Connect with us
leaderboard image

BIHAR

14 हाथी शराब के स्टोर रूम में घुसे, 2 ने 30 लीटर शराब पी और चाय बागान में सो गए, फोटो वायरल

Santosh Chaudhary

Published

on

युन्नान. दक्षिण पश्चिम चीन के युन्नान प्रांत के एक गांव में 14 हाथियों का एक दल शराब के स्टोर रूम में घुस गया। हाथियों ने यहां उत्पात तो मचाया ही, शराब बनाने की सामग्री को गिरा दिया। दो हाथी वहां रखी मक्के से बनी 30 लीटर शराब भी पी गए। शराब पीकर वे मस्त होकर जंगल की ओर निकल गए।

इसके बाद यह हाथियों का दल चाय के बागानों में पहुंचा। चाय बागान में शराबी हाथियों को संतुलन बिगड़ने लगा। दोनों कुछ देर एक दूसरे का सहारा बने रहे। फिर दोनों वहीं सो गए। यह घटना गांव के सीसीटीवी में कैद हो गई जो वायरल हो रही है।

चाय के बागान में हाथी।

वहीं, शराब के नशे में सो रहे हाथियों की तस्वीरें जुजोउ बिंगबिंग ने वीबो और ट्विटर पर शेयर की हैं। बिंगबिंग ट्रैवल फोटोग्राफर हैं। इसे अब तक एक लाख 40 हजार के लाइक्स मिल चुके हैं।

शराब स्टोर, जिसमें हाथी घुसे थे।

शिन्हुआंग्बना दाई प्रान्त के मेंघई गांव के लोगों को दावा है कि 14 हाथियों में से सिर्फ दो ने स्टोर रूम में उत्पात मचाया और शराब पी थी। ट्विटर पर वायरल होने के बाद युन्नान प्रांत के अधिकारियों ने खुलासा किया कि यह घटना पिछली गर्मियों की है।

 

MUZAFFARPUR

रोजी-रोटी पर आफत आई तो दिल्ली से साहेबगंज रिक्शा लेकर पहुंचे तीन चालक

Santosh Chaudhary

Published

on

नगर पंचायत साहेबगंज स्थित मध्य विद्यालय बालक में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर पर शुक्रवार को अलग-अलग गांव के तीन रिक्शा चालक पहुंचे। इसमें पूर्णिया जिला के रामपुर निवासी मो. मुन्ना व मधुबनी जिला के बेनीपट्टी निवासी मोहित यादव व कपिलेश्वर यादव शामिल हैं।

इन रिक्शा चालकों ने बताया कि दिल्ली में अपनी रिक्शा चलाकर रोजी-रोटी का जुगाड़ करते थे। लॉक डाउन के कारण रोजी-रोटी बंद हो गई। इस कारण बीते 27 मार्च को अपने रिक्शा से ही अपने घर के लिए प्रस्थान किया था। यूपी के तमकोही रोड में इन लोगों की स्क्रीनिंग हुई। क्वारेंटाइन सेंटर पर विश्राम करने और खाना खाने के बाद वे सभी घर के लिए रवाना हो गए।

Input : Dainik Bhaskar

fight-against-covid-19-by-muzaffarpur-now

Continue Reading

BIHAR

बिहार: तब्लीगी जमात वालों को डीजीपी ने चेताया-पुलिस-डॉक्टर से बेजा हरकत बर्दाश्त नही करेंगे

Muzaffarpur Now

Published

on

dgp-gupteshwar-pandey

बिहार पुलिस ने 345 ऐसे लोगों को कोरोना जांच में सहयोग की सख्त चेतावनी दी है, जो तब्लीगी मरकज से लौटकर बिहार आए। देशभर में जमात के लोगों के कोरोना संक्रमित होने की खबरों के बाद बिहार पुलिस की खुफिया शाखा को ऐसे 4597 लोगों की लिस्ट मिली थी, जिनके मोबाइल फोन की लोकेशन एक तय समय में दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात के मुख्यालय के आसपास मिली थी। उनकी जांच के बाद 345 लोगों की लिस्ट बनाई गई। इनमें सर्वाधिक मधुबनी और अररिया जिले के हैं।

बिहार पुलिस ऐसे सभी लोगों को खोज-खोजकर क्वारंटाइन कर रही। पुलिस कहना है कि ऐसे लोगों को डरने या घबराने की कोई जरूरत नहीं है। कुछ लोग अगर सहयोग नहीं करते, तो कड़ाई बरती जाएगी।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार तब्लीगी मरकज में शामिल 86 बिहारी, 57 विदेशी जमाती, कटिहार के 07 जमाती और दो दूसरे प्रदेश के जमातियों के अलावा 345 लोगों की यह अलग सूची है, जिसे खुफिया विभाग की मोबाइल टावर लिस्ट के आधार पर बनाया गया है। पहली सूची गृह मंत्रलय ने भेजी थी।

दूसरी सूची खुफिया विभाग की 4597 की लिस्ट के आधार पर जांच-पड़ताल के आधार पर बनाई गई है। इनमें से नौ फीसद से कम लोग तब्लीगी मरकज में शामिल होकर लौटने वाले निकले हैं। बाकी चार हजार से ज्यादा लोग दिल्ली स्थित निजामुद्दीन स्थित मरकज वाले इलाके में विभिन्न कारणों से आए-गए थे। इनमें हिन्दुओं  की संख्या ज्यादा है। पुलिस मुख्यालय के उच्चाधिकारी ने बताया कि शनिवार को जिले की स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

