Connect with us

TRENDING

इंसानों के कद का बकरा, वजन है 160 किलो, कीमत जान कर हैरान रह जाएंगे आप!

Muzaffarpur Now

Published

on

नई दिल्ली. आज पूरे देश में ईद उल-अज़हा (Eid al-Adha) यानि की बकरीद का त्योहार मनाया जा रहा है. बकरीद के दिन बकरों की कुर्बानी देने की परंपरा सदियों से चली आ रही है. वैसे तो बकरीद पर कई बकरे अपनी खूबियों के लिए चर्चा का विषय बनते हैं, लेकिन इस बार जो बकरा सुर्खियों में आाया है. उसका वजन भी ज्यादा है और हाइट भी इंसान के बराबर है. इस बकरे की लंबाई 8 फुट है और वजन 160 किलो है. तोतापारी व जमनापारी क्रास नस्ल का यह बकरा दिखने में जितना खास है उतनी ही इसकी खूबियां हैं.

इंसानों के कद का बकरा, वजन है 160 किलो, कीमत जान कर हैरान रह जाएंगे आप!

ये खास तरह का बकरा है छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के दुर्ग जिले का. बकरीद के दिन कुर्बानी के लिए यह खास बकरा पंजाब के भिलाई से छत्तीसगढ़ में लाया गया है. जब ये बकरा वहां पर पहुंचा तो लोगों को हुजूम इसे देखने के लिए उमड़ पड़ा.

इंसानों के कद का बकरा, वजन 160 किलो ...

ऑनलाइन हुई बकरों की नीलामी

इस बार लॉकडाउन के दौरान प्रशासन के गाइडनलाइन के अनुसार बकरीद का त्योहार मनाया जाएगा. बकरीद के लिए शहर में कुर्बानी के लिए एक से बढ़कर एक बकरे आए. अलग-अलग नस्ल के इन बकरों की कीमत भी हैरान करने वाली होती है. लिहाजा खरीदार बाहर न जाकर घर बैठे-बैठे ऑनलाइन बकरे खरीददारी की.

इंसानों के कद का बकरा, वजन 160 किलो ...

बकरे की कीमत कर देगी हैरान

इस बकरे को नीलामी में जीतकर लाने वाले शख्स का नाम अहमद उर्फ लाल बहादुर फरीद नगर का रहने वाला है. इस बकरे के बारे में जानकारी देते हुए अहमद से बताया कि उन्होंने इसे पंजाब से खरीदा है. इसकी कीमत 1.53 लाख रुपये है और इसे पंजाब से छत्तीसगढ़ लाने में 23 हजार का खर्च आया है.

इंसानों के कद का बकरा, वजन 160 किलो ...

बकरे की डायट भी है खास

बकरे की लंबाई 8 फीट और यह अपनी गर्दन को 10 फीट की ऊंचाई तक ले जा सकता है. इस बकरे की लंबाई और वजन जितना खास है, उतनी ही खास है इसकी डायट. बकरे की डायट के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि ये फलों का शौकीन है और ताजी सब्जियां भी बड़े ही चाव से खाता है.

Input : News18

TRENDING

अर्नब की चैट से खुलासे:बालाकोट स्ट्राइक और 370 हटाने जैसे फैसले पहले से पता थे; कांग्रेस का सवाल- पाक से जानकारी छिपाने की गारंटी है?

