Connect with us

INDIA

कामाख्या मंदिर का यह गुप्त रहस्य जानकार होश उड़ जायेंगे आपके, दुनिया से छुपा था अब तक

Santosh Chaudhary

Published

on

51 शक्तिपीठों में से एक कामाख्या शक्तिपीठ बहुत ही प्रसिद्ध और चमत्कारी है। कामाख्या देवी का मंदिर अघोरियों और तांत्रिकों का गढ़ माना जाता है। असम की राजधानी दिसपुर से लगभग 7 किलोमीटर दूर स्थित यह शक्तिपीठ नीलांचल पर्वत से 10 किलोमीटर दूर है। कामाख्या मंदिर सभी शक्तिपीठों का महापीठ माना जाता है। इस मंदिर में देवी दुर्गा या मां अम्बे की कोई मूर्ति या चित्र आपको दिखाई नहीं देगा। वल्कि मंदिर में एक कुंड बना है जो की हमेशा फूलों से ढ़का रहता है। इस कुंड से हमेशा ही जल निकलता रहतै है। चमत्कारों से भरे इस मंदिर में देवी की योनि की पूजा की जाती है और योनी भाग के यहां होने से माता यहां रजस्वला भी होती हैं। मंदिर से कई अन्य रौचक बातें जुड़ी है, आइए जनते हैं …

kamakhya

मंदिर धर्म पुराणों के अनुसार माना जाता है कि इस शक्तिपीठ का नाम कामाख्या इसलिए पड़ा क्योंकि इस जगह भगवान शिव का मां सती के प्रति मोह भंग करने के लिए विष्णु भगवान ने अपने चक्र से माता सती के 51 भाग किए थे जहां पर यह भाग गिरे वहां पर माता का एक शक्तिपीठ बन गया और इस जगह माता की योनी गिरी थी, जोकी आज बहुत ही शक्तिशाली पीठ है। यहां वैसे तो सालभर ही भक्तों का तांता लगा रहता है लेकिन दुर्गा पूजा, पोहान बिया, दुर्गादेऊल, वसंती पूजा, मदानदेऊल, अम्बुवासी और मनासा पूजा पर इस मंदिर का अलग ही महत्व है जिसके कारण इन दिनों में लाखों की संख्या में भक्त यहां पहुचतें है।

Source : NorthEast Travelers

यहां लगता है अम्बुवाची मेला

हर साल यहां अम्बुबाची मेला के दौरान पास में स्थित ब्रह्मपुत्र का पानी तीन दिन के लिए लाल हो जाता है। पानी का यह लाल रंग कामाख्या देवी के मासिक धर्म के कारण होता है। फिर तीन दिन बाद दर्शन के लिए यहां भक्तों की भीड़ मंदिर में उमड़ पड़ती है। आपको बता दें की मंदिर में भक्तों को बहुत ही अजीबो गरीब प्रसाद दिया जाता है। दूसरे शक्तिपीठों की अपेक्षा कामाख्या देवी मंदिर में प्रसाद के रूप में लाल रंग का गीला कपड़ा दिया जाता है। कहा जाता है कि जब मां को तीन दिन का रजस्वला होता है, तो सफेद रंग का कपडा मंदिर के अंदर बिछा दिया जाता है। तीन दिन बाद जब मंदिर के दरवाजे खोले जाते हैं, तब वह वस्त्र माता के रज से लाल रंग से भीगा होता है। इस कपड़ें को अम्बुवाची वस्त्र कहते है। इसे ही भक्तों को प्रसाद के रूप में दिया जाता है।

Source : Adib Zamali

1. मनोकामना पूरी करने के लिए यहां कन्या पूजन व भंडारा कराया जाता है। इसके साथ ही यहां पर पशुओं की बलि दी जाती ही हैं। लेकिन यहां मादा जानवरों की बलि नहीं दी जाती है।

