Connect with us

INDIA

JEE MAINS का टॉपर गिरफ्तार, परीक्षा में दूसरे को बैठाकर पाए थे 99.8 % अंक

Muzaffarpur Now

Published

on

गुवाहटी: असम पुलिस ने जेईई मेन्स परीक्षा के असम टॉपर नील नक्षत्र दास, उनके पिता डॉ ज्योर्तिमय दास और तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए तीन अन्य लोग परीक्षा केंद्र के कर्मचारी है.

कमिश्नर ऑफ पुलिस गुवाहटी के मुताबिक इन सभी को परीक्षा लिखने के लिए प्रॉक्सी का उपयोग करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों को गुरुवार को अदालत में पेश किया जाएगा.

Class 12 student, who was admin head of "Bois Locker Room" arrested - TPE  News

गुवाहाटी के पुलिस आयुक्त एम.पी. गुप्ता ने बताया, “असम में (जेईई) मेन्स के टॉपर के खिलाफ कथित तौर पर परीक्षा में बैठने के लिए प्रॉक्सी का उपयोग करने के लिए अज़रा पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है.”

एम.पी. गुप्ता बताया कि हमने मामले की जांच की और पता लगाया कि उम्मीदवार ने एक मध्य एजेंसी के रूप में कार्य करने वाली एक अन्य एजेंसी की मदद से एक प्रॉक्सी का इस्तेमाल किया था. गुवाहाटी में टेस्टिंग सेंटर के कर्मचारी भी इसमें शामिल हैं.

पुलिस आयुक्त ने कहा कि हम और लोगों की तलाश कर रहे हैं. यह एक मामला नहीं हो सकता है. यह एक बड़े घोटाले का हिस्सा हो सकता है जिसमें देश भर के लोग शामिल हो सकते हैं. हम सभी पहलुओं को देख रहे हैं.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि 23 अक्टूबर को मित्रदेव शर्मा ने एफआईआर दर्ज कराई थी जिसके बाद अजरा पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है. एक कथित फोन कॉल रिकॉर्डिंग और सोशल मीडिया चैट के कुछ स्क्रीनशॉट वायरल होने के बाद यह घटना सामने आई.

असम पुलिस ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) को भी सूचित किया है और जेईई मेन्स से संबंधित डेटा की जांच में उनकी मदद करने के लिए कहा है.

INDIA

दिल्ली में छठ पूजा को लेकर राजनीतिक घमासान बढ़ा, BJP सांसद मनोज तिवारी ने केजरीवाल को कहा नमक हराम

Muzaffarpur Now

Published

on

दिल्ली में इस बार छठ पूजा को लेकर राजनीतिक घमासान जारी है। भाजपा ने तो इसे लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ मोर्चा भी खोल दिया है। भाजपा सांसद और दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी ने तो मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नमक हराम कहते हुए खूब खरी-खोटी सुनाई हैं। मंगलवार को भी भाजपा के पूर्वांचल प्रकोष्ठ के कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री केजरीवाल के घर के बाहर धरना-प्रदर्शन कर रोष व्यक्त किया था।

मनोज तिवारी ने बुधवार को अपने ऑफिसियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, ”कमाल के नमक हराम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। कोविड के सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन कर आप छठ नहीं करने देंगे और गाइडलाइंस सेंटर से मांगने का झूठा ड्रामा अपने लोगों से करवाते हैं, तो बताए ये 24 घंटे शराब परोसने के लिए परमिशन कौन से गाइडलाइंस को फॉलो करके ली थी, बोलो CM”

वहीं, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मेयर जय प्रकाश आज सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा पर प्रतिबंध लगाने के मुद्दे पर उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखेंगे और उनसे अपने फैसले पर पुनर्विचार करने और पूजा को निश्चित करने की अनुमति देने का अनुरोध करेंगे।

जय प्रकाश ने बुधवार को कहा कि बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के बड़ी संख्या में लोग राजधानी में रहते हैं और छठ उनका सबसे महत्वपूर्ण और लोकप्रिय त्योहार है, इसलिए सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा पर प्रतिबंध के मामले में, वे इसे मनाएंगे। इससे बेहतर यह है कि हम छठ पूजा के लिए भीड़ नियंत्रण, घाटों पर सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में सख्त दिशा-निर्देशों के साथ अनुमति दें। मैं एलजी और सीएम को पत्र लिख रहा हूं और उनसे सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा पर प्रतिबंध लगाने के मुद्दे पर फिर से विचार करने का अनुरोध करूंगा।

महापौर ने आगे सुझाव दिया कि किसी भी घाट पर 50 लोगों की सीमा निर्धारित की जा सकती है और श्रद्धालुओं व उनकी छठ पूजा समितियों को जारी किए गए कार्ड के आधार पर अनुमति दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए नगर निगम के पार्कों में अस्थायी पूल बनाकर छठ घाटों की संख्या बढ़ाई जा सकती है, जो शहर भर की लगभग हर कॉलोनी में उपलब्ध हैं। केवल जो श्रद्धालु उपवास करते हैं, उन्हें ही इन घाटों पर अनुमति दी जानी चाहिए। ये सावधानियां वास्तव में भीड़ के प्रबंधन में मदद कर सकती हैं। अगर हम शहर में छठ पूजा की अनुमति देते हैं तो हम इस मोर्चे पर सरकार को अपना पूरा समर्थन देने के लिए तैयार हैं।

गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार ने इस बार सभी छठ घाटों और सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा मनाने पर रोक लगा दी है।

(एचटी के इनपुट के साथ)

Continue Reading

INDIA

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

Santosh Chaudhary

Published

on

उत्तर प्रदेश के शामली जनपद में एक किसान के खेत में खुदाई करते समय सोने-चांदी के सिक्के निकले. यह सोने चांदी के सिक्के प्राचीनकाल के हैं. रविवार को मिट्टी से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली से सिक्के गिरने पर ग्रामीणों को इसका पता लगा.

किसान को खेत में मिले सोने चांदी के सिक्के (फोटो आजतक)

ग्रामीणों को जैसे ही खेत में खजाना मिलने की सूचना मिली बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए. जिसके जो हाथ लगा वो लेकर चल दिया. उधर, पुलिस भी खेत पर पहुंची, लेकिन ग्रामीणों ने सिक्के निकलने की बात से इनकार कर दिया.

किसान को खेत में मिले सोने चांदी के सिक्के (फोटो आजतक)

सूचना मिलने पर जब पुलिस भी खेत पर पहुंची पर ग्रामीणों सिक्के मिलने की बात से साफ इनकार कर दिया. लेकिन 3 सिक्कों के फोटो मीडिया को मिले हैं जिनमें दो सोने और एक चांदी का बताया जा रहा है. चांदी के सिक्के पर अरबी में रहमतुल्ला इब्ने मोहम्मद और सोने के एक सिक्के पर दूसरा कलमा लिखा है.

किसान को खेत में मिले सोने चांदी के सिक्के (फोटो आजतक)

खेत मालिक ओम सिंह का कहना है कि कुछ सिक्के निकले हैं उसमें कितने चांदी के हैं और कितने सोने के इसकी जानकारी उन्हें नहीं है. ग्राम प्रधान राज कुमार का कहना है सूचना मिली है लेकिन उन्होंने सिक्के नहीं देखे हैं.

किसान को खेत में मिले सोने चांदी के सिक्के (फोटो आजतक)

सोने के दूसरे सिक्के पर क्या लिखा है यह पढ़ने में नहीं नजर आ रहा है खेत मालिक ओम सिंह का कहना है कि कुछ सिक्के निकले हैं उसमें कितने चांदी के हैं और कितने सोने के इसकी जानकारी नहीं है ग्राम प्रधान राज कुमार का कहना है सूचना मिली है लेकिन उन्होंने सिक्के नहीं देखे हैं. एडीएम अरविंद सिंह का कहना है कि खुदाई के दौरान कोई धातु निकलने की सूचना मिली है एसडीएम को जांच के लिए कहा गया है पुराने सिक्के निकले हैं तो पुरातत्व को सूचना दी जाएगी.

किसान को खेत में मिले सोने चांदी के सिक्के (फोटो आजतक)

Continue Reading

INDIA

लव जिहाद पर कानून की घोषणा के बाद अब ‘काउ कैबिनेट’ बनाएगी शिवराज सरकार

Muzaffarpur Now

Published

on

भोपाल. मध्य प्रदेश की राजनीति में गाय (Cow) एक बार फिर केंद्र बिंदु में है. इसकी वजह है मध्य प्रदेश सरकार का वह अहम फैसला जो जल्द ही लागू होने जा रहा है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार सुबह ऐलान किया कि मध्य प्रदेश में गौ कैबिनेट (Cow cabinet) का गठन होने जा रहा है. ये फैसला सूबे में गौधन के संरक्षण और संवर्धन के लिए लिया गया है. गौ कैबिनेट में पशुपालन, वन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, राजस्व, गृह और कृषि विभाग को शामिल किया गया है. गौ कैबिनेट के गठन के साथ ही इसकी बैठक का दिन और स्थान भी तय हो गया है. गौ कैबिनेट की पहली बैठक गोपाष्टमी के दिन 22 नवंबर को दोपहर 12 बजे गौ अभ्यारण सालरिया आगर मालवा में आयोजित की जाएगी.

​सीएम शिवराज सिंह चौहान ने एक ​ट्वीट कर लिखा- प्रदेश में गोधन संरक्षण और संवर्धन के लिए ‘गौकैबिनेट’ गठित करने का निर्णय लिया गया है. पशुपालन, वन, पंचायत व ग्रामीण विकास, राजस्व, गृह और किसान कल्याण विभाग गौ कैबिनेट में शामिल होंगे. पहली बैठक 22 नवंबर को गोपाष्टमी पर दोपहर 12 बजे गौ अभ्यारण, आगर मालवा में आयोजित की जाएगी.

गाय को लेकर कांग्रेस भी रही संजीदा

गायों के संरक्षण के लिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों की संजीदगी सामने आती रही है.यह और बात है कि गाय अभी भी सड़कों पर आवारा घूमने को मजबूर हैं. शिवराज सरकार से पहले कमलनाथ की सरकार में भी गायों के संरक्षण को लेकर कई कदम उठाए गए. तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश की 1000 गौशालाओं के उन्नयन का फैसला लिया था. यह भी तय किया गया था कि सड़कों पर आवारा घूमने वाली गायों को गौशालाओं में शिफ्ट किया जाएगा. लेकिन ऐसा हो नहीं सका और सैकड़ों गाय अभी भी सड़कों पर आवारा ही घूम रही हैं.

आमने सामने बीजेपी कांग्रेस

गायों को लेकर शिवराज सरकार के नए फैसले पर अब सियासत भी शुरू हो गई है. एक तरफ जहां कांग्रेस ने इस पर सवाल उठाते हुए कहा कि बीजेपी गायों के संरक्षण के बजाय उनके संरक्षण का दिखावा ज्यादा करती है बजाय कैबिनेट के गठन के सरकार को वाकई में गाय संरक्षण पर ध्यान देना चाहिए. वहीं बीजेपी ने इस पर पलटवार करते हुए कहा है कि कांग्रेस गायों के संरक्षण के नाम पर राजनीति करती रही है जबकि बीजेपी ऐसा नहीं करती. गौ कैबिनेट के गठन से गायों के संरक्षण में फायदा होगा.

लव जिहाद के लिए कानून

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के लव जिहाद पर कानून बनाने की घोषणा के बाद अब बीजेपी शासित दूसरे राज्य भी लव जिहाद पर कानून बनाने का ऐलान कर रहे हैं. इसके तहत ही उपचुनाव में बड़ी जीत के बाद शिवराज सिंह सरकार ने भी लव जिहाद पर कानून बनाने का निर्णय लिया है. इस कानून को जल्द ही अमलीजामा पहनाया जा सकता है.

Source : News18

Continue Reading
BIHAR4 hours ago

‘मैं बहुत दुखी हूं’ मृदुला सिन्हा के निधन पर बोले सीएम नीतीश, राज्यपाल फागू चौहान ने भी जताया शोक

MUZAFFARPUR5 hours ago

मुजफ्फरपुर डीएम व एसएसपी ने शहर के छठ घाटों का किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश

BIHAR6 hours ago

गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा का निधन, कई नेताओं ने जताया शोक

BIHAR9 hours ago

सौहार्द के चूल्हे पर पकता है महापर्व का महाभोग, कासिम और नूरजहां कट्टर सोच को दिखा रहे आईना

BIHAR9 hours ago

लालू का ट्वीट- ‘भ्रष्टाचार पर बोल रहे भाजपाइयों को मेवा मिला तो मौन धारण कर लिया’

MUZAFFARPUR9 hours ago

मुज़फ़्फ़रपुर : घाट बनाने गया व्यक्ति की नदी में डूबने से हुई मौत

INDIA9 hours ago

दिल्ली में छठ पूजा को लेकर राजनीतिक घमासान बढ़ा, BJP सांसद मनोज तिवारी ने केजरीवाल को कहा नमक हराम

BIHAR10 hours ago

कोरोना के असर सब पर पड़ल लेकिन राजनीति पर नाहीं

INDIA12 hours ago

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

BIHAR13 hours ago

PHED विभाग की जिम्मेदारी मिलने पर बोले रामप्रीत- नल जल योजना के काम को आगे बढ़ाएंगे

WORLD3 days ago

संयुक्त राष्ट्र की शाखा ने चेताया- 2020 से भी ज्यादा खराब होगा साल 2021, दुनिया भर में पड़ेगा भीषण अकाल

INDIA3 weeks ago

JEE MAINS का टॉपर गिरफ्तार, परीक्षा में दूसरे को बैठाकर पाए थे 99.8 % अंक

INDIA4 weeks ago

हिमालय में आएगा बड़ा भूकंप, देश की राजधानी दिल्ली भी होगी जद में: रिसर्च

TRENDING5 days ago

ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने गाड़ी रोकी तो निकला उन्हीं के बैच का ऑफिसर

BIHAR1 week ago

जीत की खुशी में पटाखा जलाने पर BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या, शव पेड़ पर लटकाया

BIHAR2 weeks ago

बड़ा ऐलान : नीतीश ने कर दिया राजनीति से संन्यास का एलान

BIHAR3 weeks ago

झूठा साबित हुआ लिपि सिंह का आरोप, भीड़ ने नहीं पुलिस ने की थी फायरिंग, CISF की रिपोर्ट से खुलासा

ENTERTAINMENT4 weeks ago

बिहार और ब्राह्मणो के प्रति घृणा फ़ैलाने के उद्देश्य से बना है – मिर्जापुर का नया सीज़न

BIHAR6 days ago

बहुमत से महज 12 सीट दूर RJD ने नहीं छोड़ी सरकार बनाने की उम्मीद, सहनी-मांझी पर नजर

INDIA4 weeks ago

Voter ID के लिए करें ऑनलाइन आवेदन, जानिए सबसे आसान तरीका

Trending