Ravi Pratap

Published

on

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बारे में रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को पहले से पता था। ये दावा ऑल्ट न्यूज के को-फाउंडर प्रतीक सिन्हा ने किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वॉट्सऐप चैट का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है। सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने भी अपनी सोशल मीडिया पोस्ट में कहा है कि जिस पुलवामा हमले में 40 जवान शहीद हुए, अर्नब ने उसका जश्न मनाया था। अर्नब को बालाकोट स्ट्राइक की जानकारी भी 3 दिन पहले मिल गई थी। अर्नब को कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बारे में भी पहले से पता था।

 

सोशल मीडिया पोस्ट्स में दावा किया जा रहा है कि अर्नब और दासगुप्ता के बीच यह बातचीत 2019 में हुई थी। इसे मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच के पास मौजूद 500 पेज की वॉट्सऐप चैट का हिस्सा बताया जा रहा है। टीआरपी घोटाले की जांच कर रही मुंबई क्राइम ब्रांच ने हाल ही में 3,600 पन्नों का सप्लीमेंट्री चार्टशीट मुंबई हाईकोर्ट में दाखिल किया है। इसमें पेज नंबर 1994 से 2504 तक अर्नब और दासगुप्ता के बीच हुई वॉट्सऐप चैट का ब्यौरा है।

कांग्रेस के सवाल
पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा, ‘अगर मीडिया के एक धड़े की रिपोर्टिंग सही है तो सवाल यह है कि बालाकोट स्ट्राइक और 2019 के आम चुनाव के बीच कोई संबंध है? क्या चुनाव में फायदे के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा को मुद्दा बनाया गया। इसकी संयुक्त संसदीय समिति (JPC) से जांच होनी चाहिए।’

पुलिस ने माना- वायरल चैट चार्जशीट का हिस्सा
मीडिया में यह चैट लीक होने के बाद सहायक पुलिस आयुक्त सचिन वजे ने माना कि यह चैट हाईकोर्ट में दाखिल की गई सप्लीमेंट्री चार्जशीट का हिस्सा है। लेकिन, यह मीडिया तक कैसे पहुंची। इसकी जानकारी उन्हें नहीं है।

अर्नब और BARC के पूर्व CEO के बीच की जो चैट प्रतीक सिन्हा ने शेयर की है, उसमें अर्नब ने लिखा है कि स्ट्राइक करके चुनाव जीता जाएगा।

इससे पहले शुक्रवार को भी प्रशांत भूषण ने सोशल मीडिया पोस्ट लिखी थी। इसमें उन्होंने एक वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट्स शेयर किए थे। इनमें एक नाम अर्नब का नजर आ रहा है, जबकि दूसरे नाम के बारे में दावा किया जा रहा है कि वे पार्थो दासगुप्ता हैं। दासगुप्ता ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल यानी BARC के 2013 से 2019 के बीच CEO थे। फेक TRP स्कैम में उनकी गिरफ्तारी हो चुकी है। BARC वह संस्था है, जो देश के 45 हजार घरों में टीवी पर लगे बार-ओ-मीटर के जरिए हर हफ्ते बताती है कि कौन सा चैनल कितना देखा जा रहा है।

हम यहां बता रहे हैं कि वायरल हो रहे इन चैट स्क्रीनशॉट्स में लिखा क्या है…

स्क्रीनशॉट 1: स्ट्राइक से 3 दिन पहले कुछ बड़ा होने का अर्नब का दावा

प्रतीक सिन्हा ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं, उसमें अर्नब गोस्वामी कह रहे हैं, कुछ बड़ा होना है। ये स्क्रीनशॉट्स 23 फरवरी 2019 के हैं। यानी बालाकोट स्ट्राइक से 3 दिन पहले। इसी बातचीत में BARC के CEO पूछते हैं, क्या दाऊद? अर्नब बोलते हैं- नहीं, पाकिस्तान। कुछ बड़ा होने वाला है। BARC के CEO पूछते हैं कि क्या स्ट्राइक होने वाली है या उससे बड़ा? चैट में अर्नब दावा करते हैं कि सरकार को भरोसा है कि स्ट्राइक जनता को खुश कर देगी।

