Connect with us

INDIA

सरकार का बड़ा फैसला, Tik Tok समेत 59 चाइनीज ऐप पर लगाया बैन

Muzaffarpur Now

Published

on

भारत और चीन में गलवान घाटी पर बढ़ते तनाव के बीच केंद्र सरकार ने 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा (Indian Bans 59 Chinese Apps) दिया है. इसमें टिकटॉक (TikTok Apps) और यूसी ब्राउजर (UC Browser) जैसे ऐप्स शामिल हैं. केंद्र सरकार ने यह कदम एक ऐसे समय पर उठाया है गलवानी घाटी  (Galwan Valley) पर सीमा विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है. बीते 15 जून को सीमा विवाद में बिहार रेजीमेंट में 20 जवान शहीद हो गए थे, जबकि 70 जवानों को गंभीर चोट लगी थी.

चीन पर सरकार का बड़ा फैसला, टिकटॉक समेत 59 चीनी एप्स पर लगाया बैन

इस फैसले पर सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, ‘हमारे पास उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, ये ऐप्स कुछ ऐसी गतिविधियों में संलिप्त हैं जो भारत की रक्षा, ​सुरक्षा और पब्लिक की संप्रुभता और अखंडता के लिए हानिकारक है.’

TiK ToK: Regulate, don't ban, say app users & parents after calls ...

इन चीनी ऐप्स को भारत में किया गया बैन

1. टिकटॉक

2. शेयरइट

3. Kwai

4. यूसी ब्राउजर

5. Baidu map

6. शीन

7. क्लैश ऑफ किंग्स

8. डी यू बैटरी सेवर

9. हेलो

10. लाइक

11. यूकैम मेकअप

12. Mi Community

13. सीएम ब्राउजर्स

14. वायरस क्लीनर

15. APUS Browser

16. ROMWE

17. क्लब फैक्टरी

18. न्यूजडॉग

19. ब्यूट्री प्लस

20. वीचैट

21. यूसी न्यूज़

22. QQ Mail

23. वीबो

24. ज़ेन्डर

25. QQ Music

26. QQ Newsfeed

27. बिगो लाइव

28. से​ल्फीसिटी

29. मेल मास्टर

30. पैरेलल स्पेस

31. Mi Video Call — Xiaomi

32. WeSync

33. ईएस फाइल एक्सप्लोरर

34. वीवा वीडियो

35. Meitu

36. वीगो वीडियो

37. न्यू वीडियो स्टेटस

38. डीयू रिकॉर्डर

39. वॉल्ट हाइड

40. कैशे क्लीन

41. डीयू क्लीनर

42. डीयू ब्राउजर

43. Hago Play With New Friends

44. कैमस्कैनर

45. क्लीन मास्टर

46. वंडर कैमरा

47. फोटो वंडर

48. QQ Player

49. वी मीट

50. स्वीट सेल्फी

51. बैदु ट्रांसलेट

52. वीमेट

53. QQ International

54. QQ Security Center

55. QQ Launcher

56. यू वीडियो

57. V fly Status Video

58. मोबाइल लीजेन्ड्स

59. डीयू प्राइवेसी

यह ख़बर बिल्कुल अभी आई है और इसे सबसे पहले आप मुजफ्फरपुर नाउ पर पढ़ रहे हैं. जैसे-जैसे जानकारी मिल रही है, हम इसे अपडेट कर रहे हैं. ज्यादा बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए आप इस खबर को रीफ्रेश करते रहें, ताकि सभी अपडेट आपको तुरंत मिल सकें. आप हमारे साथ बने रहिए और पाइए हर सही ख़बर, सबसे पहले सिर्फ मुजफ्फरपुर नाउ पर…

INDIA

भारत में बन रही कोविड-19 वैक्सीन को बड़ी कामयाबी, ह्यूमन ट्रायल की मिली मंजूरी

Muzaffarpur Now

Published

on

भारत बायोटेक द्वारा विकसित की जा रही भारत की पहली COVID-19 वैक्सीन – COVAXIN ™, के मानव क्लीनिकल परीक्षण के पहले और दूसरे चरण के लिए डीजीसीआई (DGCI) की अनुमति मिल गई है. भारत में तैयार की जा रही यह कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) है जिसे इंसानों पर ट्रायल करने की मंजूरी मिली है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक ये परीक्षण जुलाई 2020 में शुरू हो जाएगा. भारत में कोविड-19 वैक्सीन का निर्माण करने वाली ये कंपनी भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) के सहयोग से ये टीका तैयार करने के प्रयासों में लगी है. SARS-CoV-2 तनाव को NIV, पुणे में अलग कर दिया गया और भारत बायोटेक में स्थानांतरित कर दिया गया. भारत बायोटेक द्वारा स्वदेशी, निष्क्रिय टीका विकसित और निर्मित किया जा रहा है.

भारत में बन रही कोविड-19 वैक्सीन को बड़ी कामयाबी, ह्यूमन ट्रायल की मिली मंजूरी

अमेरिकी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson) भी जुलाई के दो हफ्ते बीतने के बाद वैक्‍सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू करेगी. कंपनी ह्यूमन ट्रायल के लिए पहले तय किए समय से दो महीने तेजी से काम कर रही है. कंपनी ने वैक्‍सीन बनाने के लिए अमेरिकी सरकार के साथ पहले ही साझेदारी कर ली है. बताया गया कि कंपनी ने वैक्सीन की 1 अरब डोज बनाने की बात कही है. ब्रिटेन (Britain) की भी कई कंपनियां कोरोना की वैक्सीन को लेकर ट्रायल कर रही हैं ये कंपनियां भी जल्द ही इंसानों पर ट्रायल शुरू करने की तैयारी में हैं.

पूरी दुनिया में 1 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित

जानकारी यह भी मिली थी कि कोरोना को लेकर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका जिस वैक्सीन पर काम कर रहे हैं वो अब आखिरी स्टेज में पहुंच गया है. अब आखिरी चरण में क्लीनिकल टेस्ट किया जाएगा जिसमें ये पता लगाया जाएगा कि आखिर ये वैक्सीन कितनी कारगर है.

बता दें भारत समेत पूरे विश्व में कोरोना वायरस का प्रकोप बुरी तरह फैला हुआ है. इसे रोकने के लिए पूरी दुनिया में वैक्सीन को लेकर ट्रायल चल रहे हैं. भारत में भी कई कंपनियां कोविड-19 वैक्सीन पर काम कर रही हैं. दिसंबर में चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस से अब तक दुनिया भर में 1 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि दुनिया भर में इससे 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की सूची में भारत चौथे नंबर पर है. कोविड-19 के सबसे ज्यादा मामले अमेरिका, ब्राजील और रूस में आए हैं. कोरोना वायरस से जान गंवाने वालों की सूची में भारत आठवें नंबर पर है. पूरी दुनिया की तुलना में भारत में अपेक्षाकृत कम मौतें हो रही हैं. भारत में कोरोना का रिकवरी रेट भी पूरी दुनिया की तुलना में बेहतर है.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

कंपनी खोलना हुआ आसान, रजिस्ट्रेशन के लिए सिर्फ आधार कार्ड होगा जरुरी

Muzaffarpur Now

Published

on

कोरोना काल में व्यापर को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने स्टार्ट-अप करना या किसी नए कंपनी को रजिस्टर करने की प्रक्रिया को आसन बना दिया है. नई कंपनी खोलने के लिए अब सेल्फ डिक्लरेशन (स्व-घोषणा) के आधार पर कंपनी को ऑनलाइन रजिस्टर करने की सुविधा मिलने वाली है. इसके लिए डॉक्यूमेंट के रूप में सिर्फ आधार कार्ड जरुरी होगा.

कंपनी रजिस्ट्रेशन के दौरान दी गई अन्य जानकारीयों का सत्यापन स्थायी खाता संख्या (पैन संख्या) और जीएसटी पहचान संख्या (जीएसटीआईएन) की मदद से की जाएगी. पुराने नियम के अनुसार नई कंपनी का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए पहले कई तरह के दस्तावेज जमा करने पड़ते थे.

इस बारे में एमएसएमई (MSME) मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर कहा कि – अब लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम (एमएसएमई) इकाइयों को उद्यम के नाम से जाना जायेगा. इसी तरह पंजीकरण प्रक्रिया को अब ‘उद्यम पंजीकरण’ कहा जायेगा.

जिन लोगों के पास अब तक वैध आधार नंबर नहीं है, वे सिंगल विंडो सिस्‍टम पर आधार एनरोलमेंट रिक्‍वेस्‍टकर सकते हैं. या फिर बैंक पासबुक, वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card), पासपोर्ट (Passport) या ड्राइविंग लाइसेंस (DL) के जरिये भी नई एंटरप्राइज या कंपनी के रजिस्‍ट्रेशन के लिए आवेदन कर सकते हैं. सिंगल विंडो सिस्‍टम के तहत उन्‍हें वैध आधार नंबर मिल जाने के बाद रजिस्‍ट्रेशन की सुविधा उपलब्‍ध करा दी जाएगी. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि नई रजिस्‍ट्रेशन, क्‍लासिफिकेशन और फैसिलिटेशन व्‍यवस्‍था बहुत ही आसान व झंझट मुक्‍त है.

