Connect with us

BIHAR

गांव का बेटा मंत्री’ लेकिन बांस के पुल के सहारे कट रही लोगों की जिंदगी

Published

on

सुपौल. बिहार में बाढ़ (Bihar Flood) लगातार तबाही मचा रही है. एक तरफ कोसी (Kosi River) में बढ़े जलस्तर ने जहां सुपौल जिले के कई इलाकों को जलमग्न करते हुए तबाही मचाई है तो वहीं कई इलाके ऐसे है भी जहां अभी भी बाढ़ के समय चचरी यानी बांस के पुल के सहारे लोग आवाजाही करते हैं और इसी पुल को पार कर के मुख्य सड़क पर पहुंचते हैं.

3 हजार की आबादी का एकमात्र सहारा

ऐसा ही एक गांव है मोदी सरकार में मंत्री आरके सिंह का. सुपौल जिला मुख्यालय से मात्र 6 किलोमीटर दूर बासबट्टी पंचायत है जो केंद्रीय ऊर्जा मंत्री और आरा से बीजेपी के सांसद आरके सिंह का पैतृक गांव है. इसी पंचायत के मुसहरी गांव के करीब 3 हजार लोगो की जिंदगी एक चचरी पुल के सहारे चल रही है.

पैदल से लेकर बाइक सवार तक इसी रास्ते का करते हैं उपयोग

गांव से मुख्य सड़क जाने के बीच बाढ़ का पानी जमा रहता है लिहाजा गांव वालों को बाजार जाना हो या फिर अस्पताल बांस के बने चचरी के सहारे पर करना पड़ता है. इस बांस के चचरी के सहारे लोग साइकिल, मोटरसाइकल लेकर पार होते है जो बेहद खतरनाक है. थोड़ी भी चूक हुई तो बड़ा हादसा हो सकता है.

बांस से बने पुल के सहारे आते-जाते केंद्रीय मंत्री आरके सिंह के गांंव के लोग

चंदा जमा कर गांव वाले हर साल बनाते है चचरी पुल

मुसहरी गांव के लोग हर साल चचरी पुल का निर्माण करते हैं. हर साल होने वाली बारिश और बाढ़ में यह चचरी पुल टूटकर बिखर जाता है. गांव के निवासी राधेश्याम सदा का कहना है कि हर साल गांव वाले आपस मे चंदा कर चचरी पुल का निर्माण करते हैं. बारिश और बाढ़ के कारण हर साल ये पुल टूट जाता है. बासबिट्टी के मुसहरी में रहने वाले कैलाश मुखिया का कहना है कि गांव वाले कई साल से एक पुलिया बनाने की मांग कर रहे हैं पर आजतक किसी ने हमारी बात नहीं सुनी. केंद्रीय मंत्री का गांव होने के नाते हमलोगों को ये उम्मीद थी कि चचरी के पुल से छुटकारा मिलेगा पर अभी तक ऐसा नहीं हो सका है और गांव की पूरी आबादी इसी पुल के सहारे जीने को विवश है.

BIHAR

दीवाली और छठ में बिहार आने के लिए नई ट्रेनें:कोटा और अमृतसर से चलेंगी फेस्टिवल स्पेशल

Published

on

दीपावली और छठ पूजा पर बिहार आने के लिए रेलवे ने पैसेंजर्स को दो नई फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन की सौगात दी है। इसमें एक ट्रेन दानापुर से कोटा और दूसरी दरभंगा से अमृतसर के बीच चलेगी। पूर्व मध्य रेलवे के CPRO राजेश कुमार के अनुसार, ट्रेन नंबर 09817/09818 दानापुर-कोटा-दानापुर फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन का परिचालन 3-3 ट्रिप, जबकि 05281/05282 दरभंगा-अमृतसर-दरभंगा फेस्टिवल स्पेशल (वाया नरकटियागंज) का परिचालन 2-2 ट्रिप किया जाएगा । फेस्टिवल के दरम्यान दोनों ट्रेन के चलाने से पैसेंजर्स की भीड़ को कंट्रोल किया जा सकेगा।

09817 कोटा से 02, 05 व 11 नवंबर को दोपहर 1.40 बजे दानापुर के लिए खुलेगी। जो अगले दिन 11.55 बजे पं. दीन दयाल उपाध्याय जं, दोपहर 1.10 बजे बक्सर, 2.10 बजे आरा और फिर 3.30 बजे दानापुर स्टेशन पहुंचेगी।

krishna-motors-muzaffarpur

वापसी में 09818 दानापुर से 03, 06 व 12 नवंबर को शाम 5.40 बजे प्रस्थान कर 6.10 बजे आरा, 7.08 बजे बक्सर, रात्व9.30 बजे पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन पहुंचेगी और अगले दिन शाम को 7.30 बजे कोटा पहुंचेगी। इस स्पेशल ट्रेन में सेकेंड एसी के 2, थर्ड एसी के 1, स्लीपर के 10 और जनरल के 6 कोच लगाए जाएंगे।

वहीं, 05281 स्पेशल ट्रेन 12 व 19 नवंबर को दरभंगा से शाम 5.20 बजे खुलेगी और दूसरे दिन दोपहर 1.45 बजे अमृतसर पहुंचेगी। वापसी में 05282 स्पेशल 14 और 21 नवंबर को अमृतसर से शाम के 7.15 बजे प्रस्थान कर दूसरे दिन 2.55 बजे दरभंगा पहुंचेगी । अप एवं डाउन में यह ट्रेन पूर्व मध्य रेल के तहत लहेरियासराय, समस्तीपुर, कर्पूरीग्राम, ढोली, मुजफ्फरपुर, मोतीपुर, मेहसी, चकिया, पिपरा, बापूधाम मोतिहारी, सगौली, बेतिया, चनपटिया, नरकटियागंज, हरिनगर, बगहा स्टेशनों पर रूकेगी।

Source : Dainik Bhaskar

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Continue Reading

BIHAR

दरभंगा एयरपोर्ट के नए सिविल एनक्लेव ने उम्मीदों को दिए पंख, आएगी आर्थिक क्रांति

Published

on

बिहार सरकार से दरभंगा एयरपोर्ट के नए सिविल एनक्लेव और रनवे विस्तार को हरी झंडी मिलने के बाद दरभंगा ( का औद्योगिक रूप से विकास होगा. साथ ही आसपास के जिलों में भी तरक्की की बयार बहेगी. इससे यहां छोटे-बड़े उद्योग-धंधे, बड़े होटल, मॉल, आवासीय टाउनशिप और कई लघु एवं कुटीर उद्योगों का सृजन होगा. नेशनल हाइवे 57 पर दरभंगा के दिल्ली मोड़ से लेकर सकरी तक सड़क के दोनों किनारों का व्यावसायिक दृष्टिकोण से कायाकल्प होना तय माना जा रहा है. इससे रोजगार के नए अवसर मिलेंगे तो जाहिर है कि दरभंगा और आसपास के कई जिलों में आर्थिक प्रगति होगी.

दरभंगा एयरपोर्ट के नए सिविल एनक्लेव निर्माण के साथ ही यहां से घरेलू विमान सेवा और अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट सर्विस की भी मांग उठने लगी है. कार्गो सेवा, एयर एंबुलेंस सेवा के शुरू होने से यहां के उत्पादों को अंतरराष्ट्रीय बाजार मिल सकेगा. एयर एंबुलेंस सेवा की शुरुआत होने और दरभंगा में एम्स की स्थापना से यह पूरा इलाका चिकित्सा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनेगा, और यहां के लोगों को बेहतर इलाज के लिए महानगरों का रूख नहीं करना पड़ेगा.

krishna-motors-muzaffarpur

कार्गो सेवा की शुरुआत होने से राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे बड़े-बड़े गोदामों का निर्माण होगा. जहानाबाद के आमस से दरभंगा को जोड़ने वाली भारतमाला प्रोजेक्ट भी सदर प्रखंड क्षेत्र के रानीपुर स्थित एनएच से जुड़ेगी. इन दो प्रोजेक्ट के आने से पूरे रानीपुर पंचायत का कायाकल्प होना तय माना जा रहा है.

कौड़ियों के दाम में बिकने वाले जमीनों के भाव काफी बढ़े

दरभंगा एयरपोर्ट के ऑपरेशनल होने से पूर्व में कौड़ियों के भाव बिकने वाली जमीन के दाम आसमान छूने लगे हैं. आलम यह है कि एनएच 57 के किनारे की जमीनों की ऊंची बोली लगने लगी है. मगर इनके मालिक इसे किसी भी कीमत पर नहीं बेचना चाहते. दिल्ली मोड़ से लेकर सकरी तक सड़क किनारे दोनों ओर के कुछ जमीन मालिकों ने तो बड़े-बड़े गोदामों का निर्माण कर इसे गति प्रदान करनी शुरू कर दी है.

