सीएम नीतीश के कार्यक्रम में दिखा अनोखा नजारा, बारिश में कुर्सी सिर पर रख भाषण सुनते रहे लोग

0
234

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जादू आज भी जनता के बीच कायम है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजेंद्र नगर अस्पताल में 106 शैय्या के अतिविशिष्ट नेत्र अस्पताल में ट्रामा सेंटर का शिलान्यास किया। इस कार्यक्रम के दौरान नीतीश कुमार ने भाषण भी दिया। भाषण देने के वक्त मौसम के बदले मिजाज के कारण बारिश होने लगी लेकिन इसके बाद भी कार्यक्रम से जनता कहीं नहीं गई और बारिश में भी कुर्सी सिर पर रखकर सीएम नीतीश कुमार का भाषण सुनती रही। कार्यक्रम के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने भी जनता को संबोधित करना बंद नहीं किया।

जनता को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि वर्ष 2005 में सत्ता संभालने के बाद राजेंद्र अस्पताल को आई हॉस्पिटल में विकसित करने का फैसला लिया गया था। इसके लिए सरकार ने एम्स के डॉ. राज्यवर्द्धन आजाद से भी संपर्क किया था। नेत्र चिकित्सा की बेहतर व्यवस्था के लिए आज इस काम को शुरू किया गया है। लोग यहां नेत्र संबंधी बीमारियों का बेहतर तरीके से इलाज करा सकेंगे। यहां पहले से चल रहे ओपीडी में मरीजों का इलाज होता रहेगा और जरूरत के मुताबिक डॉक्टरों, नर्सों के साथ-साथ अन्य सुविधाओं का भी इंतजाम किया जायेगा।

सीएम ने अपने कार्यक्रम के दौरान कहा कि बिहार में पहले स्वास्थ्य क्षेत्र की हालत बहुत ख़स्ता हालत में थी। वर्ल्ड बैंक ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि गरीब आदमी का यहां सबसे अधिक खर्च पर इलाज होता है। साल 2005 में जब हमारी सरकार आई उसके बाद से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में इलाज के लिए जानेवाले मरीजों का फरवरी 2006 में सर्वे कराया गया, तो पता चला कि एक माह में औसतन 39 मरीज अस्पताल पहुंचते हैं। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को बेहतर बनाने के लिए हमारी सरकार ने डॉक्टर, पारा मेडिकल स्टॉफ, नर्सेज और अन्य सुविधाओं की व्यवस्था की।

Input-Live Bihar