Connect with us

WORLD

COVID-19 : पाकिस्तान में राशन सिर्फ मुस्लिमों को बांटा जा रहा, हिंदुओं से कहा- ये तुम्हारे लिए नहीं

Published

on

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में कोरोना महामारी के कारण हालात गंभीर हो गए हैं। रविवार तक यहां 1560 पॉजिटिव केस सामने आए और 14 लोगों की मौत हुई। इमरान खान सरकार प्रभावित इलाकों तक मदद पहुंचाने का प्रयास कर रही है, लेकिन सिंध प्रांत में रहने वाले अल्पसंख्यक हिंदुओं के साथ खासा भेदभाव किया जा रहा है। पिछले दिनों स्थानीय प्रशासन की ओर से कराची में लोगों को राशन और अन्य जरूरी सामान बांटा गया, लेकिन हिंदुओं को खाली हाथ लौटा दिया गया, उनसे कहा गया कि यह राहत उनके लिए नहीं बल्कि सिर्फ मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए है। सिंध में हिंदुओं की आबादी करीब 5 लाख है।

सिंध प्रांत में लॉकडाउन के दौरान फंसे मजदूरों और कामगारों के लिए राशन बांटने का जिम्मा सरकार ने प्रशासन और एनजीओ को दे रखा है। यहां करीब 3 हजार लोग मदद के लिए जुटे थे। इनकी स्वास्थ्य जांच और स्क्रीनिंग के भी कोई इंतजाम नहीं किए गए। इस लिहाल से अल्पसंख्यक आबादी में संक्रमण का खतरा बना हुआ।

मोदी से गुहार- राजस्थान के रास्ते मदद भेजें

राजनीतिक कार्यकर्ता डॉ. अमजद अयूब मिर्जा ने कहा है कि कराची शहर और सिंध प्रांत के अलग-अलग इलाकों में रहने वाले हिंदुओं के सामने खाने-पीने के सामान का गंभीर संकट खड़ा हो चुका है। वे भारत सरकार से मदद की गुहार लगा रहे हैं। उनकी मांग है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजस्थान के रास्ते सिंध के हिंदुओं के लिए राशन और अन्य जरूरी सामान भेजें।

8 हजार से ज्यादा संदिग्ध मरीज क्वारैंटाइन सेंटर में

पाकिस्तान में कोरोना से निपटने के लिए 182 क्वारैंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। यहां 8066 संदिग्ध मरीजों का इलाज और कोरोना जांच की जा रही है। रविवार को महामारी से निपटने के लिए सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने देश के अंदरूनी इलाकों में सेना तैनात करने की मंजूरी दी। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पंजाब प्रांत में 558, सिंध प्रांत में 481, खैबर पख्तूनख्वा में 188, बलूचिस्तान में 138, गिलगित बाल्टिस्तान में 116, इस्लामाबाद में 43 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 2 पॉजिटिव केस मिले हैं।

Input : Dainik Bhaskar

WORLD

दाऊद इब्राहिम के कोरोना वायरस से मौत की अटकलें, पुष्टि नहीं

Published

on

पाकिस्तान में छिपे अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाऊद इब्राहिम के कोरोना वायरस से मौत की अटकलें हैं। हालांकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। बता दें कि शुक्रवार को इंटेलिजेंस एजेंसियों के हवाले से रिपोर्ट आई थी कि दाऊद और उसकी पत्नी कोरोना पॉजिटिव हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, दाऊद और उसकी पत्नी को कराची के आर्मी हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। दाऊद के पर्सनल स्टॉफ और गार्ड्स को भी क्वारंटीन किया गया है।

 

अनीस ने कहा- दाऊद स्वस्थ
हालांकि, दाऊद इब्राहिम के कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट्स को उसके भाई अनीस इब्राहिम ने खारिज कर दिया है। अनीस ने दावा किया कि भाई समेत परिवार के सभी सदस्य स्वस्थ हैं और कोई भी अस्पताल में भर्ती नहीं है। बता दें कि अनीस इब्राहिम ही दाऊद के डी-कंपनी को चलाता है।

अनीस ही चलाता है दाऊद का बिजनेस
समाचार एजेंसी आईएएनएस के अनुसार, दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम ने एक अज्ञात जगह से फोन पर बताया कि दाऊद के परिवार के सभी सदस्य ठीक हैं। उनके परिवार में किसी को भी कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं हुआ है। अनीस यूएई के लग्जरी होटल और पाकिस्तान में बड़े कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट के अलावा ट्रांसपोर्ट का बिजनेस भी चला रहा है।

बता दें कि दाऊद इब्राहिम 1993 में हुए मुंबई बम धमाकों का मास्टरमाइंड था। इस आतंकी घटना में 13 बम धमाके हुए थे जिसमें 350 लोगों की मौत हुई थी और 1200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। 2003 में भारत सरकार ने अमेरिका से मिलकर दाऊद को ग्लोबल टेररिस्ट(वैश्विक आतंकवादी) घोषित करा दिया था।

