Connect with us

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर की बेटी शिवांगी होंगी नौसेना की पहली महिला पायलट

Santosh Chaudhary

Published

on

-shivangi-first-woman-pilot-of-navy

भारतीय नौसेना पायलट की फेहरिस्त में जल्द ही एक महिला अधिकारी शिवांगी का नाम शामिल होने जा रहा है। वह नौसेना की पहली महिला पायलट होंगी। बताया जा रहा है कि आगामी दो दिसंबर को सब लेफ्टिनेंट शिवांगी नौसेना को ज्वाइन करेंगी। वह एक निगरानी विमान उड़ाएंगी। उन्हें कोच्चि में तैनात किया जाएगा।

-shivangi-first-woman-pilot-of-navy

गौरतलब है कि निगरानी विमान कम दूरी के समुद्री मिशन पर भेजे जाते हैं। इसमें एडवांस सर्विलांस राडार, इलेक्ट्रॉनिक सेंसर और नेटवर्किंग जैसे कई शानदार उपकरण मौजूद रहते हैं। इनके दम पर यह विमान भारतीय समुद्र क्षेत्र पर निगरानी रखता है।

इसी साल भावना कांत भारतीय वायुसेना की पहली महिला पायलट बनी थीं, जिन्होंने फाइटर जेट उड़ाने के लिए क्वालिफाई किया था। इससे पहले 2016 में भावना कांत, अवनी चतुर्वेदी और मोहाना सिंह को भारतीय वायुसेना में पायलट के तौर पर तैनाती मिली थी।

कौन हैं लेफ्टिनेंट शिवांगी

सब लेफ्टिनेंट शिवांगी भारतीय नौसेना की पहली महिला पायलट होंगी. शिवांगी दो दिसंबर को फिक्स्ड विंग डोर्नियर सर्विलांस विमानों की प्लेन उड़ाएंगी. शिवांगी कोच्चि में ऑपरेशन ड्यूटी में शामिल होंगी.

शिवांगी की ट्रेनिंग दक्षिणी कमान में चल रही है. ट्रेनिंग पूरी करने के बाद दो दिसंबर को शिवांगी नौसेना में अपनी कमान संभालेंगी. शिवांगी भारतीय नौसेना में शामिल होने वाली पहली महिला पायलट होंगी.

शिवांगी बिहार के मुजफ्फरपुर से हैं और उन्होंने यहां डीएवी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की है. शिवांगी ने 12वीं तक की पढ़ाई डीएवी-बखरी से की है.

इसके बाद शिवांगी ने सिक्किम मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से बीटेक किया है. भारतीय नौसेना अकादमी में शिवांगी को 27 एनओसी कोर्स के तहत एसएसी (पायलट) के तौर पर शामिल किया गया था.

शिवांगी को पिछले साल जून में वाइस एडमिरल ए.के. चावला ने औपचारिक तौर पर उन्हें कमीशन किया था. बता दें कि इसी साल भावना कांत भारतीय वायुसेना की पहली महिला पायलट बनी थीं.

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : शहीद खुदीराम बोस को इस बार सादे समारोह में दी जाएगी श्रद्धांजलि

Muzaffarpur Now

Published

on

कोरोना के बढ़ते संक्रमण काे देखते हुए इस बार शहीद खुदीराम बोस काे भी शहादत दिवस पर सादे समारोह में श्रद्धांजलि दी जाएगी। करीब दो दशक से बंगाल स्थित उनके गांव से हर वर्ष अानेवाले उनके परिजन व अन्य लाेग भी मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल में 11 अगस्त की अलस्सुबह इस समारोह में शामिल नहीं होंगे। बल्कि, शहर के प्रमुख लोग व जिला प्रशासन के अधिकारी भी इसमें शामिल नहीं होंगे।