Input : First Bihar

Continue Reading

INDIA

अक्षय कुमार और सोनू सूद को भारत रत्न देने की उठी मांग, ट्वीट कर लोगों ने कही ऐसी बात

Muzaffarpur Now

Published

on

मुंबई. बॉलीवुड के खिलाड़ी यानी अक्षय कुमार (Akshay Kumar) और सोशल मीडिया (Social Media) पर रियल लाइफ हीरो के नाम से पुकारे जा रहे अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) हाल ही में जबरदस्त चर्चा में आ गए हैं. ट्विटर पर इन दोनों अभिनेताओं का नाम ट्रेंड करता दिख रहा है. अक्षय और सोनू ने कोरोना वायरस और लॉकडाउन के दौरान लोगों की मदद करके खूब सुर्खियां बटोरी थीं. अक्षय कुमार ने आगे आकर आर्थिक मदद की थी, वहीं सोनू सूद ने आर्थिक मदद के साथ-साथ सड़कों पर उतरकर प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने का काम किया था. वहीं अब ये दो नाम सोशल मीडिया पर एक बार फिर से ट्रेंड कर रहे हैं.

Roadlift': Sanjay Gupta Jokes About Buying Rights of Sonu Sood ...

दरअसल, हाल ही में ट्विटर पर अक्षय कुमार और सोनू सूद को इनके योगदान के लिए सम्मनित किए जाने की मांग उठ रही है. यूजर्स और फैन्‍स इन दोनों को देश के सर्वोच्‍च नागर‍िक सम्‍मान ‘भारत रत्‍न’ (Bharat Ratna) दिए जाने की मांग कर रहे हैं. इस सिलसिले में लोग तरह-तरह के पोस्ट करते दिखाई दे रहे हैं. एक यूजर ने दान किए गए आंकड़ों का पूरा ब्यौरा देते हुए लिखा- ‘अक्षय कुमार और सोनू सूद ने दिल खोलकर लोगों की मदद की है. उन्हें भारत रत्न मिलना चाहिए’

एक अन्य यूजर ने लिखा- ‘दो अहम लोग जिन्हें बहुत प्यार करता हूं और दोनों ही बेहतरीन एक्टर्स हैं. ये वाकई भारत रत्न पाने के काबिल हैं’.

कइयों ने अक्षय और सोनू को असली देशभक्त बताते हुए उनके लिए भारत रत्न की मांग की है. लोगों ने सोनू और अक्षय को रियल लाइफ हीरो बताया है.

कुछ इसी तरह के ट्वीट देखने को मिल रहे हैं. हालांकि अभी तक इस ट्रेंड पर ना तो अक्षय और ना ही सोनू सूद ने कोई बयान दिया है.

Input : News18

 

Continue Reading
INDIA9 mins ago

भारत में बन रही कोविड-19 वैक्सीन को बड़ी कामयाबी, ह्यूमन ट्रायल की मिली मंजूरी

INDIA46 mins ago

सरकार का बड़ा फैसला, Tik Tok समेत 59 चाइनीज ऐप पर लगाया बैन

BIHAR2 hours ago

तेजस्वी ने माना- हमसे कुछ गलतियां हुई उसकी सजा जनता ने हमें दिया, अब तो…

BIHAR2 hours ago

आईपीएस पीके दास और शंकर झा को डीआईजी स्तर के सैलरी ग्रेेड में मिला प्रमोशन

Uncategorized2 hours ago

MLC बनने की खुशी में कोरोना को भूले, संक्रमण के बीच बहादुरी या लापरवाही ?

INDIA2 hours ago

कंपनी खोलना हुआ आसान, रजिस्ट्रेशन के लिए सिर्फ आधार कार्ड होगा जरुरी

WORLD3 hours ago

डोनाल्‍ड ट्रंप की गिरफ्तारी का आदेश, इस देश ने जारी किया वारंट

WORLD3 hours ago

PoK में स्कार्दू एयरबेस पर दिखा चीनी फाइटर एयरक्राफ्ट, भारत के खिलाफ बड़ी साजिश की आशंका

BIHAR4 hours ago

चिराग के बयान ने NDA को चौंकाया, अलर्ट मोड में आई BJP

BIHAR4 hours ago

क्या बिहार में बिना चुनाव ही CM बने रहेंगे नीतीश! युवाओं ने EC से की यह मांग

INDIA3 weeks ago

धोनी ने खरीदा स्‍वराज ट्रैक्‍टर तो आनंद महिंद्रा ने दिया बड़ा बयान, वायरल हुआ ट्वीट

BIHAR2 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

BIHAR2 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA2 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

BIHAR3 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR2 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

BIHAR4 days ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

INDIA1 week ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

INDIA2 weeks ago

चांद पर प्लॉट खरीदने वाले पहले एक्टर थे सुशांत सिंह राजपूत!

INDIA2 weeks ago

मरने से पहले सुशांत सिंह राजपूत ने किया था ट्वीट, ‘मैं इस जिंदगी से तंग आ गया हूं, गुड बाय’

Trending