Connect with us

Uncategorized

हिंदी और इंग्लिश सिखाने के लिए गूगल ने लॉन्च किया Bolo एप, बिना इंटरनेट भी चलेगा

गूगल ने बुधवार को नया एप ‘बोलो’ लॉन्च किया है। यह एप प्राइमरी स्कूल के बच्चों को हिंदी और अंग्रेजी पढ़ना सीखने में मदद करेगा। साथ ही बच्चों के उच्चारण संबंधी दोष भी ठीक करेगा। बोलो एप में गूगल के स्पीच रिकॉगनिशन और टेक्स्ट टू स्पीच टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। गूगल ने इस एप को सबसे […]

Santosh Chaudhary

Published

on

गूगल ने बुधवार को नया एप ‘बोलो’ लॉन्च किया है। यह एप प्राइमरी स्कूल के बच्चों को हिंदी और अंग्रेजी पढ़ना सीखने में मदद करेगा। साथ ही बच्चों के उच्चारण संबंधी दोष भी ठीक करेगा। बोलो एप में गूगल के स्पीच रिकॉगनिशन और टेक्स्ट टू स्पीच टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। गूगल ने इस एप को सबसे पहले भारत में लॉन्च किया है। यह एप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

गूगल के प्रोडक्ट मैनेजर नितिन कश्यप ने बताया, ‘बच्चों में पढ़ने की क्षमता में कमी आगे की शिक्षा को प्रभावित करती है और बच्चा अपनी क्षमताओं को पूरी तरह से जान नहीं पाता। बच्चों को कई बार गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा की कमी, संसाधनों की कमी वाले इंफ्रास्ट्रक्चर और क्लास से बाहर सीखने में आने वाली कठिनाईयों का सामना भी करना पड़ता है।’

एनुअल स्टेटस ऑफ एजुकेशन की साल 2018 की रिपोर्ट का हवाला देते हुए नितिन ने बताया कि भारत के ग्रामीण इलाकों में 5वीं क्लास के सिर्फ आधे स्टूडेंट ही दूसरी क्लास के स्तर की किताब अच्छे से पढ़ पाते हैं।
बोलो एप में बच्चों की सुरक्षा निश्चित करने के लिए कोई भी जानकारी किसी सर्वर पर स्टोर नहीं की जाती। एप का सारा डाटा इस्तेमाल करने वाले के डिवाइस पर ही स्टोर होता है। एप को यूज करने के लिए यूजर को इमेल आईडी या जेंडर जैसी जानकारी देने की भी जरूरत नहीं है।

उच्चारण सुधारने में मदद करेगी ‘दिया’

बोलो एप ऑफलाइन काम करता है। इसका मतलब यह कि एप को चलाने के लिए इंटरनेट ऑन करने की जरूरत नहीं होगी। यूजर को सिर्फ एक बार 50mb से भी कम साइज का एप डाउनलोड करना होगा।

एप में हिंदी और इंग्लिश भाषा में 100 से भी ज्यादा कहानियां है। जिसे पढ़ कर बच्चे अपनी रीडिंग स्किल बेहतर कर सकते हैं।

एप में एनीमेटेड कैरेक्टर ‘दिया’ बच्चों को कहानियों को जोर से पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करेगी। इसके साथ ही अगर बच्चे किसी शब्द का उच्चारण ठीक से नहीं कर पा रहा है तो दिया उसमें भी बच्चे की मदद करेगी। पूरा कंटेट पढ़ लेने पर दिया बच्चे की तारीफ करके उसका उत्साह भी बढ़ाएगी।

गूगल ने उत्तर प्रदेश के 200 गांवों में बोलो एप का ट्रायल किया था। ट्रायल के शुरुआती तीन महीने में 64% बच्चों के पढ़ने की क्षमता में बढ़ोतरी देखी गई है।

गूगल अब कई गैर लाभकारी संस्थाओं के साथ काम कर रहा है, ताकि इस एप को देश में जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाया जा सके। कंपनी एप में बंगाली, मराठी जैसी अन्य भारतीय भाषाएं भी जोड़ने की प्लानिंग कर रही है।

Input : Dainik Bhaskar

Uncategorized

नीतीश का उद्‌घाटन गया बेकार: PMCH में 122 दिन पहले जिस इमरजेंसी का उद्घाटन कर गए CM, अस्पताल ने उसे नहीं किया शुरू, मरीज जमीन पर

Ravi Pratap

Published

on

प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल पटना मेडिकल कॉलेज PMCH से बिहार की स्वास्थ्य सेवाओं की पोल खुल रही है। इलाज फर्श पर हो रहा है और इमरजेंसी का नया भवन उद्घाटन के 122 दिन बाद भी मरीजों का नहीं हो सका है। सीएम नीतीश कुमार ने 22 सितंबर 2020 को भवन का उदघाटन करते हुए PMCH में बेहतर स्वास्थ्य सेवा का दावा किया था, लेकिन आज तक इस सुविधा का लाभ मरीजों को नहीं मिल सका है।

उद्घाटन के दो शिलापट और मरीज एक भी नहीं

PMCH की सर्जिकल इमरजेंसी भवन के आधा हिस्से का विस्तार करते हुए इसे हाईटेक बनाया गया है। इमरजेंसी के बाहर दो शिलापट लगे हैं। एक कार्यारंभ का है, जिसे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने 11 फरवरी 2020 को किया है और दूसरा इमरजेंसी भवन के विस्तार पटल के उन्नयन कार्य के उद्घाटन का, जिसे खुद सीएम नीतीश कुमार ने किया है। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की आचार संहिता लागू होने से पहले आनन फानन में किए गए इस उद्घाटन से लग रहा था कि मरीजों की सुविधा के लिए किया जा रहा है। लेकिन 122 दिन बाद भी मरीजों को इमरजेंसी में एक बेड के लिए तरसना पड़ रहा है। दो-दो उद्घाटन के शिलापट यह गवाही दे रहे हैं कि सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कितनी गंभीर है। लेकिन PMCH प्रशासन की मनमानी भारी पड़ रही है।

मरीजों की समस्या को किया जा रहा नजर अंदाज

PMCH में मरीजों की समस्या को नजर अंदाज किया जा रहा है। जिस भवन को मरीजों के लिए हाईटेक बनाया गया उसे अब वैक्सीनेशन के इस्तेमाल में लिया जा रहा है। 16 जनवरी से इमरजेंसी भवन में वैक्सीनेशन का काम किया जा रहा है। ऐसे में अब मरीजों को लंबे समय तक इस भवन में इलाज की उम्मीद भी नहीं है। PMCH में वैक्सीनेशन के लिए किसी अन्य भवन का इस्तेमाल कर मरीजों को भी राहत दी जा सकती थी। लेकिन PMCH प्रशासन मरीजों के दर्द को लेकर गंभीर नहीं दिख रहा है।

एक ही छत के नीचे इलाज के साथ हो जाती जांच

जिस इमरजेंसी भवन का सीएम नीतीश कुमार ने उद्घाटन 122 दिन पहले किया था। उसमें मरीजों को एक ही छत के नीचे जांच और इलाज की सुविधा का दावा किया गया था। इमरजेंसी भवन के ग्राउंड फ्लाेर पर 30 बेड बनाए गए हैं। इसमें 15 पुरुषाें और 15 महिलाओं के लिए रिजर्व हैं। इस सर्जिकल इमरजेंसी में एक ही छत के नीचे इलाज के साथ जांच के लिए सिटी स्कैन, एमआरआई, एक्सरे, अल्ट्रा सोनोग्राफी सहित रेडियोलॉजी और पैथोलॉजी की सभी सुविधाएं देने का दावा किया गया था। इसमें चार मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर भी बनाए गए हैं। इसमें एक ऑपरेशन थिएटर को HIV संक्रमितों के लिए रिजर्व किया गया है।

इमरजेंसी में बेड का हमेशा रहता है संकट

पटना मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में हमेशा मरीजों की भीड़ होती है। यहां प्रदेश के कोने-कोने से मरीज आते हैं। मरीजों का भरोसा भी PMCH पर है, इस कारण से वह इमरजेंसी में बेड नहीं मिलने के बाद भी फर्श पर इलाज करा लेते हैं। गरीब मरीजों के पास इतना पैसा भी नहीं होता है कि वह पटना में किसी निजी अस्पताल में इलाज कराने के लिए जाएं। ऐसी स्थिति में वह बेड मिले न मिले, लेकिन इलाज के लिए कतार में लगे रहते हैं। पटना मेडिकल कॉलेज में अगर जीर्णोद्धार किए गए इमरजेंसी के हाईटेक भवन को मरीजों की सुविधा के लिए खोल दिया गया होता तो शायद इस ठंड में फर्श पर लेटकर इलाज कराने की मजबूरी नहीं होती।

