Connect with us

BIHAR

क्या CBI जाँच सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिला पाएगा?

Thakur Divya Prakash

Published

on

बिहार, बिहारीयों और हर सुशांत सिंह राजपूत के चाहने वालों समेत बिहार कि हर राजनीतिक दल के नेताओं कि सारी मांगे अभी एक हीं मांग पर टिकी हुई है वो है कि महाराष्ट्र पुलिस के जाँच के रवैये और नीयत को देखते हुए CBI जाँच कि मांग। आपको बता दें कि CBI केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय के अंतर्गत काम करती है इसलिए CBI को स्वायत्त संस्था मान कर निष्पक्ष निबटारे कि आस लिए लोग अन्य बड़े मामलों में भी CBI से ही जाँच कि मांग करतें हैं। हमेशा किसी बड़ी घटना जिसकी जाँच पर लोगों को राज्य पुलिस पर भरोसा नहीं रहता है अथवा पुलिस लंबी जाँच के बावजूद नतीज़े पर नहीं पहुँच पाती है उसे इन जाँच एजेंसियों को सौंपने कि मांग लोगों के द्वारा उठाई जाती है और राज्य सरकारों कि इच्छा और मामले कि गंभीरता और बेहतर निष्पक्ष जांच के लिए राज्य सरकार कि अनुशंसा अथवा सिर्ष कोर्ट के आदेश पर केस CBI जैसी जाँच एजेंसियों को सौंप दी जाती है। पुर्व में भी कई चर्चित लंबित मामलों में जाँच के लिए केस CBI को सौंपी जाती रही है। लगभग 50 दिनों के बाद भी न्याय नहीं मिलता देख लोगों ने केस CBI को सौंपने की मांग तेज कर दी है।

राजनीतिक पार्टियाँ भी राजनीतिक रोटी सेंकने के फिराक में तो नहीं?

जिस तरह चुनावी साल में बिहार के हर एक राजनीतिक दल ने एक स्वर में सिर्फ CBI जाँच के लिए ही आवाज़ उठाना शुरू किया है वो भी हैरतंगेज है क्योंकि कभी गोपालगंज में हुए राजद कार्यकर्ता कि हत्या पर तेजस्वी यादव के CBI जाँच कि मांग के लिए धरना देने पर भी नहीं सुनने वाले नितीश कुमार के स्वर सुशांत सिंह राजपूत कि मृत्यु के CBI जाँच कि मांग पर तेजस्वी से एक हुआ जा रहा है। तो CBI जाँच के सहारे लालु यादव को चारा घोटाले में जेल पहुँचाने वाले बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और उसी जाँच पर सवाल उठा कर लालू प्रसाद यादव के साथ हुए अन्याय कि दुहाई देने वाले तेजस्वी यादव के सुर एक हुए जा रहें हैं।

जो बात गौर करने वाली है वह यह है कि महाराष्ट्र में “महाविकास अगाड़ी” कि सरकार है जिसमें शिवसेना,एनसीपी समेत कांग्रेस भी मुख्य घटक दल है और बिहार में राजद और रालोसपा कांग्रेस समेत “महागठबंधन” का हिस्सा है ऐसे में बिहार के चुनावी साल में यहाँ से जाँच के लिए आवाज उठाने वाले लोग महागठबंधन का हिस्सा होते हुए भी महाराष्ट्र में अपने साथ वाले दल कि ही सरकार के रहते हुए भी पता नहीं क्यों ये दल कांग्रेस पर दवाब बना के CBI जाँच कि अनुशंसा महाराष्ट्र सरकार से करवा पा रहें हैं।

क्या CBI को केस सौंप मात्र देने से न्याय मिल जाता है?

