Connect with us
leaderboard image

INDIA

22 मार्च को रहेगा ‘जनता कर्फ्यू’, सुबह 7 से रात 9 बजे तक घर पर रहें: पीएम मोदी

Santosh Chaudhary

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के चलते उत्पन्न हो रही स्थिति और इससे निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों को लेकर आज आज देश को संबोधित कर रहे हैं. पीएम मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा, ‘पिछले 2 महीने से हम लगातार दुनिया से आ रही चिंताजनक खबरें देख रहे हैं. 2 महीनों में भारत के लोगों ने इस महामारी का डटकर मुकाबला किया है. कोरोना वायरस ने पूरी मानव जाति को संकट में डाला है.’ पीएम मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की घोषणा की है. उन्‍होंने देशवासियों से अपील की कि वह रविवार को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक घर ही रहें.

उन्‍होंने कहा, ‘मुझे देशवासियों ने कभी निराश नहीं किया है. मैं आज 130 करोड़ देशवासियों से कुछ मांगने आया हूं. मुझे आपके आने वाले कुछ सप्‍ताह चाहिए. आपका आने वाला कुछ समय चाहिए. प्‍यारे देशवासियों अब तक महामारी से बचने के लिए कोई निश्चित उपाय नहीं आया है, न ही वैक्‍सीन आई है. हर किसी की चिंता बढ़नी स्‍वाभाविक है.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘भारत पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, ये मानना गलत है. इसलिए दो प्रमुख बातों पर ध्‍यान देना जरूरी है. ये हैं संकल्‍प और संयम. 130 करोड़ भारतीयों को संकल्‍प दृढ़ करना होगा कि हम खुद भी संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी बचाएंगे.’

पीएम मोदी ने देशवासियों से कहा, ‘सोशल डिस्‍टेंसिंग कोरोना वायरस से बचने का सही उपाय है. जितना हो सके, अपने घर पर रहें. घर से ही काम करें. आप घर से ही ऑफिस का काम करें. समाज को समारोहों से दूर रहना होगा.’

वहीं देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़कर 173 हो गई है. साथ ही अब तक 4 लोगों की मौत इससे हो चुकी है. पीएम मोदी के संबोधन से पहले ही सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर बड़े फैसलों का ऐलान कर दिया है. सरकार के फैसले के अनुसार 22 मार्च से विदेश से भारत आने वाली सभी यात्री उड़ानों की देश में लैडिंग पर एक सप्‍ताह तक रोक लगा दी गई है.

सरकार ने लिए हैं बड़े फैसले

मोदी सरकार की ओर से राज्‍य सरकारों को यह भी कहा गया है कि वे सरकारी कर्मियों, मेडिकल प्रोफेशनल्‍स और जनप्रतिनिधियों के अलावा 65 साल की उम्र से ऊपर के बुजुर्गों को घर पर ही रहने के संबंध में निर्देश जारी किए जाएं.

इसके अलावा सरकार की ओर से 10 साल से कम उम्र के बच्‍चों को घर पर ही रहने को कहा गया है. उन्हें घर के बाहर निकलने से मना किया गया है. साथ ही रेलवे और विमानन कंपनियों से स्‍टूडेंट, मरीज और दिव्‍यांगों को छोड़कर अन्‍य सभी नागरिकों के लिए टिकटों में छूट को बंद करने को कहा गया है.

उच्‍चस्‍तरीय बैठक भी हुई थी

पीएमओ के अनुसार पीएम मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा करने के लिए उच्चस्तरीय बैठक भी की थी. इस बैठक में भारत की तैयारियों को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की गई. इसमें जांच सुविधाएं और बढ़ाना शामिल था.

प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक तंत्र बनाने के लिए व्यक्तियों, स्थानीय समुदायों और संगठनों के साथ सक्रिय रूप से चर्चा करने पर जोर दिया है. उन्होंने साथ ही अधिकारियों और तकनीकी विशेषज्ञों से कहा कि वे आगे उठाये जाने वाले कदमों पर विमर्श करें.

पीएम लगातार कर रहे हैं अपील

प्रधानमंत्री नियमित रूप से सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से स्वयं को तैयार करने लेकिन नहीं घबराने की अपील कर रहे हैं. उन्होंने इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए गैर जरूरी यात्राएं से बचने और लोगों के एक जगह एकत्रित होने से बचने के विचार का समर्थन किया है. पीएम मोदी ने साथ ही उन लोगों के प्रति आभार जताया है, जो आगे रहकर कोरोना वायरस से मुकाबला कर रहे हैं जिसमें राज्य सरकारें, चिकित्सा क्षेत्र के लोग, पैरामेडिकल कर्मी, सशस्त्र बल कर्मी और अर्धसैनिक बल कर्मी, उड्डन क्षेत्र से जुड़े लोग और निकाय कर्मी शामिल हैं.

