तुलसी का पौधा है काफी फायदेमंद, जानें इसके 10 फायदे
Connect with us
leaderboard image

HEALTH

तुलसी का पौधा है काफी फायदेमंद, जानें इसके 10 फायदे

Santosh Chaudhary

Published

on

भारत में कई घरों में तुलसी का पौधा पाया जाता है। वहीं, हिन्दू परिवारों में इस पौधे की पूजा भी की जाती है। इसके पीछे की एक वजह यह भी है कि तुलसी एक औषधीय पौधा माना जाता है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। आयुर्वेद के मुताबिक तुलसी के पौधे का हर भाग आपकी सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। तुलसी की जड़, उसकी शाखाएं, पत्ती और बीज सभी का अपना-अपना महत्व है, तो आइए इस गुणकारी पौधे के स्वास्थ्यवर्धक फायदों के बारे में जानते हैं।

  • खांसी अथवा गला बैठने पर तुलसी की जड़ सुपारी की तरह चूसी जाती है।
  • श्वांस रोगों में तुलसी के पत्ते काले नमक के साथ सुपारी की तरह मुंह में रखने से आराम मिलता है।
  • तुलसी की हरी पत्तियों को आग पर सेंक कर नमक के साथ खाने से खांसी तथा गला बैठना ठीक हो जाता है।
  • तुलसी के पत्तों के साथ 4 भुनी लौंग चबाने से खांसी जाती है।
  • तुलसी के कोमल पत्तों को चबाने से खांसी और नजले से राहत मिलती है।
  • खांसी-जुकाम में – तुलसी के पत्ते, अदरक और काली मिर्च से तैयार की हुई चाय पीने से तुरंत लाभ पहुंचता है।
  • 10-12 तुलसी के पत्ते तथा 8-10 काली मिर्च के चाय बनाकर पीने से खांसी जुकाम, बुखार ठीक होता है।
  • फेफड़ों में खरखराहट की आवाज़ आने व खांसी होने पर तुलसी की सूखी पत्तियां 4 ग्राम मिश्री के साथ देते हैं।
  • काली तुलसी का स्वरस लगभग डेढ़ चम्मच काली मिर्च के साथ देने से खाँसी का वेग एकदम शान्त होता है।
  • 10 ग्राम तुलसी के रस को 5 ग्राम शहद के साथ सेवन करने से हिचकी, अस्थमा एवं श्वांस रोगों को ठीक किया जा सकता है।

 

HEALTH

मधुमेह, हृदय रोगों के साथ त्वचा और बालों के लिए भी वरदान है लहसुन

Santosh Chaudhary

Published

on

लहसुन सिर्फ आपके खाने के स्वाद को ही कई गुना बेहतर नहीं बनाता, यह आपकी खूबसूरती का साथी भी साबित हो सकता है। कैसे लहसुन से निखारें खूबसूरती, बता रही हैं रश्मि उपाध्याय

गभग हर भारतीय रसोई में मौजूद लहसुन एक ऐसी चीज है, जिसका लाभ किसी औषधि से कम नहीं है। कुछ लोग लहसुन की तीखी महक के कारण इसका इस्तेमाल नहीं करते हैं, जबकि लहसुन ढेर सारे गुणों से भरपूर होता है। आयुर्वेद में तो लहसुन के हजारों उपयोग बताये गए हैं। कई एंटीऑक्सीडेंट्स और पोषक तत्वों से भरपूर लहसुन न सिर्फ हमें मधुमेह, हृदय रोगों, पेट के संक्रमण और मौसमी बीमारियों से बचाता है, बल्कि यह हमारी त्वचा और बालों को भी सेहतमंद रखता है। हर किसी की ख्वाहिश होती है कि उसकी त्वचा निखरी हुई हो और बाल घने और मजबूत हों। पर आज के समय में प्रदूषण और खराब जीवनशैली के चलते त्वचा और बालों की सेहत का बिगड़ना भी आम  हो गया है। लहसुन को अपने ब्यूटी रुटीन का हिस्सा बनाकर आप त्वचा और बालों से जुड़ी अपनी आम परेशानियों से छुटकारा पा सकती हैं।