Input: Dainik Bhaskar

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

Uncategorized

शेन वॉर्न ने टी नटराजन पर जताया स्पॉट फिक्सिंग का शक, दिया विवादित बयान

Muzaffarpur Now

Published

on

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व लेग स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) ने ब्रिसबेन टेस्ट के चौथे दिन ऐसी बात कह दी जिसे सुनकर कोई भी भारतीय फैन उन्हें माफ नहीं कर पाएगा. शेन वॉर्न ने इशारों ही इशारों में टीम इंडिया की गेंदबाजी के दौरान टी नटराजन (T Natrajan) पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप लगा दिये. शेन वॉर्न ने ऑस्ट्रेलियाई चैनल पर कमेंट्री के दौरान टी नटराजन की ओर से फेंकी गई नो बॉल्स पर शक जताया. बता दें टी नटराजन ने ब्रिसबेन टेस्ट के दौरान 7 नो बॉल फेंकी और इन्हीं गेंदों पर शेन वॉर्न ने बेहद विवादित बात कही. दूसरी पारी में भारतीय गेंदबाजी के दौरान कमेंट्री कर रहे शेन वॉर्न ने एलेन बॉर्डर से कहा कि टी नटराजन ने जो 7 नो बॉल फेंकी हैं, उनमें से 7 पहली गेंद पर हुई हैं.

शेन वॉर्न बोले, ‘मुझे टी नटराजन की गेंदबाजी के दौरान कुछ अलग चीज दिखाई दी है. नटराजन ने 7 नो बॉल फेंकी हैं और ये सभी काफी बड़ी नो बॉल हैं. इनमें से पांच नो बॉल पहली गेंद पर आई और उनका पैर क्रीज से काफी बाहर दिखा. हम सभी ने नो बॉल फेंकी हैं लेकिन 5 नो बॉल पहली गेंद पर फेंका जाना काफी दिलचस्प है.’

बता दें शेन वॉर्न यहां इशारों ही इशारों में टी नटराजन की तुलना पाकिस्तानी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर से कर रहे हैं, जिन्होंने साल 2010 में लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान बहुत बड़ी नो बॉल फेंकी थी. मोहम्मद आमिर इसके बाद स्पॉट फिक्सिंग के दोषी पाए गए थे.

नटराजन ने किया है टेस्ट डेब्यू

बता दें टी नटराजन ने ब्रिसबेन टेस्ट में अपना टेस्ट डेब्यू किया है. नटराजन ने पहली पारी में 3 विकेट अपने नाम किये. नटराजन ने ब्रिसबेन टेस्ट में बतौर ओपनिंग गेंदबाज डेब्यू किया और सबसे पहले मैथ्यू वेड का शिकार किया. इसके बाद उन्होंने पहली पारी में शतक लगाने वाले मार्नस लाबुशेन का भी विकेट झटका. नटराजन ने इसी दौरे पर वनडे और टी20 डेब्यू भी किया था. एक वनडे में उन्होंने दो विकेट लिये थए और टी20 सीरीज के तीन मैचों में उन्हें तीन विकेट मिले थे.

Source : News18

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

BIHAR

बिहार बोर्ड ने जारी किया इंटर परीक्षा का एडमिट कार्ड, इस लिंक से करें डाउनलोड

Ravi Pratap

Published

on

बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2021 की परीक्षा का प्रवेश पत्र जारी कर दिया गया है। स्कूलों के प्रमुख बोर्ड वेबसाइट seniorsecondary.biharboardonline.com पर जाकर  यूजर आईडी और पासवर्ड से अपने अपने स्कूलों के बच्चों के एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। शिक्षण संस्थानों के प्रमुख हस्ताक्षर और मुहर लगाने के बाद ही ये एडमिट कार्ड स्टूडेंट्स को देंगे।

बोर्ड वेबसाइट पर 31 जनवरी तक प्रवेश पत्र अपलोड रहेगा।

बोर्ड की मानें तो जो छात्र सेंटअप परीक्षा उत्तीर्ण नहीं हुए हैं, उनका प्रवेश पत्र जारी नहीं किया जायेगा। इसका निर्देश सभी स्कूल ओर कॉलेजों को बोर्ड द्वारा भेज दिया गया है।

हेल्पलाइन नंबर भी हुआ जारी:  
प्रवेश पत्र डाउनलोड करने में किसी तरह की परेशानी ना हो, इसके लिए बोर्ड ने हेल्पलाइन नंबर 612-2230039 और 2235161 जारी किया है।

यहां देखें बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा 2021 की डेटशीट ( Bihar Board Inter Exam Datesheet 2021 )

