Connect with us

BIHAR

वैशाली : बाजारों में थी मास्क की किल्लत, घर पर मास्क बना किया वितरण

Muzaffarpur Now

Published

on

वैशाली। कोरोना काल में हर एक हाथ ने दूसरे की सहायता किसी न किसी रुप में की है। चाहे वह आम लोग हों या स्वास्थ्यकर्मी, पर कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनके सहायता के तरीकों ने उन्हें एक अलग पहचान दी है। ऐसी ही एक महिला कोरोना योद्धा हैं बिदुपुर ब्लॉक की केयर बीएम सुमन कुमारी। जिन्होंने अपने दिन भर के काम के बाद के समयों को इस्तेमाल करते हुए मास्क का निर्माण किया और स्वास्थ्यकर्मियों के बीच बांटा। जिस समय सुमन ने मास्क का वितरण किया वह ऐसा समय था जब बाजारों में मास्क की उपलब्धता न के बराबर थी। यह काम इनके अपने काम के समर्पण के बीच स्वास्थ्यकर्मियों के प्रति हृदयात्मक लगाव को भी दर्शाता है। सुमन बताती हैं, मार्च में जब लॉकडाउन हुआ उसके बाद बाजार में मास्क की उपलब्धता न के बराबर थी। उसमें भी वह जिस प्रखंड में हैं वहां इस तरह का बाजार भी नहीं है कि पहले से कोई दुकानदार मास्क रखता हो। ऐसे में उन्होंने महसूस किया कि हमारे उन स्वास्थ्यकर्मी और पुलिस के वह जवान जो अपना जान जोखिम में डाल कर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं और बिना किसी सुरक्षा के सड़कों पर लॉकडाउन को सफल बनाने में जुटे हैं क्यों न उनकी सेवा की जाय। इस बात को जब उन्होंने अपने डीटीएल सुमित कुमार से कहा तो उन्होंने सुमन को काफी बढ़ावा दिया।

खुद के पैसों से बना डाला 500 से अधिक मास्क

सुमन कहती हैं कि बाजार में मास्क के कपड़ों के लिए ज्यादा पसंद तो उपलब्ध नहीं थे तो उन्होंने सर्जिकल मास्क से मिलते जुलते कपड़ों के झोले के बंडल खरीदे और खुद के घर पर सिलाई मशीन पर बैठ गई। उन्होंने लगभग 500 से अधिक मास्क बनाए होगें। सभी मास्क को 10 के पैकेट में मैंने एक लिफाफे में पैक किया और अस्पताल की एएनएम, डॉक्टर से लेकर थाने और सड़कों पर गश्त कर रही पुलिस को भी मास्क के पैकेट दिए। मास्क लेने के बाद लोगों के चेहरों पर जो खुशी थी वह सुमन के अंदर यह संतोष दे रही थी कि अब ये काफी हद तक कोरोना से सुरक्षित हैं।

स्वास्थ्य के अन्य मुद्दों में भी किया है बेहतरीन काम

कोरोना के समय में संक्रमितों के चेन को ढूंढना, प्रवासियों के सैंपल कलेक्शन, समाज में हाथा धोने, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंस के पालन जैसी जिम्मेवारियों के बावजूद सुमन स्वास्थ्य के दूसरे महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों में भी उतनी ही तन्मयता के साथ लगी थी जितनी कोरोना को अपने क्षेत्र में परास्त करने में। एक स्त्री होने के नाते सुमन पर और भी जिम्मेवारियां तो हैं ही पर अपने काम को उन्होंने इससे कभी प्रभावित नहीं होने दिया। बिदुपुर प्रखंड के बाजितपुर, मथुरा, पानापुर के वैसे नवजात जिनका औसत वजन जन्म के समय कम था। उनकी घर नियमित तौर पर जाकर सही सलाह देती थी। इसके साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के फैसीलिटी में भी उनकी उतनी ही हिस्सेदारी रहती थी। जितना उनका कर्तव्य था। सुमन कहती हैं कि अपने कार्यक्षेत्र को वह हमेशा स्वस्थ्य और यहां की माताओं और बच्चों को आजीवन मुस्कुराता और खिलखिलाता देखना चाहती हूं।

