देश में 21 दिनों के लॉक डाउन को देखते हुए विशेष परिस्थितियों में सरकार ने वेतन भुगतान का फैसला किया है. अब सरकार के इस निर्णय के बाद क्लास 1 से 12 तक में कार्यरत सभी नियमित और नियोजित शिक्षकों को जनवरी 2020 तक का वेतन भुगतान कर दिया जायेगा.

हालांकि हड़ताली नियोजित शिक्षकों को फरवरी महीने का वेतन अभी नहीं मिलेगा. लेकिन जो शिक्षक के कार्य योगदान कर चुके हैं उन्हें फरवरी महीने का वेतन भी दिया जायेगा. लगातार सरकार से नियोजित शिक्षक और उनसे जुड़े संगठनों के साथ-साथ अन्य राजनीतिक दल के नेताओं ने भी या मांग की थी कि कोरोना वायरस को लेकर मौजूदा संकट के बीच उन्हें वेतन मुहैया कराया जाये. कोरोना वायरस ने आखिरकार हड़ताली नियोजित शिक्षकों के लिए नीतीश सरकार के मन में संवेदना उठा दी है.

Input : First Bihar jh

Continue Reading
INDIA29 mins ago

लॉकडाउन के दौरान घर लौट रही छात्रा के साथ दस लड़कों ने किया गैंगरेप

BIHAR1 hour ago

मजदूरों के लिए योगी ने भिजवाईं 1000 बसें, पर नीतीश ने कर दिया मना, बोले- ‘पीएम का लॉकडाउन फेल हो जाएगा’

WORLD2 hours ago

Xiaomi ने लॉन्च की दो सस्ती इलेक्ट्रिक स्कूटर, एक बार चार्ज होकर चलेगी 70 किलोमीटर

INDIA2 hours ago

BJP का बड़ा ऐलान-पार्टी सांसद देंगे एक करोड़, विधायक 1 महीने का वेतन करेंगे दान

INDIA2 hours ago

कोरोना से लड़ने व लोगों की मदद के लिए आगे आया किन्नर समाज

BIHAR3 hours ago

कालाबाजारी व लॉक डाउन तोड़नेवालों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल: DGP

INDIA3 hours ago

गृह मंत्रालय का राज्‍यों को निर्देश- मजदूरों, बेघरों को मुहैया कराएं भोजन और दवा

BIHAR3 hours ago

नियोजित शिक्षकों के लिए पसीजा नीतीश सरकार का दिल, हड़ताली शिक्षकों को मिलेगा जनवरी तक का वेतन

TECH3 hours ago

Corona Kavach App: सरकार का ऐसा मोबाइल एप जो कोरोना पॉजिटिव एरिया वालों से अलर्ट करेगा

INDIA3 hours ago

गर्लफ्रेंड से मिलने के लिए क्वारंटाइन से फरार हो गया कोरोना संदिग्ध

BIHAR22 hours ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA3 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

INDIA6 days ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA1 day ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR2 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR1 week ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

बड़ी खुशखबरी: बिहार में घरेलू गैस की अब नहीं होगी किल्लत, बांका में नया प्लांट शुरू

BIHAR3 days ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA3 weeks ago

आज होगी देश की सबसे महंगी शादी, 500 पंडित पढ़ेंगे मंत्र

BIHAR4 days ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

Trending