Connect with us

TRENDING

2020 में किन राशियों को होगा फायदा? पढ़िए अपना राशिफल

Santosh Chaudhary

Published

on

साल 2020 कई लोगों के भाग्य खोलने की चाबी साथ लेकर आ रहा है. यह साल कई राशियों के लिए बेहद लाभदायक सिद्ध होगा. इस वर्ष न सिर्फ आपके रुके हुए काम पूरे होंगे, बल्कि धन लाभ भी होगा. ज्योतिष शैलेन्द्र पाण्डेय से जानते हैं कि 2020 सभी राशियों के लिए कैसा रहने वाला है.

Image result for astrology-predictions

मेष- मेष राशि वालों के लिए कुल मिलाकर वर्ष 2020 उत्तम होगा. आर्थिक और कारोबार के मामले में काफी सफलताएं मिलेंगी. विवाह और परिवार की समस्या भी हल होती जाएगी. लेकिन स्वास्थ्य का ख्याल रखें. खासतौर से हड्डियों और सांस के मामले में ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है. पूरे वर्ष सूर्य की उपासना से लाभ होगा.

वृष- वृष राशि के लिए साल 2020 मध्यम कहा जाएगा. आर्थिक और संपत्ति के मामलों में काफी सफलताएं मिलेंगी. तमाम रुके हुए काम भी पूरे होंगे. करियर में सफलता मिलेगी. लेकिन स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं परेशान कर सकती हैं. पूरे वर्ष शनि देव की उपासना करें.

मिथुन- मिथुन राशि के लिए वर्ष की शुरुआत मध्यम होगी. मध्य से चीजें उत्तम होंगी. इस वर्ष करियर में बड़ी सफलता भी मिलेगी. वाहन और संपत्ति लाभ के योग बनते हैं. पारिवारिक और वैवाहिक जीवन में लापरवाही न करें. पूरे वर्ष हनुमान जी की उपासना लाभकारी होगी.

कर्क- इस वर्ष बड़ी चीजों के सुलझने की सम्भावना है. करियर और धन के मामले में बड़ी सफलताएं मिलेंगी. स्थान परिवर्तन और विदेश जाने के योग हैं. इस वर्ष विवाह हो जाने की संभावना बन रही है. पूरे वर्ष शनि देव की उपासना से लाभ होगा.

सिंह- सिंह राशि में इस वर्ष आर्थिक और करियर की समस्याएं हल होंगी. संतान पक्ष से काफी सहयोग मिलेगा. पारिवारिक तालमेल बेहतर होगा. चोट-चपेट और हड्डियों की समस्या पर ध्यान देना होगा. घर में किसी निर्माण या संपत्ति लाभ के योग हैं. पूरे वर्ष सूर्य देव और गणेश जी की उपासना करें.

कन्या- कन्या राशि वालों को नौकरी और रोजगार में सफलता मिलेंगी. दाम्पत्य जीवन और विवाह की समस्याएं हल होंगी. संतान पक्ष और रिश्तों को लेकर सावधानी बनाए रखें. बेवजह के मुकदमे और संपत्ति के वाद विवादों से दूर रहें. पूरे वर्ष मां दुर्गा की उपासना लाभकारी होगी.

तुला- विवाह और प्रेम के मामलों में सफलता मिलेगी.  नए करियर और सम्पत्ति लाभ के योग हैं. तमाम रुके हुए काम बनते जाएंगे. स्वास्थ्य और चोट चपेट का विशेष ध्यान रखें. पूरे वर्ष शनि देव की आराधना उत्तम होगी.

वृश्चिक- साल की शुरुआत में नौकरी में समस्या के योग गलत निर्णय और अहंकार आपको मुश्किल में डाल सकते हैं. वर्ष के मध्य से जीवन में सुधार होना शुरू होगा. जीवनसाथी या किसी मित्र का सहयोग बेहद लाभकारी होगा. पूरे वर्ष विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें.

धनु- करियर में परिवर्तन और बड़ी सफलताएं मिलेंगी. स्थान और निवास में परिवर्तन के मजबूत योग हैं. परिवार से दूरियां होती दिखाई देती हैं. वाणी और क्रोध के कारण समस्याओं को निमंत्रण न दें. पूरे वर्ष शनि देव की उपासना लाभकारी होगी.

मकर- वैसे इस वर्ष स्वास्थ्य में सुधार होगा. शुरूआत में करियर में थोड़ी समस्याएं आ सकती हैं. लेकिन कुछ समय के बाद बदलाव के साथ सुधार हो जाएगा. इस वर्ष जीवनचर्या पर ध्यान देना जरूरी है. पूरे वर्ष शनि मन्त्र का जप करना लाभकारी होगा.