कोविड-19 से बचाव के लिए इन बिंदुओं पर विशेष ध्यान:

• मास्क का प्रयोग अवश्य करें

• हाथों को बार-बार पानी और साबुन से धोएं या सैनिटाइज करें

• सहयोगियों से परस्पर दूरी बनाकर रखें

• आगंतुकों से मिलते समय भी परस्पर दूरी रखें और बाचतीत के दौरान भी मास्क का प्रयोग आवश्यक है

• कार्य के दौरान अति आवश्यक वस्तु को ही छुए

• सहकर्मियों से बात करें, अपने मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें

BIHAR

लालू के खिलाफ FIR दर्ज कराने के बाद बोले ललन पासवान- गरीब हूं पर बिकाऊ नहीं

Muzaffarpur Now

Published

on

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ एफआई दर्ज कराने के बाद बीजेपी विधायक ललन पासवान ने कहा कि मैं गरीब हूं पर बिकाऊं नहीं। कुछ दिन पहले ही कथित तौर पर लालू ने ललन पासवान को बिहार विधानसभा अध्यक्ष चुनाव में महागठबंधन उम्मीदवार का साथ देने के लिए प्रलोभन दिया था। इसी मामले में विधायक ने पटना में एफआईआर दर्ज कराई है। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि बिहार का सबसे गरीब विधायक होने के साथ ही मैं दलित हूं। यह आम धारणा है कि दलित व गरीब आदमी बिकाऊ होता है। यह धारणा कब बदलेगी। सामाजिक न्याय के पुरोधा कहे जाने वाले लालू प्रसाद ने जिस तरह से फोन कर मुझे खरीदने की कोशिश की, उससे दुखी हूं।

गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में ललन पासवान ने कहा कि मैं पढ़ा-लिखा और स्वाभिमानी हूं। राष्ट्रवादी राजनीति कर रहा हूं। हमने प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत निगरानी थाने में मुकदमा किया है। मुझे कानून पर भरोसा है और उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि पहले जब बातचीत का हवाला दिया तो ऑडियो की मांग की गई। जब ऑडियो सामने आया तो अब राजद इसे झूठा बताने में लगा है। हकीकत है कि अगर देश में लोकतंत्र नहीं होता तो लालू प्रसाद हों या मुझ जैसा गरीब ललन पासवान जैसा आदमी, कोई जानने वाला नहीं होता। लेकिन लालू प्रसाद लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। मैं एक साधारण कार्यकर्ता हूं और रहूंगा।

ललन पासवान ने कहा कि 20 वर्षों से सामाजिक जीवन में हूं। मुझ जैसे नए और लोकतंत्र में पूरी आस्था रखने वाले विधायक के साथ जिस तरह से लालू प्रसाद ने प्रलोभन देने की कोशिश की है, यह अत्यंत चिंताजनक है। मुझे इस बात का बहुत अफसोस है। पहले मैं तो बहुत खुश हुआ था कि एक बड़े राजनेता ने मुझे विधायक चुने जाने पर बधाई देने के लिए फोन किया है। लेकिन जब उन्होंने मुझे सरकार गिराने की साजिश में शामिल करने की कोशिश की तो दुख हुआ। मौके पर मंत्री पीएचईडी मंत्री रामप्रीत पासवान, प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल, प्रदेश मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट व एससी मोर्चा के अध्यक्ष अजीत चौधरी भी मौजूद थे।

Source : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

बिहार सरकार का फैसलाः बारात में 100 से अधिक लोग नहीं हो सकते शामिल, बैंड-बाजे पर प्रतिबंध

Santosh Chaudhary

Published

on

बिहार में एक बार फिर से कोरोना का संकट बढ़ रहा है। इसके बाद राज्य सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने नए आदेश के संबंध में जानकारी दी है।उन्होंने बताया कि शादी में 100 लोग ही शामिल हो सकेंगे। यह नियम आज से 3 दिसंबर तक लागू रहेगी। इन सौ लोगों में बारातियों के साथ-साथ वेटर और स्टाफ होंगे। इसके साथ ही सड़क पर बैंड के साथ बारात निकालने की अनुमति नहीं होगी।

