Connect with us

INDIA

चुनाव आयोग पहुंचे 20 से अधिक विपक्षी दल, EVM को लेकर जताई चिंता

Published

on

मतगणना में पारदर्शिता एवं निष्पक्षता की मांग को लेकर 20 से अधिक विपक्षी दलों ने मंगलवार को चुनाव आयोग (Election Commission) पहुंचकर अधिकारियों से मुलाकात की। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad) ने जानकारी दी कि विपक्षी दलों ने मतों की गिनती से पहले ईवीएम को कहीं और ले जाने पर चिंता व्यक्त की है।

तेलुगु देशम पार्टी के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि लोगों के जनादेश में हेरफेर नहीं किया जा सकता है। वहीं, कांग्रेस नेता अभिषेक सिंघवी ने कहा कि हमने पिछले डेढ़ महीने में इन्हीं मुद्दों को उठाया। हमने चुनाव आयोग से पूछा कि उन्होंने जवाब क्यों नहीं दिया है। अजीब बात है, चुनाव आयोग ने हमें लगभग एक घंटे तक सुना और आश्वासन दिया कि वे कल फिर हमसे मिलेंगे।

Advertisement

वहीं, लोकसभा चुनाव के नतीजों की घोषणा से चंद दिनों पहले से पहले मंगलवार को दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में विपक्षी दलों के नेताओं ने बैठक की। इस बैठक में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, सपा नेता रामगोपाल यादव, टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू आदि समेत कई दिग्गज नेता मौजूद रहे। इन सभी नेताओं ने राजनीतिक हालात पर तथा सरकार बनाने के दावे के लिए गैर-राजग गठबंधन बनाने की संभावनाओं पर चर्चा के लिए बैठक की।

ममता बनर्जी से नायडू ने की थी मुलाकात

Advertisement

चंद्रबाबू नायडू ने सोमवार को भी बनर्जी से मुलाकात की थी। रविवार को वह संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से नयी दिल्ली में अलग-अलग मिले। उन्होंने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, बसपा अध्यक्ष मायावती और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल से भी चर्चा की। इस बीच अखिलेश और मायावती ने भी मुलाकात की और आगे के लिए अपनी रणनीति तय की थी।

लोकसभा चुनाव के लिए सात चरण में मतदान हुआ है और 23 मई को मतगणना होगी। वहीं, कांग्रेस नेताओं ने सोनिया गांधी के दिशानिर्देश में शनिवार को बैठक की थी जहां मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा की गयी। राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि यह सिर्फ बाजार का दबाव है।

Advertisement

Input : Hindustan

Advertisement
Advertisement

INDIA

अंकिता मर्डर केस: पूर्व भाजपा नेता ने गिरफ्तार बेटे को बताया ‘सीधा साधा बालक’

Published

on

उत्तराखंड के ऋषिकेश में एक रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट का काम करने वाली अंकिता भण्डारी के मर्डर के मामले में गिरफ्तार रिसॉर्ट मालिक पुलकित आर्य के पिता विनोद आर्य ने दावा किया कि उनका बेटा निर्दोष है. उन्होंने कहा कि वह कभी भी इस तरह की गतिविधियों में शामिल नहीं होगा. इतना ही नहीं रिसेप्शनिस्ट हत्याकांड के मुख्य आरोपी के पिता विनोद आर्य ने अपने बेटे पुलकित आर्य को एक ‘सीधा-साधा बालक’ बताया.

tanishq motijheel - muzaffarpur

एनडीटीवी डॉटकॉम की एक खबर के मुताबिक विनोद आर्य ने अपने बेटे पुलकित आर्य का बचाव करते हुए कहा कि वह ‘सीधा साधा बालक है. उसे केवल अपने काम की चिंता है. मैं अपने बेटे पुलकित और हत्या की गई महिला दोनों के लिए इंसाफ चाहता हूं.’ उन्होंने कहा कि ‘वह कभी भी इस तरह के काम में शामिल नहीं होगा.’ विनोद आर्य ने ये भी कहा कि पुलकित लंबे समय से उनसे अलग रह रहा था.

