धोनी ने कहा-क्रिकेट से रिटायरमेंट के बाद मजे नहीं, आर्मी में जाकर देश की सेवा करूंगा

0
949

एमएस धोनी टीम इंडिया का वो सितारा है, जिन्होंने भारतीय क्रिकेट को बहुत कुछ दिया है। धोनी जितने अच्छे खिलाड़ी हैं वो उतने ही अच्छे और शांत स्वाभाव के इंसान भी है। भारतीय क्रिकेट में 13 सालों का उनका अब तक का सफर बेमिसाल रहा है।

 

अब जब वो कप्‍तानी छोड़ चुके हैं, ऐसे में समय-समय पर ये कयास भी लगते रहे हैं कि धोनी क्रिकेट संन्‍यास की घोषणा कर सकते हैं। ये घोषणा जब भी हो, पर बड़ी बात ये है कि आखिर तब धोनी करेंगे क्‍या? संन्‍यास के बाद ये करेंगे धोनी : धोनी को इंडियन टेरिटोरियल आर्मी में नवंबर 2011 में लेफ्टिनेंट कर्नल का रैंक दिया गया था। जिसके बाद उन्‍होंने कहा था कि वे भविष्‍य में ये जिम्‍मेदारी निभाने को पूरी तरह से तैयार हैं। इसके जरिए उनका आर्मी में काम करने का सपना पूरा होगा।

 

बचपन से सेना में जाने का है सपना : धोनी ने टीम इंडिया को क्रिकेट के हर फॉरमेट में बुलंदियों तक पहुंचाया। लेकिन रांची का ये लड़का क्रिकेटर नहीं, कुछ और बनना चाहता था। धोनी ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि वह बचपन से ही फौजी बनना चाहते थे। वो रांची के कैंट एरिया में अक्सर घूमने चले जाते थे, लेकिन किस्मत को कुछ और मंजूर था, वो फौज के अफसर नहीं बन पाए और क्रिकेटर बन गए।

क्‍या है टेरिटोरियल आर्मी : टेरिटोरियल आर्मी नियमित सेना का ही एक हिस्सा है। उसका काम सेना को स्थिर सेवा से मुक्त करना और कुदरती आपदा जैसे हालात में प्रशासन की मदद करना है।