बिहार के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव ने बताया कि 6 जिलों में कोरोना की स्थिति गंभीर है। उन जिलों के सरकारी कार्यालय में पचास फीसदी उपस्थिति के साथ काम होगा। पटना में चलनेवाली गाड़ियों पर यात्रियों की संख्या से आधी होगी। श्राद्ध में अधिकतम 25 लोग ही शामिल हो सकेंगे। कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान को को लेकर स्थानीय प्रतिनिधि बैठक करेंगे। स्नान के दौरान किस तरह का खतरा रहेगा, इसके बारे में जानकारी दी जाएगी।

आपदा विभाग के प्रधान सचिव और गृह सचिव ने बताया कि कोरोना का पॉजिटिव रेट जहां 10 फीसदी से अधिक है वहां के कार्यालयों में पचास फीसदी स्टाफ के साथ काम होंगे। पटना में ये संख्या 10 फीसदी से अधिक है। यहां सभी सरकारी और निजी कार्यालयों में उपस्थिति 50 फीसदी होगी। बेगूसराय, जमुई, वैशाली, पश्चिम चंपारण और सारण में केस ज्यादा मिल रहे। अधिकारियों ने बताया कि एक सप्ताह के बाद समीक्षा होगी, तब अतिरिक्त गाइडलाइंस जारी की जाएंगी।वहीं स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि हम एक लाख से ज्यादा की टेस्टिंग रोज कर रहे हैं।

Input : News4Nation

Continue Reading

BIHAR

बिहार: रोजगार के मुद्दे पर नीतीश सरकार को अब हाई कोर्ट की फटकार! मांगा जवाब

Muzaffarpur Now

Published

on

एक तरफ बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में रोजगार का मुद्दे पर काफी सियासत हुई, वहीं राज्य के सेकेंडरी और हायर सेकेंडरी स्कूलों में लगभग बड़े पैमाने पर शिक्षकों के रिक्त पदों पर अब तक नहीं भरे जाने को अब पटना हाई कोर्ट (Patna High Court) ने काफी गंभीरता से लिया है. जस्टिस ए अमानुल्लाह (Justice A Amanullah) ने याचिकाकर्ता देवेन्द्र पासवान व अन्य की याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए राज्य सरकार व बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को 8 जनवरी, 2021तक जवाब देने का निर्देश दिया है.

बता दें कि राज्य में सेकंडरी और हायर सेकंडरी स्कूलों में लगभग 34 हजार शिक्षकों के पद रिक्त हैं. इन पर बहाली के लिए 1 जुलाई, 2019 को राज्य सरकार ने विज्ञापन निकाला था. 20अप्रैल, 2020 तक 33, 916 पद रिक्त होने की बात कही गई, लेकिन अब तक इन पदों पर भर्ती नहीं की गई है. इस मामले पर अगली सुनवाई 8 दिसंबर,2021को होगी.

गौरतलब है कि शिक्षा विभाग की लेटलतीफी की वजह से राज्य के 4 हजार से ज्यादा अभ्यर्थी अनुकम्पा नौकरी के लिए भी परेशान हैं. वर्षों से आश्रितों को सरकार और अधिकारियों की तरफ से सिर्फ तारीख पर तारीख मिल रही है, लेकिन नौकरी नहीं मिली है.

सरकार के आदेश के बाद अभ्यर्थी पिछले 8 साल से कभी डीईओ कार्यालय तो कभी सचिवालय के बाबुओं का चक्कर लगा रहे हैं. फिर से नई सरकार के गठन के बाद अभ्यर्थी सचिवालय गुहार लगाने पहुंचे. जहां फिर से जल्द मांगे पूरी होने का सिर्फ आश्वासन दिया गया.
बता दें कि राज्य में 11 हजार पदों पर विद्यालय परिचारी और सहायक की बहाली होनी है जिसमें मृत कर्मियों और शिक्षकों के आश्रितों को अनुकम्पा के तर्ज पर नौकरी दी जानी है, लेकिन अब तक कार्रवाई नहीं हो सकी है जिससे सभी आश्रित मानसिक और आर्थिक रूप से परेशान हैं.

