Connect with us

BIHAR

बिहार से दक्षिण भारत तक, ऐसे मंदिर जिनका इतिहास है हजारों साल पुराना, कोई 1900 तो कोई 3500 साल पुराना है

Published

on

हिंदू देवी-देवताओं के मंदिर प्राचीनता और मान्यताओं के कारण दुनियाभर में प्रसिद्ध हैं। कई मंदिर ऐसे हैं, जिनका इतिहार हजारों साल पुराना है, साथ ही कुछ मंदिरों के महत्व के बारे में धर्म-ग्रंथों में भी वर्णन मिलता है। ऐसे ही 5 सबसे प्राचीन मंदिरों जो न सिर्फ प्राचीन हैं बल्कि बहुत ही प्रसिद्ध और चमत्कारी भी हैं।

  1. मीनाक्षी मंदिर (तमिलनाडु)

तमिलनाडु में मदुरई शहर में स्थित मीनाक्षी मंदिर भगवान शिव व मीनाक्षी देवी पार्वती का है। मीनाक्षी मंदिर पार्वती के सबसे पवित्र स्थानों में से एक है। मंदिर का मुख्य गर्भगृह 3500 वर्ष से अधिक पुराना माना जाता है।

  1. श्री जगन्नाथ मंदिर(उड़ीसा)

पुरी का श्री जगन्नाथ मंदिर एक हिन्दू मंदिर है, जो भगवान जगन्नाथ (श्रीकृष्ण) का है। इस मंदिर को हिन्दुओं के चार धाम में से एक गिना जाता है। यह वैष्णव सम्प्रदाय का मंदिर है। यह मंदिर हिंदू धर्म के सबसे प्राचीन और प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। इस मंदिर की उम्र भी 1 हजार साल से ज्यादा पुरानी मानी जाती है।

  1. पद्मनाभ स्वामी मंदिर (केरला)

पद्मनाभ स्वामी मंदिर की कुल संपत्ति एक लाख करोड़ रुपए की है। मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति विराजमान है। इस प्रतिमा में भगवान विष्णु शेषनाग पर शयन मुद्रा में विराजमान हैं। यहां पर भगवान विष्णु की विश्राम अवस्था को पद्मनाभ कहा जाता है और इस रूप में विराजित भगवान पद्मनाभ स्वामी के नाम से विख्यात हैं।

  1. गुरुवयुर मंदिर (केरला)

गुरुवयुर श्री कृष्ण मंदिर गुरुवयुर केरला में है। यह मंदिर विष्णु भगवान का सबसे पवित्र मंदिर माना जाता है। कहा जाता है कि यह मंदिर लगभग 5000 साल पुराना है। गुरुवयुर मंदिर वैष्णवों की आस्था का केंद्र है। अपने खजाने के कारण यह मंदिर भी भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक है। यहां हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं।

  1. मुंडेश्वरी मंदिर (बिहार)

बिहार का मुंडेश्वरी मंदिर भारत के प्राचीन शिव मंदिरों में से एक है। इस मंदिर को लगभग 1700 साल पुराना माना जाता है। इस मंदिर में भगवान शिव के साथ देवी पार्वती की भी पूजा की जाती है। अपनी प्राचीनता और पौराणिक महत्वों के लिए यह मंदिर भारत के प्रसिद्ध शिव मंदिरों में से एक है।

BIHAR

CM नीतीश कुमार की हाईलेवल मीटिंग : लॉकडाउन 4.0 के बाद की बन रही रणनीति, सभी DM-SP भी जुड़े

Published

on

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के कोरोना संक्रमण के हालात पर समीक्षा कर रहे हैं। सीएम नीतीश कुमार की बैठक डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी समेत बिहार सरकार के तमाम आलाधिकारी मौजूद हैं। वहीं सभी जिले के डीएम-एसपी भी वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए सीएम से सीधे जुड़े हुए हैं।बैठक में लॉकडाउन 4.0 के बाद की रणनीति पर तमाम कवायद जारी है।

सीएम नीतीश कुमार कोरोना पर हालात की लगातार समीक्षा कर रहे हैं। अब लॉकडाउन 4.0 भी खत्म होने जा रहा है। इसके बाद सरकार की आगे की क्या रणनीति होगी इस पर चर्चा की जा रही है। सभी डीएम-एसपी से सीएम नीतीश कुमार जिले के हालात की जानकारी ले रहे हैं सीएम अधिकारियों से तमाम फीडबैक जुटा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें :- मुजफ्फरपुर रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