कुम्भ- कुम्भ राशि के जातकों के लिए धन के मामले में मध्यम वर्ष रहेगा. स्थान परिवर्तन के मजबूत योग बनते हैं. सेहत का, विशेषकर पेट और आंखों का ध्यान रखें. वर्ष के मध्य से स्वास्थ्य की समस्याओं में सुधार होगा. पूरे वर्ष शिव जी की उपासना करना लाभकारी होगा.

मीन- इस वर्ष करियर की समस्याएं हल होती जाएंगी. आर्थिक स्थिति में लगातार सुधार होता जाएगा. इस वर्ष की शुरूआत में ही रोजगार के बेहतरीन अवसर प्राप्त होंगे. कारोबार और साझेदारी के मामलों में ध्यान देना होगा. पूरे वर्ष सूर्य देव को जल अर्पित करें, एक रुद्राक्ष धारण करें.

TRENDING

दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ईनाम में देंगे 730 करोड़ रुपये, लेकिन करना होगा ये काम

Ravi Pratap

Published

on

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क ने कार्बन डाई ऑक्साइड उत्सर्जन को कम करने वाली कार्बन कैप्चर टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी देने वाले को 10 करोड़ डॉलर यानी भारतीय करेंसी के मुताबिक 730 करोड़ रुपये बतौर ईनाम देने का ऐलान किया है. बता दें कि एलन दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी Tesla Inc. और Space X के सीईओ हैं.

ट्विटर पर की इनाम की घोषणा

इस इनाम को लेकर एलन मस्क ने अपने ऑफिशियल ट्विट हैंडल पर भी लिखा है कि, ‘ बेस्ट कार्बन कैप्चर टेक्नोलॉजी के लिए मैं 100 मिलियन डॉलर के इनाम की घोषणा करता हूं,’ अपने दूसरे ट्वीट में एलन ने लिखा है, ‘ डिटेल्स अगले हफ्ते.”

बता दें कि एलन मस्क के द्वारा इतनी बड़ी इनामराशि का ऐलान किए जाने के बाद सोशल मीडिया पर हड़कंप मचा हुआ है. उनके इस ट्वीट को अब तक 3 लाख से ज्यादा लाइक और कमेंट्स मिल चुके हैं.

प्लेनेट-वार्मिंग उत्सर्जन को कम करने पर किया जा रहा ध्यान केंद्रित

वहीं रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, जलवायु परिवर्तन को रोकने के लिए अब प्लेनेट-वार्मिंग उत्सर्जन को कम करना कई प्लानिंग का एक अहम पार्ट बन रहा है. वही तकनीक ने इतनी ज्यादा प्रगति अभी नहीं की है जिससे कि हवा से कार्बन निकालने के बजाय उत्सर्जन में कटौती करने पर फोकस किया जा सके.

क्यों एलन ने की है ईनाम देने की घोषणा

 

अब सवाल ये उठता है कि आखिर क्यों कार्बन कैप्चर टेक्नोलॉजी के लिए एलन ने इतनी बड़ी ईनाम राशि की घोषणा की है. तो आपको बता दें कि एलन मस्क द्वारा किया गया यह ऐलान उनके कई तरह के बिजनेस से संबंधित है. दरअसल एलन का इंटरेस्ट पर्यावरण समस्याओं के टेक्नोलॉजिकल सॉल्यूशंस में है. वहीं कार्बन कैप्चर और स्टोरेज कई तकनीक से मिलकर बना है जिसका एकमात्र मकसद ग्रीन हाउस गैस कार्बन डाई ऑक्साइड को ट्रैप करना और उसे वातावरण में जाने से बाधित करना है.

 

गौरतलब है कि यही गैस पृथ्वी के बढ़ते तापमान के लिए जिम्मेदार है. ऐसे में इस टेक्नोलॉजी के प्रयोग से पावर प्लांट्स, उद्योग या सीधे हवा से भी उत्सर्जन को कैप्चर किया जा पाएगा. बता दें कि वर्तमान में दुनिया में करीब दो दर्जन बड़े प्लांट मौजूद हैं जिनसे हर साल करीब 4 करोड़ मीट्रिक टन कार्बन डाई ऑक्साइड को कैप्चर किया जा सकता है. यह दुनिया के सालाना उत्सर्जन का करीब 0.1 प्रतिशत है.

हाल ही में दुनिया के नंबर 1 रईस बने हैं एलन

हाल ही में ब्लूमबर्ग की और से जारी की जाने वाली अरबपतियों की लिस्ट में एलन ने अमेजन के जेफ बेजोस को पीछे छोड़ दिया है. एलन मस्क की नेटवर्थ 188.5 बिलियन डॉलर हो गई है,  जो बेजोस की तुलना में $ 1.5 बिलियन अधिक है.