स्क्रीनशॉट 1: स्ट्राइक से 3 दिन पहले कुछ बड़ा होने का अर्नब का दावा

प्रतीक सिन्हा ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं, उसमें अर्नब गोस्वामी कह रहे हैं, कुछ बड़ा होना है। ये स्क्रीनशॉट्स 23 फरवरी 2019 के हैं। यानी बालाकोट स्ट्राइक से 3 दिन पहले। इसी बातचीत में BARC के CEO पूछते हैं, क्या दाऊद? अर्नब बोलते हैं- नहीं, पाकिस्तान। कुछ बड़ा होने वाला है। BARC के CEO पूछते हैं कि क्या स्ट्राइक होने वाली है या उससे बड़ा? चैट में अर्नब दावा करते हैं कि सरकार को भरोसा है कि स्ट्राइक जनता को खुश कर देगी।

Input: Dainik Bhaskar

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

TRENDING

‘दोस्त’ ने किया बेइज्जत: ‘कंगाल’ पाकिस्तान का यात्री विमान मलेशिया ने किया जब्त, उतारे गये यात्री

Ravi Pratap

Published

on

क्वालालंपुर: पैसों के लिए हर जगह हाथ फैलाते और कर्ज के लिए नये नये दोस्त बनाते पाकिस्तान(Pakistan) की बार बार इंटरनेशनल बेइज्जति होती रहती है। लेकिन, लगता है अब पाकिस्तान सरकार को इन बेइज्जतियों से कोई फर्क नहीं पड़ता है। इस बार पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उसके ही ‘दोस्त’ मलेशिया(Malaysia) ने भयंकर बेइज्जति कर उसकी जगहंसाई कर दी है। पाकिस्तानी इंटरनेशनल फ्लाइट (PIA) बोइंग 777 को उधार ना चुकाने की वजह से मलेशिया के क्वालालंपुर एयरपोर्ट पर ना सिर्फ जब्त कर लिया गया, बल्कि फ्लाइट से पायलट और यात्रियों को भी उतार दिया गया है। पाकिस्तान ने अपनी अंतर्राष्ट्रीय जगत में हुई इस बेइज्जति को ट्विटर के जरिए कनफर्म भी किया है।

पाकिस्तानी प्लेन जब्त, दुनिया में जगहंसाई

मलेशिया को अपना जिगरी दोस्त बताने वाले पाकिस्तान की सरकारी विमानन कंपनी पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस(PIA) के बोइंग 777 को मलेशिया के क्वालालंपुर में जब्त कर लिया गया। फिर अधिकारियों ने विमान से पायलट समेत सभी यात्रियों को उतारते हुए तब तक विमान नहीं छोड़ने की बात कही, जब तक पाकिस्तान पैसे नहीं देता है। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, जिस विमान को जब्त किया गया है, उसे भी पाकिस्तान सरकार ने लीज़ पर लिया था। दरअसल, पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस के पास 12 बोइंग 777 विमान हैं, जिसे उसने अलग अलग कंपनियों से लीज पर लिया है। और लीज की रकम नहीं चुकाने की वजह से ही मलेशिया में पाकिस्तानी एयरलाइंस को जब्त किया गया है।

PM इमरान खान को प्लेन से उतार चुका है सऊदी अरब

ये कोई पहली दफा नहीं है, जब पाकिस्तान की इंटरनेशनल स्तर पर फजीहत हुई हो। इससे पहले सऊदी अरब सरकार ने पाकिस्तान को दिए गये अपने कर्ज का 3 अरब डॉलर मांग लिए थे। सऊदी अरब के पैसे मांगते ही पाकिस्तानी हुकूमत के हाथ-पांव फूल गये और भागता पाकिस्तान चीन के पैरों में पैसों के लिए गिर गया था। फिर चीन से पैसे लेकर पाकिस्तान ने 3 अरब डॉलर लेकर उसने सऊदी अरब को पैसे लौटाए। पैसे नहीं चुकाने की वजह से ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को UN से लौटते वक्त सऊदी के क्राउन प्रिंस ने अपने प्लेन से उतार दिया था।