सीएम नीतीश कुमार की ये बैठक पिछली कई बैठकों के मुकाबले खासी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। क्योंकि अब आगे लॉकडाउन का क्या होगा इस पर सभी की निगाहें हैं। लॉकडाउन 4.0 की मियाद अब खत्म होने जा रही है। इसके बाद अब बिहार में किस तरह के हालात बनेंगे। क्योंकि हाल के दिनों में प्रवासी मजदूरों की वापसी के बीच बिहार में कोरोना महामारी का फैलाव तेजी से बढ़ा है, ऐसे में महामारी संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सरकार के पास कौन सी रणनीति है मीटिंग के बाद इसका खुलासा हो सकेगा।

एक अणे मार्ग स्थित नेक संवाद में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव और सचिव, सभी प्रमंडलीय आयुक्त, आईजी, डीआईजी, सभी जिलों के डीएम-एसपी के साथ जुड़े हैं। बैठक में डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, मुख्य सचिव दीपक कुमार, डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय मौजूद हैं।

Input : First Bihar

Continue Reading

BIHAR

नीतीश सरकार व RJD में आरपार, रोक के बावजूद निकले तेजस्‍वी, गिरफ्तारी संभव

Published

on

गोपालगंज में तिहरे हत्याकांड को लेकर बिहार में सरकार व राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) में तकरार का माहौल दिख रहा है। जनता दल यूनाइटेड (JDU) के विधायक अमरेंद्र पांडेय (Amrendra Pandey) उर्फ पप्पू पांडेय (Pappu Pandey) की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व आरजेडी नेता तेजस्वी यादव शुक्रवार की सुबह पार्टी विधायकों एवं विधान पार्षदों को लेकर गोपालगंज के लिए निकल चुके हैं। प्रशासन ने उन्‍हें लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान गोपालगंज जाने की अनुमति नहीं दी है। काफिले में तेजस्‍वी के साथ राबड़ी देवी व तेज प्रताप यादव भी हैं। लाकडाउन के दौरान इस यात्रा के लिए पुलिस उन्‍हें गिरफ्तार कर सकती है।

RJD Gopalganj March LIVE: नीतीश सरकार व RJD में आरपार, रोक के बावजूद निकले तेजस्‍वी, गिरफ्तारी संभव

आज गोपालगंज जाने का दिया था अल्‍टीमेटम

विदित हो कि जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय उर्फ काली पांडेय पर आरजेडी नेता जेपी यादव के माता-पिता व भाई की हत्‍या को ले एफआइआर दर्ज की गई है। घटना में घायल आरजेडी नेता की हालत भी गंभीर है। तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर जेडीयू विधायक को बचाने का आरोप लगाते हुए गुरुवार तक आरोपित की गिरफ्तारी नहीं होने पर शुक्रवार की सुबह पटना से गोपालगंज मार्च (Patna-Gopalganj March) का अल्‍टीमेटम दिया था।

गाडि़यों से निकले तेजस्‍वी, साथ में राबड़ी व तेज प्रताप

अपने अल्‍टीमेटम के तहत शुक्रवार को तेजस्‍वी यादव आरजेडी विधायकाें के साथ गोपालगंज प्रस्‍थान करने निकले। तेजस्‍वी यादव की कार में प्रदेश आरजेडी अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह हैं। उधर राबड़ी देवी दूसरी गाड़ी व तेज प्रताप यादव दूसरी गाडि़यों में घर से निकले हैं। राबड़ी आवास के बाहर काफिले को पुलिस ने घेर रखा है। पुलिस व प्रशासन द्वारा उन्‍हें रोकने व मनाने की जा रही है। मान-मनौव्‍वल का दौर जारी है।

राबड़ी आवास के पास बड़ी संख्‍या में पुलिस तैनात 

मौके पर मौजूद एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्रशासन ने तेजस्‍वी यादव की यात्रा को अनुमति नहीं दी है, इसलिए उन्‍हें रोका गया है। फिलहाल यात्रा को रोकना है। आगे विधिसम्‍मत कार्रवाई की जाएगी।

हत्‍याकांड को ले समझौते के मूड में नहीं आरजेडी

उधर, हत्‍याकांड को लेकर आरजेडी किसी समझौते के मूड में नहीं दिख रहा। तेजस्‍वी यादव भी सरकार से आर-पार की घोषणा कर चुके हैं। उनके अल्‍टीमेटम के अनुसार आरोपित जेडीयू विधायक की गिरफ्तारी भी नहीं हो सकी है। ऐसे में सवाल यह है कि क्‍या तेजस्‍वी अपनी घोषणा के अनुसार शुक्रवार को पार्टी के विधायकों के साथ पटना से गोपालगंज कूच करेंगे? अगर वे कूच करते हैं तो पुलिस-प्रशासन क्‍या कार्रवाई करेगा? संभव है कि लाकडाउन के उल्‍लंघन के आरोप में उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया जाए।

