Connect with us

INDIA

हर महीने 4500 रुपये की बचत से भी बन सकते हैं करोड़पति, बस ऐसे बनाएं रणनीति

Published

on

आज के समय में छोटी या बड़ी कमाई करने वाला हर व्यक्ति अपने भविष्य को वित्तीय रूप से सुरक्षित करने के बारे में सोच रहा है. खासकर, कोरोना वायरस महामारी की वजह से पैदा हुई स्थिति को लोग अब सबक के तौर पर देखने लगे हैं. अगर आप भी छोटे निवेश से मोटा बचत करना चाहते हैं तो सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP- Systematic Investment Plan) आपके लिए एक सबसे बेहतर विकल्प साबित हो सकता है. जानकारों का कहना है कि अगर कोई निवेशक SIP के जरिए ज्यादा रिटर्न प्राप्त करना चाहता हैं तो उन्हें लंबी अवधि के लिए निवेश करने के बारे में सोचना चाहिए. अधिकतर जानकार एसआईपी के कम्पाउंडिंग लाभ उठाने के लिए 15 से 20 साल तक निवेश की सलाह देते हैं.

Indian Money 1999*1999 transprent Png Free Download - Cash, Money ...

दरअसल, एसआईपी में लंबी अवधि तक​ निवेश की सलाह इसलिए दी जाती है ताकि निवेशकों को कम्पाउंडिंग का लाभ मिल सके. अगर कोई निवेश 15 से 20 साल के लिए निवेश करता है तो अंतिम समय में रकम में इजाफा होने का रेट ज्यादा होता है और इस प्रकार उन्हें मोटा रिटर्न प्राप्त हो सकता है.

Advertisement

Horrific closing for rupee; Indian currency plunges to new all ...

जानकारों का मानना है कि करीब 20 साल तक की अवधि के लिए निवेश किया जाता है तो इसपर औसतन 15 फीसदी की रिटर्न की उम्मीद की जा सकती है. हालांकि, यह इस बात पर निर्भर करता है कि निवेशक ने कैसी एसआईपी पॉलिसी को चुना है. अगर सही समय में सही एसआईपी को चुन लिया जाता है तो 15 फीसदी की रिटर्न आसानी से मिल सकती है. आइए एक उदाहरण की मदद से समझते हैं कि कैसे हर महीने की छोटी बचत भी आपको करोड़​पति बना सकती है.

Image result for 50 lakhs of indian rupees images | Show me the ...

मान लीजिए कि आप हर महीने किसी एसआईपी में 4,500 रुपये की निवेश करते हैं और इस पर 15 फीसदी रिटर्न की उम्मीद करते हैं. आपने यह निवेश 20 साल के लिए ​किया है. एसआईपी कैलकुलेटर की मदद से इसपर मिलने वाले कुल रिटर्न की बात करें तो 20 साल के अंत में आप 68,21,797.387 रुपये के मालिक बन सकते हैं. हालांकि, यहां पर एक​ ट्रिक की मदद से आप इसे 1 करोड़ रुपये में बदल सकते हैं.

Advertisement

अगर आप इस एसआईपी में हर साल के बाद प्रति महीने 500 रुपये का टॉप अप बढ़ा देते हैं तो आप आसानी से करोड़पति बन सकते हैं. अगर आप इस ट्रिक का इस्तेमाल करते हैं तो शुरुआत के हर महीने 4,500 रुपये का निवेश आपको 20 साल के बाद मैच्योरिटी के समय पर 1,07,26,921.405 रुपये दिला सकता है.

Input : News18

Advertisement

INDIA

सैनिक ने हाथ पर लिखा, तेरी मौत की खबर नहीं सुन सकता, मैं आ रहा हूं, फिर खुद को मार ली गोली

Published

on

मंडी. एक सैनिक ले जम्मू कश्मीर में खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली. इससे पहले सैनिक ने अपने हाथ पर लिखा विनोद अक्षय मुझे माफ करना, डिंपल तेरा बत्रा तेरी मौत की खबर नहीं सुन सकता इसलिए मैं भी आ रहा हूं, आई लव यू डिंपल. जानकारी के अनुसार घटना जम्मू कश्‍मीर के मीरा साहब की है. आत्महत्या करने वाले सैनिक की पहचान योगेश कुमार के तौर पर हुई है जो मंडी जिले के पधर उपमंडल में आने वाले सुराहण गांव का रहने वाला है. सैनिक की उम्र 22 साल की बताई जा रही है.

