बाबा गरीबनाथ की नगरी मुजफ्फरपुर में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्रावणी मेला की शुरूआत
Connect with us
leaderboard image

Uncategorized

बाबा गरीबनाथ की नगरी मुजफ्फरपुर में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्रावणी मेला की शुरूआत

Santosh Chaudhary

Published

on

उत्तर बिहार के सुप्रसिद्ध गरीबनाथ धाम की नगरी मुजफ्फरपुर में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्रावणी मेला की शुरूआत हुई. बिहार सरकार के कला संस्कृति मंत्री प्रमोद कुमार के साथ नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश शर्मा ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की. आज रविवार की दोपहर श्रावणी मेला के शुभारंभ के इस मौके पर अन्य स्थानीय नेताओं के साथ मुजफ्फरपुर के प्रशासनिक महकमे के सभी आलाधिकारी भी मौजूद रहे.

गौरतलब है कि इस श्रावण मास में चार सोमवारी हैं. भोलेनाथ के भक्त कांवरिया पहलेजा से जल उठाकर मुजफ्फरपुर में बाबा गरीबनाथ मंदिर में अर्पण करते हैं.

श्रावणी मेला को लेकर मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन पूरी तरह सशक्त व तैयार है. चप्पे चप्पे पर फोर्स की तैनाती की गई है. डीएम आलोक रंजन घोष एवं एसएसपी मनोज कुमार स्वयं सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

आज रविवार को श्रावणी मेला के शुभारंभ के दौरान स्थानीय सांसद अजय निषाद, वैशाली की सांसद वीणा देवी, एमएलसी दिनेश प्रसाद सिंह, बोचहा विधायक बेबी कुमारी, कुढ़नी विधायक केदार गुप्ता, बाबा मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित विनय पाठक के साथ ही डीएम आलोक रंजन घोष, एसएसपी मनोज कुमार सहित जिले के कई अधिकारी मौजूद थे.

Input : Live Cities

 

Uncategorized

मुज़फ़्फ़रपुर में शिक्षक पर जान’लेवा ह’मला, एसएसपी व डीएम से शिकायत

Munna Kumar

Published

on

मुज़फ़्फ़रपुर जिला के मड़वन प्रखंड के रौतिनिया गांव स्थित एसआरटी विद्यालय के प्राचार्य पर शुक्रवार को असा’माजिक त’त्वो के द्वारा मा’रपीट व जान’लेवा हम’ला किया गया। मामले में पी’ड़ित प्रचार्य ने बताया कि रौतिनिया गांव के चमरुआ के समीप रास्ते मे घेर कर मार’पीट किया गया और जान मा’रने का प्रयास किया गया।

घ’टना की सूचना मिलते ही पुलिस ने बथना निवासी मो.असरफ जहांगीर उर्फ निराले समेत तीन लोगो को गि’रफ्तार कर पूझताछ कर रही है। वही घ’टना से आ’क्रोशित लोगों व विधालय प्रबंधक ने एसएसपी, जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप कर कार्यवाई का मांग किया है।

Report : Saurabh Ranjan

Continue Reading

Uncategorized

मुजफ्फरपुर: कलयुगी बेटे ने माँ और चाची की गला काट कर किया हत्या

Abhay Raj

Published

on

कटरा थाना क्षेत्र के यजुआर पश्चिमी गांव में एक युवक ने अपनी माँ और चाची पर धा’रदार हथि’यार से हम’ला कर ह’त्या कर दिया.ह’त्या के बाद गांव में को’हराम मच गया.इसे देखने के लिए आसपास के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी.मां और चाची की ग’ला रेत’कर ह’त्या करने के बाद स्थानीय लोगों ने युवक को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया.

मृ’तक की पहचान गांव के ही सावित्री देवी (55) एवं भुतनी देवी (60) वर्षीय के रूप में हुई है.आ’रोपी युवक अपने मां एव चाची की हत्या किया हैं. इस घट’ना ने मां बेटा की रिश्ता को शर्मसार कर दिया हैं.स्थानीय लोगों ने पुलिस को बताया कि युवक घर पर ही मवेशी के लिए चारा काट रहा था.चारा के दौरान मां एवं चाची घर में सोयी हुई थी.सोयी हुई अवस्था में गरासी से का’टकर ह’त्या कर दिया.