जेसिका लाल जैसे चर्चित मर्डर केस हो या अपने मुजफ्फरपुर के चर्चित और अभी तक अभेद नवरुना चक्रवर्ती के रहस्मय तरिके से घर से ग़ायब हो जाने का केस CBI हमेशा सफल नहीं भी होती है। जिस तत्परता से बिहार पुलिस मुंबई जा के तेजी से सुशांत सिंह राजपूत केस पर काम करके सुर्खियां बटोर रही है काश उसका आधा मात्र भी दिखा दिया होता 2012 में तो केस पहले CIDऔर फ़िर CBI के हवाले नहीं सौंपना पड़ता,आगे चल कर केस के बारे में सूचना देने वाले को 10 लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया गया। शहर के ही कुछ चर्चित लोगों को शक के आधार पर गिरफ्तार भी किया गया पर सब साक्ष्य के अभाव में जमानत पर छूट गए। पिछले साल दिसंबर में सुप्रीम कोर्ट ने 10 मार्च 2020 तक जांच पूरा करके रिपोर्ट कोर्ट में जमा करने का आदेश दिया था,लेकिन CBI को जाँच सौंप देने मात्र से या प्राथमिकी दर्ज करा देने से तो न्याय नहीं मिलता है न,हुआ भी यही दसवीं बार CBI को सुप्रीम कोर्ट से छः महीने के लिए एक्सटेंशन दिया गया। 2012 से 2020 के बिच बीते आठ सावन के बाद भी अगर CBI जाँच से भी न्याय नहीं मिल पाता है तो लोगों का भरोसा जाँच एजेंसियों पर कम ही माना जाए,लेकिन उठ रहे शोर के साथ शोर मचाने में सब ऐसे मशगूल हुए कि इस बात पर ध्यान देना भूल गए हैं।

ऐसे में नवरुना के गायब हो जाने कि घटना पर CBI कि सुप्रीम कोर्ट को दि जाने वाली रिपोर्ट में देरी और शहर में हुए कई बड़े-बड़े हत्याकांड जैसे पुर्व मेयर समीर कुमार हत्याकांड के आरोपियों की पहचान और जाँच के लिए केस CBI को सौंपे जाने का इंतजार मुजफ्फरपुर ज़िला वर्षों बाद आज भी कर रहा है, इसी बीच बिहार के ही लाल सुशांत सिंह राजपूत कि मौत के मामले में न्याय कि आस को जाँच के लिए CBI को सौंप देने मात्र से न्याय मिल जाएगा इस खोखले राजनीतिक दावे और लोगों कि आस का क्या होता है ये आगे आने वाले समय में देखा जाएगा।

MUZAFFARPUR

DM-SSP ने स्वतंत्रता दिवस को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लिया

Muzaffarpur Now

Published

on

जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर डॉक्टर चंद्रशेखर सिंह एवं पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरपुर जयंतकांत द्वारा आज स्वतंत्रता दिवस 2020 को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लिया गया। इस क्रम में जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने स्थानीय सिकंदरपुर स्टेडियम, जहां मुख्य समारोह का आयोजन होगा, का निरीक्षण किया।

विशेष तौर पर परेड का निरीक्षण किया गया। मुख्य समारोह स्थल पर साफ-सफाई को और दुरुस्त करने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया। साथ ही स्टेडियमके दीवाल को का पेंट करने का भी निर्देश दिया गया। इस बार स्वतंत्रता दिवस को लेकर सरकार का निर्देश है कि प्रमंडलीय मुख्यालय में प्रमंडलीय आयुक्त द्वारा झंडोत्तोलन किया जाएगा एवं जिलों में संबंधित जिला पदाधिकारी द्वारा झंडोत्तोलन किया जाएगा।

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

अखाड़ाघाट पुल से युवती ने लगाई छलांग ; आक्रोशित लोगों ने पुल को किया जाम

Muzaffarpur Now

Published

on

स्थानीय लोगों की माने तो अचानक युवती आई और नदी में लगा दी छलांग। घरवालों का रो रो कर बुरा हाल मौके पर पहुंची पुलिस प्रशासन स्थानीय स्तर पर खोजबीन की तैयारी। नगर थाना के सिकंदरपुर ओपी क्षेत्र के अखाड़ा घाट पुल की घटना। आक्रोशित लोगों ने पुल को किया जाम, युवती की तलासी को लेकर काफी आक्रोश।

अधिक जानकारी थोड़ी देर में

Team | Abhishek

Continue Reading

BIHAR

जल्द शुरू हो सकता है बस का परिचालन, परिवहन सचिव ने कहा- एक दो दिन में लिया जायेगा डिसीजन

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार में कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर 16 अगस्त तक लॉकडाउन को लागू किया गया है. इस दौरान बसों के परिचालन पर भी रोक लगा दी गई है. बस सेवा को फिर से बहाल करने को लेकर सरकार विचार कर रही है. प्रमंडलीय आयुक्त और परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि एक दो दिन में बस परिचालन को लेकर डिसीजन लिया जायेगा.

