जंक्शन पर बिना कारण रुके तो हिरास’त में लिया जाएगा

0
52

रेलवे स्टेशन या जंक्शन पर आपके पहुंचने के बाद आपकी हर हरकत पर रेलवे सु’रक्षा ब’ल और रेल पु’लिस की नजर रहेगी। बिना कारण अगर आप रेलवे स्टेशन पर अधिक देर तक खड़े पाए जाते हैं तो आपको हिरास’त में लिया जाएगा।

बिना वजह जंक्शन पर होने का कारण पूछा जाएगा और संतोषप्रद जवाब नहीं होने पर आप हि’रासत में ले लिये जाएंगे। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर रेलवे ने नये तरीके से सख्ती बढ़ाई है। ए वन और और ए ग्रेड के स्टेशनों को सीसीटीवी कैमरे से लैस किया गया है। मंडल सुरक्षा आयुक्त दीपक चतुर्वेदी ने आरपीएफ और जीआरपी के लिए गाइडलाइन भी जारी किया है।

तीन पालियों में कैमरों के फुटेज की समीक्षा की जाएगी। आरपीएफ को निर्देश दिया गया है कि सीसीटीवी के फुटेज में जो व्यक्ति स्टेशन पर सोए यात्रियों के आसपास घूमता नजर आए, उससे तुरंत पूछताछ करें।

कंट्रेाल में तैनात ड्यूटी इंचार्ज 40-60 मिनटों के अंतराल में फुटेज की जांच खुद करेंगे। जंक्शन पर सुरक्षा पुख्ता करने के लिए 30 कैमरे लगाए गए हैं।

रेलवे की अन्य गतिविधियों पर भी कड़ी नजर

मंडल सुरक्षा आयुक्त ने आरपीएफ को निर्देश दिया है कि कंट्रेाल रूम में बैठे अधिकारी हर विभाग की गतिविधि पर नजर रखेंगे। स्टेशन परिसर, बुकिंग ऑफिस, प्लेटफॉर्म, पार्सल रिजर्वेशन सहित अन्य विभागों की गलतियां या खामियां नजर आने पर तुरंत इसमें सुधार करने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारी को सूचना देंगे। सुरक्षा कर्मी पर भी सीसीटीवी से नजर रखी जाएगी।

समय-समय पर मॉक ड्रील का आदेश : आरपीएफ और जीआरपी के अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे समय-समय पर ज्वाइंट मॉक ड्रिल का आयोजन कर जवानों की दक्षता की जांच कराएं। मॉक ड्रिल में अचानक किसी स्थान पर निर्धारित समय में पहुंचने का आदेश दिया जाएगा। यह आयोजन भी कैमरे की निगरानी में होगा।

सीसीटीवी से सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी के संबंध में मंडल सुरक्षा आयुक्त ने दिशा-निर्देश जारी किया है। कई महत्वपूर्ण जवाबदेही आरपीएफ और जीआरपी को दी गई है। कोई व्यक्ति बिना कारण स्टेशन नजर आता है तो तुरंत पूछताछ की जाएगी। संतोषप्रद जवाब नहीं देने पर उसे हिरासत में लिया जाएगा।
– वेद प्रकाश वर्मा, आरपीएफ इंस्पेक्टर

Input : Live Hindustan

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?