Image may contain: 7 people, people standing and outdoor

इसे लेकर जिला प्रशासन ने नोटिस भी जारी किया है। इसमें कहा गया है कि सादे समारोह में शहीद खुदीराम बोस का शहादत दिवस शहीद खुदीराम बोस केंद्रीय कारा में मनाया जाएगा। इसमें कारा प्रशासन के अधिकारी ही शामिल होंगे। जेल अधीक्षक राजीव सिंह ने बताया कि जिला प्रशासन से मिले निर्देश के मुताबिक तैयारी की जा रही है। शहीद खुदीराम बोस के स्मारक से लेकर वार्ड तक का रंगरोगन आदि कराया जा रहा है।

Image may contain: 10 people, people standing, outdoor and food

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : दो साल से सैंकड़ो ग़रीब बच्चों को मुफ़्त में पढ़ा रहे- अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार

Muzaffarpur Now

Published

on

शिक्षा ही गरीबी से बाहर निकलने का सबसे बड़ा हथियार है. जबतक ग़रीब और दलित परिवार के बच्चों को शिक्षा नहीं दिया जायेगा तबतक समाज की ग़रीबी समाप्त नहीं हो सकती और मुजफ्फरपुर निवासी अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार ने इस बात को बखूबी समझा.

मुजफ्फरपुर में कन्हौली विष्णुदत्त स्थित मोहन सहनी टोला में अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार पिछले दो वर्षों से निःशुल्क स्कूल चला रहे है. इन दोनों दोस्तों ने अपने पैसों से गांव में स्मार्ट क्लास का निर्माण भी कराया है. गांव के बच्चों को स्मार्ट टीवी के माध्यम से ये दोनों साथी मुफ्त में आधुनिक शिक्षा दे रहे है.

फ्री स्मार्ट स्कूल चलाने और देशहित के कामों के लिये अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार ने जर्नलिस्ट फॉर सोशल रिफॉर्म (जे.एस.आर) नाम से संस्था भी बनाया है. अब इसी जे.एस आर के बैनर तले दोनों तक़रीबन 110 बच्चों को रोज़ाना फ्री में पढ़ा रहे है.

संस्था के तहत इन्होंने फ्री स्कूल की शुरुआत 2018 में की तबसे वहां एक नियमित शिक्षक उपलब्ध करा रोजाना बच्चों की पढ़ाई चल रही है. जिस इलाके में इन्होंने स्कूल बनाया है वह मूलतः दलित बस्ती है जहाँ बच्चों के साफ-सफाई और रहन सहन में ढ़ेरो परेशानी थी. फ्री स्कूल के माध्यम से बच्चो को सफाई का भी पाठ पढ़ाया जाता है. नियमित हाथ धोना, नहाना और नाखून सही समय पर काटने के लिये भी बच्चों को प्रेरित किया जाता है.

अभिषेक रंजन और उज्जवल ने जब कन्हौली के मोहन सहनी टोला में फ्री स्कूल की शुरुआत की थी तब वहां 20-25 बच्चें ही आते थे. अब धीरे- धीरे संख्या बढ़कर 110 बच्चों तक पहुँच गया है. स्मार्ट टीवी से पढ़ाई होने के कारण बच्चों को पढ़ने में भी अधिक मन लगने लगा है. जे.एस.आर के माध्यम से समय-समय पर बच्चों का मुफ़्त स्वास्थ जांच भी कराया जाता है और अन्य एक्स्ट्रा एक्टिविटी भी कराई जाती है.

स्कूल के संस्थापक अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार बताते है कि कोरोना के मद्देनजर अभी स्कूल बंद है, लेकिन खुलते ही बच्चों को मास्क और सेनिटाइजर दिया जाएगा और समाजिक अनुशासन पर विशेष बल दिया जायेगा. संस्थापक ने बताया कि जे.एस.आर फ़्री स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों का पूर्व में भी स्वास्थ जांच होता रहा है अब इन चीजों पर और विशेष ध्यान दिया जाएगा.

समाज में शिक्षा का अलख जगाने के लिये इन दोनों दोस्तों का यह कदम सराहनीय है. इनसे प्रेरणा लेकर और भी लोगों को ऐसा क़दम उठा देश निर्माण मे योगदान करना चाहिए.