छात्रों को 15 मिनट मिलेगा प्रश्न पत्र पढ़ने के लिए 
परीक्षा के दौरान 15 मिनट प्रश्न पत्र पढ़ने के लिए परीक्षार्थियों को दिया जाएगा। वहीं दृष्टिबाधित एवं दिव्यांग परीक्षार्थी जो स्वयं लिख नहीं सकते उनके लिए लेखक रखने की अनुमति बोर्ड द्वारा दी जाएगी। ऐसे परीक्षार्थियों को परीक्षा के निर्धारित समय से 20 मिनट प्रति घंटा अतिरिक्त समय दिया जाएगा। दृष्टिबाधित परीक्षार्थियों के लिए पूर्व की भांति विज्ञान के स्थान पर संगीत और गणित के स्थान पर गृह विज्ञान विषय की परीक्षा पुराने पाठ्यक्रम के आधार पर ली जाएगी।

Input: Live Hindustan

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading
BIHAR5 hours ago

सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर दिल्ली में होगा एक सड़क का नामकरण, सुशांत की याद में स्कॉलरशिप की घोषणा

BIHAR5 hours ago

बिहार विधान परिषद चुनाव: शाहनवाज हुसैन और मुकेश सहनी निर्विरोध निर्वाचित

Uncategorized10 hours ago

नीतीश का उद्‌घाटन गया बेकार: PMCH में 122 दिन पहले जिस इमरजेंसी का उद्घाटन कर गए CM, अस्पताल ने उसे नहीं किया शुरू, मरीज जमीन पर

TRENDING11 hours ago

लॉटरी विक्रेता का जो टिकट नहीं बिका था, उसके ज़रिए उसने केरल में जीते ₹12 करोड़

INDIA11 hours ago

24 घंटे में ‘फर्जी’ निकला गैंगरेप का केस, जानें युवती ने क्यों गढ़ी युवक को फंसाने के लिए झूठी कहानी?

MUZAFFARPUR12 hours ago

मुजफ्फरपुर: मेडिकल-इंजीनियरिंग की छात्राएं देर रात शहंशाह होटल के कमरे में म‍िलीं

BIHAR14 hours ago

‘मैं तेजस्वी यादव बोल रहा हूं’, पटना DM के जवाब पर जब लगने लगे जिंदाबाद के नारे, जानें पूरा माजरा

INDIA14 hours ago

बॉडीगार्ड शेरा के साथ सलमान खान ने शेयर की यह खास फोटो, लिखा- वफादारी

MUZAFFARPUR14 hours ago

मुजफ्फरपुर पंचायत चुनाव: उम्मीदवार कर रहे BJP से बात, अधिक मुखिया प्रत्याशी

INDIA14 hours ago

सुशांत की बर्थ एनिवर्सरी पर फूल खरीदने पहुंची रिया चक्रवर्ती, फोटोग्राफर्स से हाथ जोड़कर बोलीं- Please मेरा पीछा ना करें!

INDIA3 weeks ago

लड़कियों के लिए मिसाल हैं ये महिला IAS, अपनी हाइट को नहीं बनने दिया बाधा

TRENDING3 days ago

WagonR का Limousine अवतार! तस्वीरों में देखिए एक मैकेनिक का शाहकार

INDIA6 days ago

इंग्लिश मीडियम बहू और हिंदी मीडियम सास के रिश्‍तेे में यूं आ रही दरार, पहुंच रहे थाने तक

TRENDING3 weeks ago

12 लीटर सोडा, 40 बोतल बीयर रोज: 412 किलो के शख्स ने दुनिया को कहा अलविदा

JOBS3 weeks ago

डाक विभाग ने निकाली है बंपर भर्तियां, 10वीं पास करें आवेदन, जानें फॉर्म भरने का तरीका

BIHAR3 weeks ago

29 IAS, 38 IPS की ट्रांसफर-पोस्टिंग: 12 DM बदले, चंद्रशेखर सिंह पटना के नए DM बने; 13 SP बदले, लिपि सिंह को सहरसा SP बनाया गया

TRENDING6 days ago

‘दोस्त’ ने किया बेइज्जत: ‘कंगाल’ पाकिस्तान का यात्री विमान मलेशिया ने किया जब्त, उतारे गये यात्री

MUZAFFARPUR4 weeks ago

निगम में शामिल होंगे शहर से सटे 32 गांव, 49 से बढ़ कर हाे सकते हैं अब 76 वार्ड

BIHAR6 days ago

बिहार: अब सभी जिलों में चलेगी BSRTC की बस, पटना से काठमांडू, जनकपुर व भूटान सीमा तक मिलेगी सर्विस

BIHAR3 weeks ago

तो इसलिए हैं पंजाब के किसान सड़कों पर, बिहार के किसानों के मुकाबले कमाते हैं पांच गुना ज्यादा

Trending