Connect with us

INDIA

जिंदगी की जं’ग हा’र गई उ’न्नाव दु’ष्क’र्म पी’डि़ता, सफरदजंग अ’स्पताल में ली अं’तिम सां’स

Santosh Chaudhary

Published

on

उत्तर प्रदेश के लखनऊ से एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाई गई उ’न्नाव निवासी सा’मूहिक दु’ष्क’र्म पी’डि़ता शुक्रवार देर रात आ’खिरी जिंदगी की जं’ग हा’र गई। यहां सफदरजंग अस्पताल में रात 11.40 बजे पी’डि़ता ने अं’तिम सांस ली। सुबह परिजनों की मौजूदगी में श’व का पो’स्टमा’र्टम किया जाएगा।

DEMO PHOTO

95 फीसद जली थी पीडि़ता

गुरुवार देर शाम 95 फीसद जली अवस्था में पीडि़ता को सफदरजंग अस्पताल की बर्न यूनिट में भर्ती कराया गया था। पीडि़ता का इलाज कर रहे बर्न एंड प्लास्टिक सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ. शलभ कुमार ने बताया कि रात 11.10 बजे पीडि़ता को दिल का दौरा पड़ा और 11.40 पर सांस टूट गई। इससे पूर्व दिन में अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुनील गुप्ता ने दिन में बताया था कि ऐसे गंभीर मामलों में इलाज बहुत मुश्किल होता है। गुरुवार रात आठ से साढ़े आठ बजे के दौरान पीडि़ता बात कर पा रही थी। वह अस्पताल में मौजूद अपने बड़े भाई से पूछ रही थी कि भइया क्या में बच जाऊंगी, मैं जीना चाहती हूं। आरोपितों को छोड़ना नहीं है। इस दौरान उन्हें सांस लेने और बोलने में काफी तकलीफ भी हो रही थी।

भाई ने कहा, दरिंदों को मिले मौत की सजा

दिन में मीडिया से बात करते हुए पीडि़ता के भाई ने कहा था कि हैदराबाद में गुनाहगारों को सजा मिल चुकी है। उनकी बहन से दरिंदगी करने वालों को भी मौत की सजा मिलनी चाहिए। पीडि़ता की मां भी दिल्ली आई थीं, लेकिन वह काफी परेशान हो रही थीं इसलिए घर भेज दिया गया।

आरोपितों ने केरोसिन छिड़ककर लगाई थी आग

25 वर्षीय पीडि़त युवती उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली थीं। पुलिस में दी शिकायत के मुताबिक दो साल पहले शादी का झांसा देकर गांव का ही शिवम रायबरेली ले गया था। वहां शिवम व उसके दोस्त शुभम ने दुष्कर्म किया और वीडियो बना लिया। शुभम को पुलिस ने क्लीनचिट दे दी थी, जबकि शिवम नौ माह रायबरेली जेल में रहकर 30 नवंबर को जमानत पर छूटा था। आरोपित लगातार मुकदमा वापसी का दबाव बना रहा था। गुरुवार सुबह पीडि़ता बैसवारा रेलवे स्टेशन जा रही थी। गांव से लगभग तीन सौ मीटर दूर रास्ते में शिवम त्रिवेदी और उसके साथ कुछ लोगों ने रोका और केरोसिन छिड़ककर आग लगा दी और भाग निकले।

आधा किमी दौड़कर लपटों से घिरी पीडि़ता लगाती रही बचाने की गुहार

लपटों से घिरी पीडि़ता बचाने की गुहार लगाते हुए आधा किलोमीटर तक दौड़ती रही। अंत में एक गैस एजेंसी के गोदाम के पास तक आते ही वह गिर गई। शोर सुन बाहर निकले गार्ड ने आग बुझाकर यूपी 112 पर सूचना दी। पुलिस युवती को सुमेरपुर सीएचसी ले गई, जहां से उसे जिला अस्पताल और वहां से लखनऊ ले जाकर सुबह साढ़े दस बजे डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी अस्पताल (सिविल) में भर्ती कराया गया। लखनऊ से एयर एंबुलेंस के जरिये रात सवा आठ बजे दिल्ली एयरपोर्ट लाया गया। वहां से ग्रीन कॉरिडोर बनाकर सफदरजंग अस्पताल लाया गया।

