टीम इंडिया में मतभेद चरम पर, एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करवा रहे खिलाड़ी
Connect with us
leaderboard image

SPORTS

टीम इंडिया में मतभेद चरम पर, एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करवा रहे खिलाड़ी

Santosh Chaudhary

Published

on

भारतीय क्रिकेट टीम में दो वरिष्ठ खिलाड़ियों की लड़ाई अब चरम पर पहुंच गई है। इन दोनों के खेमे अब एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करने में जुट गए हैं। हालांकि, इससे टीम इंडिया का ही नुकसान हो रहा है। दैनिक जागरण ने ही सबसे पहले बताया था कि विश्व कप की 15 सदस्यीय टीम के चयन और उसके बाद अंतिम एकादश के चयन को लेकर टीम में मतभेद थे। अब ये मतभेद चरम पर पहुंच गए हैं और हालत यह है कि टीम के दो वरिष्ठ खिलाड़ियों से जुड़ी मैनेजमेंट एजेंसी और बीसीसीआइ में इनके गुट के लोग एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करने में जुट गए हैं।

एक दिन पहले ही यह खबर आई थी कि प्रशासकों की समिति (सीओए) ने कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से पत्नी और प्रेमिकाओं की यात्राओं का ब्यौरा मांगा, तो अब खबर आई कि एक वरिष्ठ बल्लेबाज ने विश्व कप के दौरान 15 दिन से ज्यादा पत्नी को साथ में रहने की इजाजत मांगी थी, लेकिन सीओए ने इसे सिरे से खारिज कर दिया था।

कोच और कप्तान से इजाजत लिए बिना अपनी पत्नी को साथ रखा
सीओए ने खिलाड़ियों को विश्व कप में पत्नियों और गर्लफ्रेंड को साथ में रखने के लिए सिर्फ 15 दिन की इजाजत दी थी, लेकिन एक सीनियर खिलाड़ी ने कोच और कप्तान से इजाजत लिए बिना अपनी पत्नी को विश्व कप की शुरुआत से भारतीय टीम के सेमीफाइनल में बाहर होने तक साथ में रखा। इन दोनों खिलाडि़यों का प्रबंधन अलग-अलग मैनेजमेंट कंपनियां करती हैं और उनकी तरफ से भी एक-दूसरे के खिलाफ जाने वाली खबरों को लीक किया जा रहा है, जिससे एक-दूसरे की छवि को धूमिल किया जा सके। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पदाधिकारी ने कहा कि अगर ऐसा हो रहा है तो यह टीम के लिए अच्छा नहीं है। सीनियर खिलाडि़यों को आपस में बैठकर विवाद को निपटा लेना चाहिए।

विश्व कप में परिवार के साथ में रुकने का सीनियर खिलाड़ी का निवेदन
वहीं प्रेट्र की खबर के मुताबिक टीम इंडिया के एक सीनियर खिलाड़ी ने निवेदन किया था कि उसके पत्नी और बच्ची को विश्व कप के दौरान सात सप्ताह तक साथ में रुकने दिया जाए। सीओए की बैठक में इस पर चर्चा भी हुई थी, लेकिन उस खिलाड़ी को इसकी इजाजत नहीं दी गई थी।

खिलाड़ियों के परिवार के रुकने को लेकर नियम बनाए गए थे
सीओए की 21 मई को हुई बैठक में विश्व कप में भाग लेने वाली टीम के खिलाड़ियों के परिवार के रुकने को लेकर नियम बनाए गए थे। उस मीटिंग के मिनट्स के अनुसार सिर्फ 15 दिन तक ही परिवार को खिलाडि़यों के साथ रुकने की अनुमति दी गई थी।

तय समय से ज्यादा रहने पर लेनी थी इजाजत
इसके साथ ही यह तय किया गया था कि अगर इस समय से ज्यादा कोई रहता है तो उसके लिए बीसीसीआइ प्रबंधन या फिर कोच और कप्तान से इजाजत लेनी होगी। मिनट्स में लिखा गया है कि इस तरह के मामलों को बीसीसीआइ प्रबंधन ही देखता है। इसके साथ ही बीसीसीआइ के संविधान में क्रिकेट और गैर क्रिकेट मामलों को अलग-अलग देखने की जरूरत भी बताई गई थी।

खिलाड़ी सवालों के घेरे में
बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा कि हां, वही खिलाड़ी सवालों के घेरे में है जिसके निवेदन को तीन मई को हुई बैठक में ठुकरा दिया गया था। उन्होंने विश्व कप में 15 दिन के नियम को तोड़ा है। अब सवाल यह उठता है कि क्या उन्होंने पत्नी की समय सीमा बढ़ाने पर कोच या कप्तान से इजाजत ली थी? जवाब है नहीं। इस मामले की रिपोर्ट अभी सीओए के पास जानी बाकी है।

टीम मैनेजर ने मामले को नहीं सुलझाया
सवाल यह भी उठता है कि टीम मैनेजर सुनील सुब्रमण्यम ने इस मामले को नहीं सुलझाया, जबकि यह उनके कार्य के अंतर्गत आता है। अधिकारी ने कहा कि सुनील क्या कर रहे थे? उनका कार्य टीम के ट्रेनिंग सत्र को देखना नहीं है। इसके लिए कोच कप्तान और दूसरे सहायक स्टाफ मौजूद हैं। उम्मीद है कि सीओए इस मामले को ध्यान में रखेगा और मैनेजर से रिपोर्ट मांगेगा।

Input : Dainik Jagran

SPORTS

कुमार धर्मसेना बोले- हां ‘ओवरथ्रो’ पर मैंने गलत फैसला दिया, लेकिन मुझे इसका मलाल नहीं

Santosh Chaudhary

Published

on

अंपायर कुमार धर्मसेना ने स्वीकार किया है कि विश्व कप फाइनल में ओवरथ्रो पर इंग्लैंड को छह रन देना उनकी गलती थी। लेकिन साथ ही धर्मसेना ने यह भी कहा कि इस फैसले का उन्हें कभी मलाल नहीं होगा। मार्टिन गुप्टिल का थ्रो दूसरा रन लेने की कोशिश कर रहे बेन स्टोक्स के बल्ले से टकराने के बाद सीमा रेखा के पार चला गया था। जिसके बाद धर्मसेना ने पांच की जगह इंग्लैंड के स्कोर में छह रन जोड़ने का इशारा किया था।

फाइनल में ओवरथ्रो पर हुआ था विवाद     

यह मैच बाद में टाई रहा और सुपर ओवर में भी दोनों टीमों ने समान रन बनाए। जिसके बाद इंग्लैंड को अधिक बाउंड्री लगाने के कारण विजेता घोषित किया गया जिससे न्यूजीलैंड के खिलाड़ी हैरान थे। धर्मसेना ने ‘संडे टाइम्स’ से बातचीत में कहा, ‘टीवी रीप्ले देखने के बाद लोगों के लिए टिप्पणियां करना आसान होता है। अब टीवी रीप्ले देखने के बाद मैं स्वीकार करता हूं कि फैसला करने में गलती हुई।’

‘टीवी देखने वालों के लिए टिप्पणी आसान’

धर्मसेना ने कहा, ‘लेकिन मैदान पर टीवी रीप्ले देखने की सहूलियत नहीं थी और मुझे अपने फैसले पर कभी मलाल नहीं होगा। साथ ही आईसीसी ने उस समय किए फैसले के लिए मेरी सराहना की है।’ कुमार धर्मसेना ने लेग अंपायर मराइस इरासमस से सलाह मशविरे के बाद इंग्लैंड के स्कोर में छह रन जोड़ने का फैसला किया था। इंग्लैंड को अंतिम तीन गेंद पर जीत के लिए नौ रन की दरकार थी और इसके बाद उसे दो गेंद में तीन रन चाहिए थे।

हम टीवी रीप्ले नहीं देख सकते थे: धर्मसेना        

धर्मसेना ने कहा कि नियमों के अनुसार इस घटना को लेकर तीसरे अंपायर से सलाह लेने का कोई प्रावधान नहीं था। उन्होंने कहा, ‘नियमों में इस मुद्दे को तीसरे अंपायर के पास भेजने का कोई प्रावधान नहीं था क्योंकि कोई आउट नहीं हुआ था। इसलिए मैंने संवाद प्रणाली के जरिए लेग अंपायर से सलाह ली जिसे सभी अन्य अंपायरों और मैच रैफरी ने सुना। वे टीवी रीप्ले नहीं देख सकते थे, उन सभी ने पुष्टि की कि बल्लेबाजों ने रन पूरा कर लिया है। इसके बाद मैंने अपना फैसला किया।’

Input : Hindustan

Continue Reading

SPORTS

धोनी की तुरंत संन्यास लेने की कोई योजना नहीं, उनके दोस्त ने रिटायरमेंट की अटकलों को खारिज किया

Santosh Chaudhary

Published

on

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और क्रिकेट जगत में कैप्टन कूल के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट को लेकर कयासों का बाजार गर्म है। इस बीच माही के पुराने दोस्त और उनकी स्पोर्ट्स कंपनी के मैनेजर अरुण पांडे ने कहा- अभी धोनी का रिटायर होने का कोई प्लान नहीं है। इतने बड़े खिलाड़ी के भविष्य को लेकर इस तरह के कयास लगाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

दरअसल, विश्वकप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों भारतीय क्रिकेट टीम की हार से खेल जगत में धोनी के रिटायरमेंट का मुद्दा छा गया था। पांडे का यह बयान ठीक ऐसे समय आया है, जब रविवार को भारतीय क्रिकेट टीम का चयन वेस्डइंडीज दौरे के लिए किया जाना है।

धोनी की स्पोर्ट्स कंपनी का काम संभालते हैं पांडे

रिपोर्ट के अनुसार एक बार धोनी का स्थिति स्पष्ट होने के बाद भारतीय टीम का चयन हो जाएगा। वेस्टइंडीज दौरा 3 अगस्त से शुरू होना है। माना जा रहा है कि बीसीसीआई जल्द ही एमएस से इस बारे में बात करेगी। पांडे, धोनी के साथ लंबे समय से जुड़े हुए हैं। वे उनकी स्पोर्ट्स मैनेजमेंट कंपनी का काम भी संभालते हैं।

धोनी ने आईसीसी के बड़े टूर्नामेंटों में भारत को जीत दिलाई

धोनी ने अपनी कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम को आईसीसी के बड़े टूर्नामेंटों में जीत दिलवाई। इनमें विश्वकप, टी-20 विश्वकप और चैंपियंस ट्राफी शामिल है। धोनी ने पिछली पारी सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली थी। इसमें उन्होंने 50 रन बनाए थे। इस पारी को सराहा गया था। हालांकि भारत यह मैच हार गया। मार्टिन गप्टिल के सीधे थ्रो से धोनी रन आउट हो गए थे। भारत का विश्वकप का सफर समाप्त हो गया था।

धोनी ने भारत के लिए 350 वनडे खेले

इससे पहले धोनी और रवींद्र जडेजा ने 116 रनों की साझेदारी कर भारतीय प्रशंसकों के बीच एक बार फिर उम्मीद जगाई थी। भारत इस मैच में 240 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रहा था। धोनी ने भारत के लिए 350 वनडे, 90 टेस्ट, 98 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। उन्होंने 10,773 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 50 से ज्यादा रहा। टेस्ट मैचों में धोनी ने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए हैं।

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading

SPORTS

सचिन के वर्ल्ड कप प्लेइंग XI में नहीं मिली धोनी को जगह, केन विलियमसन बने कप्तान

Santosh Chaudhary

Published

on

क्रिकेट के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने 2019 के आईसीसीस विश्वकप को लेकर चुनी गई अपनी प्लेइंग इलेवन में पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को जगह नहीं दी है. लगातार अपनी खराब बल्लेबाजी के चलते आलोचकों के निशाने पर रहने वाले महेंद्र सिंह धोनी के ऊपर से खेल जगत के दिग्गजों का भरोसा भी कम हो गया है. यही कारण है कि सचिन के प्लेइंग इलेवन में धोनी की जगह लेफ्ट आर्म स्पिनर और ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को जगह दी गई है. इंग्लैंड में खेले गए वर्ल्ड कप में महेंद्र सिंह धोनी ने सभी मैच खेले थे, जबकि जडेजा को दो मैच में ही मौका मिल सका था. सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ जडेजा की पारी ने सचिन को काफी प्रभावित किया है.

सचिन तेंदुलकर रवींद्र जडेजा की गेंदबाजी और बल्लेबाजी से इतना प्रभावित दिखाई दिए कि उन्होंने जडेजा को टीम में शामिल कर लिया. विश्वकप फाइनल में कमेंट्री कर रहे सचिन ने जडेजा को अपनी विश्वकप एकादश में शामिल किए जाने पर कहा, मैं जानता हूं कि लोग इसे लेकर मुझसे सवाल जरूर पूछेंगे, लेकिन सेमीफाइनल में उन्होंने 77 रन की जो बेहतरीन पारी खेली उसने मुझे काफी प्रभावित किया.’

World Cup, World Cup 2019, Mahendra Singh Dhoni, Virat Kohli, Cricket, Sachin Tendulkar, World Cup XI

सचिन ने अपनी प्लेइंग इलेवन में केन विलियमसन को कप्तान चुना है. इस टीम में भारत के रोहित शर्मा, विराट कोहली, रवींद्र जडेजा, जसप्रीम बुमराह और हार्दिक पांड्या को जगह दी गई है. पांचवें नबर पर बांग्लादेश के शाकिब और छठे नंबर पर इंग्लैंड के बेन स्टोक्स को जगह दी गई है.

सचिन की विश्वकप एकादश :

रोहित शर्मा, जॉनी बेयरस्टो, केन विलियमसन (कप्तान), विराट कोहली, शाकिब अल हसन, बेन स्टोक्स, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, मिशेल स्टार्क, जोफ्रा आर्चर और जसप्रीत बुमराह.

Input : News18

Continue Reading
Advertisement
MUZAFFARPUR11 hours ago

मुजफ्फरपुर कोर्ट में प्रियंका वाड्रा के खिलाफ परिवाद हुआ दायर

MUZAFFARPUR11 hours ago

मुजफ्फरपुर में नशेड़ियों ने गर्भवती महिला को जमकर पी’टा, नाजुक स्थिति में अस्पताल में चल रहा इलाज

BIHAR15 hours ago

मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के घर से AK-47 बरामद

INDIA2 days ago

धौनी ने लद्दाख में फहराया तिरंगा, सियाचीन जाकर सैनिकों के साथ बिताएंगे समय

INDIA2 days ago

स्वतंत्रता दिवस पर इस बार जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में दिखा नया माहौल

MUZAFFARPUR2 days ago

अमर शहीद केन्द्रीय कारा में मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव

MUZAFFARPUR2 days ago

मुजफ्फरपुर के सदर अस्पताल में चला हाई वोल्टेज ड्रामा

BIHAR3 days ago

नीतीश सरकार का रक्षाबंधन के मौके पर महिलाओं को खास तोहफा, सरकारी बसों में कर सकेंगी फ्री सफर

INDIA3 days ago

442 में दो केले भूल जाइए, इस होटल ने 2 बॉयल अंडा का चार्ज किया 1700 रुपये

INDIA3 days ago

पाकिस्ता’न के F-16 विमान को मा’र गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन को मिलेगा वीर चक्र

BIHAR3 weeks ago

बिहार में अब नहीं चलेगा पक’ड़़उआ ब्याह, कोर्ट ने इंजीनियर की शादी कर दी कैंसिल

INDIA3 weeks ago

UGC ने इन 23 यूनिवर्सिटी को फर्जी घोषित किया, देखें लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

मधुबनी में आसमान से गिरा पत्थर पहुंचा पटना, सीएम नीतीश ने बड़े ही करीब से देखा-परखा

INDIA3 weeks ago

राखी से ठीक एक माह पहले बहन ने भाई को दिया जिंदगी का तोहफा

INDIA3 weeks ago

साक्षी मिश्रा ने बनाया नया इंस्टा अकाउंट, खुद को बताया अभि की टाइग्रेस, भाई के लिए रक्षाबंधन की पोस्ट

BIHAR4 days ago

न्यूजीलैंड वित्त मंत्रालय में विश्लेषक बनीं मुजफ्फरपुर की बेटी शेफालिका, गांव में खुशी की लहर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

TECH4 weeks ago

सावधान! FaceApp के जरिए बुढ़ापे वाली तस्वीर बनाने से पहले 100 बार सोच लें…

MUZAFFARPUR3 weeks ago

बाल-बाल ब’चे DGP गुप्तेश्वर पाण्डेय, बस ने मारी टक्क’र

BIHAR3 weeks ago

बिहार में भी दोहराई साक्षी मिश्रा की कहानी: लव मैरिज कर जारी किया VIDEO, कहा- मुझे मेरे पापा से बचाओ

Trending

0Shares