प्रमंडलीय आयुक्त और परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने गुरुवार को बताया कि परिस्थिति को देखते हुए एक-दो दिनों में सिटी और अंतरजिला बसों के परिचालन पर निर्णय लिया जाएगा. राज्य में बसों को छोड़कर सभी परिवहन सेवाएं चालू हैं. इसलिए हो सकता है कि सरकार बस सेवा को भी कुछ नियमों के साथ फिर से शुरू कर सकती है.

राजधानी पटना में पूरी सख्ती के साथ लॉकडाउन के नियमों लागू किया गया है. बुधवार को केरल से प्रवासियों को लेकर आई बस प्रशासन द्वारा जब्त कर ली गई. कमिश्नर संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि परिचालन पर रोक के बाद भी बसों के चलने की शिकायतें मिल रही हैं. प्रवासियों को लेकर कुछ बसें आ-जा रही हैं. शिकायतों की जांच के लिए अनुमंडलाधिकारी को निर्देश दिया गया है. दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होगी.

अनुमंडल पदाधिकारी तनय सुल्तानिया ने बताया कि अबतक चार बसों को जब्त किया गया है. एक एफआईआर भी दर्ज की गई है. मीठापुर बस स्टैंड में बसों के आवागमन पर रोक लगाने को बैरिकेडिग की तैयारी की जा रही है.

Input : First Bihar

Continue Reading
MUZAFFARPUR4 hours ago

DM-SSP ने स्वतंत्रता दिवस को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लिया

MUZAFFARPUR4 hours ago

अखाड़ाघाट पुल से युवती ने लगाई छलांग ; आक्रोशित लोगों ने पुल को किया जाम

BIHAR4 hours ago

जल्द शुरू हो सकता है बस का परिचालन, परिवहन सचिव ने कहा- एक दो दिन में लिया जायेगा डिसीजन

INDIA4 hours ago

सुशांत का कैश, रिया की ऐश : शॉपिंग से लेकर टिकट तक के पैसे सुशांत के अकाउंट से

INDIA5 hours ago

विदेश से मुंबई आने वाले लोगों को अब क्वारंटाइन नियमों दी गई छूट, जानें क्यों

INDIA5 hours ago

रेपुटेशन को लेकर काफी संजीदा थे सुशांत, रिया चक्रवर्ती को अपनी जिंदगी से निकालने की थी पूरी प्लानिंग

INDIA6 hours ago

सुशांत केस: सुप्रीम कोर्ट में CBI का जवाब- केस को मुंबई ट्रांसफर करने का सवाल ही नहीं

MUZAFFARPUR7 hours ago

विभा कुमारी की जांच से ही ब्रजेश सहित 19 को मिली थी सजा

Uncategorized8 hours ago

होटल से लेकर प्राइवेट जेट तक खरीदना चाहती रिया चक्रवर्ती, फ्लॉप एक्ट्रेस के सपने कैसे होंगे पूरे

INDIA9 hours ago

सुप्रीम कोर्ट में बिहार सरकार ने कहा..पटना में केस हैं दर्ज, इसलिए CBI जांच का है अधिकार, रिया के वकील ने कहा- FIR गैरकानूनी

BIHAR7 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA2 days ago

बाइक पर पत्नी के अलावा अन्य को बैठाया तो कार्रवाई: हाई कोर्ट

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

INDIA3 days ago

सुप्रीम कोर्ट का फैसला – पिता की प्रॉपर्टी में बेटी का हर हाल में आधा हिस्सा होगा

BIHAR1 week ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR1 week ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR2 weeks ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

BIHAR4 days ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

MUZAFFARPUR6 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

Trending