Connect with us

INDIA

HRD मंत्री की देश के प्राइवेट स्कूलों से अपील, बोले- इस साल न बढ़ाएं बच्चों की फीस

Santosh Chaudhary

Published

on

लॉकडाउन (Lockdown) के बीच देशभर के छात्रों और अभिभावकों के लिए राहत भरी खबर आई है. केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल (Ramesh Pokhriyal) ने देशभर प्राइवेट स्कूलों से अपील की है कि वे लॉकडाउन के दौरान सालाना स्कूल फीस वृद्धि और तीन महीने की फीस एक साथ लेने के निर्णय पर पुनर्विचार करें.

पोखरियाल ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि, देश भर से कई अभिभावकों की मेरे पास शिकायत आई है कि इस संकट के समय में भी कई स्कूल अपनी सालाना फीस में बढ़ोतरी कर रहे हैं और तीन महीने की फीस एक साथ ले रहें हैं.

उन्होंने स्कूलों से कहा कि इस वैश्विक आपदा के समय मेरा सभी स्कूलों से निवेदन है की सालाना स्कूल फीस वृद्धि और तीन महीने की फीस एक साथ ना लेने पर सहानुभूति पूर्वक विचार करें.

उन्होंने एक और ट्वीट में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस महामारी के समय मानवीय मूल्यों को प्राथमिकता देने का आग्रह किया है, इस परिप्रेक्ष्य में आशा है कि सभी स्कूल अपने टीचर्स और पूरे स्टाफ को समय पर सैलरी उपलब्ध कराने की चिंता कर रहे होंगे.

उधर, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस की वजह से शिक्षा और अर्थव्यवस्था सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं. मुझे और सरकार को कई जगह से शिकायत मिल रही है कि कुछ स्कूल बढ़ा फीस ले रहे हैं. ये लोग सरकार से बिना इजाजत लिए फीस बढ़ा रहे हैं. उन्होंने साफ किया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने आदेश दिए हैं कि दिल्ली के प्राइवेट स्कूल बिना सरकार से पूछ फीस नहीं बढ़ाएंगे. उन्होंने कहा कि बच्चों से एक साथ तीन महीने की फीस नहीं वसूली जाएगी.

CBSE ने भी सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी कर कहा है कि वे स्कूल फीस और स्टाफ के वेतन भुगतान के मुद्दों को संवेदनशीलता के साथ देखें.

मुजफ्फरपुर नाउ पर सबसे पहले न्यूज़ पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिहार, मुजफ्फरपुर और देशदुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

INDIA

ग्रामीण इलाकों के लिए सरकार का मेगा प्लान तैयार, बनेंगी डेढ़ लाख किलोमीटर की नई सड़कें

Ravi Pratap

Published

on

केंद्र सरकार ने देश के ग्रामीण इलाकों में 1 लाख 50 हजार किलोमीटर नई सड़कें बनाने का मेगा प्लान तैयार कर लिया है। इसके लिए 1.30 लाख करोड़ की भारी भरकम राशि खर्च करने की योजना है। दरअसल, सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के चौथे चरण

(पीएमजीएसवाई-4) को लांच करने का रोडपैम बनाया है। फेज-4 में सरकार अगले सात साल (2027-28) में मैदानी व पहाड़ी राज्यों की ऐसी छोटी बस्तियों व गांवों में ऑल वेदर रोड कनेक्टिविटी मुहैया कराएगी, जहां अभी तक पक्की सड़कें नहीं बनी हैं। इसमें पूर्वोत्तर राज्यों सहित जम्मू-कश्मीर व लेह-लद्दाख भी शामिल है। इनकी संख्या 50 हजार से अधिक है।

‘हिन्दुस्तान’ के पास मौजूद दस्तावेजों के अनुसार, ग्रामीण विकास मंत्रालय ने 30 जुलाई को पीएमजीएसवाई-4  प्रस्ताव को नीति आयोग सहित अन्य संबंधित मंत्रालयों के पास भेज दिया है। इसमें उल्लेख है कि पीएमजीएसवाई-3 के तहत 500 से अधिक आबादी के गांवों को रोड कनेक्टिविटी से जोड़ने का 98.5 फीसदी काम पूरा हो चुका है। इसलिए अब 250 अथवा इससे कम आबादी वाले छोटे गांवों व बस्तियों को ऑल वेदर रोड से कनेक्टिविटी मुहैया कराने के लिए सरकार ने फेज-4 को लागू करने की योजना बनाई है।