सभी आरोपित गिरफ्तार

उसके बयान के आधार पर सभी आरोपित गुरुवार को ही गिरफ्तार कर लिए गए थे। इनकी पेशी से पहले हैदराबाद एनकाउंटर होने से उसके दोहराव का खतरा था। इस कारण आरोपित शिवम त्रिवेदी, उसके पिता रामकिशोर, प्रधान पुत्र शुभम त्रिवेदी व हरिशंकर त्रिवेदी और उमेश बाजपेई (पंचायत मित्र) को शुक्रवार सुबह सुमेरपुर सीएचसी में मेडिकल चेकअप कराकर पुलिस बिहार थाने में बैठाए रही। कभी पुरवा कोर्ट तो कभी उन्नाव में पेशी की बातें हुईं। पेशी शाम छह बजे उन्नाव में तब हुई, जब बाकी कोर्ट बंद हो चुकी थीं। इस दौरान सभी चौराहों व नाकों पर पुलिस डटी रही।

चाहते हैं हैदराबाद जैसा इंसाफ

बेटी के माता-पिता भी हैदराबाद एनकाउंटर जैसा इंसाफ चाहते हैं। कहते हैं, मेरी बेटी भी उन्हीं हालात से गुजरी है। उसके गुनहगारों को भी वैसी ही सजा मिलनी चाहिए। ऐसा सबक सिखाने से ही हैवानियत रुकेगी। ऐसी कार्रवाई ही वहशियों में खौफ पैदा करेगी।

पीडि़ता के चाचा को धमकी

गुरुवार को हैवानियत से पहले मुख्य आरोपित शिवम त्रिवेदी ने पीडि़ता के गंगाघाट निवासी चाचा को भी जान से मारने की धमकी दी थी। ऑडियो वायरल होने पर गंगाघाट कोतवाली में डीएम व एसपी ने चाचा से बात की। डीएम ने कहा कि धमकी जैसी बात नहीं है। चाचा के साथ मध्यस्थता का रास्ता निकालने के लिए आरोपित ने एक रिश्तेदार को कहा था। इनकी शुक्रवार को बात होनी थी पर इसके पहले ही घटना हो गई।

बच सकती थी वारदात

लालगंज पुलिस सतर्क होती तो शायद दुष्कर्म पीडि़ता बच भी जाती। पीडि़ता ने 2018 में थाने में शिकायत की थी, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। फिर उन्नाव के बिहार थाना में चार मार्च-2019 को शिवम व शुभम के खिलाफ रिपोर्ट लिखाई। कोर्ट के आदेश पर लालगंज पुलिस ने भी रिपोर्ट लिखी। 30 नवंबर को शिवम हाईकोर्ट से जमानत पर छूटा, लेकिन लालगंज पुलिस बेखबर रही। शिवम ने साथियों संग गुरुवार तड़के करीब चार बजे उसे जिंदा जलाने की कोशिश कर डाली। पीडि़ता के मजिस्ट्रेट को दर्ज कराए बयान के आधार पर शिवम के पिता रामकिशोर, शुभम के पिता हरिशंकर त्रिवेदी व उमेश बाजपेई को भी आरोपित बना लिया है। इन्हें गुरुवार को ही पकड़ लिया गया था।

पीडि़ता के घरवालों को मदद

शुक्रवार को सपाइयों ने पीडि़ता के घर वालों को एक लाख रुपये की आर्थिक मदद दी। सपाइयों ने शासन से पीडि़त परिवार को 25 लाख की आर्थिक सहायता और सुरक्षा देने की मांग की है।

बरसीं महिला आयोग उपाध्यक्ष

उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह पीडि़ता के घर पहुंचीं। पीडि़ता के पिता ने बताया कि भाई को धमकाने और दुकान न लगने देने की धमकी दी जा रही है। इस पर महिला थाना प्रभारी सुनीता चौरसिया पर बरस पड़ीं और बोलीं कि जब पीडि़ता के परिवार से मिलकर बात करने को कहा था तो उसे गंभीरता से क्यों नहीं लिया। तुम जैसे लापरवाह लोगों के कारण ही ऐसी घटनाएं होती हैं।

