Connect with us

WORLD

लुओ ने कहा कि जिनपिंग और मोदी एक दूसरे को अहमियत देते हैं, यह दिल छूने वाला

Published

on

भारत और चीन के बीच लंबे समय से चले आ रहे उतार-चढ़ाव भरे संबंधों को सामान्य करने के लिए आम सहमति बन रही है, ताकि दोनों देश एक बार फिर स्थिरता की तरफ बढ़ सकें। यह कहना है भारत स्थित चीन के राजदूत लुओ झाओहुई का। लुओ जल्द ही अपना पद छोड़कर बीजिंग लौटने वाले हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा कि भारत और चीन के बीच तकरार बिल्कुल उसी तरह सामान्य है जैसे एक छत के नीचे रहने वाले दो भाइयों के बीच होती है।

भारत और चीन जून 2017 में डोकलाम को लेकर सीमा पर आमने-सामने थे। तब लुओ ने दोनों देशों के बीच तनाव कम करने में अहम भूमिका निभाई थी। एंबेसी के एक कार्यक्रम के दौरान लुओ ने कहा कि दोनों देश अपने रिश्ते को एक स्वस्थ और स्थिर दिशा में बढ़ाना चाहते हैं। डोकलाम विवाद को भी दोनों देशों ने नजरअंदाज नहीं किया, बल्कि साथ बैठकर उसका समाधान किया, ताकि आपसी रिश्ते सामान्य किए जा सकें। यह मेरा और दोनों देशों के नेताओं का काम था और हम इसमें सफल रहे।

Advertisement

Chinese Envoy Lue Zhaohui: Issues between India-China is like two brothers who live under the one roof

व्यस्तता के बावजूद एक-दूसरे के लिए समय निकालते हैं मोदी-जिनपिंग

लुओ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच काफी अच्छी केमिस्ट्री है। दोनों नेता पिछले पांच सालों में 17 बार मिले हैं। अपनी व्यस्तता के बावजूद वे एक दूसरे से मिलने के लिए समय निकालते हैं, यह दिल छूने वाला है। लुओ ने कहा लोकसभा चुनाव के बाद भी भारत और चीन के बीच दोस्ताना मुलाकातें जारी रहेंगी। अगले महीने एससीओ समिट और उसके बाद जी-20 समिट में परंपरा के तहत सभी नेता एक दूसरे से मिलेंगे।

Advertisement

सीमा विवाद सुलझाना बड़ा काम, लेकिन शांति बनाए रखना जरूरी

भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर लुओ ने कहा, इस तरह के मुद्दे इतिहास में छोड़े गए थे, इन्हें सुलझाने के लिए काफी समय लगेगा। लेकिन इन्हें सुलझाने के दौरान यह नहीं भूलना चाहिए कि हमें सीमा पर शांति बनाए रखनी होगी। हमें आर्थिक साझेदारी को भी मजबूत करना होगा और सभी मतभेदों को भुला कर आगे बढ़ना है।

Advertisement

Input : Dainik Bhaskar

Advertisement
Advertisement

WORLD

बाढ़ से मची तबाही पर पीएम मोदी ने जताई चिंता तो पाकिस्तानी पीएम बोले- इंशाअल्लाह…

Published

on

पाकिस्तान में बाढ़ से इस वक्त हाहाकार मचा हुआ है. हालात इस कदर बिगड़ गए हैं सरकार को राहत कार्य के लिए सेना की मदद लेने का फैसला किया है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान की स्थिति पर चिंता जताई थी जिसके बाद अब पाकिस्तान के पीएम शहबाज शरीफ ने बुधवार को अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है.भारी बारिश के कारण आई भीषण बाढ़ से पूरे पाकिस्तान में व्यापक तबाही हुई है और 1,100 से अधिक लोग मारे गए हैं जबकि 3.3 करोड़ लोगों को विस्थापित होना पड़ा है.