त्वचा में खाज-खुजली, जलन और लाल रैशेज होना आदि कुछ ऐसी समस्याएं हैं, जो लोगों को आए दिन परेशान करती हैं। अगर आप इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए दवा का उपयोग नहीं करना चाहती हैं तो लहसुन का प्रयोग कर सकती हैं। त्वचा में जहां भी आपको ऐसी समस्या हो रही है, वहां पर लहसुन की एक कली का पेस्ट बनाकर लगा लें। इसके अलावा लहसुन के पेस्ट को दूध या मलाई में मिलाकर लगाने से भी त्वचा की हर तरह की समस्या से छुटकारा मिलता है।

पिंपल्स से अगर आपको तुरंत छुटकारा चाहिए तो शायद लहसुन से बेहतर कुछ नहीं है। इसके लिए आप सफेद सिरके में लहसुन का पेस्ट डालककर उसे अच्छी तरह से मिक्स कर लें। अब इसे एक्ने पर लगाएं और 10 मिनट के बाद धो दें। इससे आपको काफी लाभ होगा। इसके अलावा एक कच्चे लहसुन की कली चबाएं और एक गिलास ठंडा पानी पी लें। इससे भी आपको काफी जल्दी आराम मिलेगा।

अगर आप एंटी र्एंजग और झुर्रियां से बचने के लिए महंगी-महंगी दवा व क्रीम लेकर थक गई हैं तो एक बार लहसुन को आजमा कर देखें। लहसुन में भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाये जाते हैं, जो कि झुर्रियों से लड़ने में मददगार होते हैं। सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ लहसुन की एक कच्ची कली नियमित रूप से खाकर भी बढ़ती उम्र में त्वचा को जवां रखा जा सकता है। इसके अलावा लहसुन के पेस्ट को किसी भी फल के रस या गुलाब जल में मिलाकर त्वचा पर लगाने से भी झुर्रियां दूर होती हैं।

लड़कियां ही नहीं, बल्कि लड़कों को भी ब्लैकहेड और वाइटहेड की समस्या होती है। लड़कियों में इस समस्या के बारे में ज्यादा पता इसलिए चलता है, क्योंकि जब वे मेकअप करती हैं तो ब्लैकहेड नाक पर उभरा हुआ नजर आता है। अगर आप सप्ताह में दो बार अपने स्क्रब में लहसुन का पेस्ट या फिर उसका रस मिलाकर स्क्रब करेंगी तो आपकी यह समस्या दूर हो जाएगी। इसके अलावा संतरे के छिलके के पाउडर में लहसुन का पेस्ट मिलाकर लगाने से भी ब्लैकहेड और वाइटहेड दूर होते हैं।

लहराते रहेंगे बाल

बालों का असमय सफेद होना आज के समय की सबसे बड़ी समस्या है। इससे बचने के लिए लहसुन के पेस्ट को जैतून के तेल में मिलाकर गर्म कर लें और जब तक धुआं न निकले, गैस बंद न करें। अब इस पेस्ट को ठंडा कर अपने बालों की जड़ों पर लगाएं। सफेद बालों की समस्या दूर हो जाएगी।

कुछ लोगों के बाल इतने कमजोर होते हैं कि हाथ लगाते ही निकल जाते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए एक कटोरी में लहसुन का रस डालें और पानी की कुछ बूंदे  मिलाकर पतला पेस्ट बना लें। अब हल्के हाथों से इस पेस्ट को बालों की जड़ों में लगाएं। एक से दो घंटे बाद ठंडे पानी से बाल धो लें। अगर बालों से लहसुन की महक आए तो बालों में नारियल तेल लगा लें।

रूसी और दोमुंहे बालों की समस्या को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। कुछ लोगों में रूसी की समस्या इतनी भयंकर होती है कि खुजली करते वक्त उनके सिर से खून तक निकल आता है। इससे बचने के लिए आप शुद्ध सरसों के तेल में लहसुन का पेस्ट मिलाकर अच्छी तरह मिक्स कर लें। अब इस मिश्रण से रात के वक्त बालों की मालिश करें और अगले दिन बाल धो दें। रूसी की समस्या दूर हो जाएगी।