Advertisement

उनकी यह टिप्पणी 19 वर्षीय युवती की हत्या पर जनता में भड़के भारी आक्रोश के बीच भाजपा द्वारा उन्हें और उनके बेटे अंकित आर्य निष्कासित करने के एक दिन बाद आई है. जबकि विनोद आर्य ने दावा किया कि उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करने के लिए कल खुद पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने कहा कि ‘पुलकित निर्दोष है. फिर भी मैंने निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करने के लिए भाजपा से इस्तीफा दिया है. मेरे बेटे अंकित ने भी इस्तीफा दे दिया है.’

गौरतलब है कि पुलकित आर्य ऋषिकेश में उस रिसॉर्ट का मालिक है, जहां युवती रिसेप्शनिस्ट के रूप में काम करती थी. पुलकित आर्य को शुक्रवार को रिसॉर्ट के मैनेजर सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता के साथ गिरफ्तार किया गया था. राज्य के पुलिस प्रमुख अशोक कुमार ने कहा कि आरोपी से पूछताछ और महिला के मोबाइल चैट हिस्ट्री के आधार पर जांच से पता चलता है कि उस पर रिसॉर्ट में मेहमानों को ‘विशेष सेवाएं’ देने के लिए दबाव डाला गया था, जिसका उसने विरोध किया था.

Advertisement

Source : News18

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

INDIA

यूपी : निकाह में आए बारातियों का लड़की वालों ने चेक किया आधार कार्ड, कारण जानकर पेट पकड़कर हंसेंगे

Published

on

यूपी के अमरोहा जिले में एक अनोखा मामला सामने आया है। यहां कुछ ऐसा हुआ कि जानकर आपकी भी हंसी छूट पड़ेगी। दरअसल निकाह के बाद रखी गई दावत में बारातियों के लिए लड़की वालों ने अनोखा फरमान जारी कर दिया था। इस फरमान को सुनने के बाद बारातियों में अफरा-तफरी सी मच गई। हालांकि लड़की वालों के फरमान के मुताबिक जो बाराती पहुंचे उन्हें ही दावत में एंट्री दी गई। इसका वीडियो भी वायरल हुआ है।

tanishq motijheel - muzaffarpur

असल में बारातियों से पहले घराती भोजन की मेज पर जा डटे। बारातियों ने ऐतराज जताया तो युवती पक्ष ने पहले बारातियों को भोजन कराने की नसीहत दी। कोई असर नहीं हुआ तो बारातियों के आधार कार्ड देखकर पहले उन्हें एंट्री दी गई। बाकी लोगों को बाहर ही रोक दिया गया। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो हर कोई चुटकी लेता नजर आया। अलग-अलग जगह पूरे घटनाक्रम को लेकर किस्सागोई का सिलसिला चल पड़ा।

Advertisement

शहर के एक मोहल्ले में बीती 21 सितंबर को ढवारसी क्षेत्र से युवती की बारात आई थी। बताया जाता है कि यहां बारात के लिए भोजन शुरू हुआ तो घराती पक्ष के लोग भी आ धमके। भीड़ के बीच अफरा-तफरी का माहौल बन गया। घरातियों ने जहां पहले ही मेज पर कब्जा जमा लिया तो वहीं बाराती टकटकी लगाए हसरत भरी निगाहों से भोजन की मेज की तरफ देखते रहे। कुछ देर बाद जब बारात की ओर से इस पर ऐतराज जताया गया तो युवती पक्ष हरकत में आया।

