लोकसभा चुनाव 2019: तेजस्वी के चलते फंसती दिख रही कन्हैया की गाड़ी
Connect with us
leaderboard image

BIHAR

लोकसभा चुनाव 2019: तेजस्वी के चलते फंसती दिख रही कन्हैया की गाड़ी

Avatar

Published

on

भाकपा की बिहार शाखा ने कन्हैया कुमार को बेगूसराय से  प्रत्याशी घोषित कर दिया है, लेकिन महागठबंधन में अभी तक सीटों के बंटवारे पर फैसला नहीं हो सका है। लालू प्रसाद यादव भाकपा से बिहार में तालमेल के पक्ष में नहीं हैं। माले के प्रति उनका नरम रुख है, लेकिन भाकपा-माकपा से गठबंधन के पक्ष में नहीं हैं। बेगूसराय के लिए राजद की ओर से तनवीर हसन को संकेत कर दिया गया है। बिहार की सियासत में इसके अलग मायने निकाले जा रहे हैं। कन्हैया की तुलना तेजस्वी से भी की जा रही है।

खुलने लगे हैं दलों और दिलों के फासले के पर्दे 

सीटों के मसले पर महागठबंधन के घटक दलों के झंझट की बातें जैसे-जैसे बाहर आ रही हैं, वैसे-वैसे दलों और दिलों के फासले के पर्दे भी खुलते जा रहे हैं। आपस में रस्साकशी की तीन बड़ी वजहें हैं। हैसियत से ज्यादा सीटों की आकांक्षा, दूसरे की फसल काटने की मशक्कत और पारिवारिक विरासत की हिफाजत। पहली और दूसरी वजहों की सियासी अहमियत और जरूरत हो सकती है, लेकिन तीसरी वजह के केंद्र में बिहार में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के उभरते नेता कन्हैया कुमार हैं, जो लालू प्रसाद के राजनीतिक उत्तराधिकारी की सियासत के लिए सटीक और संगत नहीं दिख रहे हैं। बिहार की सियासत की नई पीढ़ी में प्रमुख रूप से तीन नाम शीर्ष पर हैं। लालू परिवार और राजद के भविष्य तेजस्वी यादव, वामदलों की उम्मीद कन्हैया कुमार और रामविलास पासवान के कुल दीपक चिराग पासवान। तीनों की अलग-अलग पहचान और आधार है।

कन्हैया से कई खेमे परेशान

कन्हैया के तेज-तर्रार तेवर, धर्मनिरपेक्ष राष्ट्रीय प्रसिद्धि और कुशल संवाद शैली से सिर्फ भाजपा को ही परेशानी नहीं है, बल्कि उन्हें भी है, जो प्रत्यक्ष तौर पर अब तक उनके खेमे में खड़े दिखते हैं। तेजस्वी और कन्हैया की उम्र लगभग बराबर है। दोनों लगभग एक साथ राजनीति में सक्रिय हुए हैं। दोनों की राजनीति भी भाजपा के प्रबल विरोध और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना पर टिकी है। दोनों का मकसद भले एक हो सकता है, किंतु दोनों के बीच दीवार भी दिख रही है, जिसे खत्म करने की कोशिश कभी नहीं की गई। राष्ट्रीय स्तर पर राजनीति करने के लिए कन्हैया को बिहार में जिस जमीन की तलाश है, उस पर लालू यादव ने दावा ठोक रखा है। अपने गृह क्षेत्र बेगूसराय में सक्रिय होकर प्रचार अभियान में जुट चुके कन्हैया के लिए लालू सीट छोडऩे के पक्ष में नहीं हैं। बहाना है कि बिहार में भाकपा-माकपा का आधार नहीं है।

लालू के तर्क में कितना दम?

लालू के तर्क में कितना दम है, यह भविष्य तय करेगा, लेकिन अतीत बता रहा है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाकपा को बेगूसराय में एक लाख 92 हजार वोट मिले थे और उसके प्रत्याशी राजेंद्र प्रसाद सिंह तीसरे नंबर पर थे। वैसे भी इस क्षेत्र को बिहार में मिनी मास्को के नाम से जाना जाता है। शायद इसलिए कि भाकपा का यहां प्रारंभ से ही दबदबा रहा है। पिछली बार करीब दो लाख वोट लाने वाले भाकपा को राजद की ओर से निराधार बताने के संकेत को समझा जा सकता है।