अगर आपके बाल तेजी से गिर रहे हैं तो लहसुन आपके लिए वरदान साबित हो सकता है। आजकल तनाव और खराब डाइट के चलते गंजेपन की समस्या बढ़ रही है। गंजापन दूर करने के लिए 4 चम्मच लहसुन के रस में करीब 4 चम्मच पानी मिलाकर पेस्ट तैयार करें। एक दिन में दो से तीन बार इस पेस्ट को गंजेपन वाली जगह पर लगाएं। 3 से 4 महीने तक ऐसा करने से आपका गंजापन काफी हद तक दूर हो जाएगा।
 

(कैलाश इंस्टीट्यूट ऑफ नैचुरोपैथी मेंआयुर्वेदिक डॉक्टर उमाशंकर से बातचीत पर आधारित)

Input : Hindustan

Continue Reading

HEALTH

हेल्थ टिप्स: पपीते के पत्ते का जूस है गुणकारी, बारिश के मौसम में आएगा बहुत काम

Santosh Chaudhary

Published

on

बारिश के मौसम में कई तरह की बिमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। लेकिन इसमें डेंगू सबसे ज्यादा खतरनाक है। डेंगू बुखार होने पर सिर दर्द, उल्टी और आंखों में दर्द जैसी शिकायत होने लगती है। जब यह बीमारी गंभीर स्थिति में पहुंच जाती है तब पेट दर्द, मसूड़ों या नाक से रक्तस्राव, मल या मूत्र में रक्त और थकान जैसे लक्षण दिखाई देने लगते है। इस परिस्थिति में डॉक्टर को जरूर चेक करवाना चाहिए। मगर इसके साथ घरेलू उपाय भी करने चाहिए।

पपीते खाने से कई तरह की दिक्कतों का समाधान हो जाता है। पपीते के पत्ते का जूस डेंगू बुखार को ठीक करने में सहायक होता है। आइए जानते हैं पपीते का पत्ता किस तरह फायदेमंद है…

पपीते का पत्ता काफी गुणकारी होता है। इसमें विटामिन-सी और एंटीऑक्सिडेंट पाये जाते हैं, जो कि इम्यून सिस्टम को बेहतर करने में मदद करते हैं। डेंगू बुखार से परेशान व्यक्ति के अधिकांश मामले में प्लेटलेट्स डाउन हो जाती हैं ऐसी स्थिति में तो पपीते का पत्ता ब्लड प्लेटलेट्स काउंट में सुधार करने में बहुत मदद करता है।

पपीते के पत्ते को इस तरह करें इस्तेमाल –

पपीते के पत्ते को पीस कर उसका जूस निकालें। इसके बाद इसका दिन में 2-3 बार सेवन करें। यह एक बार में 2 चम्मच तक पीना चाहिए। इसके कड़वेपन को दूर करने के लिए इसमें शहद और फलों के जूस को मिलाया जा सकता है। यह डेंगू बुखार को दूर करने में मददगार साबित होगा।

 