Input: Abp News

rama-hardware-muzaffarpur

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

TRENDING

पीएम मोदी की मौजूदगी में लगे जय श्रीराम के नारे तो नाराज हुईं ममता बनर्जी, बोलीं- बुलाकर बेइज्जती करना ठीक नहीं

Ravi Pratap

Published

on

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर कोलकाता में आयोजित केंद्र सरकार के कार्यक्रम में पहुंचीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नाराज हो गईं। उन्होंने मंच पर अपना पूरा भाषण नहीं दिया और पोडियम से वापस चली गईं। दरअसल, ममता बनर्जी के मंच पर पहुंचते ही सामने बैठे कई लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाने शुरू कर दिए। इससे तमतमाईं ‘दीदी’ ने कहा कि यहां पर बुलाकर बेइज्जती करना ठीक नहीं है। कार्यक्रम में जिस समय मुख्यमंत्री का गुस्सा फूट रहा था, उस समय वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे।

कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी की जयंती पर आयोजित किए गए कार्यक्रम के दौरान नारेबाजी होने के बाद ममता बनर्जी ने कहा, ”यह सरकार का कार्यक्रम है, किसी राजनैतिक दल का कार्यक्रम नहीं है। इसकी एक डिग्निटी होनी चाहिए। मैं प्रधानमंत्री जी, संस्कृति मंत्रालय की आभारी हूं कि उन्होंने कोलकाता में कार्यक्रम आयोजित किया, लेकिन किसी को आमंत्रित करके उसे बेइज्जत करना आपको शोभा नहीं देता है। जय हिंद, जय बांग्ला।”

कार्यक्रम में ममता बनर्जी को लोगों को संबोधित करना था, लेकिन नारे लगने के बाद वह काफी नाराज हो गईं और महज एक मिनट से भी कम समय तक मंच पर बने पोडियम से बोलीं। इस दौरान भी उन्होंने वहां मौजूद लोगों को खूब सुनाया। इससे पहले, ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि केंद्र ने नेताजी का जन्मदिन ‘पराक्रम दिवस’ के तौर पर घोषित करने से पहले मुझसे मशविरा नहीं किया।

‘फौलादी इरादों वाले व्यक्तित्व के लिए कुछ भी असंभव नहीं’
वहीं, पराक्रम दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनके (नेताजी) जैसे फौलादी इरादों वाले व्यक्तित्व के लिए असंभव कुछ नहीं था। उन्होंने विदेश में जाकर देश से बाहर रहने वाले भारतीयों की चेतना को झकझोरा। मोदी ने कहा कि हिंदुस्तान का एक-एक व्यक्ति नेताजी का ऋणी है। 130 करोड़ से ज्यादा भारतीयों के शरीर में बहती रक्त की एक-एक बूंद नेताजी सुभाष की ऋणी है। आज हर भारतीय अपने दिल पर हाथ रखे, नेताजी सुभाष को महसूस करे, तो उसे फिर ये सवाल सुनाई देगा। क्या मेरा एक काम कर सकते हो? ये काम, ये काज, ये लक्ष्य आज भारत को आत्मनिर्भर बनाने का है। देश का जन-जन, देश का हर क्षेत्र, देश का हर व्यक्ति इससे जुड़ा है।

नेताजी की जयंती पर ममता ने की केंद्र से यह मांग
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए केंद्र सरकार से 23 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की मांग की। उन्होंने कहा कि आजाद हिंद फौज के नाम पर राजरहाट क्षेत्र में एक समाधि स्थल का निर्माण किया जाएगा और नेताजी के नाम पर एक विश्वविद्यालय की स्थापना भी की जा रही है, जिसका वित्तपोषण पूरी तरह से राज्य सरकार करेगी। ममता बनर्जी ने ट्विटर पर कहा कि इस साल कोलकाता में गणतंत्र दिवस की परेड नेताजी को समर्पित होगी। केंद्र सरकार को 23 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करना चाहिए। हम यह दिवस देश नायक दिवस के रूप में मना रहे हैं।

Input: Live Hindustan

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

TRENDING

भजन गायक नरेंद्र चंचल का निधन, PM मोदी ने जताया शोक, मेंहदी हसन और हरभजन सिंह ने भी दी श्रद्धांजलि

Ravi Pratap

Published

on

लोकप्रिय भजन गायक नरेंद्र चंचल का निधन हो गया है। उन्होंने 80 साल की उम्र में शुक्रवार को दिल्ली में अंतिम सांस ली। पंजाब केसरी की रिपोर्ट के अनुसार, शहर के अपोलो अस्पताल में दोपहर 12 बजे के आसपास उनका निधन हो गया। वह पिछले तीन महीनों से अस्वस्थ थे। उनका इलाज चल रहा था।

उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शोक जताया है। पीएम ने ट्वीट कर लिखा, ‘लोकप्रिय भजन गायक नरेंद्र चंचल जी के निधन के समाचार से अत्यंत दुख हुआ है। उन्होंने भजन गायन की दुनिया में अपनी ओजपूर्ण आवाज से विशिष्ट पहचान बनाई। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं। ओम् शांति!’