सीबीआइ जांच कराए सरकार, बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं

इस संबंध में तेजस्वी ने कहा है कि वे गोपालगंज में मारपीट करने नहीं जा रहे हैं। वे केवल आरजेडी नेता के परिजनों की हत्या की ही नहीं, बल्कि शंभू मिश्रा और मुन्ना तिवारी की हत्या का भी विरोध कर रहे हैं। सरकार अगर तकरार रोकना चाहती है तो सभी मामलों की सीबीआइ जांच कराए, क्‍योंकि उन्‍हें बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं है।

मंत्री दे चुके लॉकडाउन के पालन की नसीहत

इसके पहले बिहार सरकार में मंत्री महेश्वर हजारी ने तेजस्वी यादव को लॉकडाउन (Lockdown) का पालन करने की सलाह दी। उन्‍होंने कहा कि जो भी दोषी होगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा। मुख्‍यमंत्री ने कानून-व्यवस्था की मिसाल कायम की है।

आरोपित विधायक ने तेजस्‍वी पर कसा तंज

उधर, आरोपित जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडेय ने अपनी सफाई में कहा कि वे अपराधी नहीं, जनता का सेवक हैं। उन्‍होंने घटना में संलिप्‍तता से इन्‍कार किया है। विधायक ने तेजस्‍वी पर तंज कसते हुए कहा कि वे व उनका परिवार खुद तो घाेटालों (Scams) में फंसे हुए हैं और चले हैं मुझपर आरोप लगाने।

क्‍या है तिहरा हत्‍याकांड, जानिए…

– रविवार को गोपालगंज के हथुआ थाना क्षेत्र के रुपनचक गांव में आरजेडी नेता जेपी यादव अपने घर में स्‍वजनों के साथ थे। इसी बीच बाइक सवार अपराधियों ने पूरे परिवार पर अंधाधुंध गोलीबारी (Indiscriminate Firing) कर आरजेडी नेता के माता-पिता (Parents) की हत्‍या कर दी।

– बुरी तरह घायल आरजेडी नेता व उनके भाई (Brother) अस्‍पताल ले जाए गए, जहां भाई की भी मौत (Death) हो गई। आरजेडी नेता का इलाज पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (PMCH) में जारी है।

– घायल आरजेडी नेता ने घटना में जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय (Amrendra Kumar Pandey) तथा मुकेश पांडेय (Mukesh Pandey) व सतीश पांडेय (Satish Pandey) की संलिप्‍तता बतायी। उनके खिलाफ नामजद एफआइआर दर्ज की गई है, लेकिन जेडीयू विधायक को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

– घटना के दो दिनों बाद मंगलवार को बाइक पर सवार तीन अपराधियों ने जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय के एक रिश्‍तेदार मुन्ना तिवारी (Munna Tiwary) की भी हत्‍या कर दी।

– तिहरे हत्‍याकांड में आरोपित विधायक के रिश्तेदार की हत्या को गैंगवार (Gang War) का परिणाम माना जा रहा है। हालांकि, फिलहाल निश्चित तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता।

– तेजस्‍वी यादव ने पीएमसीएच जाकर घायल आरजेडी नेता से मुलाकात की। उन्‍होंने कहा कि आरजेडी नेताओं पर हमला बर्दाश्त से बाहर है।

– तेजस्वी ने सरकार को गुरुवार तक की मोहलत देते हुए कहा कि अगर इस बीच आरोपित जेडीयू विधायक की गिरफ्तारी नहीं हुई तो वे पटना से गोपालगंज तक मार्च करेंगे।

– लॉकडाउन के दौरान आरजेडी विधायकों के मार्च को पुलिस-प्रशासन ने रोक दिया है। पुलिस उन्‍हें गिरफ्तार कर सकती है।

Input : Dainik Jagran

इसे भी पढ़ें :- मुजफ्फरपुर रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

Continue Reading

BIHAR

पीएम नरेन्द्र मोदी ने बिहार पुलिस के जवान को किया बर्थडे विश, गदगद हो गया पूरा थाना