Input : News18

INDIA

RBI गवर्नर ने जारी किया वीडियो, कहा- कोरोना से बचाव के लिए डिजिटल पेमेंट करें

Santosh Chaudhary

Published

on

नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) से बचाव और सावधानी बरतने को लेकर भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने आम लोगों के लिए एक खास वीडियो जारी किया है. शक्तिकांता दास ने यह वीडियो अपने ट्विटर हैंडल से जारी किया है. देशभर में COVID-19 से बचने के लिए एहतियात के तौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों का लॉकडाउन का ऐलान किया है, जोकि 14 अप्रैल तक चलेगा.

उन्होंने लोगों से अपील की है कि इस महामारी से बचाव के लिए लोग करेंसी की जगह Digital Transaction को तवज्जो दें. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस हर तरह से देश के लिए एक बड़ा संकट है और बचाव ही इसका एकमात्र उपाय है.

वीडियो में क्या कहा

इस वीडियों में उन्होंने कहा, ‘कोरोना वायरस की वजह से देश संकट के दौर से गुजर रहा है, ऐसे में लोग घर में रहकर ​ही डिजिटल ट्रांजेक्शन करें. यह काम डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या मोबाइल ऐप के ​जरिए हो जाएगा.’

डिजिटल ट्रांजेक्शन पर जो

RBI गवर्नर ने कहा कि डिजिटली लेनदेन करें और सुरक्षित रहें. शक्तिकांत दास की अपील का कुल मतलब था कि नोटों के लेनदेन से भी कोरोना वायरस संक्रमण बढ़तने का खतरा रहता है. ऐसे में डिजिटल लेनदेन को तवज्जे दें.

यह भी पढ़ें: SBI एटीएम से फ्री में करें ट्रांजेक्शन, पर पैसे निकालने से पहले जानें ये बातें

RBI ने उठाए हैं कई कदम

बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के इस दौर में आरबीआई ने कई कदम उठाए हैं ताकि आम लोगों को अधिक वित्तीय तौर पर अधिक परेशानी न हो. आरबीआई ने ब्याज दरों में कटौती की ताकि बाजार में नकदी का प्रवाह बना रहे. साथ ही क्रेडिट कार्ड पेमेंट और ईएमआई को लेकर आम लोगों को आरबीआई ने राहत दी है.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

कोरोना गांव की कहानी, ग्रामीणों ने बयां किया दर्द; बोले- गांव का नाम सुनते ही हमसे दूरी बना लेते हैं लोग

Ravi Pratap

Published

on

जानलेवा कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में दहशत का माहौल है। राज्‍यों में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन कर दिया गया है। हर तरफ बंदी होने से जनता को कई मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। इन सबके बीच, उत्‍तर प्रदेश के सीतापुर में एक गांव अनोखी समस्‍या से परेशान है।

दरअसल इस गांव का नाम है कोरोना। गांव वालों का कहना है कि जब से कोरोना वायरस का प्रकोप फैला है, उन्‍हें लगातार भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है। कुछ लोग तो उनका मजाक उड़ाने से भी पीछे हट नहीं रहे हैं।

राजधानी लखनऊ से करीब 100 किमी दूर स्थित कोरोना गांव के निवासियों के लिए यह समय काफी कठिन बीत रहा है। उन्‍होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि अपने गांव के नाम की वजह से कभी उपहास का पात्र बनना पड़ेगा। एक ग्रामीण राजन बताते हैं, ‘जब हम लोगों को बताते हैं कि हम कोरोना से हैं, तो वे हमसे बचते हैं और दूर रहने के लिए कहते हैं। वे यह नहीं समझते कि कोरोना एक गांव है ना कि जानलेवा वायरस से संक्रमित कोई शख्‍स।’

यूपी में कोरोना के 69, देश भर में 979 मामले

गौरतलब है कि उत्‍तर प्रदेश में कोरोना वायरस के अबतक 69 मामले सामने आ चुके हैं। राहत की बात यह है कि यहां अभी एक भी मौत का केस सामने नहीं आया है। वहीं, पूरे देश में कुल 979 मामले हैं, जिनमें 48 विदेशी शामिल हैं। इस बीमारी से 87 लोग ठीक हो गए हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। भारत सरकार की तरफ से लोगों को इसके प्रति जागरूक किया जा रहा है। कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए कई कदम भी उठाए गए हैं।

आपको बता दें कि लॉकडाउन का पालन कराने को लेकर केंद्र की मोदी सरकार ने राज्‍यों को सख्‍त निर्देश दिए हैं। सभी राज्यों और जिलों की सीमाएं सील कर बाहर से आने वाले लोगों को सीमाओं पर स्थित कैंपों में रखने के लिए कहा गया है। ऐसा ना होने पाने पर डीएम और एसपी को जिम्‍मेदार माना जाएगा। सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि आदेश नहीं मानने वालों पर कड़ी कार्रवाई होगी।

