Connect with us

BIHAR

बिहार में सभी वाहन सीएनजी में बदलेंगे

Santosh Chaudhary

Published

on

बिहार में एक निश्चित समय-सीमा में पेट्रोल व डीजल से चलने वाले व्यावसायिक वाहनों को चरणबद्ध तरीके से सीएनजी में बदला जाएगा।

शुरू में मालिकों को स्वेच्छा से अपने वाहन एक समय-सीमा के भीतर सीएनजी में बदलने की सलाह दी जाएगी। इसके बाद इसे अनिवार्य किया जाएगा। इसके लिए भी एक अवधि निश्चित की जाएगी। सीएनजी में बदलते ही वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर भी बदल जाएंगे। यह जानकारी राज्य के परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला ने बुधवार को पत्रकार वार्ता में दी। उन्होंने कहा कि बढ़ते प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए सीएनजीवाहनों के परिचालन को बढ़ावा दिया जाएगा।

DEMO

कैबिनेट में प्रस्ताव भेजा जाएगा : परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि व्यावसायिक वाहन चालकों को एक निश्चित अवधि दी जाएगी ताकि वे अपने वाहनों को सीएनजी में बदल सकें। विभाग इसके लिए एक विस्तृत कार्यक्रम प्रकाशित करेगा। इस समय-सीमा के अंदर सभी वाहन चालकों को अपना वाहन सीएनजी में तब्दील कराना होगा। राज्य कैबिनेट में इसका प्रस्ताव भेजा जाएगा। सीएनजी वाहन में प्रति किलोमीटर लागत पेट्रोल के वाहनों से 30-50 प्रतिशत कम होगी।

संवाददाता सम्मेलन में परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला ने किया एलान – प्रदूषण को कम करने के लिए सीएनजी वाहनों के परिचालन को दिया जा रहा है बढ़ावा

15 लाख व्यावसायिक वाहन दौड़ रहे हैं राज्यभर में

पेट्रोल और डीजल से सस्ती है सीएनजी

सीएनजी 60.60 रुपये जबकि पेट्रोल 76 रुपये प्रति लीटर है। पटना में अभी दो सीएनजी पंप रुकनपुरा व टोल प्लाजा दीदारगंज में हैं। 15 अक्टूबर तक तीन और पंप जीरो माइल, सगुना मोड व दीघा बाटा फैक्ट्री में खुल जाएंगे। पेट्रोल ऑटो में सीएनजी किट लगाने की लागत 25 हजार, पेट्रोल कार में 30 से 45 हजार, डीजल कार में 25 से 32 हजार रुपये है। सीएनजी किट के बाद लांग रूट पर पेट्रोल का विकल्प भी गाड़ी में रहेगा। सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि इलेक्ट्रिक कार व टू व्हीलर भी सड़क पर उतरेंगे जिसमें निबंधन फीस में 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी। पूरे राज्य में चालन काटने के लिए हैंड डिवाइस सिस्टम लागू किया जाएगा।

राज्य सरकार ने पेट्रोल व डीजल चालित वाहनों को सीएनजी में बदलने का फैसला लिया है। अभी वाहन मालिक स्वेच्छा से अपने वाहन को सीएनजी में बदल सकते हैं। बाद में एक समय सीमा के अंदर इन्हें सीएनजी में बदलना अनिवार्य होगा। – संतोष कुमार निराला, परिवहन मंत्री

Input : Hindustan

 

BIHAR

लालू-नीतीश के करीबी रहे नेता की भविष्यवाणी- अगला मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे नीतीश कुमार! बढ़ा सियासी बवाल

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना. बिहार में आने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly elections) के मद्देनजर हर राजनीतिक दल अपने-अपने तरीके से दावे-प्रतिदावे कर रहे हैं. वे इस बात के भी आकलन करने में लगे हैं कि किस पार्टी की क्या स्थिति रहने वाली है. इसी क्रम में बिहार के एक बड़े नेता, जो आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (RJD President Lalu Prasad Yadav) और वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) के भी करीबी माने जाते हैं, उन्होंने भविष्यवाणी की है कि बिहार का अगला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नहीं बनेंगे. इस नेता के बयान ने बिहार का सियासी तापमान इतना चढ़ा दिया कि बीजेपी और जेडीयू दोनों ही दल इनपर हमलावर हो गए.

RJD नेता ने बताई ये वजह

दरअसल RJD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी (Shivanand Tiwary) ने नीतीश कुमार को लेकर भविष्यवाणी करते हुए कहा कि आने वाले दिनों में भारतीय जनता पार्टी बिहार के मुख्यमंत्री का चेहरा बदल सकती है और सीएम नीतीश की जगह किसी और चेहरे को प्रोजेक्ट कर सकती है. इसलिए संभव है कि अगला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार न हों.

