बच्चों को संस्कारी बनाने का क्या है फॉर्मूला? जानें इसके पीछे का रहस्य
Connect with us
leaderboard image

OMG

बच्चों को संस्कारी बनाने का क्या है फॉर्मूला? जानें इसके पीछे का रहस्य

Santosh Chaudhary

Published

on

अगर आप भी अपने बच्चे के भविष्य और उसे मिलने वाले संस्कारों को लेकर अक्सर चिंता में डूबे रहते हैं तो जान लें आखिर बच्चे किस तरह बनते हैं संस्कारी और क्या है इसके पीछे का रहस्य ?

जन्म से लेकर 21 वर्ष तक मुख्य रूप से संस्कारों का निर्माण होता है. इस अवस्था में पड़ी हुई आदतें ही आगे चलकर संस्कार का रूप ले लेती हैं. खान पान से लेकर, मित्रता और पूजा उपासना तक, हर छोटी बड़ी चीज का अपना महत्व होता है. बच्चे के ऊपर माता-पिता के संस्कारों का प्रभाव भी पड़ता है, इसका ध्यान रखना चाहिए. आइए जानते हैं किस उम्र में किस बात का ध्यान रखना चाहिेए.

जन्म से लेकर 5 वर्ष तक की आयु तक किन बातों का रखें ध्यान?

– इस उम्र में बच्चे के आहार और खान पान का विशेष ख्याल रखना चाहिए

– इस उम्र में जो खाने पीने की आदतें पड़ जाती हैं , जो जीवन भर नहीं छूटती

– चूँकि खान पान से ही सोच और विचार बनते हैं , अतः सोच समझकर आहार देना चाहिए

– मांसाहार , फ़ास्ट फ़ूड , बासी और तेल मसाले वाले भोजन से बच्चों को बचाना जरूरी होगा

6 वर्ष से 10 वर्ष तक किन बातों का ख्याल रखें ?

– इस उम्र में बच्चे के अन्दर शुभ और अशुभ आदतें आने लगती हैं

– बच्चे को धर्म , ईश्वर और व्यवहार के बारे में ज्ञान होने लगता है

– इस समय घर का माहौल शुद्ध और सात्विक रखें

– घर के लोग अपने व्यवहार और आचरण को दुरुस्त रखें

– बच्चे को सही और गलत के बीच का फर्क सिखाएं

11 वर्ष से 15 वर्ष तक किन बातों का ख्याल रखें ?

– इसी उम्र में बच्चा शिक्षा और ज्ञान के बारे में सजग होता है

– बच्चे को विषय,करियर और सफलता की चिंता होने लगती है

– इस समय बच्चे को मन्त्रों और आसन आदि के बारे में बताना चाहिए

– ताकि बच्चा शिक्षा में एकाग्र हो और उसका शारीरिक और मानसिक विकास ठीक तरीके से हो

– बच्चे पर अपनी रूचि न थोपें , उसकी इच्छानुसार विषय लेने दें

17 वर्ष से 21 वर्ष तक किन बातों का ध्यान रखें ?

– यह उम्र बच्चों के अन्दर बड़े रासायनिक परिवर्तन की होती है

– सारे संस्कार और अच्छी बुरी आदतें इस उम्र में दिखाई देने लगती हैं

– इस उम्र में बच्चों को जिम्मेदारी खुद लेने दें , उनकी सहायता करें

– उनके कपड़ों , उनकी जीवनचर्या और उनकी संगति का ध्यान रखें

– उन्हें बुजुर्गों के साथ रहने की सलाह दें साथ ही व्रत उपवास रखने की आदत डालें

OMG

पेट में दर्द का इलाज कराने गए 2 युवक, सरकारी अस्पताल के डॉक्टर ने लिखा, प्रेग्नेंसी टेस्ट पर्चा देख उड़े होश

Ravi Pratap

Published

on

झारखंड के एक डॉक्टर ने चतरा जिले के दो युवकों को पेट दर्द की शिकायत होने पर प्रेग्नेंसी टेस्ट कराने के लिए कहा। सरकारी अस्पताल के डॉक्टर मुकेश कुमार ने दोनों युवकों गोपाल गंझू और कामेश्वर जानू को प्रेग्नेंसी टेस्ट के अलावा एचआईवी और हीमोग्लोबिन टेस्ट कराने को भी कहा।

इसके बाद दोनों युवकों ने डॉक्टर के खिलाफ चतरा जिले के सिविल सर्जन अरुण कुमार पासवान से शिकायत की है। इस बारे में पासवान ने संवाददाताओं से कहा, “मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।” कुमार ने हालांकि, इन आरोपों को झूठा बताया है।

