Connect with us
leaderboard image

OMG

पत्नी की बक-बक से तंग पति 62 साल तक गूंगा-बहरा होने का नाटक करता रहा

Muzaffarpur Now

Published

on

शादी के समय पति-पत्नी सात वचन लेकर सात फेरे लेते हैं इसके साथ ही वे कई कसमें और वादे करते हैं शुरुआती 1-2 साल तक तो सबकुछ ठीक रहता है, लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता जाता है तो छोटी-छोटी बातों पर पति-पत्नी की तकरार और तू-तू-मैं-मैं शुरू हो जाती है।

पति–पत्नी हो या कोई भी, तू-तू-मैं-मैं होना तो किसी भी रिश्ते के लिए अच्छी बात नहीं होती है। इसके बाद पत्नी शिकायतों का पिटारा जो खोलना शुरू करती है तो घंटों चुप नहीं होती है। कामकाजी पुरुष अक्सर अपनी पत्नी की बक-बक से तंग आ जाते हैं और झल्ला उठते हैं। इस पर पति चुप रहने में ही अपनी भलाई समझता है कई बार दोनों के बीच बातचीत भी बंद हो जाती है, जो गुस्सा ठंडा होने पर फिर शुरू हो जाती है, लेकिन क्या कोई अपनी पत्नी की बक-बक से इतना तंग आ सकता है कि वो 62 साल तक गूंगा-बहरा होने का नाटक करे? परंतु ऐसा सचमुच हुआ है।

दरअसल, 84 वर्षीय बैरी डॉसन ने अपनी 80 वर्षीय पत्नी डोरोथी की बातों से बचने के लिए गूंगे-बहरे होने का नाटक किया और डोरोथी को शादी के 62 साल बाद (Dumb And Deaf For 62 Years) इस बात का पता चला कि उसका पति गूंगा-बहरा नहीं है। डोरोथी को अभी तक यही पता था कि उनके पति न तो बात कर सकते हैं और न ही सुन सकते हैं। पूरे 62 सालों के दौरान उन्होंने कभी अपने पति की आवाज नहीं सुनी, लेकिन अचानक उन्हें पता चला कि वह न तो गूंगे हैं और न ही बहरे।

आप सोच रहे होंगे कि आखिर पता कैसे चला कि वे न तो गूंगे हैं और न ही बहरे। इस बारे में डोरोथी ने बताया, “ मुझे इस बारे में तब पता चला, जब मैंने यू-ट्यूब पर उन्हें गाना गाते देखा। यह वीडियो उस दिन का था, जब वे मुझसे यह बोलकर गए थे कि वे एक चैरिटी मीटिंग अटैंड करने जा रहे हैं।“

डोरोथी के मुताबिक “मैंने जब यू-ट्यूब पर अपने पति को गाते देखा तो पहले तो मैं इस पर यकीन ही नहीं कर पाईं, लेकिन बाद में मुझे पता चला कि वह अभी तक गूंगे-बहरे होने का नाटक कर रहे थे। जबकि वह अच्छे से बोल और सुन सकते हैं।“

OMG

देश की इस स्टेशन पर लगी हवा से पानी बनाने की मशीन, 5 रुपये में खरीदें एक लीटर पानी

Muzaffarpur Now

Published

on

भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने एक नई सर्विस शुरू की है. इसके तहत रेलवे ने तेलंगाना राज्य के सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर (Secunderabad Railway station) पहली बार हवा से पानी (Water from Air) बनाने वाली मशीन लगाई है. रेलवे इस पानी के लिए 5 रुपये प्रति लीटर वसूल रहा है. आपको बता दें कि रेलवे ने पानी बचाने की मुहिम के तहत ये कदम उठाया है.

भारतीय रेलवे द्वारा पहली बार रिमिनरलाइजर के साथ मेघदूत ऑटमोसफेरिक वाटर जेनरेटर (Meghdoot Atmospheric Water Generator) लगाया गया है. हवा से पानी निकालने की मेघदूत नाम की तकनीक को मैत्री एक्वाटेक ने ‘मेक इन इंडिया’ के तहत विकसित की गई है.