इस बात की आशंका जताने के पीछे की वजह बताते हुए शिवानंद तिवारी कहते हैं कि पिछले 15 सालों से नीतीश कुमार बतौर CM राज्य की कमान संभालते रहे हैं और उनको लेकर प्रदेश की जनता में अविश्वास भर चुका है. वहीं ये यह भी कहते हैं कि हिंदी पट्टी में बिहार ही एक ऐसा राज्य बचा है जहां सीधे तौर पर BJP सत्ता पर काबिज नहीं है. इस वजह से भी आनेवाले दिनों में BJP नीतीश कुमार की जगह किसी और को मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर सामने ला सकती है.

चढ़ा बिहार का सियासी पारा

जाहिर है आरजेडी नेता की इस भविष्वाणी पर बिहार का सियासी पारा चढ़ गया और BJP और JDU के लोग खुलकर शिवानंद तिवारी पर हमलावर हो गये. जेडीयू नेता और बिहार के सूचना एवं प्रसारण मंत्री नीरज कुमार कहते हैं कि शिवानंद तिवारी नीतीश कुमार की चिंता छोड़ें, RJD की चिंता करें. अगर वो ऐसा करेंगे तो इसका लाभ उन्हें और उनकी पार्टी दोनों को होगा.

BJP ने भी बोला हमला

वहीं, BJP के कद्दावर नेता और बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव और BJP के ही युवा विधायक नितिन नवीन ने भी शिवानंद तिवारी पर जोरदार पलटवार किया है. नंद किशोर यादव ने कहा कि शिवानंद तिवारी को अपनी ओर अपनी पार्टी की चिंता करनी चाहिए हमारे गठबंधन का वो फिक्र ना करें.

BJP विधायक नितिन नवीन ने कहा कि शिवानंद तिवारी इस तरह का बयान देकर सियासत में खोई अपनी ज़मीन को वापस पाना चाह रहे हैं, लेकिन अब उन्हें वो कामयाबी हासिल नहीं होने वाली है. राज्य की जनता ऐसे नेताओं और उनकी पार्टी से कोसों दूर हो चुकी है.

Input : News18

Continue Reading

BIHAR

नीतीश कुमार के गृह जिले में जा रही ट्रेन के यात्रियों ने स्टेशन पर लूटा खाना, लगातार भूखे रहने के बाद टूटा सब्र का बांध

Muzaffarpur Now

Published

on

train-food

रेलवे के श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से वापस लाये जा रहे मजदूरों के सब्र का बांध टूटता जा रहा है. श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को घंटों रास्ते में खडा रखा जा रहा है. ट्रेन में सवार यात्रियों को खाना-पानी देने की जिम्मेवारी राज्य सरकार की है लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिल रहा है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले बिहारशरीफ जा रही ऐसी ही एक ट्रेन के यात्रियों के सब्र का बांध सोमवार को टूट गया. नाराज यात्रियों ने स्टेशन पर उतर कर खाने-पीने का सामान लूट लिया.

भूखे प्‍यासे लोगों ने खान-पीने का सामान लूटा

स्टेशन पर उतर कर सामान लूटने का वाकया सोमवार को प्रयागराज स्टेशन पर हुआ. महाराष्ट्र के पालघाट से बिहार शरीफ के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन रवाना हुई थी. ट्रेन को रास्ते में कई जगहों पर घंटों रोका गया. भूख-प्यास से बेहाल यात्रियों ने उत्तर प्रदेश के प्रयागराज छिवकी जंक्शन पर खाद्य सामग्री के पैकेट लूट लिए. स्टेशन पर बने स्टॉल में तोड़फोड़ की और वहां से खाने पीने का सारा सामान लूट लिया. स्टेशन पर कुछ लोग अपने परिचितों को भोजन पहुंचाने आए थे उनसे भी पैकेट झपट लिया गया.

