Connect with us

INDIA

टाइम के ‘डिवाइडर इन चीफ’ कवर पर पीएम मोदी बोले- वो ‘कलम’ पाकिस्तानी है

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टाइम पत्रिका में छपी कवर स्टोरी को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। टाइम पत्रिका ने 20 मई, 2019 के अंतरराष्ट्रीय संस्करण में उन्हें डिवाइडर इन चीफ (फूट डालने वालों का मुखिया) बताया था। जिसपर पीएम का कहना है कि इसे लिखने वाला पत्रकार पाकिस्तानी है। जो इसकी विश्वसनीयता के लिए पर्याप्त है। इस लेख के बाद विपक्ष को प्रधानमंत्री पर हमला करने का एक मौका मिल गया था।

विवादित लेख पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘टाइम मैग्जीन विदेशी है। कहा जा रहा है कि उसका लेखक पाकिस्तानी राजनीतिक परिवार से आता है। यह उसकी विश्वसनीयता के लिए पर्याप्त है।’ इस पत्रिका में यह भी पूछा गया था कि क्या भारत उन्हें और पांच सालों के लिए सत्ता सौंप सकता है। प्रधानमंत्री पर यह विवादित कवर स्टोरी आतिश तासीर नाम के पत्रकार ने की थी।

जिन्होंने अपने लेख में लिखा था, ‘दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र पहले से कहीं अधिक विभाजित हो गया है।’ उन्होंने इसके लिए भीड़ हत्या, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ की नियुक्ति और मालेगांव धमाके की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को भाजपा द्वारा उम्मीदवार बनाए जाने जैसे उदाहरण दिए थे। इस लेख में विपक्ष की भी आलोचना की गई थी।

कवर स्टोरी में कहा गया है कि मोदी ने भारत के महान शख्सियतों पर राजनीतिक हमले किए जैसे कि नेहरू। वह कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं, उन्होंने कभी भी हिंदू-मुसलमानों के बीच भाईचारे की भावना को मजबूत करने के लिए कोई इच्छाशक्ति नहीं दिखाई। नरेंद्र मोदी का सत्ता में आना इस बात को दिखाता है कि भारत में जिस कथित उदार संस्कृति की चर्चा की जाती थी वहां पर दरअसल धार्मिक राष्ट्रवाद, मुसलमानों के खिलाफ भावनाएं और जातिगत कट्टरता पनप रही थी।

लेख में आगे लिखा है कि नरेंद्र मोदी ने साल 2014 में लोगों के गुस्से के देखते हुए आर्थिक वादे किए। उन्होंने नौकरी और विकास की बात की। लेकिन अब ये विश्वास करना मुश्किल लगता है कि वह उम्मीदों का चुनाव था। लेख में कहा गया है कि मोदी द्वारा आर्थिक चमत्कार लाने के वादे फेल हो गए। यही नहीं उन्होंने देश में जहर भरा धार्मिक राष्ट्रवाद का माहौल तैयार करने में जरूर मदद की।

इससे पहले टाइम पत्रिका ने साल 2012 फिर साल 2015 में मोदी को अपने कवर पेज पर जगह दी थी। वहीं साल 2014, 2015 और 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल किया था। मई 2015 में पत्रिका ने मोदी पर कवर स्टोरी की थी और उसे- ‘व्हाय मोदी मैटर्स’ नाम दिया था।

 

INDIA

राम जन्मभूमि में समतलीकरण के दौरान मिले मंदिर के अवशेष

Published

on

अयोध्‍या. राम जन्मभूमि में समतलीकरण के दौरान मंदिर के अवशेष मिले हैं, जिसमें आमलक, कलश, पाषाण के खंभे, प्राचीन कुआं और चौखट शामिल हैं. आपको बता दें कि 11 मई से श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र  (Ram Janmabhoomi Tirtha Kshetra Trust) ने समतलीकरण का कार्य शुरू कराया है. इस दौरान जेसीबी से खुदाई की जा रही है, जिसमें मंदिर के प्राचीन अवशेष मिले हैं. जबकि राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के मुताबिक लॉकडाउन की वजह से राम मंदिर निर्माण में देरी हो रही थी और इसी वजह से मंदिर में काम शुरू करवाया गया. अवशेषों के मिलने की पुष्टि श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने ही की है.