2. काली और त्रिपुर सुंदरी देवी के बाद कामाख्या माता तांत्रिकों की सबसे महत्वपूर्ण देवी है। कामाख्या देवी की पूजा भगवान शिव के नववधू के रूप में की जाती है, जो कि मुक्ति को स्वीकार करती है और सभी इच्छाएं पूर्ण करती है।

3.मंदिर परिसर में जो भी भक्त अपनी मुराद लेकर आता है उसकी हर मुराद पूरी होती है। इस मंदिर के साथ लगे एक मंदिर में आपको मां का मूर्ति विराजित मिलेगी। जिसे कामादेव मंदिर कहा जाता है।

4. माना जाता है कि यहां के तांत्रिक बुरी शक्तियों को दूर करने में भी समर्थ होते हैं। हालांकि वह अपनी शक्तियों का इस्तेमाल काफी सोच-विचार कर करते हैं। कामाख्या के तांत्रिक और साधू चमत्कार करने में सक्षम होते हैं। कई लोग विवाह, बच्चे, धन और दूसरी इच्छाओं की पूर्ति के लिए कामाख्या की तीर्थयात्रा पर जाते हैं।

5. कामाख्या मंदिर तीन हिस्सों में बना हुआ है। पहला हिस्सा सबसे बड़ा है इसमें हर व्यक्ति को नहीं जाने दिया जाता, वहीं दूसरे हिस्से में माता के दर्शन होते हैं जहां एक पत्थर से हर वक्त पानी निकलता रहता है। माना जाता है कि महीनें के तीन दिन माता को रजस्वला होता है। इन तीन दिनो तक मंदिर के पट बंद रहते है। तीन दिन बाद दुबारा बड़े ही धूमधाम से मंदिर के पट खोले जाते है।

6. इस जगह को तंत्र साधना के लिए सबसे महत्वपूर्ण जगह मानी जाती है। यहां पर साधु और अघोरियों का तांता लगा रहता है। यहां पर अधिक मात्रा में काला जादू भी किया जाता ह। अगर कोई व्यक्ति काला जादू से ग्रसित है तो वह यहां आकर इस समस्या से निजात पा सकता है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

INDIA

जिस विकास दुबे के नाम से कांपती है कानपुर पुलिस, उसे MP पुलिस के जवान ने मारा थप्पड़

Muzaffarpur Now

Published

on

BHOPAL: जिस गैंगस्टर विकास दुबे के नाम से कानपुर पुलिस कांपती है उसको उज्जैन पुलिस ने थप्पड़ मारकर उसकी औकात बता दी. गिरफ्तारी के दौरान विकास दुबे को जब पुलिसकर्मियों ने कॉलर पकड़ा तो रौब दिखाने लगा और खुद को कानपुर वाला विकास दुबे परिचय देने लगा. इतना सुनते ही एक जवान ने विकास को एक थप्पड़ जड़ दिया. जिससे विकास के होश ठिकाने लगे गए.

पुलिस को देख चिल्लाया मैं हूं विकास दुबे

जब पुलिस ने उसको पकड़ा तो विकास दुबे ने चिल्लाया है कि मैं ही विकास दुबे हूं. वह बार-बार मध्य प्रदेश की पुलिस को बता रहा था कि मैं कोई आम अपराधी नहीं हूं. विकास को भी डर था कि कही पुलिस गोली न मार दे. इसलिए वह मीडिया के सामने खुद का परिचय दे रहा था. गिरफ्तारी के बारे में बताया जा रहा है कि गैंगस्टर विकास दुबे मध्य प्रदेश के उज्जैन महाकाल मंदिर में पूजा करने के लिए गया हुआ था. इस दौरान ही पुलिस ने यह कार्रवाई की है. विकास दुबे ने पूजा को लेकर बकायदा अपने नाम का पर्ची भी कटाया हुआ था. इस दौरान ही मंदिर के गार्ड ने विकास को पकड़ा. उसे बाद महाकाल पुलिस के हवाले उसको कर दिया गया. मध्यप्रदेश की पुलिस यूपी पुलिस के संपर्क कर रही है.