तब्लीगी जमात से जुड़े होने के संदेह में शेखपुरा की अहियापुर मस्जिद से पकड़कर अस्पताल में दाखिल कराए गए चार लोगों ने शुक्रवार को अस्पताल कर्मचारियों को दिनभर परेशान किया। वह घिनाने वाली हरकतें करते रहे। पुलिस ने वर्धमान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, पावापुरी (विम्स) के आइसोलेशन वार्ड में रखा है। डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों को वह गाली बक रहे और थूक फेंक रहे हैं। इससे इलाज में परेशानी हो रही है। खाने में प्रतिबंधित मांस की भी मांग रख दी। एक बीमार के सैंपल कोरोना जांच के लिए पटना भेजा जा सका।

बक्सर के चौसा में तब्लीगी जमात से होकर आए 11 नेपाली नागरिक समेत एक दर्जन जमाती शुक्रवार को सरेंजा में मस्जिद में छिपे मिले। उन्हें 28 दिनों के लिए क्वारंटाइन कर दिया। सभी नेपाल के नागरिक हैं। बेगूसराय में दिल्ली में तब्लीगी जमात में शामिल होने वाले 9 व्यक्ति मिले हैं।

पूर्णिया जिले के इस्लामपुर में नेपाल से आए तब्लीगी जमात के 15 विदेशी नागरिकों को क्वारंटाइन में रखा गया है। मधेपुर थाना पुलिस ने शुक्रवार को भीमपुर गांव स्थित आस्था स्थल से दस नेपाली मौलवी को क्वारंटाइन में भेजा। दरभंगा में तब्लीगी जमात से लौटे बाबूबरही के दो लोगों को क्वारंटाइन में भेजा गया। संदिग्ध मरीजों की पहचान संपादकीय

पुलिस-डॉक्टर से अशोभनीय व्यवहार बर्दाश्त नहीं : डीजीपी

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने सभी एसएसपी-एसपी से दो टूक कहा है कि कोरोना जांच के लिए प्रेरित करने वाले पुलिस या डॉक्टर की टीम के साथ अशोभनीय व्यवहार कतई बर्दाश्त नहीं करें। समाज में अराजकता पैदा करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्ती से पेश आए। वहीं, जरूरतमंदों की मदद में भी पुलिस कहीं पीछे नहीं रहे।

Input : Dainik Jagran

fight-against-covid-19-by-muzaffarpur-now

Continue Reading

MUZAFFARPUR

लॉक डाउन में फंस गई है 1300 एमफिल छात्रों की परीक्षा

Saumya Jyotsna

Published

on

बिहार विश्वविद्यालय के 1300 एमफिल छात्रों की परीक्षा लॉक डॉउन के कारण फंस गई है। छात्रों की परीक्षा पर 23 मार्च को राजभवन में होने वाले कुल पदों की बैठक में चर्चा होनी थी मगर लॉक डॉउन के कारण वह बैठक नहीं हो सकी।

बीएड की भी 1500 छात्रों की परीक्षा अटक गई

एमफिल के अलावा बीएड की भी 1500 छात्रों की परीक्षा की फाइल लॉक डाउन में अटक गई है। बिहार विश्वविद्यालय में एमपी में दाखिला लेने वाले छात्र वर्ष 2017 से ही परीक्षा की प्रतीक्षा कर रहे हैं बिहार विश्वविद्यालय में वर्ष 2015 में ही विवि के डिस्टेंस में एमफिल कोर्स की शुरुआत हुई थी लेकिन रेगुलेशन नहीं होने से 1 वर्ष बाद ही कोर्स बंद कर दिया गया और दाखिला लेने वाले छात्र सड़क पर आ गए।

2019 में एमफिल को विश्वविद्यालय ने रेगुलर मोड में कर दिया और इसी हिसाब से इसका रेगुलेशन तैयार किया।

fight-against-covid-19-by-muzaffarpur-now

Continue Reading
INDIA26 mins ago

TATA ने कोरोना से लड़ने वाले डॉक्टरों-नर्सों के लिए खोले Taj होटल्स के द्वार

INDIA28 mins ago

गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, अब लॉकडाउन के दौरान मिलेगी ये छूट, देखें लिस्ट

MUZAFFARPUR33 mins ago

रोजी-रोटी पर आफत आई तो दिल्ली से साहेबगंज रिक्शा लेकर पहुंचे तीन चालक

dgp-gupteshwar-pandey
BIHAR60 mins ago

बिहार: तब्लीगी जमात वालों को डीजीपी ने चेताया-पुलिस-डॉक्टर से बेजा हरकत बर्दाश्त नही करेंगे

MANTRA1 hour ago

शनिवार विशेष : शनि की पूजा में तांबे के बर्तनों का उपयोग नहीं करना चाहिए, नीले फूल चढ़ाएं

INDIA1 hour ago

भारत में सितंबर तक बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन का समय: रिपोर्ट

MUZAFFARPUR2 hours ago

लॉक डाउन में फंस गई है 1300 एमफिल छात्रों की परीक्षा

BIHAR2 hours ago

बिहार में 6 अप्रैल तक तापमान में गिरावट, कई जगहों पर बारिश की संभावना

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर से संदिग्ध की पटना के पीएमसीएच में मौत

MUZAFFARPUR3 hours ago

एमआईटी मुजफ्फरपुर के पूर्ववर्ती छात्र ओपी सिंह बने ओएनजीसी में डायरेक्टर

BIHAR1 week ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA4 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

INDIA2 weeks ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA1 week ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR3 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR2 weeks ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

INDIA5 days ago

Lockdown के दौरान युवक ने फोन करके कहा 4 समोसे भिजवा दो, डीएम ने भिजवाए 4 समोसे और साफ कराई नाली

BIHAR1 week ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA4 days ago

COVID-19 के बीच सलमान खान के भतीजे की मौत, परिवार में शोक की लहर

BIHAR1 week ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

Trending