Connect with us

BIHAR

वीडियो : नेता जी बोले- जनता जानती है उठाना और गिराना… तभी गिर पड़ा मंच

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के दूसरे चरण के मतदान से पहले नेता और प्रत्याशी जमकर प्रचार कर रहे हैं। इस दौरान कई अनचाही चीजें भी हो जा रही हैं। इसी तरह का एक नजारा देखने को मिला दरभंगा में। जिले की जाले विधानसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी जब मंच से बोल रहे थे कि ‘लोकतंत्र में जनता सब समझती है, किसको कब उठाना है और किसको कब गिराना है।’ तभी उनका मंच टूट गया और वे गिर पड़े।

जाले विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी ने अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मशकूर उस्मानी को अपना उम्मीदवार बनाया है। मशकूर अपने क्षेत्र में वोट मांगने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने एक जनसभा को भी संबोधित किया। जब वे मंच से बोल रहे थे कि लोकतंत्र में पांच साल में सरकार चुनने का मौका मिलता है। जनता के हाथ में है कि किसको कब उठाना है और किसको कब गिराना है। जैसे ही उनका गिराने वाला शब्द खत्म हुआ, उस्मानी का मंच भी ठीक उसी समय गिर गया और वे मंच के साथ-साथ नीचे आ गए।

कौन हैं कांग्रेस उम्मीदवार मशकूर उस्मानी?

डॉ मशकूर उस्मानी मूल रूप से दरभंगा जिले के रहने वाले हैं। वह 2017 में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से छात्रसंघ चुनाव जीते थे। इसके बाद वह चर्चा तब आए जब 2018 में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रसंघ के हॉल में मोहम्‍मद अली जिन्‍ना की तस्‍वीर पाई गई। भाजपा सांसद ने कुलपति को चिट्ठी लिखकर इस पर आपत्ति जताई थी। हिन्‍दू युवा वाहिनी ने तस्वीर हटाने की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया था। एएमयू में इसको लेकर जमकर हंगामा हुआ था। लाठीचार्ज भी करना पड़ा था। तब छात्रसंघ अध्यक्ष रहे उस्मानी ने बाद में कहा था कि वह जिन्ना की विचारधारा के खिलाफ हैं लेकिन जिन्ना देश के एक ऐतिहासिक तथ्य हैं।

उस्मानी के इसी बयान को लेकर उनपर जिन्ना समर्थक होने का आरोप लगा। कांग्रेस पार्टी ने जब उन्हें दरभंगा की जाले विधानसभा सीट से अपना उम्मीदवार बनाया तब भाजपा और जदयू ने इसको लेकर राजद व कांग्रेस पर निशाना भी साधा था।

सोर्स : हिंदुस्तान

BIHAR

बयान:अनंत सिंह बोले – जनता ने तेजस्वी को CM बनाया, दूसरा CM नाटक है; सरकार चलने के सवाल पर कहा – सरकार है कहां जो चलेगी

Ravi Pratap

Published

on

मोकामा विधायक अनंत सिंह बुधवार को शपथ लेने व अध्यक्ष पद के लिए वोटिंग में हिस्सा लेने विधानसभा पहुंचे थे। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के अनुरोध पर उन्हें बेऊर जेल से विधानसभा लाया गया था। इसके बाद जाते वक़्त उनकी बाइट लेने के लिए मीडियाकर्मियों का हुजूम उमड़ पड़ा। उनसे लालू प्रसाद यादव के कथित वायरल ऑडियो मामले को लेकर सवाल किया गया। नीतीश सरकार को लेकर भी सवाल पूछा गया।

क्या-क्या बोले अनंत सिंह

लालू यादव के वायरल ऑडियो और अध्यक्ष पद के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोपों पर अनंत सिंह ने कहा कि वो किसी से इस तरह बात कर ही नहीं सकते हैं। किसी और ने बात की होगी। ये सरकार बेईमान है। हमलोगों को 15 सीटें हरवा दी गयीं। लालू जी क्यों किसी को इधर-उधर आने-जाने के लिए कहेंगे। जनता ने तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाया है। कोई और अगर मुख्यमंत्री बना है तो नाटक है। एक सवाल यह भी उछाला गया कि सरकार पांच साल चलेगी क्या? इसपर अनंत सिंह ने कहा – सरकार है कहां, जो चलेगी।

अनंत सिंह ने आज किया शपथ ग्रहण

कई संगीन मामलों के आरोपी अनंत सिंह अभी उनके आवास से हथियारों की बरामदगी मामले में बेऊर जेल में हैं। उन्होंने जेल से ही राजद के टिकट पर मोकामा से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की है। नई विधानसभा के जारी सत्र के पहले दो दिनों में सदस्यों के शपथ ग्रहण में वे उपस्थित नहीं हो सके थे। बुधवार को अध्यक्ष पद के लिए मतदान होना था। इस मतदान में हिस्सा लेने अनंत सिंह को विधानसभा में बुलवाने के लिए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने प्रोटेम

Input: Dainik Bhaskar

Continue Reading

BIHAR

लालू के बहाने BJP का तेजस्‍वी पर ‘प्रहार’, पूछा- जेल से फोन कर विधायकों को प्रलोभन देना किस लोकतांत्रिक प्रक्रिया का हिस्सा