शहबाज शरीफ ने ट्वीट किया, मैं भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बाढ़ के कारण हुए मानवीय और भौतिक नुकसान पर शोक जताने के लिए धन्यवाद देता हूं. अपने विशिष्ट गुणों के साथ पाकिस्तान के लोग, इंशाअल्लाह, इस प्राकृतिक आपदा के प्रतिकूल प्रभावों को दूर करेंगे और अपने जीवन और समुदायों का पुनर्निर्माण करेंगे.

Advertisement

Advertisement

Advertisement

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को कहा था कि वह पाकिस्तान में बाढ़ से हुई तबाही को देखकर दुखी हैं. उन्होंने पड़ोसी देश में जल्द से जल्द सामान्य स्थिति बहाल होने की उम्मीद जताई थी.

मोदी ने ट्वीट किया था, ”पाकिस्तान में बाढ़ से हुई तबाही को देखकर दुख हुआ. हम पीड़ितों, घायलों और इस प्राकृतिक आपदा से प्रभावित सभी लोगों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हैं और जल्द ही सामान्य स्थिति बहाल होने की उम्मीद करते हैं.”

Advertisement

Advertisement

अमेरिका ने किया तीन करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने का ऐलान

वहीं दूसरी ओर अमेरिका ने बाढ़ ग्रस्त पाकिस्तान को तीन करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने की मंगलवार को घोषणा की थी. अमेरिका के विदेश एंथनी ब्लिंकन ने कहा, हम इस मुश्किल घड़ी में पाकिस्तान के साथ खड़े हैं.

Advertisement

Advertisement

उन्होंने कहा, पाकिस्तान के भयानक बाढ़ की चपेट में आने के कारण अमेरिका यूएसएआईडी के जरिए भोजन, सुरक्षित पेयजल और आश्रय जैसी महत्वपूर्ण मानवीय सहायता के लिए तीन करोड़ डॉलर प्रदान कर रहा है.

विदेश मंत्रालय के प्रधान उप प्रवक्ता वेदांत पटेल ने पत्रकारों को बताया कि बाढ़ से अनुमानित 3.3 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं और 1,100 से अधिक लोगों की जान गई है, जबकि 1,600 से अधिक लोग घायल हैं.

Advertisement

पटेल ने बताया कि यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) के साझेदार इस कोष का इस्तेमाल भोजन, पोषण, सुरक्षित पेयजल, बेहतर स्वच्छता, आश्रय सहायता आदि जरूरी मदद मुहैया कराने के लिए करेंगे. पाकिस्तान हाल के इतिहास में सर्वाधिक भीषण बाढ़ का सामना कर रहा है.

Source : TV9

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

WORLD

अमिताभ बच्चन के जबरा फैन, न्यू जर्सी में भारतीय फैमिली ने अपने घर में लगाया बिग बी का स्टैच्यू

Published

on

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन की हिंदुस्तान में तगड़ी फैन फॉलोइंग है। भारत के बाहर भी लोग उन्हें लोग उन्हें काफी प्यार करते हैं। यूएसए की एक फैमिली अमिताभ बच्चन को इतना मानती है कि उनका स्टैच्यू अपने घर के बाहर लगवाया है। अमिताभ बच्चन की इस मूर्ति को देखने काफी भीड़ जुटी। उन्होंने इसकी तस्वीरें ट्वीट की हैं। इस परिवार ने अमिताभ बच्चन के नाम की वेबसाइट बना रखी है। इसमें उनके ट्वीट्स, खबरें, पोस्ट वगैरह डालते हैं। इस परिवार के लिए बिग बी किसी आराध्य से कम नहीं हैं।

चर्चा में है सेठ फैमिली

Advertisement

अमिताभ बच्चन को यूं ही बॉलीवुड का शंहशाह नहीं कहा जाता। उनकी जरा सी तबीयत बिगड़ने पर दुआओं के लिए हजारों हाथ उठते हैं और हवन-पूजन शुरू हो जाता है। उनके घर के बाहर रविवार को भारी मात्रा में भीड़ उनकी एक झलक के लिए जुटती रही है। अब यूएसए की एक फैमिली चर्चा में है। इस परिवार ने अमिताभ बच्चन को भगवान का दर्जा दे रखा है। उन्होंने शनिवार को अपने नए घर के बाहर अमिताभ बच्चन की मूर्ति स्थापित करवाई। गोपी शेठ नाम से बने अकाउंट पर तस्वीरें शेयर करके बताया गया कि उद्घाटन में कई लोगों ने हिस्सा लिया था।