कोविड 19 का केस जहां से दस प्रतिशत से ज़्यादा बढ़ गया है. उसमें पटना सारण सहित पांच और ज़िले शामिल हैं. बेगूसराय, जमुई और वैशाली. ऐसी जगहों पर पचास प्रतिशत ही कर्मचारी ही एक साथ आ पाएंगे.

Source : News18

Continue Reading
TRENDING2 hours ago

विदेशी शख्स ने गाया हिंदी गाना ‘कलियों का चमन’, देखने वाले नहीं रोक पा रहे हंसी, वीडियो वायरल

DHARM2 hours ago

खुदाई में निकला था मां गंगा का चमत्कारिक मंदिर, आज भी देवी की मूर्ति से निकलता है पानी

JHARKHAND2 hours ago

झारखंड के बाजार में आ गया धौनी ब्रांड टमाटर, लोग जल्द ले सकेंगे ब्रोकली का जायका

BIHAR3 hours ago

लालू के खिलाफ FIR दर्ज कराने के बाद बोले ललन पासवान- गरीब हूं पर बिकाऊ नहीं

BIHAR4 hours ago

बिहार सरकार का फैसलाः बारात में 100 से अधिक लोग नहीं हो सकते शामिल, बैंड-बाजे पर प्रतिबंध

BIHAR4 hours ago

बिहार: रोजगार के मुद्दे पर नीतीश सरकार को अब हाई कोर्ट की फटकार! मांगा जवाब

BIHAR6 hours ago

लालू यादव को झटका : ललन पासवान ने वायरल आडियो मामले में दर्ज कराई FIR

BREAKING NEWS MUZAFFARPUR
INDIA8 hours ago

श्रीनगर में सुरक्षाबलों के काफिले पर आतंकी हमला, 2 जवान घायल

INDIA8 hours ago

वन नेशन वन इलेक्शन भारत की जरूरत है, इस पर गहन मंथन आवश्यक – संविधान दिवस पर बोले पीएम मोदी

JHARKHAND9 hours ago

चूड़ियाँ बेचने के साथ मज़दूरी भी करती थीं मां, बेटे को बनाया आईएएस- प्रेरक के साथ-साथ भावुक कर देने वाली है इस अफ़सर की संघर्ष गाथा

BIHAR1 week ago

सात समंदर पार रूस से छठ करने पहुंची विदेशी बहू

WORLD2 weeks ago

संयुक्त राष्ट्र की शाखा ने चेताया- 2020 से भी ज्यादा खराब होगा साल 2021, दुनिया भर में पड़ेगा भीषण अकाल

BIHAR3 days ago

खाक से फलक तक : 18 साल की उम्र में घर से भागे, मजदूरी की, और अब हैं बिहार के मंत्री

TRENDING4 days ago

यात्री नहीं मिलने से पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्‍सप्रेस हो जाएगी बंद

INDIA4 weeks ago

JEE MAINS का टॉपर गिरफ्तार, परीक्षा में दूसरे को बैठाकर पाए थे 99.8 % अंक

BIHAR1 week ago

एम्स से दीघा तक एलिवेटेड रोड पर आज से परिचालन शुरू, कोइलवर पुल पर आज ट्रायल रन

INDIA1 week ago

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

TRENDING2 weeks ago

ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने गाड़ी रोकी तो निकला उन्हीं के बैच का ऑफिसर

BIHAR2 weeks ago

जीत की खुशी में पटाखा जलाने पर BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या, शव पेड़ पर लटकाया

BIHAR4 weeks ago

झूठा साबित हुआ लिपि सिंह का आरोप, भीड़ ने नहीं पुलिस ने की थी फायरिंग, CISF की रिपोर्ट से खुलासा

Trending