सीबीएसई 10वीं और 12वीं में फेल छात्र-छात्रएं दे सकते नियमित परीक्षा
Connect with us
leaderboard image

INDIA

सीबीएसई 10वीं और 12वीं में फेल छात्र-छात्रएं दे सकते नियमित परीक्षा

Santosh Chaudhary

Published

on

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 2020 की बोर्ड परीक्षा में फिर एक बदलाव किया है। 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में असफल होनेवाले छात्रों को दोबारा नियमित छात्र के रूप में परीक्षा देने का मौका मिल सकेगा। लेकिन, उनको उसी स्कूल में फिर से एडमिशन लेना होगा, जिस स्कूल में पहले से पढ़ रहे होंगे। सभी विषयों में नियमित होकर फिर से बोर्ड परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। गुरुवार को सीबीएसई ने नया सकरुलर जारी किया है। इसके अनुसार फेल छात्र दोबारा एडमिशन लेकर नियमित छात्र के तौर पर परीक्षा दे सकते हैं। यह नियम कंपार्टमेंटल परीक्षा में फेल छात्रों पर भी लागू किया गया है। बता दें कि सीबीएसई 10वीं और 12वीं में फेल छात्र पहले प्राइवेट छात्र के तौर पर परीक्षा देते थे। छात्रों को स्कूल नहीं जाना होता था। सालभर घर में रहकर ही तैयारी करते थे, लेकिन अब छात्र कमजोर विषयों में मेहनत कर स्कूल जाकर पढ़ाई कर सकेंगे।

वार्षिक परीक्षा का मिलेगा प्रमाणपत्र सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा की परीक्षा में फेल होने पर छात्रों को अगले साल प्राइवेट स्कूलों से फॉर्म भरकर परीक्षा देनी पड़ती थी। इससे उनके आगे का कॅरियर प्रभावित होने के साथ अंक पत्र और सर्टिफिकेट पर भी प्राइवेट लिखा होता था। लेकिन, अब प्राइवेट नहीं, बल्कि छात्रों को वार्षिक परीक्षा का प्रमाणपत्र मिलेगा। होली मिशन स्कूल के निदेशक डॉ. जीके मल्लिक ने बताया कि अब फेल छात्र दोबारा नामांकन लेकर पूरी विषयों की पढ़ाई कर सकते हैं। फेल छात्रों के नामांकन में कोई दिक्कत नहीं होगी। स्कूलों की तरफ से कोई मनाही नहीं होगी। वे नियमित छात्र के तौर पर ही परीक्षा दे सकेंगे।

Input : Dainik Jagran

INDIA

धौनी ने लद्दाख में फहराया तिरंगा, सियाचीन जाकर सैनिकों के साथ बिताएंगे समय

Ravi Pratap

Published

on

भारत के पूर्व कप्तान एमएस धोनी क्रिकेट से दूर फिलहाल जम्मू-कश्मीर में सेना के साथ हैं। धोनी क्रिकेट से रेस्ट लिया है और सेना के साथ जुड़ गए। जहां वह अन्य सैनिकों की तरह गश्त, गार्ड ड्यूटी और बाकी काम खुद कर रहे हैं।

स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए एमएस धोनी लद्दाख पहुंचे हैं। उनका लद्दाख में शानदार स्वागत किया गया। धोनी लद्दाख पहुंचे तो सेना अधिकारियों ने उनको सैल्यूट किया और उनके साथ काफी बातचीत की।

धोनी की लद्दाख पहुंचने की ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एम एस धोनी लद्दाख में तिरंगा लहराने के बाद सियाचिन ग्लेशियर गए हैं। धोनी सियाचिन बॉर्डर की मुश्किल परिस्थितियों को महसूस करना चाहते हैं। खबरों के मुताबिक धोनी सियाचिन वॉर मेमोरियल जाकर शहीदों को श्रदांजलि भी देंगे।

धोनी तिरंगा लहराने से पहले 14 अगस्त को आर्मी अस्पताल भी गए थे। जहां उन्होंने जवानों से काफी देर तक बातचीत की। 31 जुलाई को साउथ कश्मीर में धोनी की ट्रेनिंग शुरू हुई थी जो 15 अगस्त को खत्म हो गई है। साल 2011 में टेरिटोरियल आर्मी में शामिल होने वाले एमएस धोनी ने पिछले दिन एक आम फौजी की तरह बिताए। धोनी के पास लेफ्टिनेंट कर्नल की ऑनरेरी रैंक है और वो पैराशूट रेजीमेंट की 106 पैरा बटालियन के सदस्य हैं। धोनी ने इस बार विक्टर फोर्स के साथ ट्रेनिंग की जो कश्मीर में आतंक प्रभावित इलाकों में काम करती है। धोनी ने वर्ल्ड कप के बाद बीसीसीआई से वेस्टइंडीज दौरे के लिए छुट्टी मांगी थी जिसके बाद उन्होंने सेना के साथ ट्रेनिंग शुरू की।