Muzaffarpur Now

Published

on

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को लालू प्रसाद यादव पर आरोप लगाया था कि वे बिहार में एनडीए की सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्‍होंने अपने ट्वीट में कहा,’ लालू प्रसाद यादव रांची से एनडीए के विधायकों को फोन कर रहे हैं और उन्हें मंत्री पद देने का वादा कर रहे हैं. उन्होंने 8051216302 पर रिंग किया तो लालू ने सीधे फोन उठाया. उन्होंने (सुशील मोदी) उनसे कहा कि जेल से यह गंदा खेल न खेलें, आप कामयाब नहीं होंगे. जबकि कथित तौर पर लालू प्रसाद यादव द्वारा रिम्स गेस्ट हाउस से बीजेपी विधायक ललन पासवान को फोन कर प्रलोभन देने की बात पर बीजेपी ने सख्त रवैया अपनाया है. बीजेपी नेता और बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने इसे गंभीर मामला है. वहीं, नीतीश कुमार की कैबिनेट में मंत्री मंगल पांडे ने भी इस मामले को लेकर तेजस्‍वी यादव और आरजेडी पर निशाना साधा है.

यह किस लोकतांत्रिक प्रक्रिया का हिस्सा है: मंगल पांडे

बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडे ने ट्वीट कर तेजस्‍वी यादव पर तंज कसा है. उन्‍होंने लिखा,’ लोकतंत्र की दुहाई देने वाले नेता प्रतिपक्ष जरा बताइए कि जेल से फोन कर विधायकों को प्रलोभन देना किस लोकतांत्रिक प्रक्रिया का हिस्सा है जो आपके पिता के द्वारा रांची से किया जा रहा है.

जानें क्या है मामला

लालू प्रसाद यादव द्वारा बीजेपी विधायक ललन पासवान को फोन किये जाने के मामले में ललन पासवान ने कहा कि यह कल यानी मंगलवार की शाम 6 बजे की घटना है जब वो सुशील मोदी के आवास पर बैठे हुए थे. उन्‍होंने कहा कि जब लालू प्रसाद का फोन आया और जो ऑफर दिया तो उसे सुनकर वो स्तब्ध रह गए. ललन ने कहा कि ऐसे मामलों में कार्रवाई होनी चाहिए. दरअसल 2020 के विधानसभा चुनाव में भागलपुर की पीरपैंती सीट से चुनकर आए ललन पासवान का दावा है कि उन्होंने लालू प्रसाद के उस प्रस्ताव को ठुकराया है जिसमें लालू प्रसाद ने उन्हें आरजेडी का साथ देने की बात कही थी. हालांकि News18 स्वतंत्र रूप से इस ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है.

लालू प्रसाद ने बताया बहाना

पीरपैंती के विधायक ललन पासवान के मुताबिक उन्हें जेल में बंद लालू प्रसाद यादव का फोन आया था जिसमें कहा गया था कि कल के स्पीकर के चुनाव में वह महागठबंधन का साथ दें और इसके बदले में उन्हें राजद की तरफ से आगे बढ़ाने का काम किया जाएगा. बीजेपी के विधायक का दावा है कि लालू प्रसाद ने उनको फोन करके यह सारी बातें कहीं हैं. जब ललन पासवान ने लालू से खुद के बीजेपी का सदस्य होने की बात कही तो लालू ने उनसे कोरोना का बहाना बनाकर सदन में न आने की बात कही.

Source : News18

Continue Reading

BIHAR

लालू के कॉल से गरमाई बिहार की सियासत, झारखंड सरकार को पत्र लिखेंगे डिप्टी सीएम

Muzaffarpur Now

Published

on

टना. कथित तौर पर लालू प्रसाद यादव द्वारा रिम्स गेस्ट हाउस से बीजेपी विधायक ललन पासवान को फोन कर प्रलोभन देने की बात पर बीजेपी ने सख्त रवैया अपनाया है. बीजेपी नेता और बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि लालू द्वारा बीजेपी विधायक को फोन कर सदन में अनुपस्थित रहने की बात संबंधी प्रलोभन देना गंभीर मामला है. जेल में रहते हुए लालू प्रसाद यादव फोन कैसे कर सकते हैं?

पटना में मीडिया से बात करते बिहार के डिप्टी सीएम और अन्य

झारखंड सरकार को लिखेंगे लेटर

डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि इस मामले की जांच के लिए वो झारखंड सरकार को पत्र लिखेंगे. चूंकि फोन झारखंड से हुआ है इसलिए झरखंड सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए. अगर झारखंड सरकार कार्रवाई नहीं करती है तो हम केंद्र का भी रुख कर सकते हैं और सीबीआई जांच की भी मांग कर सकते हैं.

दलितों का नेता होने पर सवाल

बिहार के डिप्टी सीएम ने कहा कि लालू प्रसाद लगातार फोन पर बात करते हैं. तारकिशोर प्रसाद ने लालू पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि लालू दलित-पिछडों के हक की बात करते हैं पर भड़काने के लिए एक दलित पिछड़ा वर्ग के नेता ललन पासवान को ही उन्होंने चुना.

