Connect with us

Suman Saurabh Rajpoot

Published

on

I just find myself happy with the simple things. Appreciating the blessings God gave me.

Advertisement

BIHAR

बिहार : 10 साल की करीना के दोनों हाथों में है सिर्फ 1 अंगूठा, पढ़-लिखकर बनना चाहती है डॉक्‍टर

Published

on

जमुई. बिहार के जमुई जिले में जन्‍म से दिव्‍यांग एक बच्‍ची की कहानी सामने आई है. छठवीं कक्षा में पढ़ने वाली 10 साल की बच्‍ची करीना के दोनों हाथ में सिर्फ 1 अंगूठा है. इसके बावजूद उसकी इच्‍छा पढ़-लिखकर डॉक्‍टर बनने की है. करीना ने बताया कि वह डॉक्‍टर बन समाज सेवा करना चाहती है, ताकि जरूरतमंदों की मदद की जा सके. परिजन बताते हैं कि करीन पढ़ने-लिखने में काफी होशियार है. तमाम शारीरिक बाधाओं के बाद भी वह आगे पढ़ना चाहती है. वह उच्‍च शिक्षा हासिल कर अपने पैरों पर खड़ा होना चाहती है.

दिव्‍यांग बच्‍ची करीना के दोनों हाथों में सिर्फ 1 अंगूठा ही है. तमाम चुनौत‍ियों के बावजूद वह पढ़-लिख कर डॉक्‍टर बनना चाहती है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

जन्म से ही दोनों हाथ में एक मात्र अंगूठे वाली जमुई की करीना दिव्यांगता को मात देकर ऊंचाइयों को छूने चल पड़ी है. 10 साल की दिव्यांग बच्‍ची पढ़ने-लिखने में होनहार है और गांव के सरकारी स्कूल में छठी क्लास में पढ़ाई कर रही है. पढ़-लिखकर डॉक्टर बनकर समाज सेवा करने की इच्छा रखने वाली करीना हर दिन स्कूल जाती है. मात्र एक अंगूठे वाली करइना लड़की खुद का भी सब काम कर लेती है. दरअसल, जन्म के साथ ही उसके दोनों हाथ खराब हैं. दोनों हाथों में मात्र बाएं हाथ में एक अंगूठा है. इसके बावजूद करीना जिंदगी की जंग जीत रही है. करीना के पिता अजय राम गाड़ी चलाकर परिवार का पालन-पोषण करते हैं.

Advertisement

बुलंद हौसले

होनहार और बुलंद हौसले वाली करीना को देख सब हैरान रह जाते हैं. एक अंगूठे वाली लड़की परेशनियों और मजबूरी को भुलाकर जिंदगी संवारने के लिए काबिल बनने में लगी है. जमुई जिले के ख़ैरा इलाके के सुदूर कागेश्वर गांव की दिव्यांग करीना के बुलंद हौसले और नेक इरादे का लोग उदाहरण देते हैं. छठवीं क्लास में पढ़ने वाली करीना शुरू से ही पढ़ने में तेज है. हर दिन स्कूल जाना, अपना काम खुद करना और घर का काम करने के साथ दूसरी लड़कियों की तरह आराम से साइकिल चलाना. करीना ये सारा काम कर दूसरों को प्रेरणा देती है.

Advertisement

Divyang Girl Kareena

करीना बोली- कोई दिक्‍कत नहीं

करीना का कहना है कि उसके हाथों में मात्र 1 अंगूठा होने से उसे कोई दिक्कत नहीं होती है. करीना ने कहा, ‘मैं पढ़ाई के साथ-साथ सारा काम कर लेती हूं. प्रतिदिन‍ि स्कूल जाती हूं. मैं पढ़-लिखकर डॉक्टर बन समाज सेवा करना चाहती हूं.’ करीना दिव्‍यांगता को पीछे छोड़ कर आगे बढ़ना चाहती है.

Advertisement

May be an image of 4 people and text that says "CONIA OLASSIO Inan ICONIC SUSHIL Kuлma CLASSES BEWTHTHE BEST TO BE THE BEST XI & XII JEE (MAIN+ADV.)/ MEDICAL TARGETING IIT-JEE/NEET 2023? START YOUR PREPARATION WITH MOST DEDICATED FACULTY TEAM OF PATNA Mentor Bh -16,150,262i (Adv.) MATHEMATICS CHEMISTRY PHYSICS BIOLOGY Dilip kumar IITian Sushil Kumar IITian Saurav Kumar Pratik Ratna (Ex-Faculty-A (B.Teh M.Tech Madras) (B.Tech, Dhanbad) CUCET Experience years Experience years Experience years ADMISSION OPEN Batch Starting From 5" JULY 2022 Call: 7903993958 8651259660 3"d Floor, Above Apple Store, Ashoka Tower, Near Lalita Hotel, East Boring Canal Road, Patna 01"