Input : News24 India

Continue Reading

INDIA

स्वतंत्रता दिवस पर इस बार जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में दिखा नया माहौल

Ravi Pratap

Published

on

जम्मू-कश्मीर के विशेषाधिकार समाप्त कर उसे दो केंद्र शासित राज्यों में विभाजित करने के बाद कश्मीर वासियों ने गुरुवार को एक नए माहौल में स्वतंत्रता दिवस मनाया। श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने राज्यपाल के तौर पर अंतिम बार राष्ट्रध्वज फहराया।

इस अवसर पर उनके साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद थे। स्टेडियम में ध्वजारोहण करने के उपरांत राज्य पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और सेना के बहादुर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि इन्हीं जांबाज जवानों ने देश की एकता व अखंडता को बनाए रखने के लिए सर्वाेच्च बलिदान दिए हैं। लद्दाख में भी स्वतंत्रता दिवस बड़े धूमधाम से मनाया गया। यहां एक बैनर लगाकर लिखा गया था केंद्र शासित प्रदेश के रूप में लद्दाख ने पहला स्वतंत्रता दिवस मनाया।

राज्यपाल ने इस अवसर पर लोगों को विश्वास दिलाया कि जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश घोषित होने पर उनके अधिकारों का कहीं हनन नहीं हो रहा है बल्कि इससे आर्थिक विकास, समृद्धि, सुशासन व आत्मनिर्भरता बढ़ेगी, नौकरियों के रास्ते खुलेंगे और लोगों में एकता की भावना आएगी। उन्होंने कहा कि इस अवसर को पारंपरिक संस्कृतियों, मूल्यों और भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

कश्मीरी, डोगरी, गोजरी, पहाड़ी, बालटी, शीना सहित अन्य भाषाएं नए परिवेश में कामयाब होंगी। राज्य में सभी जनजातियों और जातियों को राजनीतिक प्रतिनिधित्व मिलेगा। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लोगों की पहचान के साथ छेड़छाड़ नहीं की गई है। राज्यपाल ने कहा कि लद्दाख के केंद्र शासित बन जाने से वहां के लोगों की लंबित मांग पूरी हो गई है।

उन्होंने कहा कि आतंकवाद से निपटने के लिए हमारी नीति बिलकुल स्पष्ट है। जो आतंकवादी सीमा पार से अपने आकाओं के कहने पर सुरक्षाबलों पर हमले करते हैं, उन्हें कड़ा सबक सिखाया जा रहा है और वह हार चुके हैं। आतंकवादी घटनाओं में कमी आई है और आतंकवादियों की नई भर्ती कम हुई है। शुक्रवार को ईद के बाद पत्थरबाजी की घटनाएं होती थी, वो अब बंद हो चुकी हैं। भटके हुए युवा मुख्यधारा में लौट रहे हैं।

सीमा पार से घुसपैठ पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीरियों के बिना अधूरा है कश्मीर। हमारी कोशिश है कि कश्मीरी पंडितों की घाटी में सम्मानजनक वापसी हो।

उन्होंने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर का बेहतर भविष्य देख रहे हैं जिसमें जम्मू और श्रीनगर मेट्रोपॉलिटन शहर बनेंगे जिसमें अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे होंगे। पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। जम्मू-कश्मीर में बड़े उद्योग स्थापित होंगे।

राज्य मेडिकल क्षेत्र का केंद्र बनेगा। अब महिलाओं के साथ कोई भेदभाव नहीं होगा। इस अवसर पर जम्मू-कश्मीर पुलिस, सीआरपीएफ, सेना के जवानों ने परेड में भाग लिया। इस दौरान राज्यपाल ने परेड का निरीक्षण किया। इसके अलावा विभिन्न स्कूलों, कला, संस्कृति एवं भाषा अकादमी के कलाकारों के अलावा सीआरपीएफ, जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों ने भी रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर जम्मू, कश्मीर तथा लद्दाख की संस्कृति को दर्शाते नृत्य और गीत संगीत पेश कर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

Input : Khabar World

Continue Reading

INDIA

442 में दो केले भूल जाइए, इस होटल ने 2 बॉयल अंडा का चार्ज किया 1700 रुपये

Ravi Pratap

Published

on

अगर आपको लगता है कि चंडीगढ़ के जेडब्ल्यू मैरियट होटल में 440 रुपये में दो केला काफी महंगा था, तो आपको एक बार और सोचने की जरूरत है। क्योंकि इस बार एक होटल ने दो ब्यॉल अंडे के लिए एक शख्स से 1700 रुपये चार्ज किया है। मुंबई के हाई-एंड फोर सीजन्स होटल में दो उबले अंडे के लिए एक ट्विटर यूजर को 1,700 रुपये चार्ज किया गया।