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur

दोनों की अदावत नई नहीं है

गांधी मैदान में पिछले 25 अक्टूबर को सीपीआई की रैली से तेजस्वी ने दूरी बनाकर कन्हैया के साथ प्रतिद्वंद्विता का संकेत छोड़ दिया था। कन्हैया की कोशिशों से पटना में आयोजित जिस एकता रैली में कांग्रेस के कद्दावर नेता गुलाम नबी आजाद समेत कई दिग्गज आए थे, वहीं तेजस्वी पटना में रहते हुए भी जाना मुनासिब नहीं समझा था। कोरम पूरा करने के लिए राजद की ओर से प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे और बेगूसराय के संभावित प्रत्याशी तनवीर हसन को भेज दिया गया था। संदर्भ आया तो अतीत के पन्ने पलटे जा रहे हैं। तेजस्वी ने कन्हैया की उस वक्त भी खोज-खबर नहीं ली थी, जब पटना में एम्स के डॉक्टरों के साथ विवाद हुआ था। बेगूसराय में मारपीट की घटना पर भी राजद नेता मौन ही रहे थे।

Input : Dainik Jagran

MUZAFFARPUR

इनाम पाने पर भी का’र्रवाई काे भूल गई सदर पुलिस

Avatar

Published

on

भगवानपुर स्थित मुथूट फाइनेंस कंपनी के दफ्तर से 11 करोड़ के सोना लू’टकां’ड में फरार सर’गना समेत छह आरो’पितों पर पुलिस कार्र’वाई काे दबा गई। इसी कां’ड में साेना बरामदगी के बाद मुथूट की ओर से पुलिस काे इनाम में बड़ी राशि देने का ऐलान  हुआ था। इनाम लेने के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई में शिथिलता बरतती रही। 18 किलाे साेना बरामदगी की बात ताे दूर फरार आ’रोपितों  के नाम-पते का सत्यापन कर कुर्की वारं’ट लेने की कागजी प्रक्रिया तक नहीं की गई। वरीय अधिकारी का भी इस केस से ध्यान हट चुका है। फिलहाल कां’ड में सदर थानेदार राजेश्वर प्रसाद काे IO बनाया गया है।

वैशाली के सराय में बैंक लूट के दाैरान शुक्रवार काे इस कांड में शामिल अपराधी महुअा के हरपुर गांव के निवासी अरमान की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इसके बाद एक बार फिर मुथुट साेना लूटकांड सुर्खियाें में है। नगर डीएसपी मुकुल रंजन ने सदर थानेदार काे कांड के फरार अाराेपिताें के नाम-पते का सत्यापन कर कुर्की की कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। बता दें कि फरवरी में लुटेरों ने मुथूट फाइनेंस कंपनी के दफ्तर से 11 करोड़ का सोना लूट लिया था। पुलिस ने तीन लुटेरों को गिरफ्तार किया था। 17 किलोग्राम सोना बरामद हुआ  था। अपराधियाें के पास से जब्त साेना काे मुक्त कराने के लिए मुथुट फाइनेंस कंपनी काे काफी मेहनत करनी पड़ी थी, तब जाकर पुलिस ने साेना मुक्त करने की रिपाेर्ट भेजी थी।

इनपुट : दैनिक भास्कर

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर के और 500 घराें में घुसा पानी, उ. बिहार में बाढ़ से 10 की माै’त

Avatar

Published

on

मुजफ्फरपुर में बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर सिकंदरपुर में शनिवार की शाम खतरे के निशान से 11 सेंटीमीटर ऊपर पहुंच गया। इससे नदी किनारे व अासपास के शहरी क्षेत्र समेत कांटी, मुशहरी व बाेचहां इलाके में दहशत है। 500 से अधिक घराें में पानी प्रवेश कर चुका है। लाेग तेजी से पलायन कर रहे हैं। शनिवार की बारिश से बाढ़ पीड़ितों की चिंता अाैर बढ़ गई। प्रशासन ने शहर के शेखपुर ढाब व अहियापुर इलाके से निकलने के लिए 4 नावाें की व्यवस्था की है, जाे नाकाफी है। इन इलाकाें के लाेगाें के साथ-साथ लकड़ीढाई, विजय छपरा, सिकंदरपुर, मिठनसराय के लाेगाें ने मारवाड़ी स्कूल परिसर में शरण ले रखी है।

रुन्नीसैदपुर में नहाने के दाैरान चार लड़कियां लापता

उत्तर बिहार में शनिवार काे डूबने से 10 की माैत हाे गई। मृतकाें में मुजफ्फरपुर के 5, मधुबनी के 3 और  दरभंगा व माेतिहारी के एक-एक शामिल हैं। वहीं, नहाने के दाैरान सीतामढ़ी के रुन्नीसैदपुर में 4 लड़कियां लापता हाे गईं। दूसरी ओर , झंझारपुर में बाढ़ पीड़ित कृष्णा की पिकअप से कुचलने से मौत हो गई।

Input : Dainik Bhaskar

 