कुछ ऐसा ही अजीबो-गरीब मामला जुलाई में सिंहभूम जिले में भी देखने को मिला था, जब एक डॉक्टर ने पेट दर्द की शिकायत पर एक महिला को कॉन्डम का प्रयोग करने के लिए लिखा था। जब महिला दवा लेने मेडिकल स्टोर गई तब उसे पता चला कि डॉक्टर ने जो दवा लिखी है वह कॉन्डम है।

Input : Live Hindustan

(हम ज्यादा दिन WhatsApp पर आपके साथ नहीं रह पाएंगे. ये सर्विस अब बंद होने वाली है. लेकिन हम आपको आगे भी नए प्लेटफॉर्म Telegram पर न्यूज अपडेट भेजते रहेंगे. इसलिए अब हमारे Telegram चैनल को सब्सक्राइब कीजिए)

Continue Reading

OMG

इंसान के सिर पर निकला सींग, डॉक्टर भी हैरान

Ravi Pratap

Published

on

बचपन मे आपने दादा-दादी से इंसान के सिर पर सींग उगने की कहानी कई बार सुनी होगी लेकिन क्या आपने किसी इंसान के सिर पर सींग उगे हुए देखा है? किस्से-कहानियों असल जिंदगी में देखने को मिली है. मध्यप्रदेश के सागर जिले के रहली गांव के रहने वाले 74 साल के श्याम लाल यादव के सिर पर बीते कई साल से एक सींग उगा था जिसे हाल ही में ऑपरेशन के ज़रिए काटा गया है. श्याम लाल यादव के मुताबिक कुछ साल पहले उनके सिर पर लगी चोट के बाद वहां से सींग निकलने लगा.

श्याम लाल यादव को शुरुआत में थोड़ा अटपटा जरूर लगा लेकिन बाद में इसकी आदत पड़ गई. श्यामलाल यादव के मुताबिक उन्होंने कई बार इस सींग को कटवाया लेकिन थोड़े दिन बाद सींग फिर उग आता था. इसके बाद परेशान होकर उन्होंने डॉक्टरों को दिखाना शुरू किया. कहीं डॉक्टर ने हाथ खड़े कर दिए तो कहीं इलाज महंगा बताया गया. आखिरकार श्यामलाल यादव पहुंचे सागर के भाग्योदय तीर्थ अस्पताल जहां डॉक्टरों की टीम ने इलाज कर श्यामलाल यादव के सिर से सींग को काटकर अलग कर दिया.

श्याम लाल यादव का ऑपरेशन करने वाले डॉक्टरों की टीम का नेतृत्व करने वाले डॉक्टर विशाल गजभिये ने बताया कि श्यामलाल यादव को दुर्लभ सेबासियस हार्न नाम की बीमारी है, जिसे आम बोलचाल की भाषा में डेविल्स हॉर्न भी कहा जाता है. डॉक्टर गजभिये के मुताबिक उन्होंने सबसे पहले श्यामलाल यादव के सिर का एक्सरे और सीटी स्कैन करवाया ताकि सींग सिर के कितने अंदर तक है इसका पता लग सके. एक्सरे से जब पता चला कि सींग की जड़ें ज्यादा गहरी नहीं है तो फिर उनका ऑपरेशन किया गया.

इस ऑपरेशन में कुछ घंटे लगे लेकिन श्याम लाल यादव को सिर पर उगे सींग से छुटकारा मिल गया. वहीं सिर पर उगे सींग को सफल ऑपेरशन कर अलग करने वाले डॉक्टर विशाल गजभिये ने कहा कि वे जल्द ही इस केस को इंटरनेशनल जर्नल ऑफ सर्जरी में पब्लिश करने के लिए भेजेंगे क्योंकि अब तक ऐसा केस उनके पास पहले कभी नहीं आया है.

Input : Aaj Tak

Continue Reading

OMG

दिल्ली में कटा ‘भगवान राम’ का 1.41 लाख का चालान, कोर्ट में जाकर भरा

Ravi Pratap

Published

on

देशभर में मोटर वाहन संशोधन अधिनियम, 2019 लागू होने के बाद से ट्रैफिक नियमों की अनदेखी लोगों को काफी भारी पड़ रही है। ताजा मामला राजधानी दिल्ली का है जहां ‘भगवान राम’ का 1 लाख 41 हजार 700 रुपये चालान काटे जाने का मामला सामने आया है।

जानकारी के अनुसार, राजस्थान से सामान लेकर दिल्ली पहुंचे 18 टायर के ट्रक का 1.41 लाख रुपये से ज्यादा का चालान किया गया। पांच सितंबर को हुए चालान को सोमवार सुबह ट्रक मालिक ने रोहिणी कोर्ट में पेश होकर भर दिया।

