Connect with us

BIHAR

अयोध्या विवाद: वो IAS अफसर जिसने लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार करने से कर दिया था इनकार

Published

on

राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद (Ram Mandir-Babri Masjid Dispute) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का फैसला शनिवार 9 नवंबर को आ सकता है. इस आंदोलन के सबसे बड़े किरदारों में से एक लालकृष्ण आडवाणी (Lal Krishna Advani) का 8 नवंबर को जन्मदिन है. नई पीढ़ी को शायद ही पता हो कि राम रथयात्रा के समय बिहार (Bihar) के तत्कालीन सीएम लालू प्रसाद यादव के आदेश के बाद भी एक डीएम ने आडवाणी को गिरफ्तार करने से मना कर दिया था. ताकि समाज में गलत संदेश न जाए. उनका नाम था अफजल अमानुल्लाह (Afzal Amanullah). वो अब रिटायर हो चुके हैं.

वरिष्ठ पत्रकार सुरेंद्र किशोर के मुताबिक आडवाणी को 23 अक्टूबर 1990 को समस्तीपुर में गिरफ्तार किया गया. जिस आईएएस अफसर अफजल अमानुल्लाह ने उन्हें गिरफ्तार करने से इनकार किया था, वह सैयद शहाबुद्दीन के दामाद हैं. शहाबुद्दीन तब बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के संयोजक थे.

 Ayodhya Case, Ayodhya Dispute, Ram Janmabhoomi, Babri Masjid Dispute, Supreme Court on Ayodhya Case, अयोध्या केस, अयोध्या विवाद, राम जन्मभूमि, बाबरी मस्जिद विवाद, Ram Mandir, राम मंदिर, अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट, IAS officer Afzal Amanullah, अफजल अमानुल्लाह, Lal Krishna Advani, लालकृष्ण आडवाणी, bihar, बिहार, ram rath yatra, राम रथयात्रा, VHP, rss, विश्व हिंदू परिषद, वीएचपी, आरएसएस

यह कहानी शुरू होती है 25 सितंबर 1990 से. राम मंदिर आंदोलन को धार देने के लिए आडवाणी ने सोमनाथ से रथयात्रा शुरू की. रथयात्रा का पहला चरण 14 अक्टूबर को पूरा हुआ. आडवाणी दिल्ली पहुंचे. तत्कालीन प्रधानमंत्री वीपी सिंह ने 18 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल के सीएम रहे ज्योति बसु को दिल्ली बुलाया. बसु ने आडवाणी से बात की और रथयात्रा स्थगित करने का आग्रह किया. लेकिन आडवाणी ने बसु की सलाह ठुकरा दी.

Image result for ADVANI"

रथयात्रा के दूसरे चरण में बिहार पहुंचा था रथ

19 अक्टूबर को आडवाणी धनबाद रवाना हुए जहां से उन्होंने दूसरा चरण शुरू किया. वहां से अयोध्या पहुंचकर वो 30 अक्टूबर को राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण शुरू कराना चाहते थे. तब बिहार के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की तूती बोलती थी. उन्होंने धनबाद के डीएम अफजल अमानुल्लाह को निर्देश दिया कि वो आडवाणी को वहीं गिरफ्तार कर लें. प्रशासन ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत गिरफ्तारी वारंट तैयार करके अफसरों को सौंप दिया, लेकिन अमानुल्लाह ने गिरफ्तार करने से मना कर दिया.

 Ayodhya Case, Ayodhya Dispute, Ram Janmabhoomi, Babri Masjid Dispute, Supreme Court on Ayodhya Case, अयोध्या केस, अयोध्या विवाद, राम जन्मभूमि, बाबरी मस्जिद विवाद, Ram Mandir, राम मंदिर, अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट, IAS officer Afzal Amanullah, अफजल अमानुल्लाह, Lal Krishna Advani, लालकृष्ण आडवाणी, bihar, बिहार, ram rath yatra, राम रथयात्रा, VHP, rss, विश्व हिंदू परिषद, वीएचपी, आरएसएस

आरके सिंह, जिन्होंने लालू यादव के आदेश पर आडवाणी को गिरफ्तार किया था

इस डर से नहीं की गिरफ्तारी

सुरेंद्र किशोर कहते हैं कि बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के संयोजक का दामाद यदि आडवाणी को गिरफ्तार करता तो टेंशन बढ़ती. यही नहीं एक मुस्लिम अफसर भी ऐसा करता तो भी आग में घी डालने के समान होता. इसलिए अमानुल्लाह ने लालू यादव के आदेश को नहीं माना. उधर, लालू प्रसाद यह संदेश देना चाहते थे कि उन्होंने ‘सांप्रदायिक आडवाणी’ का रथ बिहार में नहीं घुसने दिया. रथयात्री लालकृष्ण आडवाणी को जिस अफसर ने गिरफ्तार किया था, वह आरके सिंह अब बीजेपी के सांसद और केंद्रीय मंत्री हैं.