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

Pratik Ratna

Published

on

अब टंकी के गंदे पानी से नहीं होना पड़ेगा बिमार क्योंकि अपने शहर मुजफ्फरपुर में पानी की टंकी की वैज्ञानिक एवं आधुनिक तकनीक से सफाई करनें वाली Clean Care कंपनी द्वारा TANK CLEAN नामक ब्रांड की शुरुआत हो चुकी हैं। इस तकनीक से टंकी की सफाई छः चरणों में पुरी की जाती है जिससे पानी की टंकी हानिकारक जीवाणु रहित हो जाती हैं।

आज भी हमलोग ब्रश, स्नान और खाना बनाने जैसे दैनिक क्रिया टंकी के पानी से ही करतें हैं जिससे हानिकारक जीवाणु आसानी से हमारे शरीर के अंदर प्रवेश कर जाते हैं और डायरिया, जौंडिस, टाइफाइड, गैस्ट्रिक, त्वचा के संक्रमण, बालों का झड़ना आदि बिमारियों का सामना करना पड़ता हैं।

TANK CLEAN एक ISO 2001:2015 प्रमाणित कंपनी हैं जिसमें कुशल, अनुभवी एवं प्रशिक्षित कर्मचारी 500 से 1000 लीटर तक की टंकी की सफाई महज 1 घंटे से भी कम समय में कर देतें हैं जिसका शुल्क मात्र ₹499 हैं। आप मात्र ₹1200 में एक वर्ष की सदस्यता ले सकते हैं जिसमें प्रत्येक 4 महीनें पर इस सेवा का लाभ मिलेगा। किसी भी आवासीय, व्यवसायिक, स्कूल, कॉलेज, होटल, रेस्तरां, हॉस्पिटल, फैक्ट्री आदि के लिए 500 से 5 लाख लीटर तक के टंकी की सफाई कराने के लिए आज हीं संपर्क करें।

मोबाइल नंबर – 8002338888

www.citycleancare.com

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
RELIGION1 hour ago

सावन में करें शनिदेव को प्रसन्न, करियर-नौकरी-धन में होगा लाभ

RELIGION2 hours ago

सावन में कांवड़ उठाने का महत्व, इन नियमों की न करें अनदेखी

MUZAFFARPUR2 hours ago

इनाम पाने पर भी का’र्रवाई काे भूल गई सदर पुलिस

MUZAFFARPUR2 hours ago

मुजफ्फरपुर के और 500 घराें में घुसा पानी, उ. बिहार में बाढ़ से 10 की माै’त

SPORTS2 hours ago

टीम इंडिया में मतभेद चरम पर, एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करवा रहे खिलाड़ी

MUZAFFARPUR12 hours ago

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

BIHAR14 hours ago

अब मुनिया नहीं बनेगी परिवार पर बोझ, जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्च उठाएगी सरकार

MUZAFFARPUR14 hours ago

दिनदहाड़े बाइक सवार अप’राधियों ने सेंट्रल बैंक के सीएसपी से दो लाख लू’टे

INDIA17 hours ago

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन

BIHAR18 hours ago

मीरा देवी बनी पटना नगर निगम की उपमहापौर, लॉटरी से हुआ चुनाव

INDIA4 weeks ago

पूरे देश में एक जैसा होगा लाइसेंस, राज्य नहीं कर पाएंगे कोई बदलाव

BIHAR1 week ago

सुबह में ढोयी बालू की बोरियां, शाम में लग गए एनडीआरएफ के साथ… ऐसे हैं डीएम साहब

BIHAR5 days ago

बिहार में पहली बार पुलिसकर्मियों पर हुई बड़ी कार्रवाई, 3 DSP, 50 इंस्पेक्टर सहित 66 पर FIR

BIHAR4 days ago

पटना पहुंचे रितिक रोशन, आनंद कुमार के पैर छुए, कहा- लगता है पिछले जन्म में मैं बिहारी ही था

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर में सरकारी राशि की मची है लूट, मनरेगा योजना में मजदूरों के बदले चल रहे JCB और टैक्टर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : लड़की ने किया सु’साइड, कूद गई पानी की टंकी से

MUZAFFARPUR4 weeks ago

DM ने बढ़ाई स्कूल खुलनें की तारीख, सभी सरकारी-गैर सरकारी मे जारी रहेगा धारा 144

BIHAR3 weeks ago

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन जिलों में भीषण बारिश और आंधी

MUZAFFARPUR2 weeks ago

पब्लिक ट्रांसपोर्ट : Hello My Taxi ने मुजफ्फरपुर कैब के साथ शुरू की कैब सर्विस

INDIA3 weeks ago

चलते वाहन की चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इनका है चालान करने का अधिकार

Trending

0Shares