Connect with us

BIHAR

KBC जीत करोड़पति बने थे सुशील कुमार, सेलेब्रिटी बनने के बाद देखा सबसे बुरा समय

Muzaffarpur Now

Published

on

मुंबई. हम कई बार एक इंसान की संघर्षों से विजय तक पहुंचने की कहानी सुनते हैं लेकिन आज हमारे सामने विजेता बनने के बाद एक शख्स के संघर्ष की कहानी आई है. ये शख्स हैं सुशील कुमार, जिन्होंने अमिताभ बच्चन द्वारा होस्ट किया जाने वाला मशहूर क्विज शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ जीता था. केबीसी सीजन 5 (KBC 5 Winner) के विजेता सुशील कुमार (Sushil Kumar) 2011 में करोड़पति बने थे, उन्होंने 5 करोड़ का जैकपॉट जीता था. इस जीत के बाद उन्हें देश भर से तारीफें और मीडिया की जबरदस्त अटेंशन मिली थी. वहीं अब एक बार फिर से सुशील कुमार का नाम चर्चा में आ गया है, जिसकी वजह जानकर आप हैरान रह जाएंगे. सुशील कुमार का कहना है कि केबीसी जीतने और सेलेब्रिटी बनने के बाद उनकी जिंदगी में सबसे बुरा समय आया था.

Forgotten Newsmakers | Sushil Kumar, The Motihari Corepati Who Wants To  Save The Indian Sparrow | Outlook India Magazine

दरअसल, सुशील कुमार ने अपने फेसबुक एकाउंट पर अपने संघर्षों की कहानी सुनाते हुए एक लंबा पोस्ट शेयर किया है. इस पोस्ट के जरिए उन्होंने बताया है कि सेलेब्रिटी बनने का सबसे डरावना सच क्या है. उन्होंने अपना पोस्ट शेयर करते हुए लिखा- ‘केबीसी जीतने के बाद का मेरे जीवन का सबसे बुरा समय’. उन्होंने बताया कि- ‘2015-2016 मेरे जीवन का सबसे चुनौती पूर्ण समय था कुछ बुझाइए नहीं रहा था क्या करें. लोकल सेलेब्रिटी होने के कारण महीने में दस से पंद्रह दिन बिहार में कहीं न कहीं कार्यक्रम लगा ही रहता था।इसलिए पढ़ाई लिखाई धीरे धीरे दूर जाती रही’.

Life after winning 5 crores - Rediff.com News

जब सेलेब्रिटी बना तो…

सुशील का कहना है कि ‘उस समय मीडिया को लेकर मैं बहुत ज्यादा सीरियस रहा करता था और मीडिया भी कुछ कुछ दिन पर पूछ देती थी कि आप क्या कर रहे हैं इसको लेकर मैं बिना अनुभव के कभी ये बिज़नेस कभी वो करता था ताकि मैं मीडिया में बता सकूं की मैं बेकार नहीं हूं. जिसका परिणाम ये होता था कि वो बिज़नेस कुछ दिन बाद डूब जाता था’.

ठगने लगे लोग-

उन्होंने आगे लिखा- ‘इसके साथ केबीसी के बाद मैं दानवीर बन गया था और गुप्त दान का चस्का लग गया था महीने में लगभग 50 हज़ार से ज्यादा ऐसे ही कार्यों में चला जाता था. इस कारण कुछ चालू टाइप के लोग भी जुड़ गए थे और हम गाहे-बगाहे खूब ठगा भी जाते थे जो दान करने के बहुत दिन बाद पता चलता था’.

पत्नी से खराब हुए रिश्ते-

वहीं इसका असर उनके परिवार पर भी पड़ा, जिसके बारे में सुशील ने बताया कि- ‘पत्नी के साथ भी संबंध धीरे-धीरे खराब होते जा रहे थे. वो अक्सर कहा करती थी कि आपको सही गलत लोगों की पहचान नहीं है और भविष्य की कोई चिंता नही है. ये सब बात सुनकर हमको लगता था कि हमको नही समझ पा रही है इस बात पर खूब झड़गा हो जाया करता था’.