डॉक्‍टर ने दी थी हाथ काटने की सलाह

करीना की मां सुमन देवी ने बताया कि जन्म के साथ ही उनकी बेटी का दोनों हाथ में अंगुलियां नहीं थीं. बाएं हाथ का अंगूठा ही कामयाब था. सुमन बताती हैं कि तब डॉक्टर ने दोनों हाथ बीच से काटकर प्लास्टिक का हाथ लगाने की सलाह दी थी. इसके बाद हमलोगों ने सोचा कि भगवान ने जो दिया वही ठीक है और करीना को वैसे ही रहने दिया. अगर डॉक्टर ने हाथ काट देता तो वह पढ़ने-लिखने का काम कैसे करती. करीना की मां ने बताया कि उनकी बेटी होनहार है, बस सरकार उसे पढ़ने-लिखने में मदद करे, ताकि उसकी बेटी का सपना पूरा हो सके.

Advertisement

Source : News18

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

INDIA

कर्नाटक की सिनी शेट्टी ने जीता मिस इंडिया का खिताब

Published

on

देश को इस साल की अपनी मिस इंडिया मिल गई है. कर्नाटक की सिनी शेट्टी ने मिस इंडिया का खूबसूरत ताज अपने नाम कर लिया है. 31 फाइनलिस्ट को मात देकर उन्होंने ये अद्भुत मुकाम हासिल किया है. वहीं राजस्थान की रूबल शेखावत फर्स्ट रनर बनी हैं और उत्तर प्रदेश की शिनाता चौहान को सेकेंड रनर अप घोषित कर दिया गया है.

 

View this post on Instagram

 

Advertisement

A post shared by Femina Miss India (@missindiaorg)

Advertisement

हर बार की तरह इस बार भी मिस इंडिया की ये प्रतियोगिता काफी कड़ी और मजेदार रही. मुकाबला इतना कड़ा था कि 6 जजों के पैनल ने तमाम पहलुओं को ध्यान में रखते हुए एक विजेता को चुना. इस बार जजों के पैनल पर मलाइका अरोड़ा, नेहा धूपिया, डीनो मोरिया, राहुल खन्ना, रोहित गांधी और शामक डाबर शामिल रहे. इनके अलावा कई दूसरी बॉलीवुड हस्तियों ने भी इस कार्यक्रम में शिरकत की. कृति सेनन से लेकर कई दूसरी अभिनेत्रियों ने रेड कॉर्पेट पर अपना जलवा बिखेरा. नेहा धूपिया के लिए ये मौका इसलिए ज्यादा खास बन गया क्योंकि उन्हें भी मिस इंडिया का ताज जीते पूरे 20 साल हो गए. ऐसे में उनकी उस सफलता को भी कार्यक्रम के दौरान सेलिब्रेट किया गया.

इस बार का मिस इंडिया फिनाले मुंबई के जियो वर्ल्ड कन्वेंशन सेंटर में आयोजित किया गया था. बड़े स्तर पर आयोजित हुए इस प्रोग्राम में सभी कंटेस्टेंट्स ने अपनी खूबसूरती के साथ-साथ अपने हाजिर जवाब अंदाज से लोगों का दिल जीता. लेकिन इस रेस में सबसे आगे सिनी शेट्टी रहीं जिन्हें इस साल का मिस इंडिया घोषित कर दिया गया.

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

सिनी शेट्टी को लेकर बताया जा रहा है कि वे अभी Chartered Financial Analyst (CFA) का कोर्स कर रही हैं. उन्हें डांस करने का भी काफी शौक है और उन्होंने भरतनाट्यम सीख रहा है. उन्होंने चार साल की उम्र से ही डांस करना शुरू कर दिया था. 14 साल की उम्र तक तो उन्होंने कई स्टेज पर परफॉर्म भी किया. वैसे शेट्टी कर्नाटक की रहने वाली जरूर हैं, लेकिन उनका जन्म मायानगरी मुंबई में हुआ है.