जानकारी के अनुसार योगेश कुमार ने सोमवार रात करीब साढ़े बारह बजे खुद को सिर पर गोली मारी. इस दौरान वो नाइट ड्यूटी पर तैनात था. जैसे ही गोली की आवाज आई अन्य सैनिक वहां पहुंचे और उसको पास के मिलिट्री अस्पताल में लेकर गए जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

Advertisement

प्रेम प्रसंग वजह

युवक की आत्महत्या के पीछे प्रेम प्रसंग कारण बताया जा रहा है. खुद योगेश ने भी अपने हाथ पर कुछ ऐसा ही लिखा है. हालांकि लोगों को सही कारणों का पता नहीं लग सका है. वहीं स्‍थानीय लोगों के अनुसार योगेश काफी मिलनसार था और उसकी अभी शादी भी नहीं हुई थी. वहीं उसके बड़े भाई और बड़ी बहनों की शादी हो गई है. घटना का पता जैसे ही गांव में चला पधर क्षेत्र में शोक छा गया.

Advertisement

हादसे के बाद से ही मृतक के परिजन गहरे सदमे में हैं. सभी इस बात से हैरान हैं कि योगेश ने इतना बड़ा कदम कैसे उठा लिया क्योंकि उसने किसी भी परेशानी के संबंध में अपने किसी परिजन या दोस्त को नहीं बताया था. वहीं सैन्य अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार परिजन मिलिट्री अस्पताल जम्मू के लिए रवाना हो गए हैं. यहां पर सैनिक के पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया जाएगा. वहीं सूचना मिली कि मृतक का बड़ा भाई धीरज कुमार भी सेना में कार्यरत है और वो 15 जे एंड के राइफल में तैनात है.

Source : News18

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

एनडीए का मतलब अब सिर्फ बीजेपी? शिवसेना-अकाली के बाद अब JDU ने किया राम-राम

Published

on

बिहार में सियासी हलचल तेज हो गई है. पूरे देश की नजरें बिहार की राजधानी पटना पर टिकी हैं जहां हर तरफ बैठकों का दौर चल रहा है. एक तरफ नीतीश कुमार ने जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) संसदीय दल की बैठक बुलाई है, वहीं राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के तेजस्वी यादव भी बैठक पर बैठक कर रहे हैं. जेडीयू और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के ब्रेकअप का आधिकारिक ऐलान होना अभी बाकी है लेकिन नीतीश कुमार की पार्टी का राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को राम-राम करना अब तय माना जा रहा है.

कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टियों के विधायकों ने महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का समर्थन करने से संबंधित पत्र भी तेजस्वी यादव को सौंप दिया है. बिहार में जारी सियासी घटनाक्रम के बीच अब ये चर्चा भी शुरू हो गई है कि क्या एनडीए का मतलब सिर्फ बीजेपी ही रह गया है? एनडीए के पुराने घटक दल एक-एक कर गठबंधन से अलग होते जा रहे हैं. पहले शिवसेना और शिरोमणि अकाली दल (एसएडी)) ने एनडीए से नाता तोड़ा और उसके बाद उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना ने.

Advertisement

अब जेडीयू भी शिरोमणि अकाली दल और शिवसेना की राह पर है. एनडीए का प्रमुख घटक रही तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) ने भी बीजेपी से गठबंधन तोड़ लिया था. एक-एक कर अधिकतर विश्वस्त और पुराने गठबंधन सहयोगी बीजेपी का साथ छोड़कर जा चुके हैं. ऐसे में ये सवाल भी उठ रहा है कि ऐसा क्यों हो रहा है. हालांकि, बीजेपी की ओर से लगातार ये भी कहा जाता रहा है कि हम गठबंधन धर्म निभाते हैं लेकिन एनडीए के घटक दलों का एक-एक कर अपनी राहें अलग करते जाना कुछ और ही इशारा कर रहा है.

क्यों साथ छोड़ रहे सहयोगी दल

Advertisement

एनडीए से सहयोगी दलों के नाता तोड़कर जाने का सिलसिला जारी है. नीतीश कुमार की पार्टी के भी एनडीए से अलग हो जाने के बाद इसके लिए एनडीए में सामंजस्य के अभाव को प्रमुख वजह बताया जा रहा है. कहा तो ये भी जा रहा है कि पुरानी बीजेपी और मोदी युग की बीजेपी में जो बड़ा अंतर आया है, सहयोगियों के साथ छोड़ने का वही बड़ा कारण है.

एनडीए में समन्वय का अभाव

Advertisement

बिहार के ताजा सियासी घटनाक्रम से एक चीज और निकलकर सामने आई है और वो है एनडीए में समन्वय का अभाव. बिहार के बीजेपी नेता नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ बयान देते रहे. साथ ही जातिगत जनगणना समेत कई मुद्दों पर नीतीश कुमार और बीजेपी का मतभेद भी खुलकर सामने आया. एनडीए में समन्वय के लिए बैठकें भी अब गुजरे जमाने की बात हो चली है. राजनीति के जानकारों की मानें तो बीजेपी का अपने नेताओं की बयानबाजियों पर लगाम न लगा पाना भी गठबंधन से सहयोगियों के नाता तोड़ते जाने का प्रमुख कारण है.

Source : Aaj Tak

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

INDIA

नोएडा सोसाइटी में महिला से अभद्रता करने वाला ‘गालीबाज’ श्रीकांत त्यागी गिरफ्तार

Published

on

नोएडा: उत्तर प्रदेश के नोएडा में आवासीय सोसाइटी में महिला से अभद्रता करने वाला फरार ‘गालीबाज’ श्रीकांत त्यागी अब पकड़ में आ गया है. यूपी पुलिस की मानें तो बीते तीन-चार दिनों से फरार चल रहे श्रीकांत त्यागी को एसटीएफ ने आज यानी मंगलवार को मेरठ के पास से गिरफ्तार किया. इससे पहले त्यागी की कई गाड़ियों को जब्त किया गया और उसकी पत्नी से आज तीसरी बार पूछताछ हुई. बता दें कि महिला से अभद्रता करने के आरोपी श्रीकांत त्यागी की गिरफ्तारी पर सोमवार को 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था. फेस-2 थाने ने उसकी गिरफ्तारी पर यह इनाम घोषित किया है.

Advertisement

दरअसल, बीते दिनों श्रीकांत त्यागी का सोसाइटी में रहने वाली एक महिला से झगड़ा हो गया था, जिसके बाद शुक्रवार को उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (किसी महिला पर हमला करना या आपराधिक बल का प्रयोग करना) के तहत मामला दर्ज किया गया था. इसकी वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ, जिसमें उसे महिला के साथ अभद्रता करते और उसे गाली देते देखा गया.

पुलिस के मुताबिक, श्रीकांत त्यागी के खिलाफ बाद में भारतीय दंड संहिता की धारा 447 (अनाधिकार प्रवेश), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 504 (शांति भंग के इरादे से जानबूझकर अपमान करना) और 506 (धमकी देना) के तहत आरोप लगाए गए. श्रीकांत त्यागी रविवार रात से ही फरार है. श्रीकांत त्यागी को पकड़ने के लिए पुलिस कई राज्यों में दबिश दे रही थी.

Advertisement

बुलडोजर एक्शन भी हुआ था

श्रीकांत त्यागी के खिलाफ यूपी सरकार का बुलडोजर एक्शन भी देखने को मिला था. नोएडा प्राधिकरण ने सेक्टर 93-बी स्थित त्यागी के फ्लैट के सामने किए गए अवैध निर्माण को बुलडोजर एक्शन के तहत ढहा दिया. इसके अलावा, अपनी कार पर उत्तर प्रदेश सरकार के चिह्न का दुरुपयोग करने के आरोप में मोटर वाहन अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