KBC Winner Sushil Kumar : Kbc 2011 Winner Sushil Kumar Is Doing Plantation  These Days | KBC में 5 करोड़ जीतने वाले सुशील कुमार इन दिनों क्या कर रहे  हैं? - Trending | नवभारत टाइम्स

शुरू किया ये बिजनेस-

उन्होंने ये भी माना कि- ‘इसके साथ कुछ अच्छी चीजें भी हो रही थी दिल्ली में मैंने कुछ कार ले कर अपने एक मित्र के साथ चलवाने लगा था जिसके कारण मुझे लगभग हर महीने कुछ दिनों दिल्ली आना पड़ता था. इसी क्रम में मेरा परिचय कुछ जामिया मिलिया में मीडिया की पढ़ाई कर रहे लड़कों से हुआ फिर आईआईएमसी में पढ़ाई कर रहे लड़के फिर उनके सीनियर, फिर जेएनयू में रिसर्च कर रहे लड़के,कुछ थियेटर आर्टिस्ट आदि से परिचय हुआ जब ये लोग किसी विषय पर बात करते थे तो लगता था कि अरे!मैं तो कुंए का मेढ़क हूं मैं तो बहुत चीजों के बारे में कुछ नही जानता. अब इन सब चीजों के साथ एक लत भी साथ जुड़ गया- शराब और सिगरेट ‘.

KBC 5 Jackpot Winner of 5 Crore Sushil Kumar

ऐसे लगी बुरी लतें-

उन्होंने आगे लिखा- ‘जब इन लोगों के साथ बैठना ही होता था दारू और सिगरेट के साथ. एक समय ऐसा आया कि अगर सात दिन रुक गया तो सातों दिन इस तरह के सात ग्रुप के साथ अलग अलग बैठकी हो जाती थी. इन लोगों को सुनना बहुत अच्छा लगता था. चूंकि ये लोग जो भी बात करते थे मेरे लिए सब नया नया लगता था बाद, इन लोगों की संगति का ये असर हुआ कि मीडिया को लेकर जो मैं बहुत ज्यादा सीरियस रहा करता था वो सिरियस नेस धीरे धीरे कम हो गई’.

Sonia Gandhi meets KBC winner Sushil Kumar

कैसे आई कंगाली-

उन्होंने बताया कि- ‘कैसे आई कंगाली की खबर(ये थोड़ा फिल्मी लगेगा)’. सुशील ने लिखा- उस रात प्यासा फ़िल्म देख रहा था और उस फिल्म का क्लाइमेक्स चल रहा था जिसमें माला सिन्हा से गुरुदत्त साहब कर रहे हैं कि मैं वो विजय नही हूं वो विजय मर चुका. उसी वक्त पत्नी कमरे में आई और चिल्लाने लगी कि एक ही फ़िल्म बार बार देखने से आप पागल हो जाइएगा और और यही देखना है तो मेरे रूम में मत रहिये जाइये बाहर. इस बात से हमको दुःख इसलिए हुआ कि लगभग एक माह से बात चित बंद थी और बोला भी ऐसे की आगे भी बात करने की हिम्मत न रही और लैपटॉप को बंद किये और मुहल्ले में चुपचाप टहलने लगे’.

सुशील ने आगे लिखा- ‘अभी टहल ही रहे थे तभी एक अंग्रेजी अखबार के पत्रकार महोदय का फोन आया और कुछ देर तक मैंने ठीक ठाक बात की बाद में उन्होंने कुछ ऐसा पूछा जिससे मुझे चिढ़ हो गई और मैने कह दिया कि मेरे सभी पैसे खत्म हो गए और दो गाय पाले हुए हैं उसी का दूध बेंचकर गुजारा करते हैं उसके बाद जो उस न्यूज़ का असर हुआ उससे आप सभी तो वाकिफ होंगे ही. उस खबर ने अपना असर दिखाया जितने चालू टाइप के लोग थे वे अब कन्नी काटने लगे मुझे लोगों ने अब कार्यक्रमों में बुलाना बंद कर दिया और तब मुझे समय मिला की अब मुझे क्या करना चाहिए’.