संगीत सितारों और अन्य हस्तियों ने सोशल मीडिया पर नरेंद्र चंचल को श्रद्धांजलि दी। दलेर मेहंदी ने लिखा, “यह जानकर बहुत दुःख हुआ कि प्रतिष्ठित और सबसे ज्यादा प्यार करने वाले नरेंद्र चंचल ने स्वर्ग में रहने के लिए हमें छोड़कर चले गए। उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं। दुख की इस घड़ी में उनके परिवार और प्रशंसकों के साथ हूं।”

पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने लिखा, “यह जानकर बहुत दुःख हुआ कि प्रतिष्ठित और सबसे ज्यादा प्यार करने वाले नरेंद्र चंचल हमारे बीच नहीं रहे है। उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना में उनके परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना।”

नरेंद्र चचल को जागरण गीत के लिए जाना जाता है। उन्होंने चलो बुलावा आया है जैसे कई लोकप्रिय गीत गाए हैं।

Input: Live Hindustan

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading
TRENDING17 hours ago

दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ईनाम में देंगे 730 करोड़ रुपये, लेकिन करना होगा ये काम

BIHAR18 hours ago

लालू प्रसाद की बिगड़ी तबीयत पर बोले नीतीश कुमार- वे जल्द ठीक हों, मेरी शुभकामना उनके साथ

BIHAR21 hours ago

AIIMS के CCU में भर्ती हैं लालू, आज जारी हो सकता है हेल्थ बुलेटिन

INDIA22 hours ago

पक्षियों को दाना खिलाकर विवाद में फंसे शिखर धवन, कार्रवाई के मूड में प्रशासन

BIHAR1 day ago

आदरणीय चोर अधिकारीगण, माननीय लुटेरे मंत्री, श्रद्धा भाव से आपकी …रहेंगे – पप्पू यादव

INDIA1 day ago

नुसरत जहां भी जय श्री राम के नारेबाजी से खफा, बोलीं- राम का नाम गले लगाके बोलें, गला दबाकर नहीं

BIHAR1 day ago

बिहार में कड़ाके की ठंड, 26 जनवरी तक इन जिलों में ठंड से राहत नहीं

BIHAR1 day ago

बिहार में आर्किटेक्ट की निकलेगी वैंकेसी, BPSC करेगी बहाल, जानें किन विभागों में होगी तैनाती

BIHAR1 day ago

राजपथ पर ब्रह्मोस मिसाइल दस्ते को लीड करेंगे बिहार के लाल, जानें भारतीय सेना में तैनात कैप्टन मो. कमरूल जमां के बारे में

BIHAR1 day ago

एयर एबुंलेंस में रांची से लालू यादव को लाया गया दिल्ली, एम्स में होगा इलाज

TRENDING6 days ago

WagonR का Limousine अवतार! तस्वीरों में देखिए एक मैकेनिक का शाहकार

INDIA3 weeks ago

लड़कियों के लिए मिसाल हैं ये महिला IAS, अपनी हाइट को नहीं बनने दिया बाधा

INDIA1 week ago

इंग्लिश मीडियम बहू और हिंदी मीडियम सास के रिश्‍तेे में यूं आ रही दरार, पहुंच रहे थाने तक

TRENDING3 weeks ago

12 लीटर सोडा, 40 बोतल बीयर रोज: 412 किलो के शख्स ने दुनिया को कहा अलविदा

JOBS4 weeks ago

डाक विभाग ने निकाली है बंपर भर्तियां, 10वीं पास करें आवेदन, जानें फॉर्म भरने का तरीका

BIHAR3 weeks ago

29 IAS, 38 IPS की ट्रांसफर-पोस्टिंग: 12 DM बदले, चंद्रशेखर सिंह पटना के नए DM बने; 13 SP बदले, लिपि सिंह को सहरसा SP बनाया गया

TRENDING1 week ago

‘दोस्त’ ने किया बेइज्जत: ‘कंगाल’ पाकिस्तान का यात्री विमान मलेशिया ने किया जब्त, उतारे गये यात्री

MUZAFFARPUR4 weeks ago

निगम में शामिल होंगे शहर से सटे 32 गांव, 49 से बढ़ कर हाे सकते हैं अब 76 वार्ड

MUZAFFARPUR4 days ago

मुजफ्फरपुर समेत 3 शहरों में फरवरी से दौड़ने लगेंगी इलेक्ट्रिक बसें, किराया भी कम लगेगा

BIHAR1 week ago

बिहार: अब सभी जिलों में चलेगी BSRTC की बस, पटना से काठमांडू, जनकपुर व भूटान सीमा तक मिलेगी सर्विस

Trending