मलेशिया और तुर्की को पक्का दोस्त बताता है पाकिस्तान

पाकिस्तान पैसों के लिए नये नये दोस्त बनाता रहता है। इस वक्त पाकिस्तान तुर्की के बेहद नजदीक है, और वो मलेशिया को अपना जिगरी दोस्त बताता रहता है। इससे पहले सऊदी अरब को भी पाकिस्तान मुस्लिम मुल्क होने के नाते जिगरी यार बताता रहा है, लेकिन जब सऊदी अरब को लग गया कि पाकिस्तान सिर्फ पैसों के लिए ही उसके साथ है, तो उसने पाकिस्तान से पैसे मांग लिए। जिसके बाद अचानक पाकिस्तानी नेताओं ने सऊदी अरब को अपना दुश्मन बताना शुरू कर दिया। इस वक्त पाकिस्तान पैसे एंठने के लिए तुर्की की तारीफें के पुल बांधता रहता है और तुर्की ने आश्वासन दिया है, कि वो पाकिस्तान को आर्थिक मदद देगा।

Input: one india

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

TRENDING

20 माह की धनिष्ठा ने बचाई 5 लोगों की जिंदगी, यंगेस्ट कैडेवर डोनर बनी

Muzaffarpur Now

Published

on

कोई लंबी जिंदगी गुजार कर भी परोपकार नहीं कर पाता और धनिष्ठा नाम की नन्ही सी बच्ची ने जाते-जाते पांच जिंदगियों को बचा लिया। इसके साथ ही दिल्ली के रोहिणी इलाके की मात्र 20 माह की बच्ची धनिष्ठा सबसे कम उम्र की कैडेवर डोनर (Cadaver donor) बन गई। इस नन्ही परी की मौत के बाद इसके अंगों को दान कर दिया गया जिसके बाद जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे पांच मरीजों नया जीवन मिल गया।

20 month old Dhanistha becomes youngest Cadaver Donor

दिल्ली के प्रसिद्ध अस्पताल सर गंगाराम में इस बच्ची के अंगों को निकालने के बाद पांच मरीजों में ट्रांसप्लांट किया गया। पहली मंजिल से नीचे गिर गई थी धनिष्ठा अपने घर की पहली मंजिल पर खेलते हुए धनिष्ठा 8 जनवरी की शाम नीचे गिर गई। उसे बेहोशी के हाल में गंगाराम अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों के प्रयास के बावजूद उसे बचाया नहीं जा सका। डॉक्टरों ने 11 जनवरी को उस मासूम को ब्रेन डेड घोषित कर दिया। उसका ब्रेन यानि मस्तिष्क काम नहीं कर रहा था बाकि सभी अंग बिल्कुल स्वस्थ थे।

20 month old Dhanistha becomes youngest Cadaver Donor

बेटी की मौत से दुखी होने के बावजूद उसके पैरेंट्स बबिता एवं आशीष कुमार ने अस्पताल के अधिकारियों से बच्ची के अंग दान की इच्छा जाहिर की। पिता आशीष ने बताया, ‘हमने अस्पताल में कई ऐसे मरीज देखे जिन्हे अंगों की सख्त आवश्यकता है। अब जब हम अपनी धनिष्ठा को खो चुके हैं तो हमने सोचा कि अंग दान से उसके अंग न सिर्फ मरीजों में जिन्दा रहेंगे बल्कि उनकी जान बचाने में भी मददगार सिद्ध होंगे।

20 month old Dhanistha becomes youngest Cadaver Donor

अस्पताल के चेयरमैन (बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट) डॉ. डीएस राणा ने कहा, ‘परिवार का यह नेक कार्य वास्तव में प्रशंसनीय है और इसे दूसरों को प्रेरित करना चाहिए। बता दें कि 0.26 प्रति मिलियन की दर से, भारत में अंगदान दर धीमी है। अंगों की कमी के कारण हर साल औसतन 5 लाख भारतीयों की मौत हो जाती है।