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर: कोरोना, बाढ़ के बीच चमकी का कहर, एसकेएमसीएच में एक बच्ची की मौत

Ravi Pratap

Published

on

एसकेएमसीएच के पीकू वार्ड में रविवार को चमकी-बुखार से पीड़ित औराई के देकुली के सुरुचि कुमारी की मौत हो गई। उसे बीते शुक्रवार की सुबह भर्ती कराया गया था। वहीं, पीकू वार्ड में छह नये बच्चों को भर्ती किया गया है। डॉक्टरों ने बताया कि भर्ती बच्चों में चमकी-बुखार के लक्षण पाए गए हैं। फिलहाल लक्षण के आधार पर इलाज शुरू किया गया है। ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए पैथोलॉजी लैब में भेजा गया है।

Photo : File

भर्ती बच्चों में काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र का छह महीने का मो. सादिक, गायघाट के चोरनिया की 12 वर्षीया आरती कुमारी, मोतिहारी की सात वर्षीया रानी कुमारी व दस वर्षीय रवि कुमार, सीतामढ़ी के बाजपट्टी की सात वर्षीया साहिस्ता परवीन व गोपीनाथपुर का दस वर्षीय रंधीर कुमार शामिल है। एसकेएमसीएच अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने बताया कि पीकू वार्ड में एक बच्ची की मौत हो गई है। उसे तेज बुखार होने पर भर्ती कराया गया था।

Input : Live Hindustan

Continue Reading
INDIA6 hours ago

बड़ा खुलासा: सुब्रमण्यम स्वामी का दावा, ‘एंबुलेंस में सुशांत का पैर मुड़ा हुआ था’

INDIA6 hours ago

प्रसिद्ध तिरुपति मंदिर के 743 कर्मचारी पाए गए COVID-19 पॉजिटिव, तीन की मौत

BOLLYWOOD6 hours ago

आनंद कुमार के साथी आईपीएस अभयानंद की कहानी लाए प्रकाश झा, 36 साल बाद पहुंचे फिर उसी स्कूल में

TRENDING7 hours ago

शिक्षा मंत्री ने 11वीं क्लास में लिया दाखिला, मैट्रिक तक पढ़े होने के कारण होती थी फजीहत

BIHAR7 hours ago

बिहार के इस जिले में मैट्रिक का अंकपत्र देने के बदले हेडमास्टर साहब लेते हैं चढ़ावा, वसूली का वीडियो वायरल

BIHAR7 hours ago

प्रधानमंत्री से नीतीश कुमार बोले-नेपाल ने बिहार में बाढ को विकराल कर दिया है, आप हस्तक्षेप करके समाधान कराइये

BIHAR7 hours ago

नीतीश पर हमलावर चिराग ने कहा – लोजपा अकेले बिहार विधानसभा की सभी 243 सीटों पर लड़ने को तैयार

BIHAR7 hours ago

लालू ने बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर कसा तंज, कहा- अस्पताल में रुई भी मिले तो भगवान को शुक्रिया कहना रे भाई

INDIA8 hours ago

आगामी 30 सितंबर तक रद्द रहेंगी रेलगाड़ियां? रेलवे बोर्ड ने लगाया अफवाहों पर विराम

BIHAR8 hours ago

सुशांत केस की CBI जांच पर संजय राउत का बिहार सरकार पर तंज- ‘मेरे आंगन में तुम्हारा क्या काम है’

BIHAR4 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 weeks ago

सलमान खान ने शेयर की किसानी करने की ऐसी तस्वीर, लोगों ने जमकर सुनाई खरीखोटी

INDIA4 weeks ago

एक दूल्हे के संग दो दुल्हनों ने लिए फेरे : एक गर्लफ्रेंड, दूसरी मम्मी-पापा की पसंद, Video देखें

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

BIHAR6 days ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR6 days ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR1 week ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

MUZAFFARPUR3 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

BIHAR1 day ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

Trending