हर मौसम में मिलेगा पानी-हवा से पानी निकालने की नई टेक्नोलॉजी पूरी तरह से भारत में विकसित की गई है. मेघदूत नाम की टेक्नोलॉजी को मैत्री एक्वाटेक (Maithri Aquatech) ने ‘मेक इन इंडिया’ के तहत विकसित किया है. यह मशीन हर मौसम में काम करती है. इससे पानी की बर्बादी भी नहीं होती है.

कैसे काम करती हैं ये टेक्नोलॉजी- सबसे पहले हवा मशीन से गुजरती है. यह उसमें मौजूद डस्ट पार्टिकल प्रदूषक तत्वों को सोख लेती है.

(I) फिर मशीन से छनकर निकलने वाली हवा कूलिंग चैंबर में जाती है, जहां इसे ठंडा किया जाता है. यही कंडेस्ड एयर पानी की बूंद में बदलती हैं. फिर बूंद-बूंद जमा होती हैं.

(II) जमा हुआ पानी भी फिल्टर होता है. इससे पानी में मौजूद दूसरे प्रदूषक तत्व हट जाते हैं और पानी शुद्ध हो जाता है.

(III) इस पानी को भी अल्ट्रा वॉयलेट किरणों वाले सिस्टम से गुजारा जाता है. इसके बाद पानी पीने योग्य बनता है.5 रुपये में खरीदें एक लीटर पानी- जल शक्ति मंत्रालय की ओर से इस तकनीक को सेहत के अनुकूल और सुरक्षित घोषित करने के बाद दक्षिण मध्य रेलवे ने सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर कियोस्क लगाया है.

मेघदूत वाटर मशीन से यात्री सिर्फ 5 रुपये में एक लीटर पानी रिफिल कर सकते हैं. हालांकि बोतल के साथ पानी की कीमत 8 रुपये है. इसका ऑटोमैटिक वॉटर जनरेटर रोजाना 1000 लीटर पानी बनाता है.

Input : News18

Continue Reading

OMG

पति ने खुद की पढ़ाई रोककर पत्नी को पढ़ाया, नौकरी लगते ही पत्नी ने दूसरी शादी कर ली

Muzaffarpur Now

Published

on

साथ में काम करते युवक-युवती के दिल मिले। इसके बाद दोनों ने प्रेम विवाह किया। पति ने स्वयं की पढ़ाई को रोककर पत्नी को उच्च शिक्षा दिलाई। जब पत्नी की नौकरी लग गई तो उसने पति को छोड़कर दूसरे उच्च शिक्षित युवक से विवाह रचा लिया। अब पहला पति दर-दर की ठोकरें खाता फिर रहा है। उसकी समस्या का समाधान परिवार परामर्श केंद्र में भी नहीं हो सका। पत्नी ने अपने पहले पति को न केवल ठुकराया, बल्कि उस पर भरण भोषण का दावा भी ठोक दिया। कुछ ऐसा ही मामला परिवार परामर्श केंद्र में आया है।

 

केंद्र के केस रिपोर्टर शरीफ शाह के शहरी क्षेत्र के एक युवक ने आवेदन दिया है कि उसने कुछ साल पहले साथ काम करने वाली एक युवती से प्रेम-विवाह किया था। शादी के बाद उसने अपनी पढ़ाई रोककर पत्नी को उच्च शिक्षा दिलाई। जिससे पत्नी को नौकरी मिल गई। फिर पत्नी छोटी-मोटी बातों पर विवाद करने लगी। हाल ही में उसने मुझे तलाक दिए बिना दूसरे उच्च शिक्षित युवक से शादी कर ली। युवक ने काउंसलर से आग्रह किया कि उसे पत्नी से तलाक दिलाया जाए।

Input : New Duniya

Continue Reading

OMG

अजीब वाक्‍या प्रेम के मजबूत डोरे, फोटो संग होंगे फेरे

Muzaffarpur Now

Published

on

नगर के एक मोहल्ले की विधवा मृत युवक के फोटो के साथ शादी कर रही है। इसके लिए उसने बकायदा कार्ड छपवाए हैं। इस अजब गजब शादी को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं। शादी के कार्ड में तिथि आठ नवंबर और विवाह स्थल बड़े महादेव मंदिर दर्शाया गया है। बता दें नगर के एक मोहल्ला की इस महिला के तीन बच्चे हैं। उसके पति की पिछले वर्ष मौत हो गई थी।