train-food

DEMO PIC

महाराष्ट्र के पालघर से बिहारशरीफ के लिए चली श्रमिक स्पेशल ट्रेन सोमवार को प्रयागराज के छिवकी स्टेशन पर प्लेटफार्म नंबर एक पर पहुंची. यात्रियों के मुताबिक ट्रेन को रास्ते में कई स्टेशनों पर घंटों बेवजह रोका गया था. कई घंटे से ट्रेन में सवार लोग भूखे प्यासे तडप रहे थे. ऐसे में जब प्रयागराज के छिक्की स्टेशन पर ट्रेन रुकी तो कुछ यात्री प्लेटफॉर्म के दूसरी तरफ उतर गए. वे रेलवे लाइन लांघकर स्टेशन की नई बिल्डिंग के पास पहुंचे. भूखे प्यासे लोगों ने वहां बंद पड़े खान पान के स्टॉल का शटर तोड़कर खाने-पीने की सभी चीजें लूट ली.  स्टेशन पर मौजूद रेलवे कर्मचारियों ने कहा कि 200 से ज्यादा यात्रियों ने देखते ही देखते साढ़े छह हजार लोगों के लिए तैयार की गयी खाद्य सामग्री लूट ली. ये खाद्य सामग्री चार श्रमिक स्पेशल से आने वालों के लिए तैयार कर रखा गया था. स्टेशन पर लूटपाट करने वालों की भीड़ इतनी ज्यादा थी कि आरपीएफ और जीआरपी ने कोई कार्रवाई नहीं की.

पंजाब में ट्रेन रद्द होने के बाद बिहारी मजदूरों का हंगामा

उधर पंजाब में बिहार जाने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन के रद्द होने के बाद नाराज मजदूरों ने हंगामा किया. दरअसल शनिवार को मोहाली रेलवे स्टेशन से बिहार के लिए विशेष ट्रेन रवाना होनी थी. पंजाब के दूसरे जिलों से मजदूरों को बस से मोहाली लाया गया था जिससे वे ट्रेन पकड सकें लेकिन शनिवार को ट्रेन रद हो गई. ट्रेन रद्द होने के बाद बिहार के मजदूर मोहाली के एक स्कूल के मैदान में डटे रहे. सोमवार को उनका आक्रोश फूट पड़ा और उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया. मजदूरों ने पत्थर चलाना शुरू कर दिया. स्थानीय थाने के एसएचओ की सरकारी गाड़ी के शीशे पर भी पत्थर मारकर तोड़ दिया गया.

पूर्णिया के लिए चली ट्रेन छपरा पहुंच गयी

उधर दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल से पूर्णिया के लिए ट्रेन रवाना हुई थी लेकिन उसका रूट डायवर्ट कर दिया गया. जिससे वो ट्रेन गया होते हुए छपरा पहुंच गयी.

Input : First Bihar

Continue Reading

MUZAFFARPUR

एक मां की गोद सूनी, दो बच्चों के सिर से छिन गया ममता का आंचल

Muzaffarpur Now

Published

on

मुजफ्फरपुर : भीषण गर्मी, कुव्यवस्था और घंटों लेट चल रहीं ट्रेनें अब प्रवासियों की जान लेने लगी हैं। मुजफ्फरपुर जंक्शन पर सोमवार को दिल्ली से लौटे पश्चिम चंपारण के एक बच्चे व कटिहार की महिला की मौत हो गई। पहली घटना में जहां एक मां की गोद सूनी हो गई वहीं दूसरी घटना में दो बच्चों के सिर से ममता का आंचल छिन गया। मृतकों में पश्चिम चंपारण के लौरिया के लंगड़ी निवासी मो. ¨पटू का पुत्र मो. इरशाद (4 वर्ष 6 माह) व कटिहार के आजमनगर थाने के आजमनगर निवासी स्व. इस्लाम की पत्नी अरबीना खातून (31 वर्ष) हैं।

इरशाद की मौत प्लेटफॉर्म संख्या एक पर हुई। जबकि, अरबीना ने सफर के दौरान मुजफ्फरपुर पहुंचने से कुछ समय पूर्व दम तोड़ दिया। रेल पुलिस ने प्लेटफॉर्म तीन पर उसका शव उतारा। इरशाद की मौत से नाराज स्वजनों ने जमकर हंगामा किया। बच्चे की मौत के लिए बदहाल व्यवस्था को जिम्मेदार ठहराते हुए घर जाने को वाहन की मांग कर रहे थे। रेल अधिकारी व डीटीओ रजनीश लाल ने उन्हें शांत करने की कोशिश की। प्लेटफॉर्म पर एंबुलेस लाया गया। लेकिन, स्वजन मुआवजे के लिए अड़ गए। एडीएम राजेश कुमार व एडीएम आपदा अतुल कुमार वर्मा मौके पर पहुंचे। स्वजनों को आश्वासन दिया। लेकिन, वे बतौर मुआवजा नकदी की मांग पर अड़े रहे। बाद में रेल पुलिस ने बयान दर्ज कर उनके जिले के लिए रवाना किया। मो. ¨पटू ने बताया कि वह परिवार और रिश्तेदारों के साथ दिल्ली के रमा बिहार में पेंट कंपनी में काम करते थे। लॉकडाउन में फंसे थे। दिल्ली में सामान बेच मकान खाली कर दिया। चार बच्चों समेत 12 लोग सीतामढ़ी जाने वाली ट्रेन से साढ़े दस बजे सुबह मुजफ्फरपुर उतरे। इसके बाद न तो बस मिली और न ही ट्रेन। बच्चे के लिए दूध की तलाश करते रहे किसी ने भी नहीं सुनी। बेटे की मौत के बाद मां जेबा खातून बदहवास दिखी। जेबा की बहन सोनी खातून अपने तीन माह के बच्चे को गर्मी से बचाने का प्रयास कर रही थी। दूसरी ओर अहमदाबाद से मुजफ्फरपुर को चली ट्रेन में कटिहार की अरबीना खातून की मौत से तीन वर्षीय रहमत व चार वर्षीय अरमान अनाथ हो गए। अरबीना के पति इस्लाम की पहले ही मौत हो चुकी है। अरबीना बहन कोहिनूर व बहनोई वजैर के साथ अहमदाबाद की स्टील फैक्ट्री में मजदूरी करती थी। शव के पास अपने एक व अरबीना के दो बच्चों के साथ कोहिनूर विलाप करती दिखी। बताया कि वह मानसिक रूप से भी बीमार थी।