बिग बी की जमकर की तारीफ

Advertisement

पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, यह रिंकू और गोपी सेठ का घर है। यहां 600 से ज्यादा लोग उद्घाटन समारोह में इकट्ठे हुए थे। गोपी सेठ ने बताया कि अमिताभ बच्चन उनके और उनकी पत्नी के लिए भगवान से कम नहीं हैं। उन्होंने कहा, वह सिर्फ रील लाइफ ही नहीं बल्कि रियल लाइफ में भी हमें इंस्पायर करते हैं। वह बेहद जमीन से जुड़े हैं। वह अफने फैन्स का खयाल रखते हैं। वह बहुत से दूसरे स्टार्स की तरह नहीं हैं।

Source : Hindustan

Advertisement

Continue Reading

WORLD

ट्वीट करने की वजह से युवती को दी गई 34 साल कैद की सजा

Published

on

सऊदी अरब की सलमा अल-शेहबाब को 34 साल कारावास की सजा सुनाई गई है. यह सजा पूरी होने के बाद सलमा को 34 साल के ट्रैवल-बैन का भी सामना करना पड़ेगा.

सलमा अल-शेहबाब ने अपने ट्विटर अकाउंट से सऊदी महिलाओं के अधिकारों को लेकर कई ट्वीट-रीट्वीट किए थे. सलमा ने जेल में बंद एक्टिविस्‍ट Loujain al-Hathloul समेत कई अन्‍य महिला कार्यकर्ताओं की रिहाई की वकालत की थी.

Advertisement

डेली मेल के मुताबिक, सऊदी सरकार ने उन पर आरोप लगाया कि ट्विटर के माध्‍यम से सलमा लोगों के बीच अशांति पैदा करना चाहती थी, उनके ट्वीट से राष्‍ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा हुआ था. सऊदी टेरररिज्‍म कोर्ट ने उन्‍हें 34 साल जेल की सजा सुनाई.

nps-builders

सलमा के दो बच्‍चे हैं. इनमें एक की उम्र 4 साल और दूसरे की 6 साल है. पहले उनको 6 साल की सजा सुनाई गई थी. लेकिन सोमवार को उनकी सजा सऊदी टेरर‍िज्‍म कोर्ट ने बढ़ाकर 34 साल कर दी. एक बार सलमा की यह सजा पूरी हो जाएगी, इसके बाद 34 साल का ट्रैवल-बैन भी लागू किया जाएगा.

Advertisement

कोर्ट ने जब सलमा को सजा सुनाई तो उनके ट्वीट और सोशल मीडिया एक्टिविटी के बारे में भी बात की गई. सलमा ने जेल में बंद महिला कार्यकर्ताओं की रिहाई की मांग की थी, इनमें Loujain al-Hathloul प्रमुख हैं.

किन ट्वीट पर मचा बवाल

Advertisement

सलमा ने एक्टिविस्‍ट Loujain al-Hathloul की बहन लिना के ट्वीट को री-ट्वीट किया था. इस ट्वीट में लिना ने अपनी बहन Loujain al-Hathloul की रिहाई की मांग की थी. वहीं सलमा ने सऊदी से असहमति रखने वाले उन कार्यकर्ताओं के ट्वीट भी री-ट्वीट किए जो निर्वासन की जिंदगी बिता रहे हैं.

जनवरी 2021 में हुई थी गिरफ्तारी

Advertisement

सलमा की गिरफ्तारी जनवरी 2021 में सऊदी अरब में हुई थी, तब वह छुट्टियां मनाने के लिए आई हुई थीं. वह ब्रिटेन में रह रही थीं और यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स से पीएचडी कर रही थीं. सलमा शिया मुस्लिम हैं.