Input : NBT Hindi

Continue Reading

INDIA

CM केजरीवाल ने की प्रवासी कामगारों से अपील, दिल्ली में ही रहें, सरकार देगी घर का किराया

Abhishek Ranjan Garg

Published

on

नई दिल्ली. कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच राजधानी से पलायन कर रहे प्रवासी कामगारों और मजदूरों के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अब बड़ी घोषणा की है. केजरीवाल ने सभी से राजधानी में ही रुकने की अपील की है और कहा है कि दिल्ली सरकार सभी के घरों का किराया देगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह से बड़ी संख्या में पलायन करने से कोरोना के संक्रमण का खतरा बहुत बढ़ जाएगा. सीएम ने कहा कि आप जहां हैं वहीं रहें, साथ ही उन्होंने मकान मालिकों से किराया देने का दबाव न बनाने की अपील की. केजरीवाल ने कहा कि यदि किराएदार अपना किराया एक या दो महीनों तक देने में सक्षम नहीं हैं तो सरकार उनकी तरफ से बाए किराए का भुगतान करेगी.

देश में लागू है 21 दिनों का लॉकडाउन

आपको बता दें कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है. लेकिन इन सब के बीच दिल्ली में रहने वाले प्रवासी मजदूरों अपने घरों की ओर लगातार पलायन कर रहे हैं. शनिवार शाम को दिल्ली के आनंद विहार बस टर्मिनल भारी संख्या में प्रवासी मजदूर और अन्य लोग पहुंचे. वे यहां बस का इंतजार कर रहे थे. इनमें से ज्यादातर लोग पैदल ही आनंद विहार तक पहुंचे थे. बताया जा रहा है कि शनिवार देर रात लोगों की भीड़ वहां से छटने लगी. पुलिस और प्रशासन के समझाने के बाद ये प्रवासी मजदूर अपने घरों की ओर वापस लौट गएं.

गृह मंत्रालय की एडवाइजरी है जारी

गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस संबंध में एक एडवाइजरी भेजी है. इसमें कहा गया है कि वे दूसरे राज्यों के लोगों जो कि अन्य राज्यों में रह रहे हैं, उनकी आवश्यक वस्तुओं की अबाध आपूर्ति सुनिश्चित करें ताकि ऐसे लोग जहां हैं, वहीं बने रहें. मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता ने परामर्श जारी होने की जानकारी दी थी. इसमें कहा गया था कि वे प्रवासी कृषि मजदूरों, उद्योगों में लगे कामगारों और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के बड़े पैमाने पर हो रहे पलायन को रोकें. जिससे कोरोना वायरस से संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके.’

Input : News18

Continue Reading
MUZAFFARPUR40 mins ago

एईएस के लक्षण दिखते ही लाएं अस्पताल

BIHAR52 mins ago

चैती छठ : पर्व के दूसरे दिन व्रतियों ने किया खरना अस्ताचलगामी सूर्य को सांध्यकालीन अर्घ्य आज

MUZAFFARPUR11 hours ago

मुजफ्फरपुर में एईएस से एक बच्चे की मौत, दो दिनों से था वेंटिलेटर पर, अब तक मिले दो मामले…

MUZAFFARPUR11 hours ago

मुजफ्फरपुर में एईएस से एक बच्चे की मौत, दो दिनों से था वेंटिलेटर पर, अब तक मिले दो मामले…

Uncategorized11 hours ago

टी-सीरीज चेयरमैन भूषण कुमार ने पीएम केयर्स फंड में डोनेट किए 11 करोड़

INDIA12 hours ago

RBI गवर्नर ने जारी किया वीडियो, कहा- कोरोना से बचाव के लिए डिजिटल पेमेंट करें

WORLD12 hours ago

कोरोना वायरस महामारी से परेशान जर्मनी के मंत्री ने की आत्‍महत्‍या

INDIA13 hours ago

कोरोना गांव की कहानी, ग्रामीणों ने बयां किया दर्द; बोले- गांव का नाम सुनते ही हमसे दूरी बना लेते हैं लोग

INDIA13 hours ago

CM केजरीवाल ने की प्रवासी कामगारों से अपील, दिल्ली में ही रहें, सरकार देगी घर का किराया

INDIA13 hours ago

राहुल गांधी की PM मोदी को चिट्ठी- संकट के इस दौर में कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ता आपके साथ खड़े हैं

BIHAR2 days ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA3 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

INDIA1 week ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA3 days ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR2 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR2 weeks ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बड़ी खुशखबरी: बिहार में घरेलू गैस की अब नहीं होगी किल्लत, बांका में नया प्लांट शुरू

BIHAR5 days ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA4 weeks ago

आज होगी देश की सबसे महंगी शादी, 500 पंडित पढ़ेंगे मंत्र

BIHAR5 days ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

Trending