Source : Aaj Tak

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

बिहार : बेटी के अंतरजातीय विवाह से नाराज पूर्व विधायक ने दी थी हत्या की सुपारी

Published

on

बेटी के अंतरजातीय विवाह से नाखुश सारण जिले के मढ़ौरा से पूर्व विधायक सुरेंद्र शर्मा ने उसकी हत्या की साजिश रच डाली। बेटी को मौत के घाट उतारने की सुपारी (ठेका) पूर्व विधायक ने बिहटा के सिकंदरपुर के रहने वाले कांट्रैक्ट किलर अभिषेक सिंह उर्फ छोटे सरकार को दी थी। हालांकि छोटे सरकार इस वारदात को अंजाम देने में विफल रहा।

एसएसपी डॉ. मानवजीत सिंह ढिल्लों की विशेष टीम ने कांट्रैक्ट किलर छोटे सरकार व उसके भाई राहुल को न्यू बाइपास से गिरफ्तार किया, जबकि पूर्व विधायक सुरेंद्र शर्मा व उनके गुर्गे ज्ञानेश्वर शर्मा को सारण से पकड़ा है। अपराधियों के पास से एक पिस्टल, एक कट्टा, एक मैग्जीन, नौ गोलियां, एक बाइक और घटना के समय पहना गया कपड़ा बरामद किया है।

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

दोहरे हत्याकांड में शामिल था अभिषेक: एसएसपी ने बताया कि अभिषेक ने बीते 31 मई को पत्रकारनगर के काली मंदिर रोड में अरवल से भाजपा के पूर्व विधायक चितरंजन शर्मा के दो भाइयों की गोली मारकर हत्या की थी। वह पांडव गिरोह के सरगना संजय सिंह का खासमखास था। अभिषेक ने संजय के इशारे पर पूर्व विधायक के सगे चाचा अभिराम शर्मा व भतीजे दिनेश शर्मा की जहानाबाद व मसौढ़ी में गोली मारकर हत्या की थी। उस पर दो दर्जन हत्या के मामले दर्ज हैं। वर्ष 2015 से जरायम की दुनिया में सक्रिय अभिषेक पहली बार पुलिस के हत्थे चढ़ा है।

nps-builders

जेपी-गंगा पथ से लौट रही थी, तभी शूटर आये : पूर्व विधायक की बेटी पति के साथ एक जुलाई की रात जेपी-गंगा पथ की सैर कर लौट रही थी। इसी बीच जैसे ही वह बोरिंग कैनाल रोड पहुंची, पीछे से बाइक सवार दो शूटरों ने ओवरटेक कर उसकी गाड़ी रोक दी।

Advertisement

पिस्टल में गोली फंस गयी: अपराधी ने पूर्व विधायक की बेटी पर गोली चलायी, पर वह पिस्टल में फंस गई। मिसफायर होता देख उसके पति सह मोबाइल दुकान के मालिक ने तेजी से गाड़ी आगे बढ़ा दी। रास्ते में गश्ती गाड़ी को दोनों ने इसकी सूचना दी।

‘तुम्हारे बाप ने तुम्हारे लिये खैरात भेजा है’

Advertisement

गाड़ी रोकने के बाद बाइक के पीछे बैठा शूटर महिला की गाड़ी के पास आया। उसने कहा – ‘नौबतपुर जाने का रास्ता किधर है’। पता पूछने की बात सुनकर जब महिला ने गाड़ी का शीशा खोला तो शूटर ने कहा- ‘तुम विधायक की बेटी हो न’। इस पर महिला ने कहा- हां। तुम्हें इससे क्या मतलब। इतना सुनने के बाद शूटर ने एकाएक पिस्टल निकाली और कहा- ‘तुम्हारे बाप ने तुम्हारे लिये खैरात भेजा है’। फिर शूटर ने महिला पर गोली चला दी।

पिता के खिलाफ दर्ज करवायी एफआईआर

Advertisement

पूर्व विधायक की बेटी एसके पुरी थाने पहुंची। जहां उसने पिता के खिलाफ केस दर्ज कराया। पहले उसकी बात पर पुलिस को भरोसा नहीं हुआ लेकिन तहकीकात के दौरान आरोप सही पाये गये। इसके बाद पुलिस ने विधायक को गिरफ्तार किया, उसके बाद कांट्रैक्ट किलर दबोचे गए।

पुलिस अभिषेक सिंह उर्फ छोटे सरकार को पकड़ने के लिये पिछले एक महीने से प्रयास कर रही थी। हमारी टीम को सूचना थी कि वह किसी घटना को अंजाम देने वाला है। पत्रकारनगर में पूर्व विधायक के सहोदर भाइयों की हत्या मामले में पुलिस उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। हमारी टीम पांडव गिरोह के सरगना संजय सिंह की तलाश में जुटी हुई है। वहीं बेटी की हत्या की सुपारी देने के मामले में पूर्व विधायक सुरेंद्र शर्मा, छोटे सरकार सहित चार को जेल भेजा जा रहा है। – डॉ. मानवजीत सिंह ढिल्लों, एसएसपी पटना

Advertisement

Source : Hindustan

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

Trending