आनन-फानन घराती पक्ष के स्थानीय लोगों को पहले भोजन करने से रोकने के लिए नया नुस्खा इजाद कर दिया। भोजन के लिए जाने वाले हर एक व्यक्ति का आधार कार्ड देखने के बाद ही अंदर एंट्री देने का निर्णय लिया। इसके बाद बारात की ओर से शामिल जिन-जिन लोगों ने संबंधित क्षेत्र के अपनी रिहायश का सुबूत दिया, उन्हें ही अंदर प्रवेश दिया गया। स्थानीय लोगों की एंट्री आधार कार्ड की मदद से रोक दी गई। उधर, शनिवार को ये पूरा मामला ऐसे ही एक वीडियो के साथ सोशल मीडिया पर छा गया। हर कोई इसको लेकर चुटकी लेता नजर आया।

Advertisement

अरे यहां तो आधार कार्ड दिखाने के बाद भी नहीं मिल रही एंट्री

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में एक व्यक्ति भोजन के लिए अंदर जाने का प्रयास करता नजर आ रहा है। वह युवती पक्ष को अपना आधार कार्ड दिखाते हुए अंदर जाने की बात कहता है, लेकिन उसे रोक दिया जाता है। ऐसे में संबंधित व्यक्ति यहां तो आधार कार्ड दिखाने के बाद भी नहीं मिल रही एंट्री कहते हुए वापस लौट जाता है।

Advertisement

सोशल मीडिया पर हसनपुर वालों को मिली 21 तोपों की सलामी

वायरल वीडियो को एक शख्स ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट से पोस्ट करते हुए बेहद हास्यास्पद टिप्पणी की। लिखा बारातियों को खाने के लिए आधार कार्ड दिखाने पर खाना खिलाया गया। भारत के इतिहास की पहली बारात होगी ये। वाह-वाह हसनपुर वालों आपको 21 तोपों की सलामी ऐसी मेहमाननवाजी के लिए। कुछ इसी तरह अन्य लोगों ने भी सोशल मीडिया पर अपने-अपने तरीके से देखते हुए पूरे मामले पर कमेंट किए।

Advertisement

Source : Hindustan

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

INDIA

भाजपा विधायक का विधानसभा में गेम खेलते रजनीगंधा खाते हुए वीडियो वायरल, अखिलेश बोले- प्रदेश का हो रहा नाश

Published

on

समाजवादी पार्टी ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर अलग-अलग दो वीडियो शेयर किए हैं जिसमें विधानसभा में एक विधायक मोबाइल गेम खेलते दिख रहे हैं तो दूसरे पान मसाला खाते। सपा ने वीडियो के जरिए भाजपा पर निशाना साधा है। ट्विटर पर लिखा है कि भाजपा विधायकों को जनसमस्याओं से कोई लेना देना नहीं है। ‘लाइव हिन्‍दुस्‍तान’ इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।

समाजवादी पार्टी ने अपने ट्विटर पर वीडियो जारी करते हुए लिखा है, ”सदन की गरिमा को तार-तार कर रहे भाजपा विधायक! महोबा से भाजपा विधायक सदन में मोबाइल गेम खेल रहे, झांसी से भाजपा विधायक तंबाकू खा रहे। इन लोगों के पास जनता के मुद्दों के जवाब हैं नहीं और सदन को मनोरंजन का अड्डा बना रहे। बेहद निंदनीय एवं शर्मनाक!’

Advertisement

Advertisement

वहीं सपा के ट्विटर अकाउंट पर जारी दूसरे वीडियो में एक विधायक पान मसाला खाते दिख रहे हैं। सपा ने अपनी पोस्‍ट में उन पर कैंसर को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