दस्तावेजों के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2020-21 में पीएमजीएसवाई-4 की मंजूरी प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी, जिससे आगामी वित्तीय वर्ष 2021-22 में फेज-4 को लांच किया जा सकेगा। इसके साथ ही डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट व सड़क निर्माण का काम शुरू कर दिया जाएगा। फेज-4 योजना को 2027-28 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। फेज-4 में 48,130 बस्तियों व गांवों को ऑल वेदर रोड से जोड़ा जाएगा, जहां अभी तक पक्की सड़कें नहीं बनी हैं। इसके अलावा फेज-3 में भूमि अथवा पर्यावरण मंजूरी के अभाव में छूट गईं 2158 बस्तियों को फेज-4 में शामिल किया जाएगा। इस प्रकार 50 हजार बस्तियों को ऑल वेदर रोड से जोड़ने के लिए 1 लाख 50 हजार किलोमीटर नई सड़कें बनाई जाएंगी।

30 हजार किलोमीटर सड़कों के पुनरुद्धार की योजना

फेज-4 में वर्ष 2000 में पीएमजीएसवाई के तहत बनी 30 हजार किलोमीटर सड़कें व पुलों के जीर्णोद्धार करने की योजना है। दस साल में उक्त सड़कें व पुल जर्जर हो चुके हैं। बस्तियों-गांवों तक विशेषकर पहाड़ी क्षेत्रों में रोड कनेक्टिविटी बनाए रखने के लिए मरम्मत कार्य जरूरी है। इस प्रकार फेज-4 में 1.80 लाख किलोमीटर सड़कें बनेंगी। मैदानी राज्यों में केंद्र सरकार 60 फीसदी व राज्य सरकार को 40 फीसदी धन खर्च करना होगा। पूर्वोत्तर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में केंद्र 90 फीसदी व 10 फीसदी राज्य खर्च करेंगे। जम्मू-कश्मीर व लेह लद्दाख में केंद्र 100 फीसदी पैसा खर्च करेगा।

यूपी में 3136 किलोमीटर नई सड़कें बनेंगी

फेज-4 के तहत यूपी में 3136 किलोमीटर नई सड़कें बनेंगी। उत्तराखंड में 67 किलोमीटर, बिहार में 16032 किलोमीटर, झारखंड में 1916 किलोमीटर, अरुणाचल में 32 किलोमीटर, अमस में 11,576 किलोमीटर, जम्मू-कश्मीर में 185 किलोमीटर सड़कें बनेंगी।

Input : Live Hindustan

Continue Reading

INDIA

रिया चक्रवर्ती के सपोर्ट में उतरीं स्वरा भास्कर, सुप्रीम कोर्ट से लगाई आस

Muzaffarpur Now

Published

on

मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) में आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं. इस केस में सुशांत के पिता केके सिंह ने जब से रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) पर कई आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज करवाई है, तब से रिया से पुलिस और ईडी की पूछताछ चल रही है. वहीं दूसरी तरफ उनकी निजी और प्रोफेश्नल लाइफ से जुड़े कई चौंकाने वाली बातें भी सामने आ रही हैं. वहीं अब रिया चक्रवर्ती के सपोर्ट में एक्ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) उतर आई हैं. उन्होंने रिया को लेकर फैल रही खबरों पर चिंता जाहिर की है और इसके साथ ही इस मामले में सुप्रीम कोर्ट से अपील भी कर डाली है.

दरअसल, हर मुद्दे पर सोशल मीडिया के जरिए अपनी राय रखने वाली एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने रिया चक्रवर्ती द्वारा गलत मीडिया ट्रायल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने को लेकर एक न्यूज आर्टिकल शेयर किया है. इसके साथ ही रिया चक्रवर्ती के सपोर्ट में बोलते हुए स्वरा ने एक ट्वीट पोस्ट किया है. इस पोस्ट में उन्होंने लिखा- ‘रिया एक अजीबो-ग़रीब और ख़तरनाक मीडिया ट्रायल का शिकार हो रही हैं, जिसकी अगुवाई एक भीड़तंत्र से हो रही है. उम्मीद करती हूं कि सम्माननीय सुप्रीम कोर्ट इस पर ध्यान देगी और फ़र्ज़ी न्यूज़ फैलाने वालों और साजिशों की कहानियां बनाने वालों पर रोक लगेगी. कानून को तय करने दीजिए’.

स्वरा के इस ट्वीट पर उन्हें ताबड़तोड़ प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं. कई लोगों ने स्वरा की बात के विरोध में ट्वीट कर उन्हें ट्रोल कर दिया है तो उनके सपोर्ट में भी लोग बोलते नजर आ रहे हैं. वहीं स्वरा के अलावा बीते दिनों अभिनेता आयुष्मान खुराना ने भी रिया का सपोर्ट किया था. जिसके बाद वो ट्रोलर्स का निशाना बन गए थे.