विधवा महिला की आंखें अपने ही मोहल्ला टेड़ानीम के युवक से लड़ गईं। दोनों के बीच गहरे प्रेम-संबंध हो गए, मगर दो माह पूर्व प्रेमी भी एक हादसे का शिकार हो गया। युवक की मौत के बाद महिला अब प्रेमी के फोटो के साथ शादी रचाने की तैयारी में जुट गई है। शादी के लिए छपवाए गए कार्ड में प्रीतिभोज से लेकर बरात स्वागत, मंगल फेरे के बाद विदाई का समय व तिथि भी दर्शाई गई है। महिला द्वारा फोटो से विवाह करने को लेकर नगर के लोग अचंभित हैं।

जेएन मेडिकल कॉलेज में डिपार्टमेंट ऑफ साइक्लोजिस्ट के प्रो. शाह आलम ने बताया कि महिला एक साइक्लोजिकल डिसआर्डर से पीडि़त है। इसे इरोटोमेनिया कहते हैं, जिसकी पहचान 1920-21 में फ्रांस में हुई और यह कॉमन नहीं है। इसमें महिला सैक्स पार्टनर से मिले सुख को भूल नहीं पाती, वह उसके ख्यालों में हावी हो जाता है। उसे लगता है कि पार्टनर उसे स्वर्ग से मैसेज भेज रहा है, उससे बात भी करती है।

बार-बार एक ही ख्याल आता है। निश्चित तौर पर पहले पति से उसे यौन सुख नहीं मिला होगा। अब वह फोटो से शादी करेगी, उसे पास में रखकर सोएगी भी। यह बीमारी काउंसिलिंग व दवाओं से ठीक हो सकती है। अन्यथा सीजोफ्रीनिया, अल्जाइमर्स आदि गंभीर मानसिक रोग में बदल जाएगी।

Input : Dainik jagran

Continue Reading
INDIA41 mins ago

क्या 21 दिन से आगे बढ़ेगा लॉकडाउन? मोदी सरकार ने दिया ये जवाब

BIHAR2 hours ago

बिहार के दो कोरोना संक्रमित मरीज हुए बिल्कुल ठीक, अस्पताल से जल्द होंगे डिस्चार्ज

MUZAFFARPUR2 hours ago

बंद नहीं होंगी मुजफ्फरपुर में बैंकों की शाखाएं

MUZAFFARPUR3 hours ago

लॉकडाउन से प्रदूषण पर कसा शिकंजा, सांस लेने लायक बनी सभी शहरों की हवा

MUZAFFARPUR3 hours ago

पूर्व राज्य मंत्री अजित कुमार ने डीएम से अपने आवास को अस्थाई अस्पताल के रूप में उपयोग की पेशकश की

SPORTS3 hours ago

टीम इंडिया को वर्ल्ड कप जिताने वाला ‘DSP’ निकला सड़कों पर, ऐसे कराया शहर Lockdown

MUZAFFARPUR4 hours ago

एईएस के लक्षण दिखते ही लाएं अस्पताल

BIHAR4 hours ago

चैती छठ : पर्व के दूसरे दिन व्रतियों ने किया खरना अस्ताचलगामी सूर्य को सांध्यकालीन अर्घ्य आज

MUZAFFARPUR14 hours ago

मुजफ्फरपुर में एईएस से एक बच्चे की मौत, दो दिनों से था वेंटिलेटर पर, अब तक मिले दो मामले…

MUZAFFARPUR14 hours ago

मुजफ्फरपुर में एईएस से एक बच्चे की मौत, दो दिनों से था वेंटिलेटर पर, अब तक मिले दो मामले…

BIHAR3 days ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA3 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

INDIA1 week ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA3 days ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR2 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR2 weeks ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बड़ी खुशखबरी: बिहार में घरेलू गैस की अब नहीं होगी किल्लत, बांका में नया प्लांट शुरू

BIHAR5 days ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA4 weeks ago

आज होगी देश की सबसे महंगी शादी, 500 पंडित पढ़ेंगे मंत्र

BIHAR5 days ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

Trending