घटना की जानकारी मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची कटरा के सर्किल इंस्पेक्टर जितेन्द्र पाल एवं थानाध्यक्ष सिकन्दर कुमार ने मामले की तहकीकात की शुरू कर दी है.थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपी छोटन सहनी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर आगें की कारवाई की जा रहीं हैं. मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया गया है.

Continue Reading

Uncategorized

मान्‍यता है कि देवी के रजस्वला वाले कपड़े पास रखने से सभी मनोकामना पूरी होती है

Santosh Chaudhary

Published

on

51 शक्तिपीठों में सबसे प्रसिद्ध मां कामाख्या पावन धाम पर प्रत्येक वर्ष लगने वाला अंबुबासी मेला इस वर्ष भी 22 जून से प्रारंभ हुआ। मेला 26 जून तक चलेगा। पूवरेत्तर के इस कुंभ को दिव्य और भव्य बनाने की तैयारी शासन और प्रशासन की ओर से की गयी है।

इसमें शामिल होने के लिए अभी से श्रद्धालु, साधु संत और तांत्रिकों की टोली गुवाहाटी के लिए रवाना हो गयी है। मंदिर के पुजारी मिहिर शर्मा ने बताया कि 22 जून को मेले का उद्घाटन असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने किया। उन्होंने कहा कि इस मौके पर आने वाले लाखों श्रत्रलुओं, नगा साधु सन्यासी, तांत्रिक और आम भक्तों को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी। यहां देश ही नहीं बल्कि हजारों की संख्या में विदेश भी भक्त मां के दर्शन को आते है। मेला 26 जून तक चलेगा। 27 जून को दर्शन के लिए मंदिर के पट खोले जाएंगे। इस वर्ष दर्शन के लिए 501 रूपये की विशेष टिकट भी जारी हुआ है।

Source : Adib Zamali

क्या है अंबुबासी महापर्व :

अंबुबाचि शब्द अंबु और बासी दो शब्दों को मिलाकर बना है। जिसमें अंबु का अर्थ है पानी और बाचि का अर्थ है उत्फूलन। यह शब्द स्त्रियों की शक्ति और उनके जन्म क्षमता को दर्शाता है। प्रतिवर्ष जून के माह में यह मेला लगता है। यह मेला उस समय लगता है जब मां कामाख्या ऋतुमति रहती है। अंबुबाचि योग पर्व के दौरान मां भगवती के गर्भगृह के कपाट स्वत: ही बंद हो जाते है। उनके दर्शन निषेध हो जाते है। तीन दिनों के बाद मां भगवती की रजस्वला समाप्ति पर उनकी विशेष पूजा एंव साधना की जाती है। चौथे दिन ब्रह्म मुहूर्त में देवी को स्नान करवाकर श्रृंगार के उपरांत ही मंदिर श्रद्धालुओं के लिए खोला जाता है।

Source : Adib Zamali

देवी का योनिमुद्रापीठ दस सीढ़ी नीचे एक गुफा में स्थित है। यहां हमेशा अखंड दीपक जलता रहता है। यहां आने जाने का मार्ग भी अलग बना है। इस मेला के दौरान भक्तों को प्रसाद के रूप में एक गीला कपड़ा दिया जाता है। इसे अंबुबाचि वस्त्र कहते है।

कहते है कि देवी रजस्वला होने से पूर्व गर्भगृह स्थित महामुद्रा के आसपास सफेद वस्त्र बिछा दिए जाते है। तब यह वस्त्र माता के रज से रक्तवर्ण हो जाता है। उसी को भक्त प्रसाद के रूप में ग्रहण करते है। इस वस्त्र को धारण करके उपासना करने से भक्तों की सभी मनोकामना पूरी होती है। आश्चर्य की बात है कि इन तीन दिनों में ब्रह्मपुत्र का जल भी लाल हो जाता है। इस मेले में सैकड़ों तांत्रिक अपने एकांतवास से बाहर आते है और अपनी शक्तियों का प्रदर्शन करते है। इसी दिन से यहां के कृषक भी अपने खेतों में काम प्रारंभ करते है।

सुरक्षा के व्यापक प्रबंध

कामाख्या देवालय समिति की ओर से मेले को लेकर 400 स्वयंसेवक, 400 स्काउट एंड गाइड, 140 अर्धसुरक्षा बल, 120 स्थायी सुरक्षाकर्मी तैनात किए गये हैं। सभी आने जाने वाले श्रद्धालुओं पर नजर रखने के लिए 300 सीसीटीवी लगाए गये है। सभी व्यवस्था की निगरानी स्वयं मुख्यमंत्री कर रहे हैं।

 

Continue Reading
Advertisement
INDIA16 hours ago

धौनी ने लद्दाख में फहराया तिरंगा, सियाचीन जाकर सैनिकों के साथ बिताएंगे समय

INDIA17 hours ago

स्वतंत्रता दिवस पर इस बार जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में दिखा नया माहौल

MUZAFFARPUR19 hours ago

अमर शहीद केन्द्रीय कारा में मनाया गया रक्षाबंधन उत्सव

MUZAFFARPUR2 days ago

मुजफ्फरपुर के सदर अस्पताल में चला हाई वोल्टेज ड्रामा

BIHAR2 days ago

नीतीश सरकार का रक्षाबंधन के मौके पर महिलाओं को खास तोहफा, सरकारी बसों में कर सकेंगी फ्री सफर

INDIA2 days ago

442 में दो केले भूल जाइए, इस होटल ने 2 बॉयल अंडा का चार्ज किया 1700 रुपये

INDIA2 days ago

पाकिस्ता’न के F-16 विमान को मा’र गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन को मिलेगा वीर चक्र

MUZAFFARPUR2 days ago

स्वतंत्रता दिवस पर इस वर्ष नहीं होंगे मुजफ्फरपुर में सांस्कृति कार्यक्रम

BIHAR2 days ago

दशरथ मांझी से प्रेरणा ले ग्रामीणों ने पहाड़ चीर मंदिर जाने का रास्ता बनाया

BIHAR3 days ago

पश्चिम अफ्रीका में फंसी बिहारी फैमिली, मदद के लिए सुषमा स्वराज को कर रहे याद

BIHAR3 weeks ago

बिहार में अब नहीं चलेगा पक’ड़़उआ ब्याह, कोर्ट ने इंजीनियर की शादी कर दी कैंसिल

INDIA3 weeks ago

UGC ने इन 23 यूनिवर्सिटी को फर्जी घोषित किया, देखें लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

मधुबनी में आसमान से गिरा पत्थर पहुंचा पटना, सीएम नीतीश ने बड़े ही करीब से देखा-परखा

INDIA3 weeks ago

राखी से ठीक एक माह पहले बहन ने भाई को दिया जिंदगी का तोहफा

INDIA3 weeks ago

साक्षी मिश्रा ने बनाया नया इंस्टा अकाउंट, खुद को बताया अभि की टाइग्रेस, भाई के लिए रक्षाबंधन की पोस्ट

BIHAR3 days ago

न्यूजीलैंड वित्त मंत्रालय में विश्लेषक बनीं मुजफ्फरपुर की बेटी शेफालिका, गांव में खुशी की लहर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

TECH4 weeks ago

सावधान! FaceApp के जरिए बुढ़ापे वाली तस्वीर बनाने से पहले 100 बार सोच लें…

MUZAFFARPUR3 weeks ago

बाल-बाल ब’चे DGP गुप्तेश्वर पाण्डेय, बस ने मारी टक्क’र

BIHAR3 weeks ago

बिहार में भी दोहराई साक्षी मिश्रा की कहानी: लव मैरिज कर जारी किया VIDEO, कहा- मुझे मेरे पापा से बचाओ

Trending

0Shares