Connect with us

SPORTS

IPL 2020: हार के बाद बोले धोनी, बाकी तीन मैचों में युवाओं को मौका देंगे

Muzaffarpur Now

Published

on

शारजाह. अब तक 11 में से आठ मैच गंवाकर आईपीएल (IPL 2020) प्ले ऑफ की दौड़ से लगभग बाहर हो चुकी चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने कहा कि अगले साल को ध्यान में रखते हुए बाकी तीन मैचों में युवाओं को परखा जाएगा. मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के हाथों 10 विकेट से मिली हार के बाद धोनी ने कहा, ”इस तरह के प्रदर्शन से दुख होता है. हमें देखना होगा कि गलती कहां हुई. यह हमारा साल नहीं था. आप भले ही आठ विकेट से हारें या 10 विकेट से , वह मायने नहीं रखता लेकिन देखना यह है कि हम टूर्नामेंट में इस समय कहां है और यही दुखी करता है.”

उन्होंने कहा, ”हमें दूसरे मैच से ही देखना था कि हम कहां गलत है. अंबाती रायडू चोटिल हो गया और बाकी बल्लेबाज अपना दो सौ फीसदी नहीं दे पाए. किस्मत ने भी हमारा साथ नहीं दिया. जिन मैचों में हम पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे, वहां टॉस नहीं जीत सके. जब हमने पहले बल्लेबाजी की तो ओस थी.”

तीन बार की चैंपियन टीम के कप्तान ने कहा ,”खराब प्रदर्शन करने पर सौ बहाने दिए जा सकते हैं, लेकिन सबसे अहम यह है कि हमें खुद से पूछना होगा कि क्या हम अपनी क्षमता के अनुरूप खेल सके. क्या हमने अब तक के अपने रिकॉर्ड के अनुसार खेला. नहीं. हमने कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुए.”
धोनी ने कहा कि अगले साल के लिये तस्वीर साफ होना बहुत जरूरी है. उन्होंने कहा, ”अगले साल बहुत सारे अगर मगर होंगे. आने वाले तीन मैचों में युवा खिलाड़ियों को परखा जाएगा. अगले साल को ध्यान में रखकर देखेंगे कि कौन डेथ ओवरों में अच्छी गेंदबाजी कर सकता है और कौन बल्लेबाजी का दबाव झेल सकता है. अगले तीन मैचों में नये चेहरों को आजमाया जाएगा.”

बता दें कि ट्रेंट बोल्ट और जसप्रीत बुमराह की कहर बरपाती तेज गेंदबाजी के बाद इशान किशन के आक्रामक अर्धशतक की मदद से मुंबई इंडियंस ने तीन बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स को बुरी तरह हराया.

टॉस से लेकर गेंदबाजी और बल्लेबाजी तक कुछ भी चेन्नई के पक्ष में नहीं रहा. मुंबई के तेज आक्रमण के सामने चेन्नई सुपर किंग्स का शीर्षक्रम एक बार फिर नेस्तनाबूद हो गया और महेंद्र सिंह धोनी की टीम नौ विकेट पर 114 रन ही बना सकी. इस जीत के बाद मुंबई 10 मैचों में 14 अंक लेकर शीर्ष पर है जबकि चेन्नई 11 मैचों में सिर्फ छह अंक के साथ आखिरी स्थान पर है.

Source : News18

SPORTS

टीम इंडिया के पूर्व कोच ने कहा- तमिलनाडु में बन सकता है एमएस धोनी का मंदिर!

Muzaffarpur Now

Published

on

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2020 में चेन्नई सुपरकिंग्स का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा. चेन्नई की टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई. चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) का जादू भी इस बार नहीं दिखाई दिया. वो बल्ले से भी धमाल नहीं मचा सके. हालांकि इसके बावजूद आईपीएल में धोनी का नाम छाया हुआ है. हर मैच के बाद दूसरी टीमों के खिलाड़ी धोनी के पास जाकर उनसे ऑटोग्राफ और उनकी जर्सी मांगते दिखाई देते हैं. इस बीच भारत के पूर्व बल्लेबाजी कोच और पूर्व क्रिकेटर संजय बांगर ने धोनी पर बड़ी बात कह दी.