Input : Dainik Jagran

INDIA

74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी ने सातवीं बार लाल किले से तिरंगा फहराया

Ravi Pratap

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 74वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से सातवीं बार तिरंगा फहराया। इसके साथ मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को पीछे छोड़ दिया। अटलजी पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री थे, जिन्होंने 6 बार लाल किले पर तिरंगा फहराया था। लाल किले पर सबसे ज्यादा बार तिरंगा फहराने वाले प्रधानमंत्रियों की लिस्ट में मोदी चौथे नंबर पर आ गए हैं।

प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने सबसे ज्यादा 17 बार लाल किले से झंडा फहराया था। दूसरे नंबर पर इंदिरा गांधी हैं, जिन्हें 16 बार यह मौका मिला। जबकि मनमोहन सिंह (10 बार) तीसरे नंबर पर हैं। वहीं, राजीव गांधी ने 5 बार लाल किले से झंडा फहराया था।

पहले स्वतंत्रता दिवस पर 16 अगस्त को फहराया गया था तिरंगा

14-15 अगस्त की रात को भारत को आजादी मिली थी, लेकिन पहले स्वतंत्रता दिवस पर 15 अगस्त को नहीं, बल्कि 16 अगस्त को लाल किले पर तिरंगा फहराया गया था। इसके बाद से ही हर साल लाल किले से तिरंगा फहराने की परंपरा शुरू हुई।

Continue Reading

INDIA

74वां स्वतंत्रता दिवस आज, लाल किले की प्राचीर से PM नरेंद्र मोदी करेंगे देश को संबोधित

Ravi Pratap

Published

on

भारत आज अपना 74वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस ऐतिहासिक अवसर पर लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराएंगे और देशवासियों को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री सुबह सात बजे राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगे और वहां से सीधे लाल किला पहुंचेंगे। समारोह स्थल पहुंचने पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और रक्षा सचिव डा अजय कुमार प्रधानमंत्री का स्वागत करेंगे।

रक्षा सचिव सेना के दिल्ली एरिया के जनरल आफिसर इन कमान लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा का प्रधानमंत्री से परिचय करायेंगे जो प्रधानमंत्री को सलामी मंच पर लेकर जायेंगे। तीनों सेनाओं और पुलिस के जवान प्रधानमंत्री को सलामी देंगे जिसके बाद प्रधानमंत्री सलामी गारद का निरीक्षण करेंगे। सलामी गारद की कमान लेफ्टिनेंट कर्नल गौरव ए येवालकर के पास होगी।

इसके बाद प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर पर जायेंगे जहां रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सीडीएस जनरल बिपिन रावत और तीनों सेनाओं के प्रमुख उनका अभिनंदन करेंगे। यहां से वह प्रधानमंत्री ध्वजारोहण के लिए प्रस्थान करेंगे। सेना की मेजर श्वेता पांडे ध्वजारोहण में प्रधानमंत्री का सहयोग करेंगी। सेना की तरफ से 21 तोपों की सलामी दी जायेगी। इसके साथ ही राष्ट्रीय गार्ड राष्ट्रीय ध्वज को ‘राष्ट्रीय सलामी’ पेश करेंगे। सेना का बैंड इस दौरान राष्ट्र गान की धुन बजायेगा।

तिरंगा फहराने के बाद प्रधानमंत्री राष्ट्र को संबोधित करेंगे। उनके संबोधन के बाद राष्ट्रीय कैडेट कोर के कैडेट राष्ट्र गान गायेंगे। इस बार के समारोह में स्कूली बच्चों की जगह एनसीसी के 500 कैडेट हिस्सा ले रहे हैं।

Input : Live Hindustan

Continue Reading

INDIA

सुशांत सिंह ने अंकिता के लिए खरीदा था 4.5 करोड़ का फ्लैट, खुद भर रहे थे EMI

Muzaffarpur Now

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में ईडी को जांच में पता चला है कि सुशांत मलाड में स्थित 4.5 करोड़ रुपये के एक फ्लैट के लिए इंस्टॉलमेंट्स भर रहे थे. एजेंसी के सूत्रों ने बताया है कि ये शायद वही फ्लैट है जिसमें अंकिता लोखंडे रह रही हैं. अंकिता, सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्लफ्रेंड हैं. अंकिता को सवालों की एक फेहरिस्त इंडिया टुडे ने भेजी है जिस पर उन्होंने अब तक कोई जवाब नहीं दिया है.