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच अब सीबीआई और ईडी कर रही है. इस बीच रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी कि उनका केस बिहार से मुंबई ट्रांसफर किया जाए. इस याचिका पर एक बार सुनवाई हो चुकी है और अब अगली 11 अगस्त को अगली सुनवाई होनी है. लेकिन सुनवाई के दौरान सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने मुंबई पुलिस पर आंखों में धूल झोंकने और जांच में रिया चक्रवर्ती को बचाने का आरोप लगाया.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

वेंटिलेटर सपोर्ट पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

Ravi Pratap

Published

on

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पीटल में सफलतापूर्वक ब्रेन सर्जरी हुई है और वह वेंटिलेचर पर है। उनकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सोमवार की सुबह उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। नियमत चेक-अप के दौरान उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

मुखर्जी ने सोमवार की दोपहर को ट्वीट कर कहा, “अस्पताल में एक अलग जांच के लिए जाने के दौरान आज मेरा कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आया है। मैं उन लोगों से अनुरोध करता हूं कि जो पिछले हफ्ते में जो भी मेरे संपर्क में आए हैं वे खुद को आइसोलेट कर लें और कोविड-19 का टेस्ट करवा लें। अधिकारियों ने बताया कि पूर्व राष्ट्रपति की सफलतापूर्वक ब्रेन सर्जरी हुई है।”

साल 2012 से लेकर 2017 तक राष्ट्रपति रहे प्रणब मुखर्जी ने कोविड-19 केस बढ़ने के बाद लोगों के साथ मिलना-जुलना कम कर दिया था। उनके राजाजी मार्ग स्थित आवास पर उन्होंने सभी तरह की सभाओं पर रोक लगा दी थी और सिर्फ कुछ ही लोगों से मिलते थे।

अधिकारियों के मुताबिक, अस्पताल में वह कड़ी निगरानी में हैं। जब से वह साल 2004 में रक्षा मंत्री बने थे तब से ही आर्मी आर एंड आर हॉस्पीटल इलाज के लिए उनकी सबसे पसंदीदा जगह बन गई थी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनकी बेटी और कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता के स्वास्थ्य के बारे में हालचाल जाना। राष्ट्रपति कोविंद और कई नेताओं ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।

एक तरफ जहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने मुखर्जी के स्वास्थ्य को लेकर चिंता जाहिर की और फौरन स्वस्थ होने की कामना की तो वहीं कांग्रेस नता राहुल गांधी, केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल और अन्य नेताओं ने ट्विटर पर मुखर्जी शीघ्र स्वास्थ्य की दुआ की।

Input : Live Hindustan

Continue Reading
BIHAR4 mins ago

गजब: दवा की ब्लैक मार्केटिंग करने वालों ने यहां ड्रग इंस्पेक्टर को ही 37 रुपये की दवा 60 में बेच दी

BIHAR8 mins ago

राजद और लोजपा की मांग को EC ने किया खारिज, कहा- बिहार विधानसभा चुनाव समय पर ही होगा

HEALTH12 mins ago

दुनिया की पहली रूसी कोरोना वैक्सीन का रजिस्ट्रेशन कल, जानें कब से होगा टीकाकरण और सबसे पहले किसे

INDIA17 mins ago

ग्रामीण इलाकों के लिए सरकार का मेगा प्लान तैयार, बनेंगी डेढ़ लाख किलोमीटर की नई सड़कें

BIHAR54 mins ago

सुशांत को रिया ने कब्जे में ले रखा था, पिता केके सिंह को गर्लफ्रेंड से करनी पड़ती थी मिन्नत..

INDIA1 hour ago

रिया चक्रवर्ती के सपोर्ट में उतरीं स्वरा भास्कर, सुप्रीम कोर्ट से लगाई आस

BIHAR2 hours ago

बिहार: कोरोना संक्रमित मरीजों को अस्पताल ले जाने के लिए नाव को बना दिया एंबुलेंस

MUZAFFARPUR2 hours ago

कैसे थमेगा कोरोना, लॉकडाउन में बाजारों में भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग भूल गए लोग

INDIA3 hours ago

वेंटिलेटर सपोर्ट पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

MUZAFFARPUR3 hours ago

17 तक पूरे शहर से पानी नहीं निकला ताे अब अफसर पर हाेगी कार्रवाई, मंत्री सुरेश शर्मा ने दी चेतावनी

BIHAR4 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 weeks ago

सलमान खान ने शेयर की किसानी करने की ऐसी तस्वीर, लोगों ने जमकर सुनाई खरीखोटी

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

BIHAR7 days ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR6 days ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR2 weeks ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

MUZAFFARPUR3 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

BIHAR2 days ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: ईश जिले के 114 इलाकों में नहीं चलेंगे ऑटो रिक्शा, यहां देखें पूरी लिस्ट

Trending