अभिनेता राहुल बोस के केले विवाद के बाद, जिसमें शिकायत के बाद चंडीगढ़ के आबकारी और कराधान विभाग द्वारा जेडब्ल्यू मैरियट होटल पर 25,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया था, ट्विटर यूजर कार्तिक धर ने कैप्शन के साथ होटल का बिल पोस्ट किया है- “@FourSeasons मुंबई में 1700 रुपये में 2 अंडे।

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, यूजर कार्तिक धर ने ट्विटर पर होटल का बिल शेयर करते हुए राहुल बोस को टैग किया। कार्तिक ने लिखा- भाई आंदोलन करें?

हैरान करने वाली बात है कि इसी बिल में दो ऑमलेट के लिए भी 1700 रुपये चार्ज किया गया। बता दें कि कार्तिक “All The Queen’s Men”के लेखक हैं। हालांकि, अब तक इस विवाद पर होटल की ओर से कोई बयान नहीं आया है।

एक यूजर ने पोस्ट किया- इस अंडे के साथ सोना भी निकला है क्या?…। वहीं एक अन्य यूजर ने कार्तिक धर के ट्वीट पर लिखा- मुर्गा संभवत: काफी अमीर घर का होगा।

बता दें कि पिछले महीने बॉलीवुड एक्टर ने हाईलाइट किया था कि कैसे चंडीगढ़ में जेडब्ल्यू मैरियट होटल ने उनसे दो केले के लिए 442 रुपये चार्ज किया था, जिसकी शिकायत उन्होंने की थी और होटल पर जुर्माना लगाया गया था।

Input : live Hindustan

Continue Reading
Advertisement
MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर कोर्ट में प्रियंका वाड्रा के खिलाफ परिवाद हुआ दायर

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर में नशेड़ियों ने गर्भवती महिला को जमकर पी’टा, नाजुक स्थिति में अस्पताल में चल रहा इलाज

BIHAR8 hours ago

मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के घर से AK-47 बरामद

INDIA1 day ago

धौनी ने लद्दाख में फहराया तिरंगा, सियाचीन जाकर सैनिकों के साथ बिताएंगे समय

INDIA1 day ago

स्वतंत्रता दिवस पर इस बार जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में दिखा नया माहौल

MUZAFFARPUR1 day ago

अमर शहीद केन्द्रीय कारा में मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव

MUZAFFARPUR2 days ago

मुजफ्फरपुर के सदर अस्पताल में चला हाई वोल्टेज ड्रामा

BIHAR2 days ago

नीतीश सरकार का रक्षाबंधन के मौके पर महिलाओं को खास तोहफा, सरकारी बसों में कर सकेंगी फ्री सफर

INDIA2 days ago

442 में दो केले भूल जाइए, इस होटल ने 2 बॉयल अंडा का चार्ज किया 1700 रुपये

INDIA3 days ago

पाकिस्ता’न के F-16 विमान को मा’र गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन को मिलेगा वीर चक्र

BIHAR3 weeks ago

बिहार में अब नहीं चलेगा पक’ड़़उआ ब्याह, कोर्ट ने इंजीनियर की शादी कर दी कैंसिल

INDIA3 weeks ago

UGC ने इन 23 यूनिवर्सिटी को फर्जी घोषित किया, देखें लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

मधुबनी में आसमान से गिरा पत्थर पहुंचा पटना, सीएम नीतीश ने बड़े ही करीब से देखा-परखा

INDIA3 weeks ago

राखी से ठीक एक माह पहले बहन ने भाई को दिया जिंदगी का तोहफा

INDIA3 weeks ago

साक्षी मिश्रा ने बनाया नया इंस्टा अकाउंट, खुद को बताया अभि की टाइग्रेस, भाई के लिए रक्षाबंधन की पोस्ट

BIHAR4 days ago

न्यूजीलैंड वित्त मंत्रालय में विश्लेषक बनीं मुजफ्फरपुर की बेटी शेफालिका, गांव में खुशी की लहर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

TECH4 weeks ago

सावधान! FaceApp के जरिए बुढ़ापे वाली तस्वीर बनाने से पहले 100 बार सोच लें…

MUZAFFARPUR3 weeks ago

बाल-बाल ब’चे DGP गुप्तेश्वर पाण्डेय, बस ने मारी टक्क’र

BIHAR3 weeks ago

बिहार में भी दोहराई साक्षी मिश्रा की कहानी: लव मैरिज कर जारी किया VIDEO, कहा- मुझे मेरे पापा से बचाओ

Trending

0Shares