देखिए वीडियो : 

विकास के पास नहीं था कोई हथियार

बताया जा रहा है कि जिस समय विकास की गिरफ्तारी हुई उस समय उसके पास कोई सामान नहीं था. उसके पास कोई हथियार भी नहीं था. इसमें सबसे बड़ी लापरवाही यूपी पुलिस की सामने आई है. आखिर कैसे वह उज्जैन पहुंच पाया है. यूपी पुलिस क्या कर रही थी. बता दें कि विकास दुबे के बिकरू गांव पुलिस छापेमारी करने गई थी तो विकास ने अपने गुर्गों के साथ पुलिस टीम पर हमला कर दिया था. इस हमले में एक डीएसपी समेत 8 पुलिसकर्मी मारे गए थे. जिसके बाद से पुलिस विकास की तलाश में जुटी है वह फरार चल रहा है.

Input : First Bihar

Continue Reading

INDIA

कश्मीर: बीजेपी नेता और उनके पिता-भाई की आतंकियों ने गोली मारकर की हत्‍या

Ravi Pratap

Published

on

कश्मीर के बांदीपोरा जिले में आतंकियों ने बुधवार देर शाम बड़ी घटना को अंजाम दिया है। आतंकियों ने बीजेपी के जिला प्रधान, उनके पिता और भाई पर हमला किया, जिसमें तीनों की मौत हो गई है। हमला करने के बाद आतंकी मौके से फरार हो गए। पुलिस और सुरक्षाबलों ने मौके पर आकर पूरे इलाके को घेर लिया है। बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने करीब आठ पीएसओ को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। इस बीच, केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने बताया है कि पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा में बीजेपी नेता की हत्या के बारे में फोन पर जानकारी ली। उन्होंने वसीम के परिवार के प्रति सांत्वना भी व्यक्त की है।

जानकारी के अनुसार, आतंकियों ने रात को बीजेपी के बांदीपोरा के जिला प्रधान शेख वसीम बरी उसके पिता बशीर अहमद तथा भाई उमर बरी पर घर के बाहर हमला किया। अचानक एकदम से आए आतंकियों ने तीनों पर फायरिंग शुरू कर दी जिसमें तीनों गंभीर रूप से घायल हो गए। हमला करने के बाद आतंकी मौके से फरार हो गए। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। तीनों को उठाकर इलाज के लिए अस्पताल में ले जाया गया लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

आठ पीएसओ से की जा है पूछताछ
मौके पर पहुंची पुलिस ने देर न करते हुए पूरे इलाके को घेर लिया ताकि हमला करने वाले आतंकियों का पता लगाया जा सके लेकिन आतंकियों का कोई सुराग नहीं लगा है। देर रात तक पूरे इलाके को घेर कर रखा गया था। सूत्रों का कहना है कि इस हमले के बाद पुलिस की तरफ से नेता के करीब आठ पीएसओ को पूछताछ के लिए थाने ले जाया गया। उनसे पूछा जा रहा है कि उनकी मौजूदगी में हमला कैसे हो गया है।

Input : NBT Hindi

Continue Reading

INDIA

विकास दुबे हुआ गिरफ्तार, उज्जैन में महाकाल के दर्शन के बाद निकला था बाहर

Muzaffarpur Now

Published

on

कानपुर एकनाउंटर का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार हो गया. वह मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल का दर्शन कर बाहर निकली ही था कि उसे गिरफ्तार कर लिया गया. उसे सबसे पहले महाकाल मंदिर के गार्ड ने पहचाना. उसके बाद उसने पुलिस को इस बात की सूचना दी. बता दें कि उसकी तलाश पांच राज्यों की पुलिस कर रही थी.

इससे पहले विकास दुबे के दो साथी आज एनकाउंटर में ढेर हो गए. प्रभात मिश्रा पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश कर रहा था, जिसके बाद एनकाउंटर में उसे ढेर कर दिया गया. प्रभात मिश्रा को बुधवार को फरीदाबाद से गिरफ्तार किया गया था. इसके अलावा विकास दुबे गैंग का एक और मोस्ट वांटेड क्रिमिनल बबन शुक्ला भी इटावा में ढेर हो गया.

