नागपुर पुलिस ने 'लैंडर विक्रम' से पूछा- कहां हो... सिग्नल तोड़ने के लिए नहीं काटेंगे चालान
Connect with us
leaderboard image

TRENDING

नागपुर पुलिस ने ‘लैंडर विक्रम’ से पूछा- कहां हो… सिग्नल तोड़ने के लिए नहीं काटेंगे चालान

Santosh Chaudhary

Published

on

चंद्रयान- 2 के लैंडर विक्रम के साथ जल्द संपर्क साथापित होने के लिए हर भारतीय प्रार्थना कर रहा है। सोमवार को नागपुर सिटी पुलिस ने ट्विटर के माध्यम से लैंडर विक्रम के लिए एक बहुत ही प्यारा संदेश जारी किया है। संदेश में पुलिस ने विक्रिम से इसरो को सिग्नल भेजने का अनुरोध किया है। अब ये मैसेज सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है।

नागपुर पुलिस ने लैंडर विक्रम को जवाब देने का अनुरोध करते हुए आश्वासन दिया है कि पुलिस सिग्नल तोड़ने के लिए उसका चालान नहीं काटेगी। नागपुर सिटी पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से लिखा, ‘प्रिय विक्रम, कृपया जवाब दो, सिग्‍नल तोड़ने के लिए हम आपका चालान नहीं काटेंगे।’

वहीं, सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे इस मैसेज की सराहना करते हुए ज्यादातर ट्विटर यूजर्स ने नागपुर पुलिस के सेंस ऑफ ह्यूमर की तारीफ की है। पोस्ट को 7,000 से अधिक रीट्वीट और 25,000 से अधिक लाइक्स मिले हैं।

यातायात नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना
बता दें कि 1 सितंबर को संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद यातायात नियमों के उल्लंघन के लिए भारी जुर्माने का प्रावधान है। नए नियमों के लागू होने के बाद कई लोगों पर पुलिस ने 85,000 रुपये से अधिक का जुर्माना भी लगाया है।

नागपुर पुलिस की तारीफ
एक ट्विटर यूजर ने लिखा, नागपुर सही कहा आपने पुलिस, 133 करोड़ भारतीयों की उम्मीदें विक्रम से जुड़ी हुई हैं। नागपुर पुलिस आपका ट्वीट बेहतरीन है। वहीं, एक दूसरे यूजर में चुटकी लेते हुए कहा कि नागपुर पुलिस चिंता मत करिए विक्रम ने पहले से ही चालान का भुगतान करने के लिए लोन का आवेदन कर दिया है। एक ट्विटर यूजर ने नागपुर पुलिस की तारीफ करते हुए कहा, ‘ग्रेट सेंस ऑफ ह्यूमर।

चांद की सतह पर है लैंडर विक्रम
दरअसल, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का शनिवार को चांद की सतह पर लैंड करने से कुछ मिनट पहले विक्रम लैंडर से संपर्क टूट गया था। लैंडर चंद्रमा की सतह से 2.1 किमी ऊपर था जब बेंगलुरु में इसरो मुख्यालय में ग्राउंड स्टेशन के साथ इसका संपर्क टूट गया था। हालांकि, इसरो ने ऑर्बिटर द्वारा भेजी गई थर्मल इमेज के माध्यम से पता लगाया की लैंडर चांद की सतह पर ही मौजूद है।

विक्रम के पूरी तरह सुरक्षित होने पर ही संपर्क संभव
इसरो के अधिकारी का कहना है कि विक्रम के सारे अंग सुरक्षित होने पर ही उससे संपर्क हो सकेगा। इसके बगैर दोबारा संपर्क बहुत मुश्किल है। यदि उसकी सॉफ्ट लैंडिंग होती और सारे सिस्टम काम करते तो ही उससे संचार संपर्क बहाल हो सकता है, जिसकी संभावना अभी बहुत कम है। हालांकि इसरो के ही एक अन्य वैज्ञानिक ने कहा कि संपर्क बहाली की संभावना कायम है। इसरो ने पहले भी अंतरिक्ष यानों से संपर्क जोड़ा था। विक्रम का केस भी वैसा ही है।

ऑर्बिटर पर इसरो को गर्व
विक्रम से भले अभी संपर्क नहीं हो रहा है, लेकिन ऑर्बिटर पर उसे गर्व है। 2379 किलो वजनी यह यान चांद की कक्षा में चक्कर लगा रहा है। उसका तय जीवनकाल एक साल है, लेकिन उसमें मौजूद ईधन के दम पर वह लगभग सात साल काम कर सकेगा। इस ईधन की बचत चंद्रयान–2 मिशन की त्रुटि रहित, अचूक व ऊर्जा क्षम्य प्रबंधन के कारण हुई है। ऑर्बिटर के जरिए मिशन के 90 से 95 फीसदी लक्ष्य हासिल कर लिए जाएंगे और उसका चंद्र विज्ञान में अहम योगदान होगा।

Input : Dainik Jagran

 

TRENDING

अटूट आस्था : राम मंदिर के पक्ष में फैसला आने पर 27 साल बाद 81 वर्षीय महिला ने तोड़ा व्रत

Himanshu Raj

Published

on

अयोध्या मा’मले पर उच्चतम न्यायालय के फै’सले के बाद जबलपुर शहर की 81 वर्षीया महिला 27 साल बाद अ’न्न ग्र’हण करेंगी। इन वर्षों में वह केवल दूध और फलाहार के सहारे थीं। राम जन्मभूमि वि’वाद का स’माधान होने तक महिला ने अ’न्न ग्र’हण नहीं करने का सं’कल्प लिया था।

महिला के परिवार के एक सदस्य ने कहा कि अयोध्या मामले पर शनिवार को शीर्ष अदालत का फैसला आने के बाद अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो गया है। अब, उनका उपवास तोड़ने के लिए जल्द ही एक उद्यापन (व्रत आदि की समाप्ति पर किया जानेवाला धार्मिक कर्म) किया जाएगा। उपवास कर रही महिला उर्मिला चतुर्वेदी के बेटे विवेक चतुर्वेदी ने रविवार को दावा किया कि मेरी मां पिछले 27 साल से फलाहार और दूध के आहार पर थीं। अयोध्या मामले में शीर्ष अदालत के फैसले को सुनकर वह बहुत खुश हैं।

विवेक ने कहा, मेरी मां भगवान राम की अनन्य भक्त हैं और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए समाधान का इंतजार कर रही थीं। वह अयोध्या में छह दिसंबर, 1992 की घटना के बाद शुरू हुई हिंसा को लेकर काफी परेशान थीं।

इन बुजुर्ग महिला की तस्वीर जमकर लोग सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं और उन्हें इस काम के लिए धन्य मान रहे हैं

 

 

Input: Live Hindustan

 

 

Continue Reading

TRENDING

प्रदूषण पर कविता : ‘मैंने कभी चिड़िया नहीं देखी’

Santosh Chaudhary

Published

on

मैंने कभी चिड़िया नहीं देखी

अबकी बार जो आंख की पलक का बाल टूटे
उल्टी मुठ्ठी पर रख
माँगना विश कि
तुम्हारे मोबाइल की स्क्रीन से
दो हरी पत्तियाँ आजाद होकर
किसी अनाथ ज़मीन  पर टीन  की गुमटी आबाद करे

जिसके आगे तुम एक आंख वाला पानी का दीया बालना
उसे महाआरती की कोई जरूरत नहीं है

देखना ये आग गर्भवती हो
जनेगी ढेर हरे -हरे बच्चे

फिर हरे बच्चों के स्कूल फॉर्म में
तुम पिता का नाम वाले कॉलम में “जंगल” लिखना

जैसे तुम्हारा स्पर्श भी तुम्हारा व्यक्तित्व है
वैसे ही छूना
जंगल से चिड़िया के संवाद को
जो रोज़ छोटी प्रार्थनाएं कर
ईश्वर उगाने में व्यस्त है

कई बरस-बरस बाद जब  तुम्हारा बच्चा

विज्ञान की किताब में
तितली को पकड़ने की बेचैनी जिएगा

पेड़ की कहानी सुन
हिंदी की कक्षा में रोएगा

और एक दिन
चिड़िया के चित्र में मोम कलर भरते हुए चीखेगा

मैंने कभी चिड़िया नहीं देखी
तब तुम बिना बाल काढ़े घर की चप्पलों में ही
उसे काँधे पर चढ़ा
कंकरीट के शहर से
दौड़ना इन्हीं जंगलों की ओर
क्योंकि बच्चे की इस चीख से डरावना कुछ भी नहीं

गांधारी की बंधी आंखें होकर
अपने भविष्य को चबाने से अच्छा है
हमें हरी कमीज़ें पहन लेनी चाहिए

खुद को मिट्टी की किन्हीं गहरी दरारों के बीच बोकर
अब हमें पेड़ हो जाना चाहिए

 – डॉ उषा दशोरा, जयपुर

Input : Hindustan

Continue Reading

TRENDING

नकल रोकने अनोखा तरीका, छात्रों को पहना दिए कार्डबोर्ड के डिब्बे

Ravi Pratap

Published

on

परीक्षा में नकल रोकने के लिए कई तरह के कदम उठाए जाते हैं। लेकिन कर्नाटक में एक कॉलेज में नकल रोकने के लिए अनोखा ही तरीका अपनाया गया। कॉलेज ने नकल रोकने के लिए छात्रों को कार्डबोर्ड के डिब्बे पहना दिए। घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। अब कॉलेज को विरोध का सामना भी करना पड़ रहा है।

दरअसल, मामला कर्नाटक के हावेरी जिले के भगत प्री कॉलेज का है। जहां नकल रोकने के लिए छात्रों के सर पर डिब्बे पहना दिए। ये घटना 16 अक्टूबर की है। कॉलेज में परीक्षाएं चल रही छी। घटना का खुलासा कॉलेज के एक कर्मचारी के फेसबुक पोस्ट से हुआ।

फोटो वायरल होने के बाद शिक्षा विभाग ने कॉलेज को नोटिस जारी किया है। कर्नाटक के शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने नकल रोकने के लिए ऐसी व्यवस्था की निंदा की है। उन्होंने कहा कि किसी भी छात्र के साथ ऐसा बर्ताव सही नहीं है। इससे किसी और तरीके से हल किया जा सकता था।

वहीं जिस शिक्षक की ड्यूटी क्लास में लगाई गई थी। वह भी अपनी हंसी नहीं रोक पाई। परीक्षा के समय छात्र भी एक-दूसरे को देख हंस रहे थे। बता दें इससे पहले ऐसा ही मामला मैक्सिकों के टैलेक्ससला में बैचलर्स कॉलेज से आया था।

Input : Dainik Bhaskar

(हम ज्यादा दिन WhatsApp पर आपके साथ नहीं रह पाएंगे. ये सर्विस अब बंद होने वाली है. लेकिन हम आपको आगे भी नए प्लेटफॉर्म Telegram पर न्यूज अपडेट भेजते रहेंगे. इसलिए अब हमारे Telegram चैनल को सब्सक्राइब कीजिए)

Continue Reading
Advertisement
Ultraviolette F77
INDIA2 mins ago

मेड इन इंडिया इलेक्ट्रिक बाइक Ultraviolette F77 लॉन्च, मिलेगी 147 किमी की टॉप स्पीड

l.s college -muzaffarpur
MUZAFFARPUR43 mins ago

अब एलएस कॉलेज से करिए योग में पीजी डिप्लोमा

MUZAFFARPUR2 hours ago

बा’लिका गृ’ह कां’ड में साकेत को’र्ट आज सुना सकता है फै’सला

BIHAR3 hours ago

अब बिहार में छह दिनों में जन्म व मृत्यु प्रमाणपत्र

MUZAFFARPUR3 hours ago

कटरा में दु’ष्क’र्म पी’ड़िता काे नहीं मिली महिला थाने में म’दद, बच्चा है फिर भी मांगा जा रहा है ग’वाह

INDIA12 hours ago

काम की बात : फास्टैग से कर सकेंगे पार्किंग और पेट्रोल-डीजल के बिल का भुगतान

BIHAR13 hours ago

महागठबंधन व वामदलों ने निकाला आ’क्रोश मार्च, तेजस्वी नहीं हुए शामिल

MUZAFFARPUR13 hours ago

अ’पराधियों पर कहर बनकर बरसे एसएसपी जयंतकांत

INDIA13 hours ago

अमित शाह बोले- शिवसेना के साथ नहीं किया विश्वासघात, संख्या हो तो बनाएं सरकार

BIHAR13 hours ago

केबीसी के इस सीजन में पहली बार बिहार के तीन लोग एक करोड़ रुपए जीते चुके हैं

INDIA4 weeks ago

तेजस एक्सप्रेस की रेल होस्टेस को कैसे परेशान कर रहे लोग?

BIHAR3 weeks ago

27 अक्टूबर से पटना से पहली बार 57 फ्लाइट, दिल्ली के लिए 25, ट्रेनों की संख्या से भी दाेगुनी

BIHAR2 weeks ago

पंकज त्रिपाठी ने माता पिता के साथ मनाई प्री दिवाली, एक ही दिन में वापस शूटिंग पर लौटे

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के नदीम का भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम में चयन, जश्न का माहौल

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के लाल शाहबाज नदीम का क्रिकेट देखेगा पूरा विश्‍व, भारतीय टीम में शामिल होने पर पिता ने कही बड़ी बात

BIHAR2 weeks ago

मदीना पर आस्‍था तो छठी मइया पर भी यकीन, 20 साल से व्रत कर रही ये मुस्लिम महिला

BIHAR2 weeks ago

प्रत्यक्ष देवता की अनूठी अराधना का पर्व है छठ व्रत, जानें अनूठी परंपरा के बारे में कुछ खास बातें

MUZAFFARPUR3 weeks ago

धौनी ने नदीम से मिलकर कहा, गेंदबाजी एक्शन ही तुम्हारी पहचान

BIHAR4 weeks ago

अगले 10 दिनों तक भगवानपुर – घोसवर रेल मार्ग रहेगी बाधित, जाने कौन कौन सी ट्रेनें रहेंगी रद्द

RELIGION4 weeks ago

कब से शुरू हुई छठ महापर्व मनाने की परंपरा, जानिए पौराणिक बातें

Trending

0Shares