सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर लिया बड़ा फैसला

0
135

सरकार ने ज्यादातर सभी चीजों के लिए आधार को अनिवार्य कर दिया है। अब पैन कार्ड, इनकम टैक्स आदि के लिए आधार कार्ड होना जरूरी है। इसी के चलते अब लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस को भी आधार से लिंक कराना पड़ सकता है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार जल्द ही ड्राइविंग लाइसेंस की आधार से लिंकिंग अनिवार्य कर सकती है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से सरकार और सुप्रीम कोर्ट के बीच आधार को लेकर विवाद चल रहा था जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने कुछ शर्तों के साथ इसे मंजूरी दे दी थी। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने बताया,  ‘हम जल्द ही एक कानून ला रहे हैं, जिससे ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि अभी लोग आसानी से दूसरा लाइसेंस बना लेते हैं। जिससे एक्सीडेंट करने वाले आसानी से बच निकलते हैं। लेकिन लाइसेंस के आधार से लिंक होने के बाद आप अपना नाम तो बदल सकते हैं, लेकिन बायोमीट्रिक्स नहीं। पुतलियों और अंगुलियों के निशान नहीं बदल सकते हैं।

गेम चेंजर है आधार- जेटली

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और वित्त  मंत्री अरुण जेटली ने आधार कार्ड को ‘गेम चेंजर’ बताते हुए कहा है कि इससे हर दिन 2.79 करोड़ वित्तीय लेनदेन का प्रमाणीकरण हो रहा है और इसकी क्षमता प्रतिदिन 10 करोड़ वित्तीय लेनदेन को प्रमाणित करने की है। जेटली ने एक लेख में कहा कि अब तक कुल 2579 करोड़ वित्तीय लेनदेन का प्रमाणीकरण आधार के माध्यम से हुआ। पिछले 28 माह के  दौरान करीब 122 करोड़ आधार कार्ड जारी किये गये हैं तथा 18  वर्ष के 99 प्रतिशत वयस्कों को आधार के दायरे में लाया गया है।

बिहार से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें। हर पल अपडेट रहने के लिए APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक।

Input : Dainik Bhaskar