बता दें कि दरभंगा एयरपोर्ट के नए सिविल एनक्लेव के लिए 78 एकड़ जमीन का अधिग्रहण होना है. इनमें 54 एकड़ में सिविल एनक्लेव का निर्माण किया जाएगा, जबकि शेष 24 एकड़ जमीन में रनवे का विस्तार होगा. इसे जिला प्रशासन की ओर से पूर्व में चिन्हित कर लिया गया है. सरकारी अमीन जमीन की मापी भी कर चुके हैं. केवल सरकार की हरी झंडी का इंतजार था जो अब पूरा हो गया है.

जानकार बताते हैं कि नया सिविल एनक्लेव महानगरों की तर्ज पर बनाया जाएगा. इंटरनेशनल एयरपोर्ट की तर्ज पर यहां सारी सहूलियतें होंगी. बताया जाता है कि नए सिविल एनक्लेव जाने के लिए इंट्री और एग्जिट के अलग-अलग रास्ते होंगे. दिल्ली मोड़ से महज 500 मीटर दूर बने एक फ्लाईओवर के पास से नए टर्मिनल में प्रवेश के लिए इंट्री का रास्ता बनाया जाएगा. इसका ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया गया है.

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Continue Reading

MUZAFFARPUR

श्री बाबू जात पात धर्म आदि के बंधन से मुक्त नेता थे : पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा

Published

on

बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री बिहार केसरी डॉक्टर श्री कृष्ण सिंह जी की जयंती पखवाड़ा का आयोजन स्पीकर चौक स्थित अटल सभागार में किया गया। पूर्व मंत्री सुरेश कुमार शर्मा समेत अन्य ने श्री बाबू के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित किया। पूर्व मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि श्री बाबू ऐसा नेता अभी तक कोई दूसरा नहीं हुआ है। श्री बाबू ने कई ऐसे अहम फैसले लिए जिससे समाज में एकजुटता और समानता आई। श्री शर्मा ने कहा कि बिहार में औद्योगीकरण का श्रेय बाबू को जाता है उनके ही कार्यकाल में बिहार में कई सारे कारखाने खुले कई ऐसी योजनाओं का शुरुआत हुआ जो कि आज तक गरीब वंचितों को लाभान्वित करते आ रही है। उन्होंने देश की आजादी के लिए अपने पत्नी की भी चिंता नहीं की जमीदारी प्रथा से लेकर दलितों का बाबा बैजनाथ मंदिर में प्रवेश खुद में एक अद्वितीय और साहसिक फैसला था। साथ ही साथ सुरेश शर्मा ने केंद्र सरकार से श्री बाबू को भारत रत्न देने की मांग की।

कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व कुलपति गोपाल जी त्रिवेदी जी नेकी साथ ही उन्होंने कहा कि श्री बाबू के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि यह होगी कि बिहार को एक अग्रणी राज्य बनाने के तरफ उनकी जो सोच थी, इसे आगे बढ़ाने का हम सब कार्य करेंगे। मुख्य अतिथि बिहार विश्वविद्यालय के कुलपति हनुमान प्रसाद पांडे जी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा श्री बाबू देश की आजादी के लिए सब कुछ निछावर कर दिए, वे एक युगपुरुष थे। पूर्व विधान पार्षद नरेंद्र प्रसाद सिंह ने श्री बाबू के कार्यों को याद करते हुए उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया। मुजफ्फरपुर के महापौर सुरेश कुमार ने कहा कि उनका उचित सम्मान यह होगा कि उनकी आदमकद प्रतिमा शहर में लगनी चाहिए साथ ही साथ उन्होंने कहा कि सिकंदरपुर मन के सौंदर्यीकरण के साथ वहीं पर इनकी आदमकद प्रतिमा लगाई जाएगी। पूर्व विधायक बेबी कुमारी जी ने कहा श्री बाबू जात के नहीं जमात के नेता थे। वहीं पूर्व विधायक केदार गुप्ता ने कहा कि ऐसे व्यक्तित्व से हम सभी को प्रेरणा लेने की जरूरत है वे समरस समाज की बात कर देते हैं। समाजसेवी नंदू बाबू ने कहा कि श्री बाबू का व्यक्तित्व इसी से पता चलता है कि सभी समाज और वर्ग के लोग इस जगह उपस्थित होकर उनको श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं वही प्रोफेसर अरुण कुमार ने कहा श्री बाबू प्रशासनिक अनुभव के साथ साथ करुणामय ह्रदय रखते थे। मंच का संचालन नीरज नयन ने किया। वहीं धन्यवाद ज्ञापन हरे राम मिश्रा ने किया। वही पंचायत चुनाव में नवनिर्वाचित सदस्यों को सम्मानित किया गया जिसमें प्रमुख रुप से अनीश शाही, अभिषेक ठाकुर, विपिन शाही , विजय कुमार चौधरी, अवधेश कुमार, भोला राम आदि सम्मिलित थे।