DEMO PIC

लॉकडाउन 4 में तेज हुआ काम

अयोध्या-लॉक डाउन के चौथे चरण प्रारंभ होने के साथ अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण का कार्य भी तेज कर दिया गया है. जिसके लिए परिसर में मजदूरों के साथ कई प्रकार की मशीनें भी लगाई गई हैं. इस संबंध में जानकारी श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने दी है.

क्या-क्या मिला

रामजन्मभूमि में चल रहे समतलीकरण कार्य को लेकर ट्रस्ट ने कार्यों का विवरण दिया जिसमें ट्रस्ट ने बताया कि कोरोनावायरस लॉक डाउन को लेकर जारी निर्देशों के अनुसार रामजन्मभूमि परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मंदिर निर्माण के संबंधित कार्य किए जा रहे हैं. जिसमें तीन जेसीबी मशीन एक क्रेन दो ट्रैक्टर व 10 मजदूर लगाए गए हैं. साथ ही चल रहे समतलीकरण कार्य के दौरान कुछ पुराने अवशेष प्राप्त हुए हैं जिसमें देवी देवताओं की खंडित मूर्तियां पुष्प कलश अम्लक दोरजाम्ब आदि कलाकृतियां मेहराब के पत्थर, 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तंभ व 6 रेड सैंड स्टोन के स्तंभ और 5 फुट आकार के नक्काशीयुक्त शिवलिंग की आकृति प्राप्त हुआ है.

ram temple

अवशेषों में आमलक, कलश, पाषाण के खंभे, प्राचीन कुआं और चौखट शामिल हैं.

टल गया था भूमि पूजन

देश में कोरोना संक्रमण फैलने के चलते इससे पहले राम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन टल गया था.  कोरोना आपदा आने से पहले रामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला को परिसर में नियत स्‍थल पर प्रतिष्ठित करवाने के बाद मंदिर के निर्माण का काम शुरू करवाने की योजना बनाई गई थी. इस पूरी योजना के तहत चैत्र नवरात्र के पहले दिन रामलला को नए भवन में प्रतिष्ठित करवाने और बैसाख नवरात्र की सप्तमी पर 30 अप्रैल को भूमि पूजन के साथ ही निर्माण शुरू करने का‌ निर्णय लिया गया था. लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया.

Input : News18

 

Continue Reading

INDIA

1 जून से चलेंगी ये 100 नॉन एसी ट्रेनें, आज सुबह से बुक कर सकेंगे टिकट, देखें पूरी लिस्ट

Published

on

नई दिल्ली. भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने एक जून से शुरू होने जा रही 100 नॉन एसी ट्रेनों (100 Non AC Trains List) की सूची जारी कर दी है. रेलवे की ओर से बताई गई ये 100 नॉन एसी ट्रेन अपने तय टाइम टेबल (Train Timetable) के हिसाब से चलेंगी. ये ट्रेनें पहले से चल रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन (Shramik Special Train) और 15 जोड़ी राजधानी ट्रेनों (Rajdhani Trains) के अतिरिक्त चलाई जा रही हैं.

इन ट्रेनों की बुकिंग गुरुवार सुबह से शुरू हो जाएगी. इन ट्रेनों का एडवांस रिजर्वेशन पीरियड 30 दिन का होगा. यानी कि आप 1 महीने पहले टिकट बुक कर सकते हैं. ट्रेन में हर क्लास का किराया सामान्य किराया होगा जो ऐसी मेल/एक्सप्रेस/जनशताब्दी टाइप ट्रेनों में होता है. इन ट्रेनों में एसी और नॉन एसी दोनों तरह के कोच होंगे. यानी इनका कम्पोजीशन रेगुलर ट्रेन की तरह होगा.

