लड़कियां बोलीं- हम रोते चीखते-चिल्ताते रहते थे, लेकिन मैडम को नहीं आती थी दया…

0
2672

बिहार के मुजफ्फरपुर की तर्ज पर जावरा के कुंदन कुटीर बालिका गृह में भी हैवानियत का मामला सामने आया है। 24 जनवरी को बालिका गृह से भागीं 5 बालिकाओं ने मजिस्ट्रियल जांच में बताया है कि बालिका गृह की संस्थापिका शराब पीकर उनकी पिटाई करती थी। उनका पति रेप करता था। मैडम बहुत बुरी हैं, हमारे चीखने-चिल्लाने पर भी उनको तरस नहीं आता था। हमारी जिंदगी नर्क बना दी। कलेक्टर ने बताया- रिपोर्ट मिलने के बाद गुरुवार को बालिका गृह की संस्थापिका, पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान बाल कल्याण समिति अध्यक्ष डॉ. रचना भारतीय, उनके पति ओमप्रकाश भारतीय, वर्तमान अध्यक्ष संजय जैन, सचिव दिलीप बरैया को गिरफ्तार कर लिया है।

तहसीलदार सीएल टांक की तरफ से दर्ज करवाई गई एफआईआर में आरोपियों पर कई धाराएं लगाई गईं हैं। कलेक्टर रुचिका चौहान के अनुसार- जांच में सामने आया कि बालिका गृह की पूर्व अध्यक्ष डॉ. भारतीय शराब पीकर बालिकाओं से अभद्र व्यवहार और मारपीट करती थीं। उनके पति ओमप्रकाश भारतीय बालिकाओं का यौन शोषण करते थे। बालिकाओं का मेडिकल कराया गया है। एक लड़की पहले से प्रेग्नेंट है। वह छत्तीसगढ़ के लड़के के साथ भागी थी, जो उसे छोड़ गया। बालिका गृह को सील कर रिकॉर्ड जब्त कर लिया गया है। मामले की विस्तृत जांच की जाएगी। एक साल पहले बाल कल्याण समिति अध्यक्ष बनने के बाद डॉ. भारतीय ने बालिका गृह के अध्यक्ष का पद छोड़ दिया था।

ये हैं चार किरदार जो बेटियों के हैं गुनहगार

– डॉ. रचना भारतीय, संस्थापिका, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष व पूर्व नपाध्यक्ष की बहू
कुंदन कुटीर बालिका गृह की संस्थापिका हैं। मार्च 2018 में जिले में बाल कल्याण समिति की पहली महिला अध्यक्ष बनीं। ससुर स्व. कुंदनमल भारतीय कांग्रेस नेता, पूर्व नपाध्यक्ष रहे।

– ओमप्रकाश भारतीय, वरिष्ठ कांग्रेस नेता व पूर्व नपाध्यक्ष के पुत्र है, ब्याजबट्‌टे का काम करते हैं 
यौन शोषण के मुख्य आरोपी ओमप्रकाश उर्फ राजू भारतीय रचना का पति है। पिता कुंदनमल भारतीय वर्ष 1960-65 में नपाध्यक्ष रह चुका है। ओमप्रकाश ब्याज पर पैसे बांटने का काम करता है।

– संदेश जैन, पूर्व भाजयुमो नगर महामंत्री व भाजपा नेता है, स्टोन क्रेशर का काम करता है 
कुंदन कुटीर के अध्यक्ष संदेश जैन को सह आरोपी बनाया है। संदेश भाजयुमो के पूर्व नगर महामंत्री व भाजपा नेता है। इसके स्टोन क्रेशर का काम है। वे केवल डॉ. भारतीय के रबर स्टाम्प के रूप काम करता रहा।

– दिलीप बरैया, भाजयुमो नेता, संघ के सक्रिय कार्यकर्ता व ज्वैलरी व्यापारी हैं… 
दिलीप बरैया संस्था सचिव हैं। ये आरएसएस के सक्रिय कार्यकर्ता, भाजयुमो के पूर्व मंडल अध्यक्ष रहे। बरैया वरिष्ठ समाजसेवी एवं मीसाबंदी राजमल बरैया के पुत्र हैं। ज्वैलरी शॉप है।

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur

बालिका गृह पर लगाया ताला

एसडीएम एमएल आर्य की रिपोर्ट के बाद चारों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया। तहसीलदार स्वाति तिवारी ने बालिका गृह पर ताला लगवा दिया। बालिकाएं पहले से ही रतलाम भेज दी गई हैं

Input : Dainik Bhaskar