कटिहार की महिला तीन दिनों से बीमार चल रही थी। ट्रेन में ही उसकी मौत हो गई। जबकि पश्चिम चंपारण के बच्चे की मौत भी बीमारी से हो गई। प्रशासन द्वारा बच्चे के शव और स्वजनों को एंबुलेंस के जरिये उनके घर भेज दिया गया है। -कमल सिंह, जिला सूचना व जनसंपर्क पदाधिकारी, मुजफ्फरपुर

ट्रेन में सरैया के प्रवासी की मौत

समस्तीपुर/मुजफ्फरपुर : हुबली से दरभंगा आ रही विशेष ट्रेन में प्रवासी की मौत हो गई। समस्तीपुर में शव उतारा गया। समस्तीपुर रेल थानाध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि स्वजन से पूछताछ में पता चला कि पेट में दर्द हुआ। मोकामा-बरौनी के बीच तबीयत बिगड़ने पर मौत हो गई। मृतक की पहचान मुजफ्फरपुर के सरैया के गोपीनाथपुर के रामनंदन राय के पुत्र ललन राय (33) के रूप में हुई।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading
INDIA11 mins ago

सोनीपत में भाजपा नेता मनोज तिवारी ने खेला क्रिकेट, सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने पर ट्रोल हुए

BIHAR18 mins ago

लालू-नीतीश के करीबी रहे नेता की भविष्यवाणी- अगला मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे नीतीश कुमार! बढ़ा सियासी बवाल

train-food
BIHAR2 hours ago

नीतीश कुमार के गृह जिले में जा रही ट्रेन के यात्रियों ने स्टेशन पर लूटा खाना, लगातार भूखे रहने के बाद टूटा सब्र का बांध

MUZAFFARPUR3 hours ago

एक मां की गोद सूनी, दो बच्चों के सिर से छिन गया ममता का आंचल

BIHAR3 hours ago

आज जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट

BIHAR15 hours ago

बिहार में तेवर दिखा रही गर्मी , मौसम विभाग का अनुमान कल पारा पहुंचेगा 44 डिग्री के पार

BIHAR15 hours ago

बिहारी मजदूरों के लिए मसीहा बने सोनू सूद की सिवान में मूर्ति लगाने की तैयारी, सोनू का जवाब सुनकर आप भी हो जायेंगे मुरीद

INDIA15 hours ago

भारत दे रहा चीन को करारा जवाब, लद्दाख में LAC पर बढ़ाई सैनिकों की संख्‍या

INDIA15 hours ago

नेपाल के प्रधानमंत्री ने कहा- भारत के कारण हमारे देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस के केस

MUZAFFARPUR16 hours ago

बुद्धम अस्पताल में इलाजरत सभी मरीजों एवं कर्मचारियों का होगा कोरोना टेस्ट

BIHAR2 weeks ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA4 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA4 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR4 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD3 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

BIHAR3 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

INDIA4 weeks ago

Lockdown Part 3- 17 मई तक जानिए क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

BIHAR3 weeks ago

बिहार के लिए हरियाणा से खुलेंगी 11 ट्रेनें, यहां देखिये गाड़ियों की पूरी लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बाहर फंसे बिहारियों की वापसी का बिहार सरकार नहीं करेगी इंतजाम, सुशील मोदी बोले- हमारे पास नहीं है संसाधन

Trending