कानपुर पुलिस की टीम गुरुवार सुबह फरीदाबाद में गिरफ्तार किए गए विकास दुबे के साथी प्रभात मिश्रा को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर कानपुर आ रही थी. एसटीफ की टीम एस्कॉर्ट कर रही थी. उसी वक्त पनकी थाना क्षेत्र में गाड़ी पंक्चर होने पर अभियुक्त प्रभात पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास करने लगा. उसने पुलिस पर अंधाधुंध फायर भी किया, जिसमें एसटीफ के दो आरक्षी गंभीर रूप से घायल हो गए.

पुलिस द्वारा आत्मरक्षा के लिए किए गए फायर में बदमाश प्रभात घायल हो गया, जिसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई. उल्लेखनीय है कि बुधवार को फरीदाबाद पुलिस ने प्रभात को 2 अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया था और इसके पास से 4 पिस्टल बरामद हुए थे, जिसमें 9mm की 2 पिस्टल पुलिस से लूटी हुई थी.

उधर, दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में कानपुर एनकाउंटर में शहीद हुए सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा द्वारा एसओ थाना चौबेपुर विनय तिवारी के खिलाफ एसएसपी को लिखा गया पत्र जांच में सही पाया गया है. सूत्रों के मुताबिक जांच के लिए कानपुर भेजी गईं लखनऊ रेंज की आईजी लक्ष्मी सिंह बुधवार को लखनऊ वापस लौट आईं और जांच रिपोर्ट डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी को सौंप दी.

लक्ष्मी सिंह ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि जांच पड़ताल और CO के कार्यालय के स्टाफ से पूछताछ की तो पता चला कि CO द्वारा एसएसपी को लिखा गया पत्र असली है.

Input : Zee News

Continue Reading
mlc-dinesh-singh
MUZAFFARPUR8 mins ago

JDU MLC दिनेश सिंह कोरोना पॉजिटिव, पत्नी वीणा देवी पहले ही पाई गई हैं संक्रमित

BIHAR24 mins ago

BPSC 65वीं की मुख्य परीक्षा रद्द, अगले ही महीने होने वाला था एग्जाम

MUZAFFARPUR1 hour ago

सुशांत मामले में फिल्मी हस्तियों को मिली राहत, मुजफ्फरपुर में दाखिल दो परिवाद खारिज

BIHAR2 hours ago

बिहार में एकसाथ मिले 704 नए कोरोना मरीज, राज्य में आंकड़ा पहुंचा 13978

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर में सप्ताह के दाे दिन बंद रहेंगीं सभी व्यावसायिक गतिविधियां

BOLLYWOOD3 hours ago

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म का पहला गाना… सामने आया धमाकेदार टीजर, देखें वीडियो

TECH4 hours ago

बड़ी खबर! तीन बड़े सोशल मीडिया प्लेटफार्म Whatsapp, Facebook, Instagram हो सकते हैं मर्ज

BIHAR4 hours ago

अब पटना जंक्शन पर भी होगा कोरोना के मरीजों का इलाज

INDIA6 hours ago

जिस विकास दुबे के नाम से कांपती है कानपुर पुलिस, उसे MP पुलिस के जवान ने मारा थप्पड़

INDIA6 hours ago

कश्मीर: बीजेपी नेता और उनके पिता-भाई की आतंकियों ने गोली मारकर की हत्‍या

BIHAR3 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

ENTERTAINMENT1 week ago

सामने आया चंद्रचूड़ सिंह के फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने का असली रीजन

BIHAR3 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA4 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

MUZAFFARPUR5 days ago

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी मामले में सलमान के अधिवक्ता मुजफ्फरपुर कोर्ट में हुए हाजिर

BIHAR2 weeks ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

BIHAR4 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR3 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

INDIA4 days ago

महिला सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, रेप के आरोपी को बचाने के लिए 35 लाख रुपए लिया रिश्वत

INDIA2 weeks ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

Trending