Input : News18

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर के जय अलानी देशभर से भगा रहे ‘भूत-प्रेत’

Published

on

मुजफ्फरपुर में बचपन गुजारने वाला लड़का आज देश-दुनिया में लोगों के मन से भूत का भय भगा रहा है। लोगों को भूत और अंधविश्वास के तिलिस्म से उबारने वाले जय अलानी ने पैरानॉर्मल इन्वेस्टिगेशन के माध्यम से एक अलग पहचान बनाई है। बिहार ही नहीं राजस्थान, मध्यप्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र आदि के जिलों में जय करीब ढाई सौ पैरानॉर्मल इन्वेस्टिगेशन कर चुके हैं। भूत या अंधविश्वास की बात वाली जगहों पर जय अपनी टीम के साथ रात गुजारते हैं। दो-तीन रात गुजारने के बाद वे लोगों के सामने इस वहम का खुलासा करते हैं। जय अलानी ने शहर के चंदवारा इलाके में रहकर 10वीं तक की पढ़ाई पूरी की है। बाद में वे सपरिवार पटना शिफ्ट कर गये। फिलहाल, जय दिल्ली में रह रहे हैं। जय ने बताया कि वे 10 साल से पारा इन्वेस्टिगेशन कर रहे हैं।

Image may contain: 1 person, sitting, tree, hat, beard and outdoor

निगेटिव एनर्जीको भूत मानते हैं लोग

अब तक सौ लोकेशन बेस्ड और डेढ़ सौ केस बेस्ड इन्वेस्टिगेशन किए हैं। राजस्थान के भानगढ़, जैसलमेर के कुलधरा, उत्तराखंड के मसूरी, लोहाघाट में इन्वेस्टिगेशन के दौरान कई रात गुजारना काफी रोमांचक रहा है। कई रात बिताने के बाद पता चला कि कुछ निगेटिव एनर्जी है जिसे लोग भूत मानते हैं। लेकिन इससे इंसानों को कभी नुकसान नहीं हुआ। जय कहते हैं कि यह लोगों के मन के वहम से अधिक कुछ नहीं।

Image may contain: one or more people and close-up

15 से 20 उपकरणों से लैस रहती है टीम जय ने बताया कि इन्वेस्टिगेशन के दौरान वे 15 से 20 तरह के इंस्ट्रूमेंट का इस्तेमाल करते हैं। छह तरह के कैमरे, नाइट विजन, थर्मल कैमरा के अलावा इलेक्ट्रो मैगनेटिक फील्ड की रीडिंग, टेम्परेचर के लिए, रेडियो फ्रिक्वेंसी आदि टूल्स लेकर जाते हैं। जय ने बताया कि इन मशीनों से भूत का पता नहीं चल सकता। इन मशीनों से इन्वेस्टिगेशन में सबूत इकठ्ठा करने में आसानी होती है। इन सबूतों से यह पता चलता है कि कोई निगेटिव एनर्जी है या नहीं। अब तक के रिसर्च में बमुश्किल 15 फीसदी जगहों पर ही निगेटिव एनर्जी मिली है। लेकिन उससे किसी को नुकसान नहीं पहुंचा।

Input : Hindustan

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मीनापुर से फिर मजदूरों को लेकर पंजाब गई बस

Published

on

कोरोना संक्रमण की परवाह किये बिना मीनापुर से मजदूरों के पलायन का सिलसिला जारी है। गुरुवार रात सिवाईपट्टी के बनघारा से 30 मजदूरों को लेकर एक बस पंजाब के लुधियाना के लिए रवाना हो गई है। इस बस में बनघारा के अतिरिक्त घोसौत और कोदरिया गांव के मजदूर धन रोपनी के लिए पंजाब गये हैं।

इससे पहले 31 मई को तुर्की के शनिचरा स्थान से 20 मजदूरों को लेकर एक बस पंजाब गई थी। उस वक्त किसी भी स्थानीय अधिकारी को इसकी भनक तक नहीं लगी। इस बीच सिवाईपट्टी के थानाध्यक्ष कुमार संतोष रजक ने मजदूरों के पलायन से इनकार किया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि पंजाब से बस आने की सूचना पर गश्तीदल को बनघारा भेजा गया था। किंतु, वहां पंजाब से आई कोई बस नहीं मिली।

DEMO PIC

जबकि, स्थानीय मुखिया चन्देश्वर साह ने मजदूरों के पलायन की पुष्टि की है। मुखिया ने बताया कि इससे पहले बुधवार को हरपुरबक्स गांव से भी एक बस मजदूर पंजाब गये हैं। सीओ को सूचना देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। नतीजा, आज की सूचना अधिकारी को नहीं दी गई है। दूसरी ओर सीओ ज्ञान प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि मजदूरों के पलायन की सूचना उच्चाधिकारी को दे दी गई है।