ये है 100 ट्रेनों की सूची

इन 100 ट्रेनों में से प्रमुख ट्रेनें गोरखपुर से मुंबई जाने वाली कुशीनगर एक्सप्रेस, लखनऊ मेल, प्रयागराज एक्सप्रेस, कोणार्क एक्सप्रेस, शिवगंगा एक्सप्रेस, पुष्पक एक्सप्रेस, श्रम शक्ति एक्सप्रेस, तेलंगाना एक्सप्रेस, हावड़ा-मुंबई मेल, चंपारण सत्याग्रह एक्सप्रेस, गोरखधाम एक्सप्रेस आदि हैं.

नीचे देखें पूरी सूची-

न ट्रेनों में से अधिकतर ट्रेन रोजाना चलेंगी, वहीं कुछ ट्रेन हफ्ते में कुछ दिन चलेंगी. जबकि दो ट्रेनें अमृतसर से न्यू जलपाईगुड़ी जाने वाली करमभूमि एक्सप्रेस और आनंद विहार से बापूधाम मोतिहारी को जाने वाली चंपारण सत्याग्रह एक्सप्रेस हफ्ते में एक दिन चलेगी.

इससे पहले रेलवे ने 30 जून तक के लिए सभी नियमित यात्री रेलगाड़ियों को रद्द कर दिया था.

प्रवासियों की मदद के लिए चलाई जा रहीं ये ट्रेनें

रेलवे ने कहा कि इन 200 रेलगाड़ियों को चलाने से उन प्रवासियों को भी मदद मिलेगी जो किसी कारण श्रमिक विशेष रेलगाड़ियों की सुविधा नहीं ले पा रहे हैं. रेलवे ने कहा, ‘‘ इस बात की कोशिश की जाएगी कि वे (प्रवासी) जहां पर हैं वहीं पर नजदीक के रेलवे स्टेशन से रेलगाड़ी में सवार हो सकें.

रेलवे ने राज्य सरकारों से भी उन प्रवासी कामगारों की पहचान करने और उनकी स्थिति का पता लगाने को कहा है जो पैदल ही अपने गृह प्रदेशों के लिए निकल पड़े हैं ताकि नजदीकी जिला मुख्यालय में उनका पंजीकरण कराकर नजदीकी रेलवे स्टेशन से रेलगाड़ियों के जरिये उन्हें आगे के सफर पर भेजा जा सके. राज्यों से इन यात्रियों की सूची भी रेलवे प्रशासन को मुहैया कराने को कहा गया है ताकि श्रमिक विशेष रेलगाड़ियों से उन्हें आगे की यात्रा पर भेजा जा सके.

बता दें रेल मंत्री पीयूष गोयल (Rail Minister Piyush Goyal) ने मंगलवार को ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी थी. गोयल ने कहा था कि भारतीय रेल एक जून से अपने टाइम टेबल के हिसाब से  नॉन एसी ट्रेनें चलाने जा रहा है. उन्होंने  कहा था कि इन ट्रेनों की बुकिंग जल्द ही शुरू होगी.

बता दें कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते देश भर में लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के कारण देश में रेल सेवाओं पर रोक लगी हुई थी. रेलवे ने इससे पहले 10 मई को 15 जोड़ी एसी ट्रेनें चलाने की घोषणा की थी. 12 मई से शुरू हुई इन स्पेशल ट्रेन सेवाओं के लिए लोग आईआरसीटीसी (IRCTC) की वेबसाइट (www.irctc.co.in/nget/) से ही ऑनलाइन टिकट बुक (Online Ticket Booking) कर ही सफर कर सकते हैं.