बता दें कि यूपी विधानसभा का मॉनसून सत्र 23 सितम्‍बर को समाप्‍त हो चुका है। शुक्रवार को सत्र के आखिरी दिन समाजवादी पार्टी सदस्‍यों ने सदन से वॉकआउट किया था। इसके पहले के चार दिन भी सपा लगातार अक्रामक बनी रही। पहले दिन ही पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव की अगुवाई में पैदल मार्च के लिए निकले सपाइयों को पुलिस ने रोक दिया था लेकिन आखिरी दिन सदन से वॉकआउट करने के बाद उन्‍होंने सपा दफ्तर तक पैदल मार्च किया। सदन के अंदर घमासान के बाद अब सपा ने वीडियो जारी कर सत्‍तारूढ़ बीजेपी के विधायकों पर आरोप लगाया है।

Advertisement

Source : Hindustan

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading
BIHAR15 hours ago

सोनिया गांधी ने लालू यादव-नीतीश कुमार को बतायी औकात, मात्र 20 मिनट में निपटाया : मोदी

BIHAR20 hours ago

खाकी पर दाग: बिहार पुलिस के दो जवानों ने बरेली व कोलकाता के व्यवसायी से लूटा सोना, दबोचे गए वर्दी वाले

BIHAR21 hours ago

चमत्कार‍िक माना जाता है मुंगेर का सिद्धपीठ चंडिका देवी मंदिर, नेत्रहीन को मिलती है रौशनी

BIHAR22 hours ago

बिहार के फर्जी सर्टिफिकेट से 10वीं में दाखिला, 6 राज्यों में नेटवर्क; एफआईआर दर्ज

BIHAR1 day ago

सिने अभिनेता मनोज वाजपेयी और पंकज त्रिपाठी निकाय चुनाव में ब्रांड एम्बेडसर बने

BIHAR1 day ago

विदेश में पढ़ाई के लिए भी चार लाख रुपये देगी बिहार सरकार

INDIA2 days ago

अंकिता मर्डर केस: पूर्व भाजपा नेता ने गिरफ्तार बेटे को बताया ‘सीधा साधा बालक’

DHARM2 days ago

शारदीय नवरात्रि के प्रथम दिन करें मां शैलपुत्री की आरती, प्रसन्न होंगी माता रानी

BIHAR2 days ago

बिहार में नालंदा – नवादा – शेखपुरा बन रहा साइबर अपराधियों का गढ़, करोड़ों का गबन कर रहे अपराधी

BIHAR2 days ago

तेजस्वी यादव के थावे मंदिर में चप्पल पहनकर जाने पर विवाद, बीजेपी बोली- ऐसे बनेंगे धर्मनिरपेक्ष

INDIA4 weeks ago

‘मेरे पास पापा हैं, तिरंगा अपने पास रखो!’…जयराम रमेश ने वीडियो शेयर कर अमित शाह के बेटे जय पर साधा निशाना

BIHAR4 weeks ago

बीपीएससी 67वीं प्रारंभिक परीक्षा की नई डेट घोषित, एडमिट कार्ड जल्द

BIHAR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के सरकारी स्कूल के टीचर मनोज कुमार पहुंचे केबीसी

BIHAR4 weeks ago

गोवा से बिहार आकर बेटे ने कराई पिता की हत्या, शूटर्स को दी 5 लाख की सुपारी

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर में कुत्तों ने तीन साल की मासूम को नोच-नोचकर मार डाला

BIHAR4 weeks ago

141.6 करोड़ से मुजफ्फरपुर में इथेनॉल फैक्ट्री लगेगी

INDIA4 weeks ago

इतिहास हुए नोएडा के ट्विन टॉवर्स, 3700Kg बारूद से 12 सेकेंड में जमींदोज

BIHAR4 weeks ago

बिहार में बढ़ा बाढ़ का खतरा, 16 जिलों में बारिश को लेकर मौसम विभाग का अलर्ट

BIHAR4 weeks ago

आरजेडी विधायक पर सीबीआई का शिकंजा, एलटीसी घोटाले में दोषी ठहराए गए अनिल सहनी

BIHAR4 weeks ago

बिहारी प्रतिभा का डंकाः दाई के बेटे को इंजीनियरिंग के लिए मिली 35 लाख की छात्रवृत्ति

Trending