Published

on

SUPAUL : कोरोना संकट के दौर में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का एक बिल्कुल नया ही अंदाज सामने आया है। पीएम मोदी कोरोना वॉरियर्स का उत्साह बढ़ाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे। वे अपने नये-नये कदमों से लोगों को चौंकाते रहे हैं इस बार भी उन्होनें कुछ ऐसा किया है जिसे जानकर आप वाह-वाह कर उठेगें। पूरे देश का पीएम किसी थाने में तैनात किसी पुलिसकर्मी को अगर बर्थडे विश कर दे तो उसका सीना गर्व से जरूर चौड़ा हो जाएगा। बिहार के एक पुलिस जवान को ये सौभाग्य प्राप्त हुआ है जिसे पीएम मोदी ने खुद जन्मदिन की बधाई संदेश भेजा है जिसे पाकर पूरा थाना गद्गद है।

DEMO PIC

देश में फैली कोरोना महामारी के बीच सुपौल जिले का छातापुर थाना अचानक सुर्खियों में आ गया। हो भी क्यों नहीं देश के प्रधानमंत्री ने यहां तैनात एक पुलिस जवान को बर्थडे विश जो किया है। पीएम ने ईमेल के जरिए छातापुर थाने में तैनात पुलिस जवान बिकेश भगत को ईमेल के जरिए जन्मदिन का बधाई संदेश भेजा है। पीएम के द्वारा जन्मदिन की शुभकामनाएं मिलने के बाद तो जैसे बिकेश के पांव जमीं पर पड़ने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। बिकेश के साथ-साथ पूरा थाना खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा है।

इसे भी पढ़ें :- मुजफ्फरपुर आ रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

बिकेश भगत ने पीएम की बधाई पर उन्हें तहे दिल से शुक्रिया अदा किया है। वहीं छातापुर के थानाध्यक्ष अनमोल कुमार ने भी पीएम नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया है। वे मानते हैं कि पीएम मोदी के इस कदम से हम पुलिस वालों का उत्साह दोगुना हो जाता है। कोरोना संकट की इस घड़ी में देश के पीएम ने हमारा मनोबल बढ़ाने का काम किया है। हम सब पुलिसवाले मिलकर कोरोना संकट का डटकर मुकाबला कर रहे हैं । सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना हमारी जिम्मेवारी है जिसे हम बखूबी निभा रहे हैं और पीएम के इस उत्साहवर्धन के बाद हम और ज्यादा हौसले के साथ ये काम करेंगे।

Input : First Bihar

Continue Reading
BIHAR30 mins ago

CM नीतीश कुमार की हाईलेवल मीटिंग : लॉकडाउन 4.0 के बाद की बन रही रणनीति, सभी DM-SP भी जुड़े

INDIA33 mins ago

अमरनाथ यात्रा: इस बार केवल 15 दिन की हो सकती है यात्रा, कोरोना वायरस महामारी का असर

INDIA38 mins ago

रेलवे की सलाह, बीमार, गर्भवती महिलाएं, 10 साल से कम उम्र के बच्चे और 65 साल से अधिक के बुजुर्ग ना करें अभी यात्रा

INDIA43 mins ago

एक्टर Sonu Sood का फेवरेट स्कूटर है Bajaj Chetak, गैराज में खड़ी हैं ये लग्जरी कारें

BIHAR2 hours ago

नीतीश सरकार व RJD में आरपार, रोक के बावजूद निकले तेजस्‍वी, गिरफ्तारी संभव

INDIA2 hours ago

युद्ध की तैयारी में जुटा है चीन? LAC के पास सैटेलाइट तस्वीरों में दिखीं तोपें-लड़ाकू विमान

BIHAR3 hours ago

पीएम नरेन्द्र मोदी ने बिहार पुलिस के जवान को किया बर्थडे विश, गदगद हो गया पूरा थाना

MUZAFFARPUR4 hours ago

बिहार माध्यमिक वार्षिक परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विधार्थियों के लिए ‘जीनियस क्लासेज’ की सौगात

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर आ रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

INDIA6 hours ago

लॉकडाउन 5.0 की तैयारी! कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा असर वाले 13 शहरों पर गहन मंथन

BIHAR2 weeks ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA4 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR4 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD3 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

INDIA4 weeks ago

Lockdown Part 3- 17 मई तक जानिए क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

BIHAR3 weeks ago

बिहार के लिए हरियाणा से खुलेंगी 11 ट्रेनें, यहां देखिये गाड़ियों की पूरी लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बाहर फंसे बिहारियों की वापसी का बिहार सरकार नहीं करेगी इंतजाम, सुशील मोदी बोले- हमारे पास नहीं है संसाधन

INDIA4 weeks ago

लॉकडाउन के बीच 21 हजार रुपए से कम सैलरी पाने वालों के लिए सरकार ने की 5 बड़ी घोषणाएं

Uncategorized4 weeks ago

50 फीसद यात्रियों के साथ बसों का संचालन, बढ़ सकता किराया

Trending