ललन पासवान ने भी कार्रवाई की मांग

लालू प्रसाद द्वारा बीजेपी विधायक ललन पासवान को फोन किये जाने के मामले में ललन पासवान ने कहा कि यह कल यानी मंगलवार की शाम 6 बजे की घटना है जब वो सुशील मोदी के आवास पर बैठे हुए थे. ललन ने कहा कि जब लालू प्रसाद का फोन आया और जो ऑफर दिया तो उसे सुनकर वो स्तब्ध रह गए. ललन ने कहा कि ऐसे मामलों में कार्रवाई होनी चाहिए.

क्या है मामला

दरअसल 2020 के विधानसभा चुनाव में भागलपुर की पीरपैंती सीट से चुनकर आए ललन पासवान का दावा है कि उन्होंने लालू प्रसाद के उस प्रस्ताव को ठुकराया है जिसमें लालू प्रसाद ने उन्हें राजद का साथ देने की बात कही थी. हालांकि News18 स्वतंत्र रूप से इस ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है.

कोरोना का बहाना

पीरपैंती के विधायक ललन पासवान के मुताबिक उन्हें जेल में बंद लालू प्रसाद यादव का फोन आया था जिसमें कहा गया था कि कल के स्पीकर के चुनाव में वह महागठबंधन का साथ दें और इसके बदले में उन्हें राजद की तरफ से आगे बढ़ाने का काम किया जाएगा. बीजेपी के विधायक का दावा है कि लालू प्रसाद ने उनको फोन करके यह सारी बातें कहीं हैं. जब ललन पासवान ने लालू से खुद के बीजेपी का सदस्य होने की बात कही तो लालू ने उनसे कोरोना का बहाना बनाकर सदन में न आने की बात कही.

Source : News18

Continue Reading
BIHAR3 mins ago

बयान:अनंत सिंह बोले – जनता ने तेजस्वी को CM बनाया, दूसरा CM नाटक है; सरकार चलने के सवाल पर कहा – सरकार है कहां जो चलेगी

BIHAR12 hours ago

लालू के बहाने BJP का तेजस्‍वी पर ‘प्रहार’, पूछा- जेल से फोन कर विधायकों को प्रलोभन देना किस लोकतांत्रिक प्रक्रिया का हिस्सा

BIHAR12 hours ago

लालू के कॉल से गरमाई बिहार की सियासत, झारखंड सरकार को पत्र लिखेंगे डिप्टी सीएम

INDIA12 hours ago

लॉकडाउन के लिए केंद्र की अनुमति जरूरी, पढ़ें गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइंस की 10 खास बातें…

giriraj-singh-nitish
BIHAR12 hours ago

लालू ने दिखाया जंगलराज का ट्रेलर बिहार को पीछे ले जाने वाले थे राजद के लोग : गिरिराज

INDIA15 hours ago

पंचायत चुनाव पर BJP का फैसला : पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की पत्नी नहीं लड़ेंगी चुनाव

BIHAR15 hours ago

LJP को राज्यसभा की सीट देने के मूड में नहीं है BJP, वजह है JDU

BIHAR15 hours ago

बिहार पुलिस में सिपाही के 8415 पदों पर भर्तियां, 21 मार्च को होगी परीक्षा

INDIA15 hours ago

1 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू का ऐलान, कोरोना नियमों को तोड़ने पर लगेगा 1000 रुपये जुर्माना

BIHAR16 hours ago

स्पीकर बनने पर विजय कुमार सिन्हा को सुशील मोदी ने दी बधाई, कहा- लालू की साजिश को एनडीए ने नाकाम कर दिया

BIHAR7 days ago

सात समंदर पार रूस से छठ करने पहुंची विदेशी बहू

WORLD2 weeks ago

संयुक्त राष्ट्र की शाखा ने चेताया- 2020 से भी ज्यादा खराब होगा साल 2021, दुनिया भर में पड़ेगा भीषण अकाल

BIHAR3 days ago

खाक से फलक तक : 18 साल की उम्र में घर से भागे, मजदूरी की, और अब हैं बिहार के मंत्री

INDIA4 weeks ago

JEE MAINS का टॉपर गिरफ्तार, परीक्षा में दूसरे को बैठाकर पाए थे 99.8 % अंक

TRENDING3 days ago

यात्री नहीं मिलने से पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्‍सप्रेस हो जाएगी बंद

BIHAR7 days ago

एम्स से दीघा तक एलिवेटेड रोड पर आज से परिचालन शुरू, कोइलवर पुल पर आज ट्रायल रन

INDIA1 week ago

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

TRENDING2 weeks ago

ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने गाड़ी रोकी तो निकला उन्हीं के बैच का ऑफिसर

BIHAR2 weeks ago

जीत की खुशी में पटाखा जलाने पर BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या, शव पेड़ पर लटकाया

BIHAR4 weeks ago

झूठा साबित हुआ लिपि सिंह का आरोप, भीड़ ने नहीं पुलिस ने की थी फायरिंग, CISF की रिपोर्ट से खुलासा

Trending