बीकानेर के रहने वाले भगवान राम ट्रांसपोर्टर हैं। पांच सितंबर को उनका एक ट्रक सामान लेकर दिल्ली आया था। रोहिणी सर्कल में अधिकारियों ने जांच के बाद पाया कि ट्रक चला रहे ट्राइवर के पास न तो डीएल था और ना ही ट्रक के परमिट से संबंधित दस्तावेज सही थे। ट्रक में भरा सामान भी ओवरलोड था।

परिवहन अधिकारियों ने ड्राइवर का चालान कर दिया। सभी तरह के चालान मिलाकर 1 लाख 41 हजार 700 रुपये का चालान किया गया। ट्रक मालिक ने सोमवार सुबह रोहिणी कोर्ट में ट्रक का चालान भर दिया। अधिकारियों के मुताबिक, वाहनों की संख्या बढ़ने का बड़ा कारण नया वाहन अधिनियम है। पीयूसी सर्टीफिकेट न होने से अब 10 हजार रुपये के जुर्माने का प्रावधान है।

जबकि पहले यह पहली बार में एक हजार होता था। दूसरी बार भी पकड़े जाने पर दो हजार का चालान होता था। चालान राशि बढ़ाने का असर यह हुआ कि पहले दिल्ली में औसत रोजाना 10-12 हजार के बीच वाहन प्रदूषण जांच कराते थे। अब बीते एक सितंबर से यह आंकड़ा औसतन 45 हजार के ऊपर पहुंच गया है।

Input : Live Hindustan

Continue Reading
Advertisement
BIHAR38 mins ago

उत्कृष्ट पुलिस सेवा के लिए बिहार के लाल को मिला एपीजे अब्दुल कलाम अवार्ड

RELIGION2 hours ago

17 अक्टूबर को है करवा चौथ, जानिए व्रत से जुड़ी बातें और पूजा विधि

SPORTS2 hours ago

सौरव गांगुली बने BCCI के नए अध्यक्ष 23 अक्टूबर को संभालेंगे पद

BIHAR2 hours ago

रेलवे ने फिर बढ़ाई स्पेशल ट्रेनों की संख्या, दिवाली-छठ के लिए अभी इन ट्रेनों में बुक करा सकते हैं टिकट

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर सूतापट्टी में पति ने धो’खा दिया तो महिला ने चोर-चोर बोल कर पि’टवाया

MUZAFFARPUR5 hours ago

अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के उपेक्षा के कारण काँटी – मरवण का 570 किलोमीटर पक्की सड़क हुआ जर्जर : ई0 अजीत

BIHAR6 hours ago

पटना: डें’गू म’रीजों से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे पर फेंकी गई स्याही

BIHAR7 hours ago

ह’त्या की घ’टनाओं से द’हला बिहार, अलग-अलग जगहों पर सात लोगों को मा’र डाला

MUZAFFARPUR7 hours ago

मुजफ्फरपुर में लू’टपाट के दौरान ऑटो चालक की ह’त्या, वि’रोध में जा’म-थाने पर हं’गामा

BIHAR10 hours ago

दीपावली 27 काे, 31 को नहाय खाय के साथ होगी चार दिवसीय छठ महापर्व की शुरुआत

BIHAR1 day ago

63वीं परीक्षा का रिजल्ट जारी, श्रीयांश तिवारी बने टॉपर, यहां देखें लिस्ट

BIHAR4 days ago

पटना पहुंची प्रीति जिंटा, एक झलक पाने को बेताब दिखी भीड़

BIHAR2 weeks ago

KBC 11: वैज्ञानिक के नाम से जुड़े सवाल पर अटकी बिहार की साइंस टीचर संगीता, गेम छोड़ने का लिया निर्णय

BIHAR2 days ago

संभावना सेठ के साथ रॉयल फुलार ने मनाया अपना प्रथम वर्षगाँठ

INDIA6 days ago

Reliance Jio यूजर्स को लगा बड़ा झटका, अन्‍य मोबाइल नेटवर्क पर कॉल करने के लिए देना होगा पैसा

MUZAFFARPUR6 days ago

मुजफ्फरपुर से दिल्ली के लिए चलेगी सुविधा स्पेशल

BIHAR4 days ago

पटना: IIT मुंबई ने सबसे कम उम्र के प्रोफेसर तथागत तुलसी को नौकरी से निकाला, जानिए कारण

BIHAR3 weeks ago

हाई वोल्‍टेज फैमिली ड्रामा: प्रेमी के घर के सामने धरना पर बैठी प्रेमिका, बोली- चल कर शादी

BUSINESS3 days ago

Paytm इस्तेमाल करने वालों के लिए बुरी ख़बर

MUZAFFARPUR3 weeks ago

बिहार में 28 नवंबर से 12 दिसंबर के बीच आठ जिलों की सेना बहाली, ये कागजात लाना होगा जरूरी

Trending