#MeToo पर अभिनेता सौरभ सुमन ने बेवाक़ी बोला

0
227

#MeToo पर अभिनेता सौरभ सुमन से सवाल किए जाने पर उन्होंने बड़ी बेवाक़ी से अपनी बात कही।
उन्होंने कहा कि आए दिन हर क्षेत्र में महिलाओं का यौन शोषण होता है। ये सिर्फ़ बॉलीवुड में ही नहीं बल्कि हर क्षेत्र में होता है जहाँ महिलाएं अपने पैरों पर खड़े होने के लिए काम करने घर से बाहर निकलती हैं। महिलाओं को इज़्ज़त का हवाला देकर चुप कराने की कोशिश की जाती है।

लेकिन आज की महिलाएं चुप रहने वालों और अत्याचार सहने वालों में से नहीं हैं। वो ख़ुद पर हुए अन्याय को बताने सामने आने लगी हैं।

बकौल सौरभ वो कहते हैं कि बॉलीवुड में सिर्फ़ महिलाओं के साथ नहीं बल्कि New Commer लड़कों को भी कॉम्परमाईज़ के लिए बोला जाता है।

ये सवाल पूछे जाने पर कि बहुत से डायरेक्टर और एक्टर पर यौनशोषण के आरोप लगे है- आपके विचार में कौन सही है?

इसके जवाब में सौरभ कहते हैं कि ये एक आपराधिक मामला है।इसमें सही और ग़लत का फ़ैसला लेने का अधिकार मेरा नहीं है, ये फ़ैसला अदालत का है। पीड़ित को अदालत का दरवाज़ा खटखटाना चाहिए।

सौरभ महिलाओं के साथ होने वाले किसी भी तरह के अत्याचार का विरोध करते हैं और महिलाओं से आग्रह करते हैं कि किसी भी अन्याय को सहने के बजाय उसके ख़िलाफ़ अपनी आवाज़ बुलंद करें।

सरकार से अनुरोध करते हैं कि महिला सशक्तिकरण के लिए सख़्त से सख़्त क़ानून बनाए जाने की आवश्यकता है।