Continue Reading

INDIA

श्रीनगर में बीएसएफ की पार्टी पर आतंकियों का हमला, दो BSF जवान शहीद

Published

on

श्रीनगर. श्रीनगर (Srinagar) के पनदाच (Pandach) में बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (Border Security Force) की एक पार्टी पर आतंकियों ने हमला कर दिया. इस हमले में दो BSF जवान शहीद हो गए हैं. आतंकियों ने ये हमला श्रीनगर के बाहरी इलाके में किया. इस हमले में दो जवान घायल हो गए थे. इन दोनों जवानों को एसकेआईएमएस अस्पताल श्रीनगर में भर्ती किया गया जहां एक जवान पहले से ही मृत पाया गया जबकि दूसरे ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. बीएसएफ को जानकारी मिली है कि आतंकी दो हथियार छीन ले गए हैं.

DEMO PIC

आतंकियों ने अर्धसैनिक बलों की 37 बटालियन पर मध्य कश्मीर के गांदरबल जिले के पनदाछ में हमला कर दिया. पुलिस के सूत्रों ने जानकारी दी कि ये आतंकी पहले से घात लगाकर बैठे थे और इन्होंने अचानक से सड़क पर आकर फायरिंग शुरू कर दी. फायरिंग में घायल दो जवानों को अस्पताल ले जाया गया जहां दोनों ने दम तोड़ दिया.

सूत्रों ने कहा है कि अस्पतालों में डॉक्टरों ने पाया कि दोनों जवान पहले ही दम तोड़ चुके थे. पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने पूरे इलाके को सील कर दिया है. एग्ज़िट पॉइंट्स एरिया और पहाड़ी इलाकों में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है.

Input : News18

Continue Reading
INDIA25 mins ago

राम जन्मभूमि में समतलीकरण के दौरान मिले मंदिर के अवशेष

BIHAR33 mins ago

ऑनलाइन ऑर्डर करें, डाकिया घर पहुंचाएंगे मुजफ्फरपुर की लीची

BIHAR42 mins ago

जीभ से हाथ गीला कर नोट गिनने की आदत कर देगी बीमार

BIHAR52 mins ago

50 वर्ष से अधिक उम्र के सरकारी कर्मचारी कोरेन्टीन सेंटर पर ड्यूटी लगने से भयभीत

BIHAR57 mins ago

COVID-19 : मुजफ्फरपुर में 1 व उत्तर बिहार के 4 जिलों में 46 नए संक्रमित

MUZAFFARPUR1 hour ago

एसकेएमसीएच में भर्ती चार बच्चों में एईएस की पुष्टि

BIHAR1 hour ago

क्वारेंटाइन सेंटरों में अव्यवस्था फैली तो डीएम-एसपी जिम्मेदार

INDIA1 hour ago

1 जून से चलेंगी ये 100 नॉन एसी ट्रेनें, आज सुबह से बुक कर सकेंगे टिकट, देखें पूरी लिस्ट

MUZAFFARPUR12 hours ago

अम्फान तूफ़ान का हो सकता है मुजफ्फरपुर में भी असर, जिला प्रशासन ने जारी किये दिशा- निर्देश

BIHAR12 hours ago

बेहद विवादित अधिकारी रहे हैं स्वास्थ्य विभाग के नये प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत, पेरिस में हनी ट्रैप का लगा था आरोप

BIHAR7 days ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA3 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA3 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR3 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD2 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR3 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

BIHAR4 weeks ago

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, 9 दिनों के अंदर बनेगा नया राशन कार्ड, ये होगी प्रक्रिया

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ; 36 घंटे के अंदर बैंक लूट कांड का किया खुलासा

BIHAR4 weeks ago

अररिया के कृषि पदाधिकारी ने दिखाई दबंगई, गाड़ी रोकने पर सिपाही को कराया कान पकड़कर उठक बैठक

BIHAR4 weeks ago

मौसम विभाग ने साइक्लोन सर्किल का जारी किया अलर्ट, इन जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना

Trending