MI vs CSK, Rohit Sharma, MS Dhoni

स्टार स्पोर्ट्स पर आईपीएल 2020 से जुड़े एक कार्यक्रम में संजय बांगर (Sanjay Bangar) ने कहा कि धोनी इस देश में बहुत बड़ा नाम हैं. चेन्नई सुपरकिंग्स के फैंस तो उन्हें बहुत ज्यादा मानते हैं. जिस तरह तमिलनाडु में रजनीकांत और जयललिता की दीवानगी रही है, वैसा ही कुछ धोनी के लिए भी है. बांगर ने कहा कि मुझे इसमें कोई हैरान नहीं होगी कि कुछ सालों में धोनी का मंदिर भी बना दिया जाए.

बता दें धोनी (MS Dhoni) से पहले सचिन तेंदुलकर के साथ भी कुछ ऐसा ही हो चुका है. भारतीय फैंस ने सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा और अब धोनी के लिए भी वैसी ही दीवानगी है.

धोनी ने अपने करियर में वो सब कुछ हासिल किया है जिसके बारे में कोई खिलाड़ी सोच भी नहीं सकता. धोनी ने टीम इंडिया को टी20 वर्ल्ड कप, वर्ल्ड कप, चैंपियंस ट्रॉफी जिताई है. वो टेस्ट में नंबर 1 टीम का गौरव हासिल कर चुके हैं. आईपीएल में भी धोनी ने 3 बार चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया है.

Source : News18

Continue Reading

SPORTS

दिनेश कार्तिक ने KKR की कप्तानी छोड़ी, अब ऑयन मॉर्गन संभालेंगे जिम्मेदारी

Muzaffarpur Now

Published

on

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी छोड़ दी है. अब इंग्लैंड के बल्लेबाज़ और वनडे कप्तान ऑयन मॉर्गन (Eoin Morgan) टीम की जिम्मेदारी संभालेंगे. कार्तिक ने कहा है कि वो अपनी बैटिंग पर फोकस करना चाहते हैं. उन्होंने कप्तानी छोड़ने का फैसला मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच से पहले लिया है. आज रात आईपीएल में दूसरी बार मुंबई की भिड़ंत के केकेआर से होगी.

फैसले पर क्या कहा टीम मैनेजमेंट ने

कार्तिक के कप्तानी छोड़ने के फैसले के बारे में केकेआर के सीईओ वेंकी मैसूर ने जानकारी दी. उन्होंने कहा कि ऐसे बड़े फैसले लेने के लिए हिम्मत की जरूरत होती है. उन्होंने कहा, ‘हमलोग उनके इस फैसले से हैरान हैं. लेकिन हम उनके इस फैसले का सम्मान करते हैं. दिनेश कार्तिक ने हमेशा पहले टीम के बारे में सोचा है. ऐ्रसे फैसले लेने के लिए बहुत हिम्मत की जरुरत होती है.’

IPL 2020: 'Two-three poor games don't matter, 'KKR captain Dinesh Karthik  is not worried much News Headlines , Latest Headlines , India News - Nyoooz

कार्तिक का फ्लॉप शो

आईपीएल के मौजूदा सीज़न में दिनेश कार्तिक का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. आरसीबी के खिलाफ पिछले मैच में कार्तिक सिर्फ 1 रन बना कर आउट हो गए थे. अब तक उन्होंने 7 पारियों में सिर्फ 108 रन बनाए हैं. इसमें सिर्फ एक हाफ सेंचुरी शामिल है. शायद यही वजह है कि वो अब कप्तानी छोड़ कर अपनी बैटिंग पर फोकस करेंगे. उधर मौजूदा आईपीएल में केकेआर को अब तक 7 में से 4 मैचों में जीत मिली है. फिलहाल 8 अंकों के साथ ये टीम प्वाइंट्स टेबल में चौथे नंबर पर है.

ऑयन मॉर्गन बनेंगे कप्तान

ऑयन मॉर्गन इंग्लैंड टीम के मौजूदा वनडे कप्तान हैं. पिछले साल मॉर्गन की कप्तानी में ही इग्लैंड की टीम वर्ल्ड चैंपियन बनी थी. मॉर्गन को कोलकाता नाइट राइडर्स ने पिछले साल दिसंबर में 5.25 करोड़ में खरीदा था. इस साल अब तक आईपीएल की 7 पारियों में मॉर्गन ने 35 की औसत से 175 रन बनाए हैं. उन्होंने अब तक इस सीज़न में कोई हाफ सेंचुरी नहीं लगाई है. टीम मैनमेंट को उम्मीद है कि मॉर्गन के नेतृत्व में केकेआर का प्रदर्शन अच्छा रहेगा.

कार्तिक की कप्तानी में केकेआर

साल 2017 में गंभीर के कप्तानी से हटने के बाद दिनेश कार्तिक ने जिम्मेदारी संभाली थी. साल 2018 के सीज़न से पहले ककेआर ने उन्हें 7.4 करोड़ रुपये में खरीदा था. कार्तिक की कप्तानी में केकेआर की टीम साल 2018 में चौथे नंबर पर रही थी. जबकि पिछले साल उनकी कप्तानी में कोलकाता की टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी थी.

Source : News18

Continue Reading

SPORTS

खिलाड़ियो की चिंता केवल ओलंपिक के वक्त ही होगी, बिहार चुनाव से गायब खेल- खिलाड़ीयों के मुद्दे

Avatar

Published

on

बिहार में चुनाव आनेवाले है। जहां हर पार्टी- गठबंधन सरकार बनाने के दावे कर रही है, वहीं महत्वपूर्ण को लेकर पक्ष- विपक्ष और अन्य पार्टियों ने अपने वादे के परचम विज्ञापन से लहरहा रहे है, वहीं खेल की सुविख्यात लोकप्रियता हर किसी की चुप्पी बनी हुई है।

खेल – खिलाड़ियों की बात करने वाला कोई नहीं है! बात तो रोजगार, पलायन और उद्योग की करते नहीं दिख रहे, लेकिन इन सबकी चर्चा तो बनी हुई है। लेकिन राज्य में खेल – खिलाडियो को लेकर चुप्पी छाई है।

शायद ही कोई युवा – व्यस्क होगा, जिसकी रूचि खेल को लेकर नहीं होगी। कहते हैं बिहार के बच्चे चलना ही बैट पकड़कर सीखते हैं। बल्लेबाज द्वारा गलत शाॅट खेलने पर अपनी विशेष प्रतिक्रिया जाहिर करते नहीं खकते। लेकिन न खेल – खिलाड़ियों के उत्थान के लिए किसी पार्टी ने आवाज नहीं उठाए, ना ही युवाओं ने प्रतिक्रिया जाहिर की।

अपनी महारत को दिखाने के लिए तरसते बिहार के खिलाड़ीयों के मूलभूत सुविधाओं के नाम पर क्या है? खेत को खेल का मैदान समझकर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखानेवाले की वाहवाही तो हर कोई करते हैं, लेकिन छिपी प्रतिभाओं को आगे लाने के लिए बात इस वख्त भी क्यों नहीं हो रही।

स्कूलों के खेल के मैदान से निकलकर राज्य के नाम को देश स्तर पर प्रतिनिधित्व करने की चाह तो हर किसी को ओलंपिक या काॅमनवेल्थ के समय होती है, तब राज्य सरकार अपने खिलाड़ियों के प्रदर्शन के नाम पर कहीं मुंह छिपाती दिखाई पड़ती है।

देश के हर राज्य ने अपने यहां खेल स्तर को सुधारकर , ध्यान देकर खिलाड़ियों को बढावा देते है, उदाहरण के तौर पर हरियाणा , मध्य प्रदेश इत्यादि की भागीदारी दिन – प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। लेकिन इलकी चिंता न राज्य को हैं , न राज्य के खिलाड़ियों को।

राज्य के मुख्यमंत्री कहते है, उद्योग के लिए समुंद्र चाहिए, शायद खेल को लेकर यह बात कहीं समुद्र किनारे न होेने से तो नहीं।

आप अपनी समस्याओं को प्रकाश में लाने लिए हमें लिख सकते है, या कमेंट बाॅक्स में मैसेज भी कर सकते है।

Continue Reading
BIHAR21 mins ago

बढ़ती बिमारी और मौत के बावजूद, बिहारियों को नहीं लग रहा कोरोना से डर –

TRENDING35 mins ago

दुनिया का सबसे महंगा बैग लॉन्च, कीमत है 53 करोड़ रुपये

TRENDING52 mins ago

लॉकडाउन में घर जमाई बना दामाद तो साली को ले भागा, पकड़े जाने पर लड़की ने खाया जहर

BIHAR56 mins ago

मैट्रिक और इंटर परीक्षा के लिए बिहार बोर्ड की तैयारी, टेंपरेचर अधिक व सर्दी होने पर अलग कक्ष में बैंठेंगे परीक्षार्थी

INDIA59 mins ago

पीएम मोदी की समीक्षा के तुरंत बाद SII प्रमुख ने दी खुशखबरी

BIHAR1 hour ago

‘कोरोना बम’ साबित हो सकती हैं पैसेंजर ट्रेनें, भेड़-बकरियों की तरह यात्रा कर रहे लोग

INDIA2 hours ago

किसान आंदोलन पर बोले गृह मंत्री अमित शाह- ‘सरकार हर मांग पर विचार को तैयार’

BIHAR4 hours ago

लॉ एंड आर्डर को लेकर सख्त हुए CM नीतीश, DGP और चीफ सेक्रेटरी के साथ की मीटिंग

BIHAR5 hours ago

तेजस्वी पर बरसे मांझी, कहा- उन्हें नहीं कोई संवैधानिक जानकारी, नीतीश कुमार से मांगें माफी

BIHAR5 hours ago

राज्यसभा सांसद बन राष्ट्रीय राजनीति करेंगे सुशील मोदी, केंद्र में बन सकते हैं मंत्री!

BIHAR1 week ago

सात समंदर पार रूस से छठ करने पहुंची विदेशी बहू

WORLD2 weeks ago

संयुक्त राष्ट्र की शाखा ने चेताया- 2020 से भी ज्यादा खराब होगा साल 2021, दुनिया भर में पड़ेगा भीषण अकाल

BIHAR5 days ago

खाक से फलक तक : 18 साल की उम्र में घर से भागे, मजदूरी की, और अब हैं बिहार के मंत्री

TRENDING6 days ago

यात्री नहीं मिलने से पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्‍सप्रेस हो जाएगी बंद

INDIA3 days ago

राजस्थान छोड़कर जम्मू-कश्मीर जाना चाहते हैं IAS टीना डाबी के पति अतहर, लगाई तबादले की अर्जी

BIHAR1 week ago

एम्स से दीघा तक एलिवेटेड रोड पर आज से परिचालन शुरू, कोइलवर पुल पर आज ट्रायल रन

INDIA1 week ago

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

TRENDING2 weeks ago

ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने गाड़ी रोकी तो निकला उन्हीं के बैच का ऑफिसर

BIHAR2 weeks ago

जीत की खुशी में पटाखा जलाने पर BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या, शव पेड़ पर लटकाया

BIHAR4 weeks ago

झूठा साबित हुआ लिपि सिंह का आरोप, भीड़ ने नहीं पुलिस ने की थी फायरिंग, CISF की रिपोर्ट से खुलासा

Trending