इस मामले में डॉ बेथने अल हैदरी का बयान भी सामने आया है. वह अमेरिका में ‘ह्यूमन राइट्स आर्गनाईजेशन’ में सऊदी केस मैनेजर हैं. डॉ अल हैदरी ने कहा सऊदी दुनिया के सामने डींगे मार रहा है कि वहां महिलाओं के हितों के लिए काम हो रहे हैं, महिलाओं की स्थिति सुधर रही है, कानूनी सुधार हो रहे हैं. लेकिन, जिस तरह सलमा को सजा सुनाई गई है, उससे एक बात स्‍पष्‍ट है कि वहां दिन-ब-दिन हालात खराब हो रहे हैं.

Advertisement

Source : Aaj Tak

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading
BIHAR14 hours ago

सोनिया गांधी ने लालू यादव-नीतीश कुमार को बतायी औकात, मात्र 20 मिनट में निपटाया : मोदी

BIHAR19 hours ago

खाकी पर दाग: बिहार पुलिस के दो जवानों ने बरेली व कोलकाता के व्यवसायी से लूटा सोना, दबोचे गए वर्दी वाले

BIHAR20 hours ago

चमत्कार‍िक माना जाता है मुंगेर का सिद्धपीठ चंडिका देवी मंदिर, नेत्रहीन को मिलती है रौशनी

BIHAR21 hours ago

बिहार के फर्जी सर्टिफिकेट से 10वीं में दाखिला, 6 राज्यों में नेटवर्क; एफआईआर दर्ज

BIHAR1 day ago

सिने अभिनेता मनोज वाजपेयी और पंकज त्रिपाठी निकाय चुनाव में ब्रांड एम्बेडसर बने

BIHAR1 day ago

विदेश में पढ़ाई के लिए भी चार लाख रुपये देगी बिहार सरकार

INDIA2 days ago

अंकिता मर्डर केस: पूर्व भाजपा नेता ने गिरफ्तार बेटे को बताया ‘सीधा साधा बालक’

DHARM2 days ago

शारदीय नवरात्रि के प्रथम दिन करें मां शैलपुत्री की आरती, प्रसन्न होंगी माता रानी

BIHAR2 days ago

बिहार में नालंदा – नवादा – शेखपुरा बन रहा साइबर अपराधियों का गढ़, करोड़ों का गबन कर रहे अपराधी

BIHAR2 days ago

तेजस्वी यादव के थावे मंदिर में चप्पल पहनकर जाने पर विवाद, बीजेपी बोली- ऐसे बनेंगे धर्मनिरपेक्ष

INDIA4 weeks ago

‘मेरे पास पापा हैं, तिरंगा अपने पास रखो!’…जयराम रमेश ने वीडियो शेयर कर अमित शाह के बेटे जय पर साधा निशाना

BIHAR4 weeks ago

बीपीएससी 67वीं प्रारंभिक परीक्षा की नई डेट घोषित, एडमिट कार्ड जल्द

BIHAR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के सरकारी स्कूल के टीचर मनोज कुमार पहुंचे केबीसी

BIHAR4 weeks ago

गोवा से बिहार आकर बेटे ने कराई पिता की हत्या, शूटर्स को दी 5 लाख की सुपारी

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर में कुत्तों ने तीन साल की मासूम को नोच-नोचकर मार डाला

BIHAR4 weeks ago

141.6 करोड़ से मुजफ्फरपुर में इथेनॉल फैक्ट्री लगेगी

INDIA4 weeks ago

इतिहास हुए नोएडा के ट्विन टॉवर्स, 3700Kg बारूद से 12 सेकेंड में जमींदोज

BIHAR4 weeks ago

बिहार में बढ़ा बाढ़ का खतरा, 16 जिलों में बारिश को लेकर मौसम विभाग का अलर्ट

BIHAR4 weeks ago

आरजेडी विधायक पर सीबीआई का शिकंजा, एलटीसी घोटाले में दोषी ठहराए गए अनिल सहनी

BIHAR4 weeks ago

बिहारी प्रतिभा का डंकाः दाई के बेटे को इंजीनियरिंग के लिए मिली 35 लाख की छात्रवृत्ति

Trending