सूत्रों के मुताबिक रिया चक्रवर्ती ने भी पूछताछ के दौरान इस फ्लैट का जिक्र किया था और उन्होंने बताया था कि सुशांत चाह कर भी अंकिता से ये फ्लैट खाली करने को नहीं कह पा रहे थे जबकि वो इसकी ईएमआई भर रहे थे. हालांकि अब तक ये साफ नहीं है कि सुशांत फ्लैट के लिए कितनी धनराशि जमा कर चुके थे लेकिन इतना जरूर पता चला है कि बस कुछ ही इंस्टॉलमेंट बाकी रह गई थीं.

ये भी पाया गया है कि सुशांत के खाते से हर महीने इस फ्लैट की ईएमआई का पैसा कट रहा था. बता दें कि सुशांत मामले की जांच के लिए अंकिता काफी बेबाकी से बोलती रही हैं और उन्होंने कई बार इस मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग की है. ईडी अब तक इस मामले की जांच कर रहा था कि क्या सुशांत के खाते से रिया चक्रवर्ती ने किसी तरह की हेरफेर की है.

रिया के खिलाफ चल रही मनी लॉन्डरिंग जांच

मालूम हो कि सुशांत के पिता ने बिहार पुलिस में कराई एफआईआर में ये दावा किया था कि रिया की नजर सुशांत के पैसे पर थी और उन्होंने कई करोड़ की हेरफेर सुशांत के अकाउंट से की थी. सूत्रों की मानें तो एजेंसी जल्द ही इस मामले में प्रॉपर्टी के डिटेल्स चेक करेगी कि रजिस्ट्रेशन किसके नाम पर है और इनवेस्टमेंट किस तरह हुआ है.

Input : Aaj Tak

Continue Reading
INDIA5 mins ago

74वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी ने सातवीं बार लाल किले से तिरंगा फहराया

BIHAR22 mins ago

नीतीश सरकार से समर्थन वापस ले सकती है राम विलास पासवान की पार्टी लोजपा: पार्टी सूत्र

INDIA2 hours ago

74वां स्वतंत्रता दिवस आज, लाल किले की प्राचीर से PM नरेंद्र मोदी करेंगे देश को संबोधित

INDIA10 hours ago

सुशांत सिंह ने अंकिता के लिए खरीदा था 4.5 करोड़ का फ्लैट, खुद भर रहे थे EMI

BIHAR10 hours ago

BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद भी नहीं बदले हैं चिराग पासवान के सुर, कल पटना में बुलायी पार्टी की आपात बैठक

INDIA10 hours ago

प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के लिए अमेरिका से आ रहा नया विमान एयर इंडिया वन

INDIA10 hours ago

सुशांत के परिवार पर विवादित बयान के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत का यू-टर्न

MUZAFFARPUR10 hours ago

नाले के अवरोधों को साफ़ कर किसी भी सूरत में जलनिकासी सुनिश्चित करें निगम – मंत्रीसुरेश शर्मा

MUZAFFARPUR11 hours ago

मुजफ्फरपुर का युवक निकला साइबर क्रिमिनल पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह के नाम पर करता था फर्जीवाड़ा

BIHAR11 hours ago

फोन कर माफी मांग रहा नेपाल, भारतीयों को पीटने वाले पुलिस के दो जवान हटाए गए

BIHAR1 week ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 days ago

बाइक पर पत्नी के अलावा अन्य को बैठाया तो कार्रवाई: हाई कोर्ट

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

INDIA4 days ago

सुप्रीम कोर्ट का फैसला – पिता की प्रॉपर्टी में बेटी का हर हाल में आधा हिस्सा होगा

BIHAR2 weeks ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR1 week ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR2 weeks ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

BIHAR6 days ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

MUZAFFARPUR1 week ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

Trending