पहुंच गए मुंबई-

सुशील ने अपने फेसबुक पोस्ट में बताया कि ‘इसी बीच एक दिन पत्नी से खूब झगड़ा हो गया और वो अपने मायके चली गई बात तलाक लेने तक पहुंच गई. तब मुझे ये एहसास हुआ कि अगर रिश्ता बचाना है तो मुझे बाहर जाना होगा और फ़िल्म निदेशक बनने का सपना लेकर चुपचाप बिल्कुल नए परिचय के साथ मैं आ गया. अपने एक परिचित प्रोड्यूसर मित्र से बात करके जब मैंने अपनी बात कही तो उन्होंने फिल्म सम्बन्धी कुछ टेक्निकल बाते पूछी जिसको मैं नही बता पाया तो उन्होंने कहा कि कुछ दिन टी वी सीरियल में कर लीजिए बाद में हम किसी फ़िल्म डायरेक्टर के पास रखवा देंगे’.

Life after winning 5 crores - Rediff.com News

मुंबई में कुछ ऐसा हुआ-

‘एक बड़े प्रोडक्शन हाउस में आकर काम करने लगा वहां पर कहानी, स्क्रीन प्ले, डायलॉग कॉपी, प्रॉप कॉस्टयूम, कंटीन्यूटी और न जाने क्या करने देखने समझने का मौका मिला उसके बाद मेरा मन वहां से बेचैन होने लगा वहां पर बस तीन ही जगह आंगन, किचन, बेडरूम ज्यादातर शूट होता था और चाह कर भी मन नही लगा पाते थे. हम तो मुम्बई फ़िल्म निदेशन बनने का सपना लेकर आये थे और एक दिन वो भी छोड़ कर अपने एक परिचित गीतकार मित्र के साथ उसके रूम में रहने लगा और दिन भर लैपटॉप पर सिनेमा देखते देखते और दिल्ली पुस्तक मेला से जो एक सूटकेस भर के किताब लाये थे. उन किताबों को पढ़ते रहते. लगभग छः महीने लगातार यही करता रहा और दिन भर में एक डब्बा सिगरेट खत्म कर देते थे पूरा कमरा हमेशा धुंआ से भरा रहता था’.

Forgotten Newsmakers | Sushil Kumar, The Motihari Corepati Who Wants To  Save The Indian Sparrow | Outlook India Magazine

दिन भर अकेले ही रहने से और पढ़ने-लिखने से मुझे खुद के अंदर निष्पक्षता से झांकने का मौका मिला और मुझे ये एहसास हुआ कि- मैं मुंबई में कोई डायरेक्टर बनने नहीं आया था. मैं एक भगोड़ा हूं जो सच्चाई से भाग रहा है. असली खुशी अपने मन का काम करने में है. घमंड को कभी शांत नही किया जा सकता. बड़े होने से हज़ार गुना ठीक है अच्छा इंसान होना. खुशियां छोटी-छोटी चीजों में छुपी होती हैं. जितना हो सके देश समाज का भला करना जिसकी शुरुआत अपने घर/गांव से की जानी चाहिए’.

लिखी तीन कहानियां-

हालांकि इसी दौरान मैंने तीन कहानी लिखी जिमें से एक कहानी एक प्रोडक्शन हाउस को पसंद भी आई और उसके लिए मुझे लगभग 20 हज़ार रुपए भी मिले. (हालांकि पैसा देते वक्त मुझसे कहा गया कि इस फ़िल्म का आईडिया बहुत अच्छा है कहानी पर काफी काम करना पड़ेगा, क्लाइमेक्स भी ठीक नही है आदि आदि और इसके लिए आपको बहुत ज्यादा पैसा हम लोगों ने पे कर दिया है).

Watch Sushil Kumar – First 5 Crore Winner on the set of KBC – Kaun Banega  Crorepati Registration Information

जब लौट आया घर-

मैं मुम्बई से घर आ गया और टीचर की तैयारी की और पास भी हो गया. साथ ही अब पर्यावरण से संबंधित बहुत सारे कार्य करता हूं जिसके कारण मुझे एक अजीब तरह की शांति का एहसास होता है साथ ही अंतिम बार मैंने शराब मार्च 2016 में पी थी उसके बाद पिछले साल सिगरेट भी खुद ब खुद छूट गया. अब तो जीवन मे हमेशा एक नया उत्साह महसूस होता है और बस ईश्वर से प्रार्थना है कि जीवन भर मुझे ऐसे ही पर्यावरण की सेवा करने का मौका मिलता रहे इसी में मुझे जीवन का सच्चा आनंद मिलता है.

आखिर में सुशील ने लिखा- ‘बस यही सोचते हैं कि जीवन की जरूरतें जितनी कम हो सके रखनी चाहिए बस इतना ही कमाना है कि जो जरूरतें वो पूरी हो जाएं और बाकी बचे समय में पर्यावरण के लिए ऐसे ही छोटे स्तर पर कुछ कुछ करते रहना है’.

Source : News18

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : सलमान और करण जौहर समेत 8 फिल्मी हस्तियों को कोर्ट में पेश होने का आदेश

Muzaffarpur Now

Published

on

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में मुजफ्फरपुर जिला न्यायालय ने सलमान खान, करण जौहर और आदित्य चोपड़ा सहित 8 हस्तियों को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है। डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के आदेश के मुताबिक, इन सभी को खुद या वकील के माध्यम से अपने पेशी कोर्ट में सुनिश्चित करनी होगी। इन आठों हस्तियों की पेशी के लिए कोर्ट ने 7 अक्टूबर की तारीख तय की है।

मुजफ्फरपुर के वकील सुधीर ओझा के परिवाद पर कोर्ट ने सलमान खान, करण जौहर, आदित्य चोपड़ा, संजय लीला भंसाली, एकता कपूर, साजिद नाडियावाला, भूषण कुमार और दिनेश विजयन को कोर्ट में पेश होने के लिए कहा है। इन सभी को इस संबंध में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट से नोटिस भेजा जा चुका है।

बता दें कि वकील सुधीर ओझा ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद मुजफ्फरपुर सीजेएम कोर्ट में 17 जून को परिवाद दाखिल किया था। उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के लिए इन सभी को जिम्मेदार ठहराते हुए आईपीसी की धारा 306, 504 और 506 के तहत शिकायत दर्ज करवाई थी।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई स्थित अपने फ्लैट में आत्महत्या कर ली थी। इस मामले की जांच पहले मुंबई पुलिस कर रही थी, लेकिन पटना में सुशांत के पिता द्वारा एफआईआर कराने के बाद बिहार पुलिस ने भी जांच शुरू की। बाद में सुशांत के पिता ने मुंबई पुलिस की जांच से असंतुष्टि जाहिर करते हुए सीबीआई जांच की मांग की थी। इसके बाद बिहार सरकार ने केंद्र को सीबीआई जांच के लिए सिफारिश की, जिसे केंद्र सरकार ने मान लिया।

फिलहाल सुशांत सिंह मौत मामले की जांच सीबीआई कर रही है। पूछताछ के दौरान सामने आए अन्य तथ्यों की जांच के लिए ईडी और एनसीबी जैसी एजेंसियां भी लगी हैं। अभी तक रिया चक्रवर्ती और उनके भाई समेत कई लोगों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है।

Source : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

बिहार पहुंचते ही आरजेडी पर बरसे संबित पात्रा, कहा – लालटेन में न तेज है और न प्रताप

Avatar

Published

on

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने कमर कस ली है. चुनाव के मद्देनजर बीजेपी के सभी बड़े नेताओं का बिहार दौरा शुरु हो चुका है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, बिहार बीजेपी चुनाव प्रभारी सह महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंन्द्र फडणवीस के बाद अब बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा बिहार में पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने के लिए आए हुए हैं.

 

शुक्रवार को बिहार पहुंचे भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने आरजेडी पर जमकर निशाना साधा. राजधानी पटना में संबित पात्रा ने तेजस्वी और तेजप्रताप पर तंज कसते हुए कहा कि लालटेन में न तेज है और न प्रताप, सिर्फ नाम है. यही नहीं संबित पात्रा ने तो पूर्व केंन्द्रिय मंत्री रघुवंश प्रसाद के मौत का जिम्मेदार भी राजद को बताया है. उन्होंने कहा कि एक लोटा पानी से आरजेडी का तर्पण होगा.

बता दें कि रघुवंश प्रसाद सिंह को लेकर तेजप्रताप यादव ने कहा था कि आरजेडी समंदर है और एक लोटा पानी कम भी हो जाएगा तो फर्क नहीं पड़ेगा. वहीं, पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा कि विपक्ष के युवराजों को मैन ऑफ निगेटिविटी की उपाधि मिलनी चाहिए. क्योंकि, विपक्षी नेताओं की सकारात्मक सोच पूरी तरह खत्म हो गयी है.

मंत्री ने विपक्षी दलों की कथनी और करनी पर प्रहार करते हुए कहा कि विपक्षी दलों के नेता नकारात्मक ऊर्जा से ग्रसित हैं. यह उनके उल-जुलूल बयानों से साबित हो चुका है. उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर तंज कसते हुए कहा कि विपक्ष के युवराजों को ‘ मैन ऑफ निगेटिविटी’ की उपाधि मिलनी ही चाहिए. इन लोगों ने आज तक कोई सकारात्मक बात नहीं की. चाहे देश की सुरक्षा की बात हो, या फिर कोरोना संकट से लड़ने की. इनकी निगेटिविटी से तो देश का कुछ नहीं बिगड़ेगा.

Source : Live Cities

Continue Reading

MUZAFFARPUR

जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया सिंह पहुँचे मुजफ्फरपुर

Abhay Raj

Published

on

बिहार विधानसभा चुनाव की सरगर्मी तेज़ हो गई है.इस बीच सभी पार्टियां चुनाव की तैयारी में युद्ध अस्तर पर जुट गई है.इस बीच मुजफ्फरपुर पहुचे जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया सिंह ने 200 से अधिक सीटे जितने का दावा किया है.

शुक्रवार की सुबह जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया सिंह दरभंगा जाने के क्रम में मुजफ्फरपुर के भगवानपुर स्थित एक होटल में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक किया.इस दौरान कार्यकर्ताओ ने गर्मजोशी के साथ प्रदेश अध्यक्ष का भव्य स्वागत किया.प्रदेश अध्यक्ष ने बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर कार्यकर्ताओ को कई टिप्स दिए.साथ ही कार्यकर्ताओं के साथ विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति बनाई.उन्होंने कार्यकर्ताओं को कहा कि केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा की गई कामो को जन जन तक पहुचाना है.उन्होंने विधानसभा चुनाव की तैयारी के साथ ही एनडीए के साथ मिलकर बिहार में 200 से अधिक सीट जितने का दावा किया.उन्होंने कहा कि NDA में किसी भी तरह का कोई मतभेद नही है.हमलोग मिलजुल कर सरकार बनाएंगे.

जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया सिंह ने कहा कि NDA मिल कर चुनाव लड़ेगी.हमारा गठबंधन अटूट है.जितने भी समाजवादी नेता है वो खुल कर बोलते है.ये उनका अधिकार भी है.जदयू जात,पात या धर्म की बात नही करता है.बैठक में जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के ज़िला अध्यक्ष सुरेश प्रसाद सिंह,ज़िला सचिव निर्मल कुमार गुप्ता,प्रदेश सचिव बीरेंद्र प्रसाद सिंह,प्रदेश महासचिव प्रोफेसर संगीता कुमारी,स्वामी सहजानंद किसान मजदूर संगठन के जिला अध्यक्ष संभु शरण ठाकुर आदि मौजूद रहे.

Continue Reading
MUZAFFARPUR2 mins ago

मुजफ्फरपुर : सलमान और करण जौहर समेत 8 फिल्मी हस्तियों को कोर्ट में पेश होने का आदेश

INDIA4 hours ago

कृषि बिल के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे किसान, सहयोगी दलों ने बढ़ाई BJP की मुश्किलें

BIHAR4 hours ago

बिहार पहुंचते ही आरजेडी पर बरसे संबित पात्रा, कहा – लालटेन में न तेज है और न प्रताप

INDIA4 hours ago

भारत ने लगाया निर्यात पर प्रतिबंध तो प्याज के आंसू रोने लगा नेपाल, 4 दिन में 150 रुपए किलो तक पहुंची कीमत

INDIA4 hours ago

इकबाल अंसारी का सीबीआई कोर्ट से आग्रह- बाबरी मस्जिद मामला खत्म कर सभी आरोपियों को बरी करें

INDIA4 hours ago

लोकसभा में पास हुए किसानों से जुड़े बिल, 10 प्वाइंट में जानें क्या हैं विधेयक, क्यों हो रहा विरोध, किसने क्या कहा

MUZAFFARPUR4 hours ago

जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया सिंह पहुँचे मुजफ्फरपुर

JAYNAT-KANT-SSP-IPS
MUZAFFARPUR4 hours ago

बिहार चुनाव: मुजफ्फरपुर के SSP ने दिया निर्देश, पूर्ण शराबबंदी को हर हाल में लागू करें थानाध्यक्ष

INDIA5 hours ago

जया बच्चन पर गरजे ‘शक्तिमान’ बोले- ‘इंडस्ट्री किसी के बाप की नहीं है’

BIHAR5 hours ago

पीएम मोदी ने बिहार को दी 516 करोड़ की सौगात, कोसी महासेतु का किया उद्घाटन

BIHAR5 days ago

KBC जीत करोड़पति बने थे सुशील कुमार, सेलेब्रिटी बनने के बाद देखा सबसे बुरा समय

BIHAR5 days ago

जाते जाते भी लोगो के लिए मांग रखकर, रुला गए ब्रह्म बाबा..

BOLLYWOOD1 day ago

कंगना रनौत का जया बच्चन को जवाब- हीरो के साथ सोने के बाद मिलता था 2 मिनट का रोल

JOBS2 weeks ago

Amazon दे रहा पैसा कमाने का मौका! सिर्फ 4 घंटे में कमा सकते हैं 60000-70000 रु

BIHAR1 week ago

बारिश में भीगकर ट्रैफिक कंट्रोल कर रहा था कांस्टेबल, रास्ते से गुजर रहे DIG ने गाड़ी रोक किया सम्मानित

MUZAFFARPUR7 days ago

पिता जदयू में और मां लोजपा में, बेटी कोमल सिंह लड़ेगी मुजफ्फरपुर के गायघाट से चुनाव!

BIHAR4 weeks ago

क्या बिहार के डीजीपी ने दे दिया इस्तीफा? जानिए खुद गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट कर क्या कहा?

BIHAR4 weeks ago

सुशांत सिंह की संपत्ति पर पिता ने जताया दावा, बोले- इस पर केवल मेरा हक

BIHAR3 weeks ago

बिहार में बड़ी संख्या में निकलने वाली है कंप्यूटर ऑपरेटर्स की भर्ती, कर लें तैयारी

INDIA3 weeks ago

एलपीजी सिलिंडर बुकिंग पर मिल रहा है 500 रुपये तक का कैशबैक, करें बस यह छोटा सा काम

Trending