krishna-motors-muzaffarpur

इस अवसर पर प्रमुख रूप से पूर्व उप महापौर विवेक कुमार, पूर्वी नगर मंडल अध्यक्ष आनंद प्रकाश, पुरुषोत्तम लाल पोद्दार, विष्णु कान्त द्मा, हरेंद्र जी, अरुण शुक्ला, अजय नारायण सिन्हा, देवीलाल, प्रोफेसर राकेश, हरिमोहन चौधरी, हरिओम कुमार, संजय केजरीवाल, केपी पप्पू , संतोष साहब, कृष्णा महतो, उदय नारायण सिन्हा, निलेश वर्मा, आलोक वर्मा, संतोष रंजन, परशुराम मिश्रा, दिवाकर झा, चुन्नू ठाकुर, रवि गुप्ता, मुकेश लाल, अमन राज, संजीव कुमार आदि उपस्थित हुए।

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Continue Reading
SPORTS5 hours ago

टूट गया दशकों का रिकॉर्ड, वर्ल्डकप मुकाबले में पहली बार पाकिस्तान से हारा भारत

SPORTS5 hours ago

विश्व कप टी20 में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की शर्मनाक हार

BIHAR6 hours ago

दीवाली और छठ में बिहार आने के लिए नई ट्रेनें:कोटा और अमृतसर से चलेंगी फेस्टिवल स्पेशल

BIHAR6 hours ago

दरभंगा एयरपोर्ट के नए सिविल एनक्लेव ने उम्मीदों को दिए पंख, आएगी आर्थिक क्रांति

INDIA6 hours ago

ड्रग्स केस: नवाब मलिक की ‘धमकी’ के बाद समीर वानखेड़े ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को लिखी चिट्ठी

SPORTS9 hours ago

पाकिस्तान ने जीता टॉस, भारत की पहले बल्लेबाजी

WORLD9 hours ago

ब्रिटेन में कोरोना के बेहद संक्रामक रूप का कहर, भारत में भी मिले मरीज

MUZAFFARPUR10 hours ago

श्री बाबू जात पात धर्म आदि के बंधन से मुक्त नेता थे : पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा

INDIA11 hours ago

आर्यन को छोड़ने के लिए मांगे गए थे 25 करोड़, NCB के गवाह का एफिडेविट में दावा

SPORTS11 hours ago

IND vs PAK: टी20 वर्ल्ड कप में भारत-पाक की भिड़ंत, मशहूर ज्योतिषी ने मैच को लेकर की भविष्यवाणी

BIHAR4 weeks ago

बिहार: पिता की थी छोटी सी खैनी की दुकान, ट्यूशन पढ़ा करते थे पढ़ाई, अब UPSC में पाई दूसरी बार सफलता

BIHAR3 weeks ago

घर तक आती थी ट्रेन और निजी प्लेन, दरभंगा महराज के राज- ठाठ की कहानी –

BIHAR3 weeks ago

खुशखबरी: पटना चिड़‍ियाघर में आज से नहीं लगेगा प्रवेश शुल्‍क

BIHAR3 weeks ago

नई सौगात भागलपुर, बक्‍सर, दरभंगा, हाजीपुर और सिवान को होगा फायदा – पांच नए हाइवे का होगा ऐलान

BIHAR4 weeks ago

जल्द बंद होगा बरौनी और कांटी थर्मल पावर स्टेशन, दोनो थर्मल पावर से बिहार को मिल रही है 330 मेगावाट बिजली

BIHAR4 weeks ago

बिहार में अब बिल्कुल अलग अंदाज में मिलेगा बिजली के बकाया बिल का रिमाइंडर

BIHAR3 weeks ago

पारले जी बिस्कुट नहीं खाने से होगी अनहोनी, अफ़वाह के बाद बिस्कुट आउट ऑफ स्टॉक

BIHAR4 weeks ago

बिहार के 8 जिलों में कल से शुरू होगा बालू खनन, उचित कीमत पर मिलेगा बालू

VIRAL3 weeks ago

दिल्ली में फुटओवर ब्रिज के नीचे अटक गया एयर इंडिया का प्लेन, वीडियो हुआ वायरल

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर : नक़ली कफ़ सिरप बनाने वाली कंपनी का भंडाफोड़, कारोबारी फ़रार

Trending