बिहार-गुजरात में शराबबंदी संभव तो पूरे देश में क्यों नहीं

0
47
Nitish KUmar, CM, BIhar, Bihari, New Delhi
Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार और गुजरात में शराबबंदी हो सकती है तो पूरे देश में क्यों नहीं? उन्होंने शराबबंदी को सामाजिक सद्‌भावना का प्रतीक बताते हुए इसे पूरे देश में लागू करने की वकालत की और कहा कि बिहार में एक साल के अंदर इसके कई सकारात्मक नतीजे दिख रहे हैं। दिल्ली में रविवार को पार्टी कार्यकर्ता सम्मेलन में सीएम ने कहा कि बिहार में एक साल में ही किडनी और लिवर के रोगियों की संख्या 39% जबकि न्यूरो संबंधी बीमारियों से ग्रस्त रोगियों की संख्या में 44% कमी आई है। बिहार में 1 अप्रैल 2016 से शराब पर पूर्ण प्रतिबंध है। नीतीश ने कहा कि सरकार ने एक अध्ययन कराया है जिसमें शराबबंदी से पहले और उसके बाद के एक साल के दौरान सरकारी अस्पतालों में आने वाले मरीजों की तुलना की गई। शराबबंदी के बाद से एक साल में सड़क दुर्घटना और ट्राॅमा के मरीजों की संख्या में 31 फीसदी की कमी आई है। आखिर पूरे देश में इसे क्यों नहीं लागू किया जा सकता।

Nitish KUmar, CM, BIhar, Bihari, New Delhi

अवैध कॉलोनियों को नियमित करने के लिए लिखेंगे पत्र  

नीती शने दिल्ली की अवैध कॉलोनियों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि वे इन्हें नियमित करने के लिए केंद्र तथा राज्य सरकार को पत्र लिखेंगे। इसके पहले पार्टी के प्रदेश तथा राष्ट्रीय पदाधिकारियों द्वारा मंच से अवैध कॉलोनियों का मुद्दा उठाया। नीतीश कुमार ने जदयू कार्यकर्ता से कहा कि दिल्ली की 1642 अवैध कॉलोनियों को नियमित किये जाने का मुद्दा वे पूरे जोर-शोर से उठाएं।

Source : Dainik Bhaskar

यह भी पढ़ें -» बिहार की इस बेटी ने मॉस्को में लहराया तिरंगा, बनीं ‘राइजनिंग स्टार’

यह भी पढ़ें -» यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिर, जानिए क्यों है इतना खास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशान, कभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें -» गांधी सेतु पर ओवरटेक किया तो देना पड़ेगा 600 रुपये जुर्माना

यह भी पढ़ें -» अब बिहार के बदमाशों से निपटेगी सांसद आरसीपी सिंह की बेटी IPS लिपि सिंह

यह भी पढ़ें -» बिहार के लिए खुशखबरी : मुजफ्फरपुर में अगले वर्ष से हवाई सेवा

 

                                                                                      

(मुज़फ़्फ़रपुर नाउ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

 


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •