काम की बात : किसी शत्रु से अपना काम करवाना हो तो चाणक्य नीति के ये 7 तरीके आएंगे आपके काम

0
107
Chankya Niti

आचार्य चाणक्य ने किसी शत्रु से अपना काम करवाने के लिए 7 तरीके बताए हैं। चाणक्य ने नीति शास्त्र के साथ ही चाणक्य सूत्र नाम का ग्रंथ भी लिखा था। इस ग्रंथ के पहले अध्याय के 97 वें सूत्र में बताया है कि किसी शत्रु से हम 7 तरीकों से अपना काम करवा सकते हैं। इन तरीकों के नाम हैं साम, दाम, दण्ड, भेद, माया, उपेक्षा और इंद्रजाल। जानिए इन तरीकों के बारे में…

Chankya Niti

पहला तरीका

अच्छा बोलकर या अच्छे व्यवहार से शत्रु को अपने अनुकूल बना लेना साम कहलाता है।

दूसरा तरीका

किसी शत्रु को धन देकर अपने पक्ष में कर लेना और अपना काम करवा लेना दाम कहलता है।

तीसरा तरीका

शत्रु का पैसा छीनकर या उसको शारीरिक कष्ट देकर उसे कमजोर बना देना दण्ड कहलाता है।

चौथा तरीका

किसी व्यक्ति की गुप्त बातें जानकर उसे अपने पक्ष कर लेना भेद कहलाता है। दो दुश्मनों में आपस में कलह पैदा करना भी भेद ही कहा गया है।

पांचवां तरीका

किसी शत्रु को धन का लालच देना, धोखा देना या ठगना माया कहलाता है।

छठा तरीका

शत्रु की मदद करने वाले लोगों को अपने पक्ष में करना और शत्रु तक मदद नहीं पहुंचने देना उपेक्षा कहलाता है।

सातवां तरीका

शत्रुओं के विरुद्ध षडयंत्र रचकर उन्हें पराजित करना इंद्रजाल कहलाता है।

Input : Dainik Bhaskar