पाकिस्तानी सेना ने दी शरण
भारतीय खुफिया एजेंसियों के डर से उसने पाकिस्तान में शरण ले रखी है। जहां कराची में पाकिस्तान आर्मी और आईएसआई उसकी सुरक्षा में तैनात है। भारत के कई बार सबूत पेश किए जाने के बाद भी पाकिस्तान ने हमेशा उसके अपने यहां होने से इनकार किया है।

पाकिस्तान में कोरोना वायरस के कारण स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। संक्रमितों के मामले में पाकिस्तान ने शुक्रवार को चीन को भी पीछे छोड़ दिया है। यहां कोरोना के मरीजों की कुल संख्या 89249 से ऊपर पहुंच गई है, जबकि 1838 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सिंध प्रांत से सामने आए हैं जहां मरीजों की संख्या 33536 हो गई है।

Input : NBT Hindi

Continue Reading

WORLD

WHO ने जारी किए मास्क पहनने के नए निर्देश, भीड़ वाले इलाकों में जरूर लगाए

Published

on

विश्व स्वास्थय संगठन ने मास्क पहनने के नियमों में बदलाव किया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने नए गाइडलाइन में बताया कि मास्क कहां पहनना चाहिए और फेस मास्क किन लोगों को पहनना चाहिए. इसके साथ ही इनकी बनावट और सामग्री क्या होना चाहिए.

वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी की नई गाइडलाइंस में कहा गया है कि लोगों को उन जगहों पर मास्क पहनना चाहिए जहां पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं किया जा सकता. नए दिशानिर्देश में जानकारी दी गई है कि फेस मास्क किन लोगों को पहनने चाहिए.

mask-up-bihar-muzaffarpur-now

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बताया कि फेस मास्क को बाजार से खरीदा जा सकता है और घर में भी बनाया जा सकता है लेकिन उसमें तीन परतें होनी चाहिए. सूत का अस्तर, पोलिएस्टर की बाहरी परत, और बीच में पोलिप्रोपायलीन की बनी ‘फिल्टर’ जैसी परत.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से कहा गया है कि देशों को अपने यहां भीड़भाड़ वाली जगहों पर मास्क पहनने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना चाहिए. साथ ही ऐसी जगहों पर भी जहां पर कम्यूनिटी ट्रांसमिशन जैसी स्थितियां हों. रेल, बस जैसी भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी मास्क का इस्तेमाल किया जा सकता है.

Input : Live Cities

Continue Reading

WORLD

चीन पर सबसे बड़ा सर्वे: 84 फीसदी लोगों ने माना चीन खराब देश

Published

on

नई दिल्‍ली. भारतीय सेना और चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के शीर्ष जनरलों की शनिवार को बैठक होने जा रही है. भारत-चीन (India-China) वार्ता से पहले Network 18 ने 4 दिन के लिए 13 भाषा की 16 वेबसाइटों और लगभग 100 सोशल मीडिया चैनलों पर एक महापोल किया. इस दौरान लगभग 31 हजार लोगों ने अपनी राय रखी.

नेटवर्क 18 के ‘चीन पर क्‍या सोचता है देश’ नाम से सबसे बड़े पोल में लगभग 70 फीसदी लोगों ने माना कि भारत चीन में सैन्‍य संघर्ष के हालात हैं. जबकि 84 फीसदी लोगों का मानना है कि चीना खराब देश है. वहीं 91 फीसदी को एलएसी पर दोनों सेनाओं के आमने सामने होने की जानकारी है. 61 फीसदी लोगों ने चीन के सामने भारत के कदम को सही माना है.

चीनी उत्‍पादों के बहिष्‍कार की उठी मांग
पोल में न्‍यूज18, मनीकंट्रोल, फ़र्स्टपोस्ट और CNBC-TV18 के ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म शामिल थे. इसमें लगभग 91 फीसदी लोगों ने राय रखी कि चीनी उत्‍पादों का बहिष्‍कार करना चाहिए. मराठी लोग ज्‍यादा इसके पक्ष में दिखे. बहिष्‍कार की राय रखने वालों में लगभग 97 फीसदी मराठी हैं.

चीनी उत्‍पादों के बहिष्‍कार पर अपनी राय रखने वालों में से 72 फीसदी लोगों ने कहा कि अगर वे इसपर कुछ कदम उठाना चाहेंगे तो कोई भी चीनी सामान नहीं खरीदेंगे. जबकि 23 फीसदी लोग चीनी सामानों की खरीद में कटौती करने को तैयार हैं. केवल 4 फीसदी का कहना है कि वे अभी भी चीनी उत्‍पाद खरीदना चाहते हैं.

