बड़ा फैसला: ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने वाला आठवां राज्‍य बना बिहार

0
75
Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बिहार सरकार ने तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम को बल प्रदान करते हुए प्रदेश में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगा दिया है। सोमवार को इस सिलसिले में अधिसूचना जारी कर दी गई। ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने वाला बिहार देश का आठवां राज्य है। इससे पहले पंजाब, महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, मिजोरम, जम्मू कश्मीर एवं उत्तर प्रदेश में पाबंदी लग चुकी है। बताते चलें कि स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन की अध्यक्षता में पिछले दिनों राज्य तंबाकू नियंत्रण समन्वय समिति की बैठक में ही ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया था।

ई-सिगरेट के साथ-साथ वैसे निकोटीन युक्त उत्पाद जो ड्रग कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया के द्वारा अनुमोदित नहीं हैं, को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। राज्य औषधि नियंत्रक रवींद्र कुमार सिन्हा ने सभी औषधि निरीक्षकों को आदेश दिया है कि राज्य में ई-सिगरेट की खरीद-बिक्री (आनलाइन सहित), विज्ञापन, निर्माण, भंडारण, वितरण आदि पर पूर्ण रोक लगाते हुए इसका उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाएं।

तंबाकू नियंत्रण के क्षेत्र में सक्रिय संस्था सोशियो इकोनोमिक एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट सोसाइटी (सीड्स) के निदेशक दीपक मिश्रा ने बताया कि उल्लंघन करने वालों को तीन साल तक की सजा एवं पांज हजार रुपये तक जुर्माना हो सकता है।

जानिए, क्या है ई-सिगरेट

ई-सिगरेट या ईलेक्ट्रानिक सिगरेट ऐसा यंत्र है जो देखने में साधारण सिगरेट जैसा लगता है। इसमें एक बैटरी और एक कारट्रिज होती है। कारट्रिज में निकोटीन युक्त तरल पदार्थ होता है जो बैट्री की सहायता से गर्म होकर निकोटीन युक्त भाप देता है। उसे सिगरेट के धुएं की तरह लोग पीते हैं।

Source : Dainik Jagran

यह भी पढ़ें -» बिहार की इस बेटी ने मॉस्को में लहराया तिरंगाबनीं ‘राइजनिंग स्टार

यह भी पढ़ें -» यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिरजानिए क्यों है इतनाखास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशानकभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें -» गांधी सेतु पर ओवरटेक किया तो देना पड़ेगा 600 रुपये जुर्माना

यह भी पढ़ें -» अब बिहार के बदमाशों से निपटेगी सांसद आरसीपी सिंह की बेटी IPS लिपि सिंह

यह भी पढ़ें -» बिहार के लिए खुशखबरी : मुजफ्फरपुर में अगले वर्ष से हवाई सेवा

 

(मुज़फ़्फ़रपुर नाउ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहांक्लिक कर सकते हैंआपहमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •