Connect with us

INDIA

राखी से ठीक एक माह पहले बहन ने भाई को दिया जिंदगी का तोहफा

Santosh Chaudhary

Published

on

भोपाल . जाह्नवी…जी हां, मां गंगा का एक नाम यह भी है। जिस तरह मां गंगा को जीवनदायिनी कहा गया है, ठीक उसी तरह राजधानी की जाह्नवी ने एक बहन का फर्ज बखूबी निभाया है। रक्षाबंधन (15 अगस्त) से ठीक एक माह पहले अपने भाई को जिंदगी का तोहफा देने वाली जाह्नवी से जीवनदायनी तक की दास्तां बिल्कुल किसी योद्धा की तरह है।

Donated liver to save brother's life

आकृति ईकाे सिटी निवासी जाह्नवी दुबे(41) कंसल्टिंग कंपनी केपीएमजी में कार्यरत हैं। उनका मायका जबलपुर में है। उनके भाई जयेंद्र पाठक (26) को करीब 10 दिन से बुखार था। परिवार के लोग भी इस बुखार को सामान्य समझ बैठे। डॉक्टर भी बीमारी को ठीक से पकड़ नहीं पाए। मर्ज बढ़ता गया तो जयेंद्र को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। डॉक्टरों ने बताया कि जयेंद्र का लिवर 90% तक डैमेज हो चुका है। अब उनके बचने की संभावना बिल्कुल भी नहीं है। यह बात भोपाल में जाह्नवी, उनके पति प्रवीण दुबे और बेटे प्राचीश को पता चली तो सब घबरा गए।

मरीज के बचने की संभावना सिर्फ 10%, बहन का फोकस इसी पर

डॉक्टरों से बात की तो कहा गया कि मरीज के बचने की संभावना सिर्फ 10 फीसदी है। बस अब जाह्नवी का पूरा फोकस इसी 10 फीसदी पर हो गया। उन्होंने डॉक्टरों से पूछा- इस 10 फीसदी में हम क्या कर सकते हैं? डॉक्टर बोले- मरीज को तत्काल दिल्ली के मेदांता हॉस्पिटल ले जाएं और जितनी जल्दी हो सके लिवर ट्रांसप्लांट करा लें, तभी जान बच सकती है।

बहन बोली- गोद में खिलाया है, 15 साल छोटा है भाई

प्रवीण ने बताया कि 14 जुलाई को मैं, जाह्नवी और हमारा 14 वर्षीय बेटा प्राचीश जबलपुर के लिए रवाना हुए। जाह्नवी पूरे रास्ते एक ही बात कह रही थी- मैंने अपने भाई को गोद में खिलाया है, वो मुझसे 15 साल छोटा है उसे किसी कीमत पर जाने नहीं दूंगी। मैं उसे लिवर दूंगी। हम जबलपुर पहुंचे। दोपहर करीब 12:30 बजे एयर एंबुलेंस दिल्ली के लिए रवाना हो गई। जाह्नवी भी अपने भाई के साथ दिल्ली चली गई। वह जल्द भाई का लिवर ट्रांसप्लांट कराना चाहती थी। प्रवीण ने बताया कि 15 जुलाई को सुबह जाह्नवी और उनके भाई का ऑपरेशन होना था। जबलपुर से कोई फ्लाइट नहीं थी, इसलिए मैं बेटे के साथ ट्रेन से दिल्ली के लिए रवाना हुआ।

बहनोई ने भी दिया साथ, कहा- जिंदगी बचाने के लिए रिस्क मंजूर है

डॉक्टरों को जाह्नवी के ऑपरेशन की प्रक्रिया शुरू करने से पहले मेरी सहमति चाहिए थी। अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों ने मुझे फोन किया और बताया कि इस ऑपरेशन में मेरी पत्नी की जान भी जा सकती है। क्या आप इसके लिए तैयार हैं। मैंने कहा- हां, तैयार हूं। फिर डॉक्टरों ने कहा- इस सर्जरी के 13 तरह के खतरनाक रिस्क और भी हैं। डॉक्टर मुझे इसकी जानकारी देने लगे। मैंने इंकार कर दिया, कहा- ईश्वर पर मुझे पूरा विश्वास है, आप ऑपरेशन कीजिए। जाह्नवी ऑपरेशन से पहले मुझसे और बेटे से मिलना चाहती थी, लेकिन ट्रेन लेट हो गई। ऐसे में जाह्नवी ने ओटी से ही एक डॉक्टर के फोन से मुझे फोन किया और बात की। ऑपरेशन शुरू हो चुका था। मैं और मेरा बेटा करीब 1 घंटे बाद मेदांता अस्पताल पहुंचे। 13 घंटे तक अस्पताल की लॉबी में ही बैठे रहे। सोमवार रात करीब 9:30 बजे ऑपरेशन खत्म हुआ।

बेटे को पेपर दिलाने के लिए लौटना पड़ा भोपाल

दुबे ने बताया ऑपरेशन के बाद मैंने दूर से जाह्नवी को देखा, लेकिन बच्चे को अंदर जाने नहीं दिया। प्राचीश डरा-डरा था। वह मंगलवार को मां से मिल पाया। गुरुवार को प्राचीश का पेपर था इसलिए मैं बुधवार की फ्लाइट से उसके साथ भोपाल आ गया। पेपर दिलाने के बाद हम शनिवार को दिल्ली रवाना हो गए।

अब चेहरे पर सुकून

प्रवीण ने बताया कि जयेंद्र अब होश में आ चुका है। परिजनों को भी पहचान लेता है। अच्छी बात यह है कि जाह्नवी का लिवर जयेंद्र की बॉडी में काम करने लगा है। अब वो पूरी तरह खतरे से बाहर है। जाह्नवी को अभी 15 दिन तक अस्पताल में ही भर्ती रहना होगा । उसके बाद भी उसे लंबे समय तक डॉक्टरी देखभाल की जरूरत पड़ेगी। एनेस्थीसिया का असर कम होने के चलते जाह्नवी को थोड़ी तकलीफ है, लेकिन भाई की जिंदगी बचाने का सुकून उसके चेहरे पर है।

गर्व है कि जिंदादिल शख्सियत है मेरी पत्नी

प्रवीण दुबे बताते हैं कि जाह्नवी और मेरी शादी को 16 साल हो गए हैं। जब जाह्नवी ने लिवर डोनेट करने की बात कही तो मैं डर गया था। लेकिन मैंने निर्णय ले लिया था कि मुझे हर हाल में उसका साथ देना है। मुझे गर्व है कि जाह्नवी जैसी जिंदादिल शख्सियत मेरी पत्नी है।

Input : Dainik Bhaskar

INDIA

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन, दिल का दौड़ा पड़ने से हुई मौत

Muzaffarpur Now

Published

on

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन हो गया है. राजीव त्यागी की तबीयत अचानक खराब हो गई थी. उन्हें गंभीर हालत में गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था. राजीव त्यागी कांग्रेस के तेज-तर्रार प्रवक्ता थे और टीवी चैनलों पर डिबेट में प्रभावशाली तरीके से पार्टी का पक्ष रखते थे.

Image may contain: 1 person

रिपोर्ट के मुताबिक राजीव त्यागी की तबीयत आज दिन भर ठीक थी. शाम को आजतक पर वे डिबेट में शामिल हुए थे. खुद ट्वीट करके उन्होंने इसकी जानकारी भी थी. उन्होंने लिखा था कि आज शाम 5:00 बजे आज तक पर रहूंगा. शाम को 5 बजे वे आजतक पर टीवी डिबेट में शामिल भी हुए थे.

राजीव त्यागी के घर में अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और वे बेहोश हो गए. बेहोशी की हालत में उन्हें यशोदा अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

राजीव त्यागी की निधन की खबर सुनकर राजनीतिक गलियारे में गहरी शोक की लहर है. टीवी डिबेट्स में राजीव त्यागी के साथ नजर आने वाले बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने उनके निधन पर गहरा शोक जताया है.

संबित पात्रा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि कांग्रेस के प्रवक्ता मेरे मित्र राजीव त्यागी हमारे साथ नहीं है. आज 5 बजे हम दोनों साथ में आजतक पर डिबेट भी किया था. जीवन बहुत ही अनिश्चित है. अभी भी शब्द नहीं मिल रहे.”

नीचे के वीडियो में आप देख सकते हैं कि राजीव त्यागी बेंगलुरु हिंसा पर आजतक पर शाम 5 बजे के डिबेट में शामिल हुए थे.

Continue Reading

INDIA

सुशांत केस: शरद पवार बोले- CBI जांच पर आपत्ति नहीं, लेकिन हमें मुंबई पुलिस पर भरोसा

Muzaffarpur Now

Published

on

मुंबई. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्महत्या मामले में लगातार बयानबाजी की जा रही है. बीजेपी इस मामले में लगातार महाराष्ट्र सरकार को घेरने में लगी है. इस बीच एनसीपी चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) का बयान सामने आया है. शरद पवार ने बुधवार को कहा कि जिस तरीके से इस घटना को मीडिया में तवज्जो दी जा रही है वो आश्चर्यजनक है. उन्होंने कहा कि इस मामले में सीबीआई या किसी से भी जांच करवाएं, लेकिन हमें मुंबई पुलिस पर पूरा भरोसा है.

Maharashtra: Relaxations not enough to restart industries, says ...

शरद पवार (Sharad Pawar) से जब पूछा गया कि इस मामले में ठाकरे परिवार को बदनाम करने की साजिश हो रही है क्या? तो उन्होंने कहा कि हमें नहीं पता कि इसके पीछे क्या उद्देश्य है. लेकिन हमें महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस पर पिछले पचास सालों से विश्वास है, एक व्यक्ति ने आत्महत्या की तो इतना हो रहा है. दो दिन पहले सतारा में एक किसान ने कहा कि हमारे जिले में 20 किसानों ने खुदकुशी कर ली, लेकिन उस पर कोई बात नहीं कर रहा. पवार ने कहा कि किसी से भी जांच कराएं वो राज्य सरकार और सीबीआई का विषय है. हमें सीबीआई की जांच का विरोध नहीं है, लेकिन ऐसी मांग नहीं होनी चाहिए.

पार्थ पवार ने की थी CBI जांच की मांग

वहीं, पार्थ पवार के सीबीआई मांग पर उन्होंने कहा कि वह बच्चा है. वह अनुभवहीन है. गौरतलब है कि पार्थ पवार ने सोमवार को प्रदेश के गृहमंत्री अनिल देशमुख को एक पत्र सौंपा था. इस पत्र को ट्विटर पर शेयर करते हुए पार्थ पवार ने लिखा, ”सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सही जांच होनी चाहिए, यह पूरे देश, विशेषकर युवाओं की भावना है. मैंने गृहमंत्री अनिल देशमुख से राष्ट्रीय भावना को ध्यान में रखते हुए सीबीआई जांच शुरू करने का अनुरोध किया है.”

14 जून को अपने घर में मृत पाए गए थे सुशांत

गौरतलब है कि 14 जून 2020 को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अपने बांद्रा स्थित घर पर मृत पाए गए थे. उन्होंने अपने घर में पंखे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. हालांकि, पुल‍िस को उनके पास कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था. इस मामले में मुंबई पुलिस की जांच जारी है.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत अब भी गंभीर, अस्पताल ने जारी किया हेल्थ अपडेट

Muzaffarpur Now

Published

on

देश के पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) की हालत लगातार गंभीर बनी हुई है. उन्‍हें कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने के बाद अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था. जहां उनके मस्तिष्‍क की सर्जरी भी हुई है. वह दिल्‍ली स्थित सेना के अस्‍पताल में भर्ती हैं. अस्‍पताल ने बुधवार को उनका हेल्‍थ बुलेटिन जारी किया है. इसमें जानकारी दी गई है कि प्रणब मुखर्जी की हालत गंभीर है. वेंटिलेटर पर उनका इलाज चल रहा है.

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत अब भी गंभीर, अस्पताल ने जारी किया हेल्थ अपडेट

प्रणब मुखर्जी ने सोमवार को ट्वीट कर बताया कि वह कोविड-19 की जांच में संक्रमित पाए गए हैं और पिछले हफ्ते संपर्क में आने वाले लोगों से अपील की कि वे खुद पृथक-वास में चले जाएं और कोविड-19 की जांच कराएं. मुखर्जी (84) को सोमवार को दोपहर के वक्त सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था और सर्जरी से पहले उनमें कोविड-19 की भी पुष्टि हुई थी.

पूर्व राष्‍ट्रपति की बेटी शर्मिष्‍ठा मुखर्जी ने एक ट्वीट संदेश साझा किया है. इसमें उन्‍होंने कहा है, ‘पिछले साल 8 अगस्त मेरे लिए सबसे खुशी का दिन था. उस दिन मेरे पिता को भारत रत्‍न मिला था. ठीक एक साल बाद 10 अगस्त को वह गंभीर रूप से बीमार पड़ गए. भगवान वो करे जो कुछ उनके लिए सबसे अच्छा हो. भगवान उन्‍हें और जीवन के सुख और दुख सहने की शक्ति दे. मैं ईमानदारी से उनकी चिंता करने के लिए सभी का धन्यवाद करती हूं.’

Input : News18

Continue Reading
MUZAFFARPUR5 mins ago

स्वच्छता की राह पर तीन साल से कारवां बढ़ा रहे वार्ड पार्षद अजय ओझा

MUZAFFARPUR48 mins ago

मुज़फ़्फ़रपुर : सरकारी कर्मी का कार्यालय में शराब पीते फोटो हुआ वायरल

BIHAR11 hours ago

बिहार: बाढ़ पीड़ितों के लिए वरदान बनी बोट एंबुलेंस, टॉल फ्री नंबर से तत्काल पहुंचेगी मदद

BIHAR11 hours ago

पुलवामा हमले में शहीद के परिवार को शख्स ने पटना में दिया 40 लाख का फ्लैट

INDIA12 hours ago

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन, दिल का दौड़ा पड़ने से हुई मौत

BIHAR12 hours ago

बिहार पुलिस के अधिकारियों पर केस को लेकर मुंबई पुलिस कमिश्नर ने स्थिति स्पष्ट की, DGP गुप्तेश्वर पांडे बोले- कोई केस नहीं हुआ

BIHAR14 hours ago

बिहार : नंबर प्लेट को लेकर सख्त हुए नियम, अब वाहन मालिक के साथ डिलर पर भी होगा एक्शन…

INDIA14 hours ago

सुशांत केस: शरद पवार बोले- CBI जांच पर आपत्ति नहीं, लेकिन हमें मुंबई पुलिस पर भरोसा

BIHAR15 hours ago

चुनाव रोकने के लिए हाईकोर्ट जाएंगे पप्पू यादव, आयोग को 10 लाख पोस्टकार्ड भेजकर जताएंगे विरोध

INDIA15 hours ago

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत अब भी गंभीर, अस्पताल ने जारी किया हेल्थ अपडेट

BIHAR6 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 weeks ago

सलमान खान ने शेयर की किसानी करने की ऐसी तस्वीर, लोगों ने जमकर सुनाई खरीखोटी

INDIA2 days ago

बाइक पर पत्नी के अलावा अन्य को बैठाया तो कार्रवाई: हाई कोर्ट

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

BIHAR1 week ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

INDIA2 days ago

सुप्रीम कोर्ट का फैसला – पिता की प्रॉपर्टी में बेटी का हर हाल में आधा हिस्सा होगा

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR1 week ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR2 weeks ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

MUZAFFARPUR5 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

Trending