चीन पर सबसे बड़ा सर्वे: 84 फीसदी लोगों ने माना चीन खराब देश

शी जिनपिंग की अपेक्षा डोनाल्‍ड ट्रंप को सबसे ज्‍यादा पसंद किया गया
पोल में शामिल 50 फीसदी लोगों ने कहा कि भारत को ताइवान को अलग देश का दर्जा देना चाहिए. पोल में करीब 90 फीसदी लोगों ने शी जिनपिंग की बजाय डोनाल्‍ड ट्रंप को तरजीह दी. सिर्फ 10 फीसदी लोगों ने शी जिनपिंग को चुना.

भारतीय समुदायों में, मलयाली और उर्दू बोलने वालों में शी जिनपिंग की रेटिंग औसत से अधिक है. दूसरी ओर मराठी और ओडिया के लोगों ने डोनाल्‍ड ट्रंप को सबसे ज्यादा पसंद किया और शी को सबसे कम. उनका औसत 98:2 का है.

भारतीय समुदायों के 94 फीसदी लोगों का मानना है कि कोरोना वायरस संकट से निपटने में चीन बेईमानी कर रहा है.

अमेरिका-चीन संघर्ष पर लोगों ने दी ये राय
अमेरिका के साथ चीन के संघर्ष के मामले में 74 फीसदी लोगों का मानना है कि भारत बीजिंग के खिलाफ दूसरे पक्ष का साथ दे. लेकिन तमिलनाडु के 51 और पंजाब के 52 फीसदी लोग चाहते हैं कि भारत को इस तरह के कदम उठाने से बचना चाहिए.

पोल में भाग लेने वाले 88 फीसदी लोग नहीं चाहते हैं कि चीनी कंपनियां भारत में 5जी के बुनियादी ढांचे का निर्माण करें. जबकि 87% भारतीय देश में और अधिक चीनी निवेश नहीं चाहते हैं.

Input : News18

Continue Reading
BIHAR2 hours ago

संभल जाओ मुज़फ़्फ़रपुर,यहाँ भी कोरोना का शतक पूरा हुआ

INDIA4 hours ago

वोटरों को सबसे अधिक याद रहा एमएस धौनी का संदेश, बिहार में बाकी आईकॉन पीछे

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर में कोरोना से पहली मौत – आज मिले दो नए पॉजिटिव मरीज

BIHAR5 hours ago

मांझी ने एक बार फिर की नीतीश की तारीफ, बोले.. आइये महागठबंधन में तेजस्वी को मना लेंगे

INDIA5 hours ago

एक मैडम ने उठाया एक करोड़ वेतन, एकसाथ 25 स्कूलों में कर रही थी नौकरी, गिरफ्तार

INDIA5 hours ago

घर बैठे मोबाइल से बनाएं किसान क्रेडिट कार्ड, ये है पूरी प्रक्रिया

MUZAFFARPUR7 hours ago

CM Nitish ने मुजफ्फरपुर SKMCH में किया PICU वार्ड का उद्घाटन, मधुबनी में मेडिकल कॉलेज का शिलान्‍यास

BIHAR7 hours ago

बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटा इलेक्शन कमीशन, सभी डीएम के साथ चल रही मीटिंग

BIHAR8 hours ago

तेजस्वी का तीखा तंज, बोले- चिराग पासवान की हालत जवानी के आडवाणी जैसी हो गयी

WORLD11 hours ago

दाऊद इब्राहिम के कोरोना वायरस से मौत की अटकलें, पुष्टि नहीं

BIHAR3 weeks ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

BIHAR4 weeks ago

बिहार के लिए हरियाणा से खुलेंगी 11 ट्रेनें, यहां देखिये गाड़ियों की पूरी लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

बिहार के 4 जिलों के लिए मौसम विभाग का अलर्ट,वर्षा-वज्रपात और ओलावृष्टि की चेतावनी

TECH4 weeks ago

ज़बरदस्त ऑफर! सिर्फ 22,999 रुपये का हुआ सैमसंग का 63 हज़ार वाला धांसू स्मार्टफोन

BIHAR3 weeks ago

बिहार में 33916 शिक्षकों की होगी बहाली, मैथ और साइंस के होंगे 11 हजार टीचर, यहां देखिये सभी विषयों की लिस्ट

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर आ रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

INDIA3 weeks ago

घरेलू उड़ानों के लिए बुकिंग शुरू, पर शर्तें लागू; जानें आपको फायदा मिलेगा या नहीं

TECH1 week ago

आ रहा नोकिया का 43 इंच का TV, जानें कितनी होगी कीमत

INDIA3 weeks ago

भारत के 700 स्टेशनों के लिए चलेगी ट्रेन, रेल मंत्रालय ने कहा- रोज चलेंगी 300 ट्रेनें

INDIA4 weeks ago

महाराष्ट्र: औरंगाबाद में मालगाड़ी ने 19 मजदूरों को कुचला, 16 की मौत, सभी पटरी पर सो रहे थे

Trending