Advertisement

सीएम योगी ने दिया था सख्त निर्देश

नोएडा के भगोड़े गालीबाज श्रीकांत त्यागी के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त सख्ती दिखाई और इस पूरे प्रकरण में गृह विभाग से रिपोर्ट भी तलब की है. मुख्यमंत्री ने गृह विभाग को श्रीकांत त्यागी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के भी आदेश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने पूरे प्रकरण में गृह विभाग से रिपोर्ट तालाब करते हुए कई बिंदुओं पर सवाल पूछा है. उन्होंने यह भी पूछा है कि श्रीकांत त्यागी को किस आधार पर पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाई गई थी. मिल रही जानकारी के मुताबिक जांच रिपोर्ट के बाद उन अफसरों पर भी गाज गिर सकती है, जिन्होंने त्यागी को गनर उपलब्ध करवाया था. इस बीच पूरे मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में एक एसएचओ, सब इंस्पेक्टर समेत चार सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है.

Advertisement

Source : News18

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading
BIHAR8 hours ago

‘लालू बिन चालू ए बिहार न होई…’, बीजेपी-जेडीयू के ब्रेकअप पर लालू यादव की बेटी के तंज भरे ट्वीट

BIHAR8 hours ago

बिहार में फिर बनेगी चाचा-भतीजे की सरकार, आज नीतीश-तेजस्वी लेंगे शपथ

INDIA8 hours ago

सैनिक ने हाथ पर लिखा, तेरी मौत की खबर नहीं सुन सकता, मैं आ रहा हूं, फिर खुद को मार ली गोली

BIHAR12 hours ago

बिहार के झटके को अवसर के रूप में देख रही भाजपा, खुलकर उतरने का मिलेगा मौका

BIHAR13 hours ago

गठबंधन टूटते ही विपक्षी रंग में बीजेपी, रविशंकर ने नीतीश से पूछे तीन सवाल

BIHAR13 hours ago

‘प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं पलटू राम’, नीतीश के भाजपा से गठबंधन तोड़ने पर बरसे गिरिराज सिंह

BIHAR14 hours ago

कल दोपहर 2 बजे नीतीश कुमार का शपथ ग्रहण, JDU-RJD समेत 7 पार्टियों की बनेगी सरकार

BIHAR14 hours ago

तेज प्रताप यादव ने बिहार की जनता को ट्वीट कर दिया धन्यवाद

SPORTS15 hours ago

दिग्गज अंपायर रुडी कोएर्टजन की कार दुर्घटना में मौत, क्रिकेट जगत में शोक की लहर

BIHAR16 hours ago

मुजफ्फरपुर जिले में दाखिल-खारिज के 47,482 मामले लंबित, डीएम ने जताई नाराजगी

BIHAR4 weeks ago

बिहार दारोगा रिजल्ट : छोटी सी दुकान चलाने वाले सख्स की दो बेटियाँ एक साथ बनी दारोगा

job-alert
BIHAR2 weeks ago

बिहार: मैट्रिक व इंटर पास महिलाएं हो जाएं तैयार, जल्द होगी 30 हजार कोऑर्डिनेटर की बहाली

INDIA4 weeks ago

प्यार के आगे धर्म की दीवार टूटी, हिंदू लड़के से मुस्लिम लड़की ने मंदिर में की शादी

BIHAR3 weeks ago

बिहार में तेल कंपनियों ने जारी की पेट्रोल-डीजल की नई दरें

BIHAR6 days ago

बीपीएससी 66वीं रिजल्ट : वैशाली के सुधीर बने टॉपर ; टॉप 10 में मुजफ्फरपुर के आयुष भी शामिल

BIHAR4 days ago

एक साल में चार नौकरी, फिर शादी के 30वें दिन ही BPSC क्लियर कर गई बहू

BUSINESS6 days ago

पैसों की जरूरत हो तो लोन की जगह लें ये सुविधा; होगा बड़ा फायदा

BIHAR4 days ago

ग्राहक बन रेड लाइट एरिया में पहुंची पुलिस, मिली कॉलेज की लड़किया

BIHAR3 weeks ago

बिहार : अब शिकायत करें, 3 से 30 दिनों के भीतर सड़क की मरम्मत हाेगी

INDIA1 week ago

बुढ़ापे का सहारा है यह योजना, हर दिन लगाएं बस 50 रुपये और जुटाएं ₹35 लाख फंड

Trending