Input : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

मुजफ्फरपुर : टिड्डी दलों से लड़ेगी फायर ब्रिगेड टीम

Published

on

फसलों को नष्ट करने वाले टिड्डी दलों पर नियंत्रण को लेकर प्रमंडलीय आयुक्त पंकज कुमार ने गुरुवार को एक बैठक की। प्रमंडलीय सभा कक्ष में हुई इस बैठक में टिड्डी दलों पर नियंत्रण को लेकर किए जाने वाले उपायों पर चर्चा की गई। आयुक्त ने कहा कि देश के कई हिस्सों में टिड्डी दलों का प्रकोप देखा गया है। बड़े पैमाने पर फसलों की क्षति हुई है। ऐसे में किसी भी विषम परिस्थिति को लेकर तैयार रहने की जरूरत है।

इलाके में टिड्डी दलों का प्रकोप होने पर अग्निशामक वाहनों की सहायता से रासायनिक दवाओं का छिड़काव करना होगा । इसको लेकर अभी से सभी तैयारी पूरी करने की आवश्यकता है।

कमिश्नर ने कृषि विभाग से संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि रासायनिक दवाओं की उपलब्धता सभी जिलों के सभी प्रखंडों में सुनिश्चित हो इसके लिए दुकानदारों से बात कर दवाओं की उपलब्धता की जानकारी लें। इलाके में टिड्डी दलों का आक्रमण होता है तो उस विषम परिस्थिति में कृषि विभाग तथा अन्य संबंधित विभागों द्वारा उससे बचाव व रोकथाम को लेकर की गई तैयारियों के बारे में भी उन्होंने जानकारी ली।

Input : Hindustan

Continue Reading
MUZAFFARPUR29 mins ago

मुजफ्फरपुर के जय अलानी देशभर से भगा रहे ‘भूत-प्रेत’

MUZAFFARPUR38 mins ago

मीनापुर से फिर मजदूरों को लेकर पंजाब गई बस

BIHAR41 mins ago

मुजफ्फरपुर : टिड्डी दलों से लड़ेगी फायर ब्रिगेड टीम

BIHAR45 mins ago

लालू प्रसाद की कार बरामद, 6 साल पहले हुई थी चोरी

BIHAR1 hour ago

इंडिया नेपाल बॉर्डर पर नए विवाद की आशंका, सीमा से गायब हो रहे पिलर; नो मेंस लैंड पर अवैध कब्‍जा

INDIA2 hours ago

नाराज होकर मायके जा रही थी पत्नी, पति ने एयरपोर्ट पर फोन कर कहा- महिला को रोको उसके बैग में बम है

MUZAFFARPUR2 hours ago

गरीबनाथ मंदिर में सुबह छह से शाम साढ़े सात बजे तक कर सकेंगे जलाभिषेक

BIHAR3 hours ago

पूरे बिहार में आज बारिश कई जगह चलेगी आंधी

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर में बने देश के पहले पीकू अस्पताल का उद्घाटन सीएम नीतीश कल करेंगे

MUZAFFARPUR3 hours ago

सूतापट्टी, बैंक रोड, इस्लामपुर में एक रंगरूप में दिखेंगी दुकानें, करबला से सरैयागंज टावर तक हाेगा एक लुक

BIHAR3 weeks ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

WORLD4 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

बिहार के लिए हरियाणा से खुलेंगी 11 ट्रेनें, यहां देखिये गाड़ियों की पूरी लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

बिहार के 4 जिलों के लिए मौसम विभाग का अलर्ट,वर्षा-वज्रपात और ओलावृष्टि की चेतावनी

TECH4 weeks ago

ज़बरदस्त ऑफर! सिर्फ 22,999 रुपये का हुआ सैमसंग का 63 हज़ार वाला धांसू स्मार्टफोन

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर आ रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

BIHAR3 weeks ago

बिहार में 33916 शिक्षकों की होगी बहाली, मैथ और साइंस के होंगे 11 हजार टीचर, यहां देखिये सभी विषयों की लिस्ट

INDIA3 weeks ago

घरेलू उड़ानों के लिए बुकिंग शुरू, पर शर्तें लागू; जानें आपको फायदा मिलेगा या नहीं

TECH7 days ago

आ रहा नोकिया का 43 इंच का TV, जानें कितनी होगी कीमत

INDIA3 weeks ago

भारत के 700 स्टेशनों के लिए चलेगी ट्रेन, रेल मंत्रालय ने कहा- रोज चलेंगी 300 ट्रेनें

Trending