Continue Reading

HEALTH

बारिश में इन्फेक्शन से बचने के लिए भेलपुरी नहीं, मीठा नीम खाएं

Santosh Chaudhary

Published

on

बारिश में इम्युनिटी कमजोर होने के कारण गेस्ट्रिक इंफेक्शन की संभावना बढ़ जाती है। वहीं, पानी से होने वाली बीमारियां का खतरा ज्यादा रहता है। इसलिए इस मौसम में बीमारियों से बचाव के लिए राेग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनाएं। पालक, मैथी जैसी सब्जियां खाने से बचें। इनमें बैक्टीरिया ज्यादा पनपते हैं। इससे पेट के इंफेक्शन हो सकते हैं। इसलिए इस मौसम में लौकी, टिंडा, करेला, हल्दी और मीठा नीम खाएं। यह हमें इंफेक्शन से बचाएंगे। इस मौसम में भेलपूरी और पानी पूरी खाना अवॉइड करें। कच्ची सब्जी या सलाद को हल्का स्टीम देकर खाएं। ताकि इन पर मौजूद बैक्टीरिया खत्म हो जाएं। ज्यादा मात्रा में नमक नहीं खाएं। स्पाइसी फूड अवॉइड करें। यह ब्लड सर्कुलेशन को स्टीमुलेंट करते हैं। इसके अलावा रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए हर्बल टी पिएं। इसमें जिंजर, पुदीना, काली मिर्च डालकर घर पर भी बना सकते हैं। -सुरभि पारीक, डायटीशियन, जयपुर।

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading
Advertisement
BIHAR16 mins ago

तेजस्वी का CM नीतीश से सवाल-नहीं आता था क,ख, ग, घ तो डिप्टी सीएम क्यों बनाया

BIHAR1 hour ago

पंकज त्रिपाठी ने चुराई थी मनोज वाजपेयी की चप्पल, भावुक होकर बताई वजह

TRENDING2 hours ago

लाइव शो में कुर्सी से गिरा पाक पैनललिस्ट, लोग बोले- पैरों तले खिसक गई जमीन, VIDEO Viral

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुज़फ़्फ़रपुर में फिनांसकर्मी से पि’स्टल के ब’ल पर लू’ट

MUZAFFARPUR5 hours ago

संतान की दीर्घायु, आरोग्यता व कल्याण के लिए माताएं करेंगी जीवित्पुत्रिका व्रत

MUZAFFARPUR5 hours ago

मुजफ्फरपुर के लाल साहिल बनें अमेरिकन टीवी शो ‘वर्ल्ड ऑफ डांस’ के उपविजेता

INDIA6 hours ago

तेलुगु स्टार नागार्जुन ने पी वी सिंधु को गिफ्ट की 73 लाख की BMW X5 SUV

BIHAR6 hours ago

जिस तेजस विमान से रक्षा मंत्री ने रचा इतिहास उसे उड़ा रहा था बिहार का लाल

INDIA6 hours ago

आयुष्मान भारत योजना के तहत अब रेलवे अस्पताल में भी इलाज

BIHAR7 hours ago

समस्तीपुर की बेटी अंजलि की नई उड़ान, विदेश में यूं बढ़ाया देश और बिहार का नाम

INDIA2 weeks ago

New MV Act के भारी चालान से बचा सकता है आपका स्मार्ट फोन, जानिए- कैसे

BIHAR2 weeks ago

ट्रैफिक फाइन-DL व RC नहीं दिखाने पर तत्काल नहीं कट सकता चालान, जानिए नियम

BIHAR1 week ago

UP-दिल्ली-बिहार समेत देश भर के लोगों को DL-RC में अपडेट करनी होगी ये जानकारी

Uncategorized2 weeks ago

Jio Fiber Plans हुए लॉन्च, जानें कैसे आपकी जिंदगी और घर खर्च पर पड़ेगा इसका असर

BIHAR1 week ago

KBC सीजन 11 का पहला करोड़पति बना बिहार का लाल, जहानाबाद के सनोज राज ने रचा इतिहास

BIHAR2 weeks ago

बिहार पु’लिस का आदेश – चप्पल पहनकर बाइक चलाई तो एक हजार जु’र्माना

OMG1 week ago

दिल्ली में कटा ‘भगवान राम’ का 1.41 लाख का चालान, कोर्ट में जाकर भरा

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर में पु’लिस पर ह’मला: ASI समेत 3 पुलिसकर्मी हुए ज’ख्मी

BIHAR3 weeks ago

370 इफ़ेक्ट: बिहारी लड़कों ने कश्मीरी लड़कियों से रचाई शादी, सुपौल लाते ही लग गया थाने का चक्कर

BIHAR2 weeks ago

10 दिन पहले 56 हजार में खरीदी थी स्कूटी, 42 हजार का आया चा’लान

Trending