पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सूचना और संस्कृति मंत्री फ़ैयाज़ अल हसन चौहान के हिंदुओं के बारे में दिए गए बयान पर विवाद हो गया है.

पाकिस्तान में सोशल मीडिया पर चौहान की जमकर आलोचना की गई और #SackFayazChohan और #Hindus टॉप ट्रेंड्स में भी रहे.

चौहान ने हिंदुओं को गाय का मूत्र पीने वाला बताते हुए कहा था कि भारत पाकिस्तान का मुक़ाबला नहीं कर सकता है.

फैयाज़ चौहान प्रधानमंत्री इमरान ख़ान की पार्टी से जुड़े हैं और पंजाब प्रांत में मंत्री हैं.

उनके बयान के बाद न सिर्फ़ सोशल मीडिया पर बल्कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ पार्टी के नेताओं ने भी उनकी जमकर आलोचना की है.

उनका इस्तीफ़ा तक मांगा जा रहा है.

चौहान ने 24 फ़रवरी को लाहौर में एक कार्यक्रम के दौरान ये विवादित बयान दिया था लेकिन इसका वीडियो क्लिप सोमवार को वायरल हुआ.

प्रधानमंत्री इमरान ख़ान के राजनीतिक मामलों के सलाहकार नईमुल हक़ ने एक ट्वीट में कहा कि पीटीआई इस तरह की बकवास को बर्दाश्त नहीं करेगी भले ही सरकार का कोई वरिष्ठ सदस्य या कोई अन्य ऐसी बात कहे.

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, “हिंदू समुदाय के ख़िलाफ़ पंजाब के सूचना मंत्री फैयाज़ चौहान के अपमानजनक बयान पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. मुख्यमंत्री से सलाह लेने के बाद उन पर कार्रवाई की जाएगी.”

वहीं पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फ़ैसल ने ट्विटर पर लिखा, “पाकिस्तानी झंडे में जिस गर्व से हरा रंग शामिल है उसी गर्व से सफ़ेद रंग भी है जो हिंदू समुदाय के योगदान का सम्मान करता है और उन्हें अपना मानता है.”

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur 

वहीं मानवाधिकार मामलों की मंत्री शिरीन मज़ारी ने भी चौहान की आलोचना करते हुए ट्वीट किया, “मैं इसकी घोर निंदा करती हूं. किसी के धर्म पर हमला करने का अधिकार किसी के पास नहीं है. हमारे हिंदू नागरिकों ने अपने देश के लिए बलिदान दिया है. हमारे प्रधानमंत्री का संदेश सहिष्णुता और सम्मान का है और हम किसी भी तरह की नफ़रत को बढ़ावा नहीं दे सकते.”

बालाकोट में भारतीय वायुसेना के हमले के बाद पाकिस्तान में रहने वाले हिंदुओं की ओर से सोशल मीडिया पर ये विरोध किया जाता रहा है कि भारत की इस कार्रवाई की आलोचना करने वाले हिंदू धर्म को क्यों इसका ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं?

हिंदू सामाजिक कार्यकर्ता कपिल देव ने ट्विटर पर अपने संदेश में कहा कि, “हमें पाकिस्तान से अपनी मोहब्बत और देशप्रेम दिखाने के जबाव में पीटीआई के मंत्री फ़ैयाज़ चौहान से ये मिला कि वो ये सोचे बग़ैर कि यहां 40 लाख हिंदू रहते हैं, हिंदुओं के लिए गाय का पेशाब पीने वाले जैसे शब्द इस्तेमाल कर रहे हैं. उनकी अपनी पार्टी में ही हिंदू सांसद भी हैं.”

वहीं विपक्षी पार्टी मुस्लिम लीग नवाज़ के नेता ख़्वाजा आसिफ़ ने फ़ैयाज़ चौहान को ‘जाहिल’ करार दे दिया और कहा कि पाकिस्तान धार्मिक रंग और नस्ल के बंटवारे के बिना 22 करोड़ पाकिस्तानियों का देश है.

अदाकारा माहिरा ख़ान ने कहा कि सिर्फ़ आलोचना ही काफ़ी नहीं है, सूचना मंत्री के ख़िलाफ़ कार्रवाई भी होनी चाहिए.

Input : BBC Hindi

 

 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?