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading
BIHAR19 mins ago

एलजेपी के उपाध्यक्ष का बड़ा दावा- अगर चिराग अकेले चुनाव नहीं लड़ते, तो तेजस्वी को नहीं मिलती इतनी सीटें

INDIA38 mins ago

नई बनी सड़क पर स्कूटी लेकर चढ़ गयी लड़की, लोग बोले-गयी भैंस कंक्रीट में

BIHAR38 mins ago

नीतीश सरकार के पूर्व मंत्री का बड़ा आरोप, पैसा लेकर भी जमीन नहीं दे रहा एयर फोर्स अथॉरिटी

INDIA43 mins ago

लव जिहाद पर नसीरुद्दीन शाह ने जताई नाराजगी, बोले- इसमें गलत क्या है?

DHARM46 mins ago

बिना बेलपत्र अधूरी मानी जाती है भगवान शिव की पूजा, जा’निए महत्व

INDIA51 mins ago

‘पंजाब आकर समझाएं कृषि कानून-हम उठाएंगे आपका खर्च’, हेमा मालिनी को किसानों की पेशकश

BIHAR53 mins ago

पंचायत चुनाव: निर्वाचन आयोग का फरमान, मुखिया के घर के सौ मीटर के अंदर बूथ नहीं बनेगा

BIHAR58 mins ago

बिहार में नीतीश के नेता भी नहीं सुरक्षित, फायरिंग करने से मना किया तो JDU नेता को मारी गोली

BIHAR1 hour ago

बिहार के 15 जिले कोल्ड डे की चपेट में, अगले 24 घंटों के लिए इन जिलों में येलो अलर्ट जारी

BIHAR11 hours ago

प्यार में पागल लड़का गन प्वाइंट पर प्रेमिका के भाई को आरा से पटना ले आया, फिर कहा – बहन को बुलाओ, तब छोड़ेंगे

INDIA2 weeks ago

लड़कियों के लिए मिसाल हैं ये महिला IAS, अपनी हाइट को नहीं बनने दिया बाधा

TRENDING4 weeks ago

भारतीय अरबपति को सिर्फ 73 रुपये में बेचनी पड़ी 2 अरब डॉलर की कंपनी

BIHAR4 weeks ago

इंटेलिजेंस ब्यूरो में ग्रेजुएट्स के लिए ACIO की 2000 भर्ती, जानें IB भर्ती की खास बातें

INDIA3 days ago

इंग्लिश मीडियम बहू और हिंदी मीडियम सास के रिश्‍तेे में यूं आ रही दरार, पहुंच रहे थाने तक

TRENDING2 weeks ago

12 लीटर सोडा, 40 बोतल बीयर रोज: 412 किलो के शख्स ने दुनिया को कहा अलविदा

JOBS3 weeks ago

डाक विभाग ने निकाली है बंपर भर्तियां, 10वीं पास करें आवेदन, जानें फॉर्म भरने का तरीका

BIHAR2 weeks ago

29 IAS, 38 IPS की ट्रांसफर-पोस्टिंग: 12 DM बदले, चंद्रशेखर सिंह पटना के नए DM बने; 13 SP बदले, लिपि सिंह को सहरसा SP बनाया गया

TRENDING2 days ago

‘दोस्त’ ने किया बेइज्जत: ‘कंगाल’ पाकिस्तान का यात्री विमान मलेशिया ने किया जब्त, उतारे गये यात्री

MUZAFFARPUR3 weeks ago

निगम में शामिल होंगे शहर से सटे 32 गांव, 49 से बढ़ कर हाे सकते हैं अब 76 वार्ड

BIHAR3 weeks ago

तो इसलिए हैं पंजाब के किसान सड़कों पर, बिहार के किसानों के मुकाबले कमाते हैं पांच गुना ज्यादा

Trending